600+ Sad Shayari – Images, Very sad, Hindi & English

Looking for the best sad Shayari to express your feelings? Well, you have come to the right place. We have compiled a huge list of sad Shayari which you can share online. These sad shayari are sure to capture your heart. So go ahead and browse the awesome collection.
You can also see our 700+ love shayari.

List of best sad shayari

Sad Shayari with images

Share these sad shayari images with people who have broken your heart. It is sure to move them. You can also share them on social media or display them on your own website. Please link back to us if you display them on your website. Need more sad shayari images? Browse through our Pinterest pins where we have a huge collection of sad shayari images.

1

Na Peechhe Murh Ke Dekho Na Aawaj Do Mujhko
Badi Mushkil Se Seekha Hai Maine Alvida Kehna.

2

शक से भी अक्सर खत्म हो जाते है
कुछ रिश्ते कसूर हर बार गलतियों का नहीं होता|

3

जब कोई ख्याल इस दिल से टकराता है
तो दिल न चाहते हुए भी खामोश हो जाता है
कोई सब कुछ कह कर भी कुछ नही कह पाता है
और कोई बिना कुछ कह भी सब कुछ कह जाता है।

4

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया.

5

चाहत इतनी थी की उनको दिखाई न गई
चोट दिल पर लगी इसलिए दिखाई न गई
हम चाहते तो थे सारी दूरियां मिटाना
लेकिन दूरियां इतनी थी की मिटाई न गई।

6

मेरे दिल को तोड़ कर वो किसी और की बाहों में सो गया
कितनी आसान से वेबफाई का नाम मजबूरी हो गया।

7

गलतफहमी का एक लम्हा भी दिलो के बीच होता है
तो खुशियो के सौ लम्हे भी तोड़ दिया करता है।

Hindi Shayari sad

These Hindi sad Shayari is sure to move your lover. Share on Whatsapp and Facebook to express yourself. Also don’t forget to bookmark this page so that you can browse through the vast collection later on.

8

मुझे उससे कोई शिकवा है न गिला है
मेरे दर्द की बस न ही कोई दवा है
बहुत आँसू बह है उसके लिए
जिसे कुदरत ने मेरे लिये बनाया ही नही है।

9

बिछड़ के हम से फिर किसी के भी न हो सकोगे
तुम मिलोगे सब से मगर हमारी ही तलाश में।

10

न जाने कब अनजाने में हमने आपको रुला दिया
लेकिन आपने तो ज़माने के कहने पर हमें भूल दिया
ऐ वेबफा हम तो वैसे ही जमाने मे अकेले थे
तो क्या हुआ हमे आपने इस बात का एहसास दिला दिया।

11

मौसम था बेकरार तुम्हें सोचते रहे
कल रात बार बार तुम्हें सोचते रहे
बारिश हुई तो लग कर घर के दरवाजे से हम
चुप चाप बेकरार तुम्हें सोचते रहे.

12

मंजिल भी उसकी थी
रास्ता भी उसका था
एक मैं ही अकेला था
बाकि सारा काफिला भी उसका था
एक साथ चलने की सोच भी उसकी थी
और बाद में रास्ता बदलने का फैसला भी उसी का था।

13

Jhoota Pyar Jhote Wade
Tute Dil Tute Irade
Jale Dil Uthta Dhuan
Marte Asiq Na Rehtein Yadein.

14

Diye Hain Zindagi Ne ZaḳHm Aise;
Ki Jin Ka Waqt Bhi Marham Nahin Hai!

15

वो इश्क ही क्या
जो “इश्क” ज़िन्दगी बर्बाद न कर दे
मरा भी “न” जाये
जिया भी न जाये
ऐसे हालात न कर दे।

Very sad shayari

Love has a mysterious nature of working. One experiences great joy when we have it and equal magnitude of pain when we are devoid of it. In those cases, these very sad Shayari can be a wonderful channel to express your feelings.

16

मोहब्बत वो चीज़ नही जो जान ले ले
मुहब्बत वो भी नही जो मुस्कान दे दे
“मोहब्बत” तो उस खुदा की इनायत है
जो पानी मे पड़े अश्कों को भी पहचान ले।

17

Bhari Jawani Ho Abhi Gulab Lagti Ho
Ishq Wale Ki Nazar Mai Sharab Dikhti Ho
Aaj Har Kisi Par Tere Husan Ka Jadu Chalta Hai
Lajabab Ho Jo Lakho Ke Jigar Par Raaj Karti Ho.

18

जीत किसके लिए
हार किसके लिए
जिन्द गी भर यह तकरार किसके लिए
जो भी आया है वो जाऐगा एक दिन
फिर ये अहंकार किसके लिए।..

19

Jahan Dariya Kahin Apne Kinare Chhod Deta Hai
Koyi Uthhta Hai Aur Tufan Ka Rukh Mod Deta Hai
Mujhe Be-Dast-O-Pa Kar Bhi Khauf Uska Nahi Jata
Kahin Bhi Haadsa Gujre Wo Mujh Se Jod Deta Hai.

20

Dard Se Haath Na Milate To Aur Kya Karte
Gham Me Aansu Na Bahate To Aur Kya Karte
Usne Mangi Thi Humse Roshni Ki Duaa
Hum Apna Dil Na Jalate To Aur Kya Karte.

21

Ek Aas
Ek Ehsaas
Meri Soch Aur Bus Tum
Ek Sawal
Ek Majaal
Tumhara Khayal Or Bs Tum
Ek Baat
Ek Shaam
Tumhara Sath Or Bus Tum
Ek Dua
Ek Faryad
Tumhari Yaad Or Bus Tum
Mera Junoon
Mera Sukoon Bus Tum Or Bus Tum.

22

न कभी उन्होंने कोशिश की हमसे मिलने की न ही हम उनसे मिल सके
राज़ ये दिल का हम न किसी को सुना सके
हम तो उनकी यादों को आंखों में बिछाए बैठे हैं
कभी न उन्होंने हमें याद किया और न कभी हम उन्हें भूल सके।

23

प्यार में मौत से डरता कोन है ।
प्यार हो जाता है करता कोन है।
आप जैसे यार पर हम तो क्या सारी दुनियां फिदा है।
लेकिन हमारी तरह आप पर मरता कौन है।

24

कभी बहुत थे हमारे भी चाहने वाले
और एक दिन इश्क हुआ और हम लावारिश हो गए.

25

जो पल बीत गये वो बापस आ नही सकते
सूखे फूलो को बापस खिला नही सकते
कभी ऐसा लगता है वो हमे भूल गये होंगे
पर ये दिल कहता है वो हमे कभी भुला नही सकते।

26

Saanson Ke Silsile Ko Na Do Zindagi Ka Naam
Jeene Ke Ba-Wajood Bhi Mar Jaate Hain Kuch Log. .!!

27

Mohabbat Jab Sukoon-E-Zindagi Barbaad Karti Hai
To Lab Khamosh Rahte Hain Nazar Fariyad Karti Hai.

28

अब तो हमे उदास रहना भी अच्छा लगता है
किसी के पास न होना भी अच्छा लगता है
अब मैं दूर हूँ तो मुझे कोई फर्क नही पड़ता
क्योंकि मुझे किसी की यादो में आना भी अच्छा लगता है।

29

ऐसा नहीं था की दिल में तेरी तस्वीर नहीं थी
बस इतना समझ लो की
हाथो में तेरे नाम की लकीर नहीं थी.

30

ज़िन्दगी की भीड़ में अकेले रहे गए
उसकी जुदाई में आँसुओ के दरिया बह गए
अब हमें कौन चुप कराने वाला है
जो चुपाते थे वही रोने को कहे गए।

31

Kal Mila Bhi Tha Tujhse To Batein Na Kar Saka
Aaj Tere Pass Aakar Tera Pyar Na Mil Saka
Duri Bhi Na Thi Par Tu Itni Dur Thi
Manjil Thi Karib Par Koi Rasta Na Mil Saka.

32

इस जमाने मे कुछ हादसे ऐसे भी होते है
वो मरते तो नही है लेकिन वो बेजान होते हैं।

33

नज़रों से भले ही दूर लेकिन कभी दिल दूर नही होने देंगे
ये दिल आपको कभी याद न करे इसे कभी इतना मजबूर होने नही देंगे।

34

Unke Hontho Pe Mera Naam Jab Aaya Hoga
Khud Ko Ruswayi Se Phir Kaise Bachaya Hoga
Sunke Fasaana Auro Se Meri Barbadi Ka
Kya Unko Apna Sitam Na Yaad Aaya Hoga.

35

बेबस निगाहों में है तबाही का मंज़र
और टपकते अश्क की हर बूंद
वफ़ा का इज़हार करती है..
डूबा है दिल में बेवफाई का खंजर
लम्हा-ए-बेकसी में तसावुर की दुनिया
मौत का दीदार करती है.
ऐ हवा उनको कर दे खबर मेरी मौत की और कहेना
के कफ़न की ख्वाहिश में मेरी लाश
उनके आँचल का इंतज़ार करती है.

36

Toot Jaye Khwab To Koi Aas Kya Rakhna
Palko Ke Bheegne Ka Hisaab Kya Rakhna
Bas Isliye Muskura Dete Hain Hum
Apne Dukh Se Kisi Ko Udaas Kya Rakhna.

37

Bekrar Ho Itna Ki Bura Hal Kar Liye Ho
Jina Chahte Ho Magar Mar Mar Ke Jee Rahe Ho
Kuch Jankar Hi To Maine Tera Sath Na Diya
Kyu Haar Kar Bhi Mujhse Pyar Ka Izhar Kar Rahe Ho.

38

प्यार के रास्ते बेवफा हो नहीं सकते
हम आपसे खफा हो नहीं सकते
आप बेशक हमें भूल कर सो जाओ
मगर हम आपको याद किये बिना सो नहीं सकते ||

39

यारों किसी से दिल न लगाना ये दिल टूट जाता है
ये तन्हाईयो की महफ़िल में जाकर हर किसी से रूठ जाता है।

40

हम दुआएं करेंगे उनपर एतवार रखना
न कोई हमसे कभी सवाल रखना
अगर दिल में चाहत हो हमे खुश देखने की
बस हमेशा मुश्कुराना और अपना ख्याल रखना।

41

मेरे ख्यालो में सिर्फ तुम हो
तुम्हे कैसे भुला दूँ
इस दिल की धड़कन हो सिर्फ तुम
तुम्हे कैसे निकाल दूँ।

42

हर बात में आँसू बहाया नही करते
हर बात दिल की हर किसी से कहा नही करते
ये नमक का शहर है
इसलिए ज़ख्म यहाँ हर किसी को दिखाया नही करते।

43

Ab Jis Taraf Se Chahe Gujar Jaye Kaarwan
Veeraniyan To Sab Mere Dil Me Utar Gayin.

44

तोड़ कर जोड़ लो चाहे हर चीज दुनिया की
सब कुछ काबिल-ए-मरम्मत है
ऐतबार के सिवा!!!

45

सोचा था छुपा लेंगे गम को
पर कमबख्त आँखों ने ही बग़ावत कर दी|

46

कभी दूर तो कभी पास थे वो
न जाने किस किस के करीब थे वो
हमे तो उन पर खुद से भी ज्यादा भरोसा था
लेकिन ठीक ही कहता था ये जमाना
वेबफा थे वो।

Sad Shayari in English

We have a large number of English sad Shayari which you can read through. Browse along and let us know of your favourite pick. In case we have missed any Shayari that you would like us to include then feel free to drop in a comment and we will include it in the list.

47

Gujarish Hamari Woh Maan Na Sake
Majburi Hamari Woh Jaan Na Sake
Kehte Hain Marne Ke Baad Bhi Yaad Rakhenge
Jeete Ji Jo Hame Pehchan Na Sake.

48

Hosho Hawaas Aur Taabo Tawaa Daagh Ja Chuke
Ab Hum Bhi Jaane Wale Hain Saamaan To Gaya.

49

Uski Raftar Se Lipati Rahi Meri Aankhein
Us Ne Murh Kar Bhi Na Dekha Ki Wafa Kiski Thi.

50

Mohabbat Ke Bhi Kuchh Andaz Hote Hain
Jagti Aankhon Ke Bhi Kuchh Khwab Hote Hain
Jaruri Nahi Ke Gham Mein Aansoo Hi Niklein
Muskurati Aankhon Mein Bhi Sailab Hote Hain.

Sad Shayari in Hindi for girlfriend

Had a little fight with your girlfriend and want to amend things?
Share these Sad Shayari with your girlfriend to win her back over. They are sure to touch her heart. You can also send over some chocolates and flowers to pamper her.

51

इन आँखों में कभी हमारे आंसू आये न होते
अगर वो पीछे मुड़ कर मुस्कुराये न होते
उनके जाने के बाद यही गम रहेगा
के काश वो हमारी जिंदगी में आये न होते।

52

इस दुनिया मे जरूरी नहीं जिसे तुम चाहो वो तुम्हारा हो
जीने के लिए तुम्हें उसी का सहारा हो
कश्तियाँ टूट जाया करती हैं
ज़रूरी तो नही होता कि हर कश्ती को किनारे हो।

53

हर बात में आंसू बहाया नहीं करते
दिल की बात हर किसी को बताया नहीं करते
लोग मुट्ठी में नमक लेके घूमते है..
दिल के जख्म हर किसी को दिखाया नहीं करते।

54

Haath Mere Bhool Baithe Dastake Dene Ka Fan
Band Mujh Par Jab Se Uske Ghar Ka Darwaza Hua.

55

यारों ज़िन्दगी में कितनी भी गलती करना
मगर अधूरी मोहब्बत करने की गलती मत करना।

56

तेरी ज़िन्दगी से एक दिन बहुत दूर चला जाऊंगा
फिर लौट कर बापस कभी नही आऊंगा
बस बहुत जी लीए वेबफाई के गम में
अब किसी और को इस दिल में नही बसाऊंगा।

57

तेरी वेबफाई के गम ने मुझे कभी हसने नही दिया
इन दुनिया वालों ने मुझे कभी रोने नही दिया
जब मैं टूट गया तब रात की मैंने पनह मांगी
लेकिन वहाँ भी तेरी यादों ने मुझे सोने नही दिया।

58

यहां कौन करता है मोहब्बत निभाने के लिए
बस ये दिल तो खिलौना है इस ज़माने के लिए।

59

Dil Se Roye Magar Hotho Se Muskura Baithe
Yun Hi Hum Kisi Se Wafa Nibha Baithe
Wo Hamein Ek Lamha Na De Paye Pyaar Ka
Aur Hum Unke Liye Zindagi Luta Baithe.

60

तुम्हारे चाँद से चहरे पर गम अच्छे नही लगते
एक बार हम से कह दो तुम चले जाओ
हमे तुम अच्छे नही लगते।

61

कितना बुरा लगता है
जब बादल हो और बारिश ना हो
जब जिंदगी हो और पैर ना हो
जब आंखे हो और ख़्वाब ना हो
जब कोई अपना हो और कोई पास ना हो।

62

होने लगा है हिसाब
नफे और नुकसान का
मासूम सी मोहब्ब़त
व्यापार हो गई!

63

बहते अश्कों की ज़ुबान नही होती
मोहब्बत करना आसान नही होती
मिलजाए इश्क तो कदर करना क्योंकि
किस्मत हर वक्त महरबान नही होती।

64

दर्द बन कर दिल में छुपा कौन है
रह रह कर इसमें चुभता कौन है
एक तरफ दिल है और एक तरफ आइना
देखते है इस बार पहले टूटता कौन है।

65

मोहब्बत करने वालों का मुकद्दर बुरा होता है
हर जुदाई का किस्सा उसी से जुड़ा होता है
कभी उन किताबों पर गौर करके पड़ना
हर मोहब्बत का किस्सा अधूरा होता है।

66

तेरे न होने की मेरे दिल मे कमी खलती है
बस मेरी आँखों मे तेरी यादों की नमी रहती है।

67

झूठ कहूँ तो बहुत कुछ है मेरे पास
सच कहूँ तो कुछ नही सिवा तेरे मेरे पास।

68

यादो में किसी का दीदार नही होता है
सिर्फ याद करना ही प्यार नही होता है
यादों में किसी की हम भी तड़पतें हैं
बस हमसे दर्द का इज़हार नही होता है।

69

ज़िन्दगी में सबसे ज्यादा दुख दिल टूटने पर नही भरोसा टूटने पर होता है
क्योंकि हम किसी पर भरोसा कर के ही दिल लगाते है।

70

एक तुम ही थे जो मिल ना सके
वरना
मिलने वाले तो बिछड़ बिछड़ के मिले.

71

Tujhse Umeed Hai Jana Kabhi Mujhse Kafa Na Hona
Har Khushi Mein Sath Dena Na Kabhi Mujhse Kafa Hona
Aaj Mujhe Ati Hai Teri Har Jazbaaton Se Pyar
Ab Kabhi Dur Na Hona Jo Padeh Halat Pe Mujhe Rona.

72

सांसो का पिंजरा किसी दिन टूट जायेगा
ये मुसाफिर किसी राह में छूट जायेगा
अभी जिन्दा हु तो बात क्र लिया करो ।
क्याब पता कब हम से खुदा रूठ जायेगा ||

73

कितनी हसीं थी वो मोहोब्बत बचपन की
मेरे ना देखने पर सबसे रूठ जाती थी वो!!

74

इस जमाने मे सबका दर्द ए दिल नया होता है
लेकिन सबका अपना अपना दर्द ए बयां जुदा होता है
इस दर्द में कुछ लोग अश्कों के समंदर भी देतें हैं
और कुछ लोगो की खुशियों में भी दर्द छुपा होता है।

75

Is Dil Ko Todo Ya Is Pyar Se Rishta Tod Do
Tujhe Rokunga Nahi Chahe Jo Bhi Saja Do
Aj Bhi Mai Jis Hal Mai Hun Us Hal Mein Rahunga
Mujhe Juda Karne Se Pahle Ek Bar Muskara Do.

76

किसी का दिल तोड़ना हो तो सौ बार सोचना
अगर किसी को तन्हा छोड़ जाना हो तो सौ बार सोचना
अगर दिल एक बार टूटता है तो दुबारा किसी पे भरोसा नही करता
इसलिए किसी के भरोसे को तोड़ना हो तो सौ बार सोचना।

77

Mere Aagan Me Bhi Kabhi Phool Khila Karte The
Meri Aankho Me Bhi Kuchh Khwab Basaa Karte The.

78

Ye Mat Soch Ke Main Tujhe Bhula Nahi Sakta
Teri Yaadon Ke Panne Main Jala Nahi Sakta
Kashmkash Ye Hai Ke Khud Ko Marna Hoga
Aur Main Apni Khatir Tujhe Rula Nahi Sakta.

79

Wo Kaise Laut Aaye Ke Fursat Use Nahi
Duniya Samajh Rahi Hai Mohabbat Use Nahi
Lagta Hai Aa Chuki Hai Kami Usski Chah Me
Kafi Dinon Se Mujhse Shikayat Use Nahi
Dil Ki Zamin Usski Hai Banjar Isi Liye
Jazbon Ki Barishon Ki Jo Aadat Use Nahi.

Zindagi Sad Shayari

Life isn’t always fair. It has its ups and down. During the lows it’s best to keep calm and go along. It’s just a phase which will pass soon. In the meantime, you can browse these Zindagi sad shayari to reming you of the silver lining.

80

वो छोड़ के गए हमें
न जाने उनकी क्या मजबूरी थी
खुदा ने कहा इसमें उनका कोई कसूर नहीं
ये कहानी तो मैंने लिखी ही अधूरी थी..

81

Sadiya Guzar Gayi Kisi Ko Apna Bnane Me
Magar Pal Bhi Na Laga Unhe Hamse Door Jane Me

82

Mausam Ki Tarah Badal Dete Hai Log Humsafar Apna
Humse To Apna Sitamgar Bhi Nahi Badla Jata.

83

हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे।
कभी चाहा किसी ने खुद तुम कहोगे।
हम ना होंगे तो ये आलम ना होगा।
मिलेंगे बहुत से पर हम सा कोई पगल ना होगा ।

84

बहुत खुशनसीब होते है वो लोग
जिनका प्यार उनकी कदर भी करता है और इज़्ज़त भी।

85

ये न कह मोहब्बत मिलना किस्मत की बात है
क्योंकि मेरी बर्बादी में तेरा भी हाथ है।

86

वो रोये मेरी मौत पर मुझे जगाने के लिये
कितना अच्छा होता उस वक्त
मेरी ज़िंदगी में रो देते मुझे पाने के लिए।

87

Mohabbat Meri Bhi Bahut Asar
Karti Hai.
Yaad Aayenge Bahut Jara Bhul
Ke Dekho.

88

खुशियाँ कम और अरमान बहुत हैं
जिसे भी देखिए यहाँ हैरान बहुत है।
करीब से देखा तो है रेत का घर
दूर से मगर उनकी शान बहुत है।
कहते है सच का कोई सानी नही
आज तो झूठ की आन बान बहुत है।
मुश्किल से मिलता है शहर में आदमी
यूँ तो कहने को इंसान बहुत हैं।
वक्त पे न पहचाने ये अलग बात
वैसे तो शहर में अपनी पहचान बहुत है।

89

पत्ते गिर सकते है पर पेड़ नहीं
सूरज दुब सकता है पर आसमान नहीं
धरती सुख सकती है पर सागर नहीं
तुम्हे दुनिया भूल सकती है पर Sahil नहीं ।।

90

Do Ghadi Ke Saathi Humsafar Samajhte Hain
Kis Kadar Purane Hain Hum Naye Zamane Mein.

91

आंसुओं की बूँदें हैं या आँखों की नमी है
न ऊपर आसमां है न नीचे ज़मी है
यह कैसा मोड़ है ज़िन्दगी का
उसी की ज़रूरत है और उसी की कमी है..

92

Aagosh Me Apne Chhupa Le Mujhe Koi
Tanha Hu Tadapne Se Bacha Le Mujhe Koi
Sookhi Hai Badi Der Se Palkon Ki Jubaan
Bas Aaj To Jee Bhar Ke Rula De Mujhe Koi.

93

Kadam Do Char Chalta Hoon
Muqaddar Rooth Jata Hai
Har Ek Ummeed Se Rishta
Humara Toot Jata Hai.
Zamane Ko Sambhalu Gar
To Tumse Dur Hota Hoon
Tera Daaman Sambhalu To
Zamana Chhut Jata Hai.

94

Talash Uski Karo Jo Pass Na Ho.
Bhula Do Usse Jispar Vihswas Na Ho.
Ham To Apne Gam Par Hans Parte Hai.
Taaki Samne Wala Udas Na Ho.

95

जिनसे उम्मीदें वफ़ा की
वही वेबफा आज कहतें हैं
जिन्होंने हमारे मरहम लगाया
वही आज घाव देतें हैं।

96

तूने ये कैसी बिन बताये दूरियां बड़ाई हैं
बिछड़ कर इश्क में ये कैसा अधूरा पन लाई है
मेरे नसीब में गम हिस्से आया है तो गम नही
लेकिन उसकी किस्मत तो दुबारा रंग लाई है।

97

मेरे दिल मे उसके लिए वफा आज भी है
मेरे दिल मे उसके लिए सदा आज भी है
चाहे वो मुझसे लाख नफरत करे लेकिन
वो मेरे लिए मेरा जहान आज भी है।

98

तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।

99

Husn Wale Jab Todte Hain Dil Kisi Ka
Badi Sadagi Se Kahte Hain Majaboor The Ham.
कभी अपनी मुस्कान को खोने न देना हर पल साथ रहूंगा
कभी मत सोचना तुम से दूर हो गए तेरे आस पास रहूंगा
इस मतलब की दुनिया मे भले मुझ से तुम दूर हो जाओ
पर मैं तेरी यादों को अपने सीने से लगाके रखूंगा।

100

आँखों में रहा दिल में उतर कर नहीं देखा
कश्ती के मुसाफिर ने समंदर नहीं देखा
पत्थर मुझे कहता है मेरा चाहने वाला
मैं मोम हूँ उसने मुझे छू कर नहीं देखा

101

Ke Bagair Jiske Ek Pal Bhi Gujara Nahi Hota
Sitam To Dekhiye Wahi Shakhs Humara Nahi Hota.

102

वक्त नूर को बेनूर कर देता है
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है
कोन चाहता अपनी मोहब्बत से दूर रहना
लेकिन वक्त सबको मजबूर कर देता है।

103

Kya Kahu Tere Pyar Ne Zindagi Di Hai
Mera Dard Lekar Aur Mujhe Khushi Di Hai
Anchhua Pyar Jise Maine Bas Mehsus Hi Kiya
Apnakar Mujhe Tune Jo Pyar Hi Pyar Diya Hai.

104

Roj Ke Vaadon Pe Mar Jayenge Hum
Yun Hi Gujri To Gujar Jayenge Hum.

105

तू भुला दे मुझे इस बात का शिक़वा नही
तू ने मुझे रुलाया इस बात का कोई गिला नही
जिस दिन हमने तुझे भुला दिया
बस तभी समझ लेना कि दुनिया मे हम नहीं।

106

ना समझो कि हम आपको भुला सकेंगे।
आप नही जानते की दिल मे छुपा कर रखेंगे।
देख ना ले आपको कोई हमारी आँखों मे दूर से।
इसी लिए हम पालखे झुका के रखेंगे।

2 line Sad Shayari Hindi

Short and sweet is awesome. These 2 line sad shayari may be small but they are powerful. Browse along and let us know what you think of them.

107

दर्द भी अपनी अदा में है इस वक्त
लगता है वो हम पे फिदा है इस वक्त।

108

यू ना कहो के ये किस्मत की बात है
मुझे बर्बाद करने में तुम्हारा भी हाथ है।

109

कोई मरतो नही जाता इश्क-ए-जुदाई में
लेकिन जी भी तो नही पाता है जिंदगी की तन्हाई में।

110

खुदा कभी किसी पे फ़िदा न करे
अगर करे भी तो कभी कयामत तक जुदा न करे।

111

Zikr Uss Pari-Was Ka Aur Phir Bayaan Apna
Ban Gaya Raqeeb Aakhir Tha Jo Raaz-Daan Apna.

112

Bhule Hain Unhe Rafta Rafta Muddaton Me Hum
Kishton Me Khudkushi Ka Maza Hum Se Puchhiye.

113

उदास नज़रो में ख़्वाब मिलेंगे।
कभी काटे तो कभी गुलाब मिलेंगे।
मेरे दिल की किताब को मेरी नज़रो से पढ़ कर तो देखो।
कही आपकी यादे तो कही आप मिलेंगे ।

114

Kaisa Mukaam Tha Jise Chhod Gaye Wo Tanha
Aksar Usi Jagah Pe Roj Rona Mujhe Pada.

115

आज तेरी याद को सीने से लगा कर हम रोये
हम तुझे तन्हाई में पास बुलाकर रोये
पाना तो बहुत चाहा था हर बार तुझे
पर हर बार तुझे न पाकर हम रोये।

116

हमने मुहब्बत के नशे में आकर उसे खुदा बना डाला.
होश तब आया जब उसने कहा खुदा किसी एक का नही होता।

117

इस इश्क की किताब से
बस दो ही सबक याद हुए
कुछ तुम जैसे आबाद हुए
कुछ हम जैसे बर्बाद हुए।

118

Samajh Pata Hun Der Se Main Daaon-Pench Uske
Wo Bazi Jeet Jata Hai Mere Chalak Hone Tak.

119

Mere Yaar Mere Dil Ke Armaan Ho
Tere Badolat Me Hun Tu Meri Shan Ho
Rishta Hai Tumse Mera Janam-Janam Ka
Zindagi Hai Tumse Tum Meri Jaan Ho.

120

अब छोड़ो वफाओ के किस्से ये
तो न जाने कितनो का रोना है
पहले कोन था साथ हमारे
और अब कोन अपना होना है।

121

दिल से कब निकलता है दिल में बस जाने के बाद
दर्द कितना होता है बिछड़ जाने के बाद
जो पास होता है उसकी कदर नही होती है
कदर होती है दूर जाने के बाद।

122

Na Jane Kaisi Nazar Lagi Hai Zamane Ki
Wajah Hi Nahi Mil Rahi Muskurane Ki.

123

मुक्कदर के सिकन्दर मुझ पर एक एहसान कर देना
मेरी जाने वेबफा के होठों पे मुस्कान लिख देना
उसकी ज़िन्दगी में कभी भी कोई दर्द न आये
चाहे तो उसके मुकद्दर में मेरी जान लिख देना।

124

छोटी सी है है ज़िन्दगी तो तकरार किस लिये
रहते हो दिल में तो फिर दिवार किस लिए.

125

अजब हाल है मेरी तबियत का आजकल मुझे ख़ुशी ख़ुशी नही लगती
और गम बुरा नही लगता है।

126

Abhi Rah Me Kai Mord Hain
Koi Aayega Koi Jayega
Tumhe Jisne Dil Se Bhula Diya
Use Bhoolne Ki Duaa Karo

127

तेरी यादों की महक इन हवाओं में है
तेरे प्यार की महक इन फ़िज़ाओं में है
ऐसा न हो दर्द हद से गुजर जाए
आजा तेरा इंतेज़ार मेरी निगाहों में है।

128

कभी ख़ुशी से ख़ुशी की तरफ नही देखा
तेरे जाने के बाद किसी और को नही देखा
तेरा इंतज़ार करना तो है लाज़िम
इसलिए कभी हमने घड़ी की तरफ नही देखा।

129

दिन हुआ है
तो रात भी होगी
मत हो उदास
उससे कभी बात भी होगी। वो प्यार है ही इतना प्यारा
ज़िंदगी रही तो मुलाकात भी होगी।

130

मेरे दिल के हर कोने से बस एक ही सदा आती है
इस दिल को हमेशा तेरी वेबफाई याद आती है
मेरा दिल भी मुझ से बस यही बार बार पूछता है
मैं इतना तड़पता हूँ उसके लिए क्या उसे भी मेरी याद आती है।

131

टूट कर बिखर जाते है वो लोग
मिट्टी की दीवारों की तरह
जो खुद से भी ज्यादा किसी ओर से
मोहब्बत किया करते है|

132

निगाहें तो बस उसे ही ढूंढ़ती हैं अजनबी से चहरों के बीच
शायद वो आये और उसे हम पे एतवार हो जाये।

133

बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।

134

लोग जिसे मोहब्बत का नाम देते हैं
हम वही मोहब्बत तुमसे वे शुमार करतें है।

135

सुनो एक बार और मोहब्बत करनी है
तुमसे लेकिन इस बार बेवफाई हम करेंगे

136

वक़्त के साथ सब कुछ बदल जाता है…लोग भी
रिश्ते भी
एहसास भी और कभी कभी हम खुद भी।

137

अगर कोई खता हो गई हो तो सजा बता दो
क्यों है इतना दर्द बस इसकी वजह बता दो
भले ही देर हो गई हो तुम्हे याद करने में
लेकिन तुम्हे भूल जायेंगे ये ख्याल दिल से मिटा दो।

138

क्यों मेरी किस्मत मुझसे खफा है
मैं जिसको भी अपना समझता हूँ वो बेवफा है
क्यों न करूं शिक़वा मैं इस रात से
मैं जो भी ख्वाब देखूँ तो हो जाती है सुबह।

139

Lag Raha Hai Bhool Gaye Ho Shayad
Ya Fir Kamal Ka Sabr Rakhte Ho.

140

मन करता है जो दर्द है दिल में
बयां कर दूँ हर दर्द तुझसे
अब ये दर्द छुपाए नहीं जाते
लेकिन नहीं कह सकता कुछ तुझसे
क्योंकि दिलो के दर्द दिखाए नहीं जाते.

141

इस दुनिया मे कौन अपना है कौन बेगाना है
ये तो दोस्तों आज हमने मोहब्बत करके जाना है।

142

Rah-E-Wafa Me Kiska Kisne Diya Hai Saath
Tum Bhi Chale Chalo Yun Hi Jab Tak Chali Chale.

143

ना साथ है किसी का ना सहारा है कोई
ना हम किसी के ना हमारा है कोई

144

आज फिर गुमनाम चेहरों में तू नज़र आया है
आज “फिर” तेरी यादों ने मुझे रुलाया है
तेरी मोहब्बत ने मुझे चकना चूर किया है
क्यों आज फिर तूने वेबफा का इल्ज़ाम लगाया है।

145

तू मुझे छोड़ तो सकती है
पर मुझे भुला नहीं सकती है।

146

प्यार हर किसी को जीना सिखा देता है
वफ़ा के नाम पर मरना सिखा देता है
प्यार नही किया तो करके देखो
ये हर दर्द सहना सिखा देता है।

147

इस दिल को किसी की आहट की आस रहती है
निगाह को किसी सूरत की प्यास रहती है
तेरे बिना जिन्दगी में कोई कमी तो नही
फिर भी तेरे बिना जिन्दगी उदास रहती है॥

148

Pyar Kar Ke Koyi Jataye Ye Jaruri To Nahi
Yaad Kar Ke Koyi Bataye Ye Jaruri To Nahi
Rone Wale To Dil Me Hi Ro Lete Hain Apne
Kabhi Aankh Me Aansu Aaye Ye Jaruri To Nahi.

149

Tum Mujhse Pyar Karti Ho Ye Mera Dil Kehta Hai
Mera Dil Hi Hai Jo Pal-Pal Tujhko Yaad Karta Hai
Sahara Bhi Banti Ho Jab Tanhai Hoti Hai
Bas Tu Dikhti Nahi Hai Bas Tera Sath Rehta Hai.

150

कैसे भूल जाऊँ वो गली
जहां मेरी ज़िंदगी मुझसे मिली।

151

तब बहुत देर हो
चुकी होगी
जब तुझे
हम समझ आएंगे.

152

तुम बहुत दिल नशीन थी
पर जबसे किसी और की हो गयी हो
तबसे ज़हर लगती हो.

153

Kya Gam Hai Kya Khushi Malum Nahi
Wo Apna Hai Ya Ajnabi Malum Nahi
Jiske Bina Ek Pal Nahi Gujarta Hai
Kaise Gujregi Ye Zindagi Malum Nahi.

154

हमारी चाहत ने उस वेबफा को ख़ुशी देदी
और उस वेबफा ने बदले में ख़ामोशी देदी
मांगी तो उस रब से दुआ मरने की थी
लेकिन उसने भी हमे तड़पने के लिए जिंदगी देदी।

155

Sare Raah Jo Unse Nazar Mili
To Naksh Dil Ke Ubhar Gaye
Hum Nazar Mila Kar Jhijhak Gaye
Wo Nazar Jhhuka Kar Chale Gaye.

156

Kitna Bebas Hai Insaan Kismat Ke Aage
Har Sapna Tut Jata Hai Hakikat Ke Aage
Jisne Kbhi Duniya Me Haarna Nahi Sikha
Wo Bhi Haar Jata Hai Mohabbat Ke Aage.

157

किसी की चाहत पर हमे अब एतवार न रहा
अब किसी भी ख़ुशी का हमे एहसास न रहा
इन आँखों ने सपनो को टूटते देखा है
इसलिए अब जिंदगी में किसी का इंतज़ार न रहा।

158

टूटे हुए दिल को सम्भालना हमे आता है
रूठे हुए दिल को मनाना हमे आता है
वो न करें हमारी ज़िंदगी की फिक्र
क्योंकि दर्द में भी मुस्कुराना हमे आता है।

159

Meri Jaan Na Mujhse Dur Ja
Kasam Hai Tujhe Pass Aa
Dekh To Mere Dil Ki Halat
Ab Aur Mujhe Na Tarsa.

160

Apni Aankho Ke Samandar Me Utar Jane De
Tera Mujrim Hu Mujhe Doob Ke Mar Jane De.

161

हम जानते है आप जीते हो जमाने के लिए
एक बार तो जीके देखो सिर्फ हमारे लिए
इस नाचीज़ की दिल क्या चीज़ है
हम तो जान भी देदेंगे आप को पाने के लिए।

162

दिल का तमाशा देखा नहीं जाता
टुटा हुआ सितारा देखा नहीं जाता
अपनी हीसे की सारी ख़ुशी आपको दे दूँ
मुझसे आपका ये उदास चेहरा देखा नहीं जाता|

163

Usne Mehsoos Bhi Na Hone Diya
Yun Kahani Ka Rukh Mod Diya
Milne Julne Me Kami Ki Pehle
Phir Humein Tanha Chhod Diya.

164

एक उम्र भर की जुदाई मेरे नसीब में करके
वो तो चला गया बातें अजीब करके
तर्ज ए वफा को उसकी क्या नाम दूं
खुद तो दूर चला गया मुझे करीब करके।

165

हम खामोश हो जाते हैं उनकी सुनते सुनते
वो न जाने क्यों चुप हो जातें हैं कुछ कहते कहते
हम तो मिट गए उनके सितम सहते सहते।

166

जिसने हमको चाहा उसे हम चाह न सके
और जिसको हमने चाहा उसको हम पा न सके।

167

कल रात मैंने अपने सारे ग़म
कमरे की दीवार पर लिख डाले
बस फिर हम सोते रहे और दीवारे रोती रही

168

Toote Hue Kaanch Ki Tarah Chakanachoor Ho Gaye
Kisi Ko Lag Na Jaaye Isalie Sabse Door Ho Gaye.

169

दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता,
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता,
बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में,
और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता

170

Meri Har Shayari Mere Dard Ko Karegi Banya Ai Gam
Tumhari Aankh Na Bhar Jayen
Kahin Padhte Padhte.

171

यादों में तेरी आहे भरता है कोई
हर साँस के साथ तुझे याद करता है कोई
मरना तो सभी को है वो एक हकीकत है
लेकिन तेरी यादों में हर दिन मरता है कोई।

172

Mijaaz Ko Bas Talkhiyan Hi Raas Aayin
Humne Kai Baar Muskura Ke Dekh Liya.

173

तू मेरे साथ न ही सही
पर तेरी यादों का सहारा तो रहता है
तूने मुझ पर लाख सितम किये ही सही
पर रातों में तेरी यादों में जागने का सहारा तो रहता है।

174

Wo Ruthhte Rahe Aur Hum Manate Rahe
Unki Raahon Me Palkein Bichhate Rahe
Unhone Kabhi Palat Kar Bhi Na Dekha
Hum Palak Jhapkane Se Bhi Katrate Rahe.

175

सारे फासले मिटा कर तू हमसे प्यार रखना
हमारा रिश्ता हमेशा बरकरार रखना
अगर कभी इत्तेफाक से हम आपसे जुदा हो जाये
तो कुछ पलों के लिए मेरा अपनी आँखों में इंतज़ार रखना।

176

दो पल को ही सही पर मेरी तन्हाइयो में खो जाओ
मैं तेरा और तुम मेरी दो पल के लिए हो जाओ।

177

हर घड़ी इस जिंदगी को आज़माया है हमने
इस जिंदगी में सिर्फ गम पाया है हमने
जिस ने हमारी कभी कदर ही न जानी
उस वेबफा को इस दिल में बसाया है हमने।

178

Usne Kaha Kaise Ho Tum Bas Maine Lab Khole Hi The
Aur Baat Duniya Ki Taraf Jaldi Se Usne Mod Di.

179

हमे दिल में बसाया था तो साथ निभाया क्यों नही
जब नजरे मिलाई थी हमसे तो नजर में बसाया क्यों नही
तूने तो हमसे जिंदगी भर साथ निभाने का वादा किया था
तो छोड़ कर जाने से पहले एक बार बताया क्यों नही।

180

Hame Mohabbat Me Sachcha Yaar Na Mila
Dil Se Chaahe Hume Wo Pyar Na Mila
Luta Dein Jiske Liye Sab Kuchh Apna
Mohabbat Ka Aisa Talabgaar Na Mila.

181

अगर कुछ सीखना है तो खामोशी को पढ़ना सीख लो.
वरना लफ़्ज़ों के मतलब तो हजारों निकलते है।

182

वो वेबफा चार दिन की मोहब्बत दे गया
और मेरी उम्र भर की रातों की नींद ले गया।

183

Piche Mudna Na Jante Hum Aage Badte Hai
Jiska Pata Na Jante Ho Wo Manzil Dhundtein Hai
Koi Awara Kehta Koi Kehta Pagal
Hum Dil Ka Kaha Mante Hai Aur Dil Ka Kaha Karte Hai.

184

भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत
तो भूलके तुमको संभालना हमें भी आता है
मेरी फ़ितरत में ये आदत नहीं है वरना
तेरी तरह बदल जाना मुझे भी आता है।

185

Mila Kya Hume Saari Umr Mohabbat Karke
Bas Ek Shayari Ka Hunar Ek Raato Ka Jagna.

186

बस मुझे तो तेरी एक मुस्कान चाहिए
एक मेरे दिल मे तेरा अरमान चाहिए
तुम लौट कर भले ही मत आओ
हमें याद रखना ये एहसान चाहिए।

187

हम तो अपने खुदा से बस इतनी दुआ करते है
उन्हें सलामत रखना जो मेरे दिल मे रहतें हैं।

188

यारो हम तो उसके ही गम में अंदर से बिखर गए
यारो सच तो यही है कि बस हम तो मर गए।

189

ये ज़िंदगी हमे भी बहुत प्यारी है
लेकिन फिर क्यों ऐसा लगता है
के तेरे विन ये हमारी नही है।

190

Meri Chahat Ne Use Khushi De Di
Badle Mein Usne Mujhe Khamoshi De Di
Khuda Se Dua Maangi Marne Ki To
Usne Bhi Tadapne Ke Liye Zindagi De Di.

191

तेरे प्यार भरे लम्हो को अपने दिल पे लिखता हूँ
मैं अपने कलम से लफ़्ज़ों को वेहिसाब लिखता हूँ
कभी तो बेवफा हमारे लिए भी दुआ कर लिया करो
क्योंकि मैं भी तो अपनी हर एक सांस पर तेरा नाम लिखता हूँ।

192

उनके गम में मेरी आँखें नम हो जाती हैं
लेकिन फिर भी होटों पे हंसी लानी पड़ती है
मोहब्बत तो हमने बस एक से की थी
लेकिन ये मोहब्बत जमाने से छुपानी पड़ती है।

193

दिल तो पहले होता था सीने में
अब तो दर्द लिए फिरते है |

194

किसी को याद करने से किसी का दीदार नही होता
सिर्फ याद करना ही किसी से प्यार नही होता
किसी की यादों में वे इन्तेहाँ हम भी तड़पटे हैं
बस उसे हमारे जज़्बात का एहसास नही होता।

195

Mar Jaynge A Dost Sabhi Jeene Wale
Amar Rahenge Wahi Jo Hai Pyar Karne Wale
Jiyenge Yaha Kal Bhi Hosla Rakhne Wale
Duniya Badalte Hai Bas Dil Ko Samjhne Wale.

196

Pyar Kiya To Kiya Koi Ahsan Kar Diya
Kya Jo Kuch Apne Waste Kiya
Dil Bhi Diya To Badle Mai Dil Liya
Aaj Tak Tere Pyar Bina Mai Zindagi Kaha Jiya.

197

तुझे मोहब्बत करना नही आता
और मुझे मोहब्बत के सिवा कुछ नही आता
जिंदगी जीने के दो ही तरीकें है
एक तुझे नही आता
और दूसरा मुझे नही आता।

198

सोचा था तड़पायेंगे हम उन्हें
किसी और का नाम लेके जलायेगें उन्हें
फिर सोचा मैंने उन्हें तड़पाके दर्द मुझको ही होगा
तो फिर भला किस तरह सताए हम उन्हें।

199

Teri Yaad Mein Dard Hai Dard Mai Tere Pyar Hai
Tujhse Dur Rehkar Aaj Bhi Ye Dil Bekrar Hai
Ab Tujhse Dur Raha Nahi Jata Ab Bin Tere Saha Nahi Jata
Aa Mujhse Milke Mujhse Kah De Tujhko Bhi Mujhse Pyar Hai.

200

मुझे जिसने जिंदगी दी
वो मरता छोड़ गये
जिससे मोहब्बत की वो मुझे तन्हा छोड़ गये
थी हमे भी एक हमसफ़र साथ चलने को जरूरत
जो साथ चलने बाले थे वही रास्ता मोड़ गये।

201

हमे तो सिर्फ जिंदगी से एक ही गिला है
क्यों हमे खुशियां न मिल सकी क्यों ये गम मिला है
हमने तो उनसे इश्क-ए-वफ़ा की थी
क्यों वफ़ा करने के बाद वेबफाई ही सिला है।

202

“तेरी यादों के जो आखिरी थे निशान
दिल तड़पता रहा
हम मिटाते रहे
ख़त लिखे थे जो तुमने कभी प्यार में
उसको पढते रहे और जलाते रहे.”

203

हम आपको याद न कर पाएं तो माफ़ करने की कोशिश करना
हमसे कोई गलती हो जाये तो माफ करने की कोशिश करना
हम आपको वैसे तो कभी भूला नही पाएंगे
लेकिन सांसें थम जाएं तो माफ करने की कोशिश करना।

204

अब मोहब्बत नही रही इस जमाने में
क्योंकि लोग अब मोहब्बत नही मज़ाक किया करते है इस जमाने में।

205

Tasawwar Me Na Jaane Kaatibe Takdeer Kya Tha
Mera Anzaam Likha Hai Mere Aagaaz Se Pahle.

206

कुछ तन्हाईयां वेबजह नही होतीं
कुछ दर्द आवाज़ छीन लिया करतें है।

207

Ehtiyat Rakhne Ki Koi Had Bhi Hoti Hai
Bhed Humne Khole Hain Bhed Ko Chhupane Mein.

208

Bhari Duniya Me Koi Bhi Nazar Aata Nahi Apna
Ek Daur Aisa Bhi Gujar Jaata Hai Insaan Par.

209

तेरे लिए लड़ लिए सबसे
लेकिन हम हार गये अपने नसीब से।

210

कुछ यूँ उतर गए हो मेरी रग-रग में तुम
कि खुद से पहले एहसास तुम्हारा होता है।

211

मेरी सारी कोशिशें हमेशा बेकार ही रहीं
पहले तुझे पाने की और अब तुझे भुलाने की।

212

दुनियां बहुत मतलबी है
साथ कोई क्यों देगा
मुफ़्त का यहाँ कफन नही मिलता
तो बिना गम के प्यार कौन देगा।

213

मोहब्बत उससे करो जो आपसे प्यार करे
अपने आप से भी ज्यादा आप पर एतवार करे
आप उससे एक बार दो पल के लिए रुकने को तो कहो
और उन दो पलो के लिए सारी जिंदगी इंतज़ार करे।

214

Dil Tadpata Hai To Tadpane Do
Thoda Dard Ka Use Bhi Ahsas Do
Pyar Badh Jayga Milan Ki Chahat Aur Badegi
Sath Dene Se Pahle Thoda Intezar Karne Do.

215

हमें क्या पता था मौसम ऐसे रो पड़ेगा
हमने तो आसमान को
बस अपनी दास्तां सुनाई थी|

216

अभी सूरज नहीं डूबा जरा सी शाम होने दो;
मैं खुद लौट जाऊंगा मुझे नाकाम तो होने दो;
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूंढ़ता है जमाना;
मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले मेरा नाम तो होने दो।

217

रहने दो अब के तुम भी मुझे पढ ना सकोगे
बरसात में कागज की तरह भीग गया हु..

218

जब कभी मोहब्बत ही नही की तो रोकते क्यों हो
खामोशियों में मेरे लिए सोचते क्यों हो
जब रास्ते हो गए अलग अब जाने दो मुझे
कब लौटकर आओगे पूछते क्यों हो।

219

Tum Lautkar Aane Ki Takleef Dobara Mat Karna
Ham Ek Baar Ki Gayi Mohabbat Dobara Nahin Karte.

220

मेरी अब तो दिवानो की तरह हालत है
बस तुम्हे देखूँ यही मेरी चाहत है
कभी इस मोहब्बत के सफर में छोड़ न जाना
बस एक खुदा से अब मेरा यही अरमान है।

221

Munh Ki Baat Sune Har Koi Dil Ke Dard Ko Jaane Kaun
Aawaajon Ke Bazaron Me Khamoshi Pahchane Kaun
Sadiyon Sadiyon Wahi Tamasha Rasta Rasta Lambi Khoj
Lekin Jab Ham Mil Jaate Hain Kho Jaata Hai Jaane Kaun.

222

Meri Ahkon Ki Teri Surat Jani Pehchani Lagti Hai
Tumse Shuru Meri Kahani Tumse Khatam Hoti Hai
Milke Tujhse Mere Dil Ne Bahut Khawab Dekhe Hai
Tujhse Dhalti Meri Sham Tujhse Subah Hoti Hai.

223

मुझे सिर्फ इतना बता दो इंतज़ार करू
तुम्हारा या बदल जाऊ तुम्हारी तरह

224

उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था
अपना भी नही बनाया और किसी और का भी ना होने दिया।

225

ये वक्त बदला और बदली ये कहानी है
अब तो बस मेरे पास उनकी यादें पुरानी है
न लगाओ मेरे ज़ख्मो पे मरहम
क्योंकि मेरे पास बस उनकी यही बची हुई निशानी है।

226

Nahi Mila Koi
Tum Jaisha Aaj Tak
Per Ye Sitam Alag Hai
Ki Mile Tum Bhi Nahi.

227

Zakhm-E-Tanhai Mein Khushbu-E-Hina Kiski Thi
Saya Deevar Pe Mera Tha Sada Kiski Thi.

228

दिलों की बस्ती एक बार टूट जाती है तो वो उजड़ जाती है
मोहब्बत की कश्ती जब तूफान में फंस जाती है तो वो मिट जाती है।

229

Chupchap Gujaar Denge Tere Bina Bhi Ye Zindagi
Logon Ko Sikha Denge Mohabbat Aise Bhi Hoti Hai.

230

Nateeja Ek Hi Nikla Ke Thi Kismat Me Nakami
Kabhi Kuchh Kah Ke Pachhtaye Kabhi Chup Rah Ke Pachhtaye.

231

दर्द ही सही मेरे इश्क़ का इनाम तो आया
खाली ही सही होठों तक जाम तो आया
मैं हूँ बेवफा सबको बताया उसने
यूँ ही सही चलो उसके लबों पर मेरा नाम तो आया ..

232

Tum Bhi Kar Ke Dekh Lo Mohabbat Kisi Se
Jaan Jaoge Ki Hum Muskurana Kyun Bhul Gaye.

233

कितनी दूर निकल आये हम इश्क निभाते निभाते
खुद को खो दिया हमने उनको पाते पाते
लोग कहते है दर्द बहुत है तेरी आँखों में
और हम दर्द छुपाते रहे मुस्कुराते मुस्कुराते।

234

Har Khusi Ke Pahlu Haaton Se Chhut Gaye
Ab To Khud Ke Saaye Bhi Rooth Gaye.

235

चलो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर
ख़ामोशी तुम समझोगे नहीं और बयाँ हमसे होगा नहीं|

236

Humse Pucho Kya Hota Hai Pal Pal Bitana
Bahut Mushkil Hota Hai Dil Ko Samjana
Zindagi To Beet Jayegi Ai Dost
Bus Mushkil Hota Hai Kuch Logo Ko Bhul Pana.

237

बड़े सुकून से रहते है अब वो मेरे बिना
जैसे किसी उलझन से छुटकारा मिल गया हो.

238

इश्क और बारिश दोनों ही कभी भुलाई नही जाती
बारिश में तन मन भीग जाता है
और इश्क में आंखे भीग जाती है।

239

मुझे उसके इश्क का घना बादल बना देता
मुझे उसकी आँखो का काजल बना देता
तुझसे बिछड़ना अब मुझे मौत की तरफ ले जाता है
ऐ रब इससे अच्छा तू मुझे पागल बना देता।

240

Pyar Mohabbat Ki Bas Itni Kahani Hai
Ik Tooti Hui Kashti Aur Thhara Hua Pani Hai
Ik Phool Jo Kitabon Me Kahin Dam Tod Chuka Tha
Kuch Yaad Nahin Aata Kiski Nishani Hai.

241

तेरा मेरा दिल का रिश्ता बड़ा अजीब है
मीलों की हैं दूरियां लेकिन फिर भी धड़कन करीब है।

242

टूटा हो दिल तो दुःख होता है
करके मोहब्बत किसी से ये दिल रोता है
दर्द का एहसास तो तब होता है
जब किसी से मोहब्बत हो और उसके दिल में कोई और होता है।

243

बारिशे हो ही जाती है मेरे शहर में
कभी बादलो से तो कभी आँखों से

244

तुम हमे क्यों इतना दर्द देते हो
जब जी में आये तब रुला देते हो
लफ़्ज़ों में तीखा पन और नजरो में बेरुखी
ये कैसा इश्क है जो तुम हमसे करते हो।

245

Ek Baat Bolun
Ek
Din Bahut
Miss Karoge Mujhe!

246

कैसे बुरा कह दूँ तेरी बेवफाई को
यही तो है जिसने मुझे मशहूर किया है.

247

दूरियों को मिटा कर दिल मे मोहब्बत रखना
मोहब्बत का रिश्ता यूँ ही बरकरार रखना
अगर इत्तेफाक से हम आपसे बिछड़ जाएं
तो मेरा इंतेज़ार अपनी आंखों में सजाएं रखना।

248

Pyar Ke Dard Me Iss Dil Ko Tadapte Dekha
Apne Samne Har Rishte Ko Bikharte Dekha
Kitne Pyar Se Sajai Thi Khwabon Ki Duniya
Jis Ko Apni Aankhon Ke Samne Ujadte Dekha.

249

हम अपने दिल से तो बहुत रोये पर होठों से मुस्कुराने चले
हम तो उस वेबफा से वफ़ा निभाने चले।

250

जब इश्क हद से ज्यादा खुशियां देने लगता है
तब वही इश्क हद से ज़्यादा गम देने लगता है।

251

Tum Laakh Dua Kar Lo Mujhse Door Jaane Kee..
Meree Dua Bhee Usee Khuda Se Hai
Tujhe Mere Kareeb Laane Kee

252

मेरे दिल मे दर्द होता है
जो था मेरा उसे कोई और बना ले गया
जो सपना मैंने देखा था
उसे हकीकत कोई और बना ले गया।

253

आज फिर तन्हाईयो ने तुझे पुकारा है
ये तो मेरा दिल बेचारा है
तू इस दिल से दूर हो गया है
आज फिर इस दिल को यक़ीन नही आया है।

254

मेरा दिल मुझसे कहता है बार बार जो
बात तक नही करता वो प्यार क्या करेगा।

255

Us Shakhs Ko Bichhadne Ka Tareeka Nahi Aata
Jaate Jaate Khud Ko Mere Paas Chhod Gaya.

256

Is Duniya Ko Chhod Ke Sare Riwaz Tod Ke
Chal Diye Hum Tujhse Rishta Jod Ke
Na Ab Hamare Bich Koi Diwar Ayegi
Chod Chale Hai Wo Gali Aaj Apno Ko Bhul Ke.

257

किसी को न पाने से जिंदगी खत्म नहीं होती
लेकिन किसी को पाकर खो देने से कुछ बाकी भी नहीं रहता|

258

न जाने वो कोन है जो बिन बुलाये आता है
मेरे ख्याल से तेरा ख्याल ही होगा जो मुझे सताता है।

259

बिन बात के ही रूठने की आदत है
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है
आप खुश रहें
मेरा क्या है..
मैं तो आइना हूँ
मुझे तो टूटने की आदत है।

260

वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही
मोहब्बत में प्रेमी कभी झुकता नही
किसी की खुशियों के खातिर चुप है
पर तू ये न समझना की मुझे दुःखता नही।

261

बिखरा वज़ूद
टूटे ख़्वाब
सुलगती तन्हाईयाँ ….
कितने हसींन तोहफे दे जाती है ये
अधूरी मोहब्बत।

262

हमारी खुशियों में वो शामिल होतें हैं
जिसे हम चाहतें हैं
लेकिन हमारे दुःखों में वो शामिल होतें है
जो हमे चाहते है।

263

कभी कभी हम किसी के लिए उतना जरुरी भी नहीं होते
जितना हम सोच लेते है|

264

सच कहो तो उन्हें ख्वाब लगता है
और शिकवा करो तो उन्हें मज़ाक लगता है
हम कितनी शिद्दत से उन्हें याद करते है
और एक वो हैं जिन्हें ये सब इत्तेफाक लगता है।

265

Mohabbat Ki Saza Bemisal Di Usne
Udaas Rehne Ki Aadat Si Daal Di Usne
Maine Jab Apna Banana Chaha Usko
Baaton Baaton Me Baat Taal Di Us Ne.

266

Aaj Koi Kasme Khata
Aaj Koi Wade Karta
Ek Tujhse Milne Ko
Soo Lakh Bahane Karta.

267

Teri Cahat Aaj Bhi Jawa Hai
Jo Mere Darde Dil Ki Dawa Hai
Is Duniya Se Mujhe Ab Kya Lena
Oh Mujhe Tune Apna Kaha Hai.

268

अगर डाली सूख जाए तो उसपे फूल नही खिलता
वही ज़िन्दगी का भी हाल है जो चाहो वो नही मिलता।

269

हज़ारो बातें मिल कर एक राज़ बनता है
सात सुरों के मिलने से साज़ बनता है
आशिक़ के मरने पर कफ़न भी नहीं मिलता
और हसीनाओ के मरने पर ताज़ बनता है

270

मैंने इश्क से पूछा तेरे रास्ते मे इतनी मुश्किलें क्यों आतीं हैं
तो इश्क ने हंस कर जबाब दिया
इस दुनिया में लोग आसान चीजों की कदर नही करतें हैं।

271

Ab Mera Haal Chaal Nahin Poochhate Ho To Kya Hua
Kal Ek-Ek Se Poochhoge Ki Use Hua Kya Tha.

272

ऐ बेवफा मेरे हालात को समझ
मेरे दिल के जज़्बात को समझ
तू क्यों नही समझता मेरे दिल को
मेरे दिल पे लिखा है क्या
उस इश्क की किताब को तो समझ।

273

हमको दीवाना कर दिया एक नजर देख कर
हम कुछ भी न कर सके बार बार देख कर।

274

तू चली आये ज़िन्दगी में बस यही आस रहती है
इन निगाहों को बस तेरे चेहरे की प्यास रहती है
मुझे ज़िन्दगी में कुछ और पाने की ख्वाइश नही है
लेकिन इन धड़कनों को बस तेरी तलाश रहती है।

275

ना वो सपना देखो जो टूट जाये
ना वो हाथ थामो जो छुट जाये
मत आने दो किसी को करीब इतना
कि उससे दूर जाने से इंसान खुद से रूठ जाये|

276

कभी गम तो कभी वेबफाई मार गई
कभी उनकी याद आई तो जुदाई मार गई
जिसको हमने बेइन्तहा मोहब्बत की
आखिर में हमे उसी की वेबफाई मार गई।

277

उम्र ने तलाशी ली
तो जेबों से लम्हे बरामद हुए..
कुछ ग़म के
कुछ नम थे
कुछ टूटे
कुछ सही सलामत थे..

278

Jis Khushi Ki Chahat Thi Mujhe Khushi Wo Mili
Pyar Ke Siva Zindagi Bhi Mili
Affsos Yahi Ki Kisi Ka Dard Na Bat Saka
Wafa Na Kiya Phir Bhi Mujhe Unse Wafa Mili.

279

एक चाहत थी तेरे साथ जीने की वरना
मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी!!!

280

गुमनाम चेहरों में बस एक ही चेहरा नज़र आता है
कुछ और मैं क्या सोचूँ उसकी यादों में सारा वक्त गुज़र जाता है।

281

Baithh Ke Kisi Ka Intzaar Kar Ke Dekhna
Kabhi Tum Bhi Kisi Se Pyaar Kar Ke Dekhna
Kaise Toot Jaate Hain Mohabbat Ke Rishte
Galtiyan Kabhi Do Chaar Kar Ke Dekhna.

282

टूटे हुए दिल भी धड़कते है उम्र भर
चाहे किसी की याद में या फिर किसी फ़रियाद में।

283

हमने दिल को लगाया
ये कैसा रोग लगा लिया
हमने यूँ ही बैठे बिठाए मौत को गले लगा लिया।

284

सांस थम जाती है पर जान नही जाती
दर्द होता है पर आवाज नही आती
अजीब लोग हैं इस जमाने में
हम भूल नही पाते और किसी को याद नही आती।

285

आदत बदल सी गई है
वक्त काटने की
हिम्मत ही नहीं होती
अपना दर्द बांटने की..!!

286

Tamaam Umr Hum Wafa Ke Gunahgaar Rahe
Yeh Aur Baat Hai Ke Hum Aadmi To Achhe The.

287

सामने मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना ।
जो मन मे हो वो ख़्वाब ना तोड़ना ।
हर कदम पर मिलेगी सफ़लता ।
बस आसमान छूने के लिए जमीन ना छोड़ना ।

288

Apni Palkon Ko Kabhi Hum Bhigoye Hi Nahi
Wo Sochte Hain Ke Hum Kabhi Roye Hi Nahi
Wo Puchhte Hain Ke Khwaabo Me Kise Dekhte Ho?
Aur Hum Hain Ke Ek Umr Se Soye Hi Nahi.

289

कभी रूत ना जाना मुझे मनाना नहीं आता
कभी दूर ना जाना मुझे पास बुलाना नहीं आता
अगर तुम भूल जाओ तो वो तुम्हारी मर्जी
हमें तो भूल जाना भी नहीं आता ||

290

ऐ वेबफा बता तुझे क्या मिला हमसे खफ़ा होकर
सुना है तू भी तन्हा है हमसे जुदा हो कर।

291

तुझे दर्द देने का शौक था बहुत
हमे भी दर्द सहने का शौक था बहुत।

292

Pa Liya Tha Duniya Me Sabse Haseen Ko
Iss Baat Ka To Humein Kabhi Garur Nahi Tha
Wo Paas Rah Paate Humare Kuchh Aur Din
Shayad Ye Humare Naseeb Ko Manjoor Nahi Tha.

293

तोडना होता तो रिश्ता हम ना बनाते
उम्मीद ना होती तो हम सपने नाहिंन सजाते
इतबार है हमें आपके प्यार पे
भरोसा ना होता तोह प्यार के लिए हाथ आगे ना बढ़ाते

294

किसी से प्यार करना आसान नही होता है
किसी को पा लेना ही प्यार का नाम नही होता है
किसी के इंतज़ार में मुद्दते बीत जाती है
क्योंकि ये पल दो पल का काम नही होता है।

295

आज फिर दिल से मेरे सदा आयी है
आज फिर दिल को तेरी बफा याद आयी है
हम तो बहा चुके अश्कों के समुंदर तेरे इश्क़ में
तो क्यों आज फिर चाहत ने ली अंगड़ाई है।

296

Sab Mujhe Hi Kahate Hain Ki Bhool Jao Use
Koyi Use Kyu Nahi Kahta Ki Wo Meri Ho Jaye.

297

उसे हमने बहुत चाहा था पर प न सके
उसके सिवा ख्यालो में किसी और को ला न सके
आँखों के आँसू तो सूख गये उन्हें देख कर
लेकिन किसी और को देख कर मुस्कुरा न सके।

298

Gam Ki Hum Par Kuch Aisi Najar Ho Gayi
Jab Bhi Hum Hanse Ye Aankhein Nam Ho Gayi
Hum Roye Bhi To Wo Jaan Naa Sake
Aur Wo Udas Huye To Hume Khabar Ho Gayi.


Parawah Karne Ki Aadat Ne To Pareshaan Kar Diya
Gar Beparwah Hote To Sukoon-E-Zindagi Me Hote.

299

हम अगर खो गये तो कभी न पा सकोगे
हम वहाँ चले जायेंगे जहाँ कभी नही आ सकोगे
जिस दिन मेरी मोहब्बत का एहसास हो गया तुम्हे
पछताओगे बहुत क्योंकि
हम वहाँ चले जायेंगे जहाँ से फिर न बुला सकोगे।

300

Wo Saleeke Se Hua Hum Se Gunah Varna
Log To Saaf Mohabbat Se Mukarte Dekhe.
Waqt Hota Hai Har Ek Zakhm Ka Marham
Fir Bhi Kuchh Zakhm The Jo Na Bharte Dekhe.

301

जिंदगी यूं ही बहुत कम है मोहब्बत के लिए;
रूठ कर वक़्त गवाने की ज़रुरत क्या है !

302

जब भी करीब आता हूँ बताने के लिये
जिंदगी दूर रखती हैं सताने के लिये
महफ़िलों की शान न समझना मुझे
मैं तो अक्सर हँसता हूँ गम छुपाने के लिये।

303

गम इस बात का नही की तू बेबफ़ा निकली
बस अफ़सोस तो इस बात का है
वो सब सच्चे निकले जिससे तेरे लिये मैं लड़ता था।

304

लबो से चाहत की खुशबू चुराने दो
बहुत हो गया सितम
अब तो पास आने दो..

305

Dil Ke Chhalon Ko Koi Shayari Kahe
To Dard Nahi Hota.
Takleef To Tab Hoti Hai
Jab Log Wah-Wah Karte Hain

306

Aapke Bin Tootkar Bikhar Jayenge
Mil Jayenge Aap To Gulashan Ki Tarah Khil Jaayenge
Agar Na Mile Aap To Jeete Ji Mar Jaayenge
Pa Liya Jo Aapko To Mar Kar Bhi Jee Jaayenge.

307

हर किसी के नसीब में कहा लिखी होती हे चाहतें
कुछ लोग दुनिया में आते हे सिर्फ तन्हाइयों के लिए.

308

कभी किसी को पाने के लिए दिल से मत सोचना
रात की तन्हाईयो में अपने दिल को मत कचोटना
यादें तो बहुत आएंगी उस वेबफा की
लेकिन बस एक ज़िन्दगी में ही इन्हें समेटना।

309

Kitne Tohafe Deti Hai Ye Mohabbat Bhi Dosto
Duhkh Alag Rusvai Alag
Judai Alag Tanhayo Alag.

310

Main Kisi Ke Dast E Talab Me Hun
To Kisi Ke Harf E Dua Me Hun
Main Naseeb Hun Kisi Aur Ka
Mujhe Maangta Koi Aur Hai.

311

Khyalon Mein Wahi
Sapno Mein Wahi
Lekin Unki Yaadon Mein Hum The Hi Nahi
Hum Jaagte Rahe Duniya Soti Rahi
Ek Baarish Hi Thi
Jo Humare Sath Roti Rahi.

312

जब कोई दिल तोड़ कर चला जाता है
तब दरिया का पानी आँखों मे उतर जाता है
कोई बना लेता है रेत पर आशियाना
कोई लहरों में बिखर जाता हैं।

313

Kabhi Ankhon Mai Ankhein Dalkar Batein Karti Ho
Kabhi Sharmati Ho To Kabhi Pass Ane Se Darti Ho
Kya Sochti Ho Dil Mein Kyu Aisa Karti Ho
Khud Karke Aaj Mujhe Kyu Rokti Ho.

314

Slamati Khuda Se Mangte Hain Unki
Jinhone Khud Ujada Tha Mujhko.

315

फुर्सत में याद करना हो तो मत करना
हम तन्हा ज़रूर है
मगर फज़ूल नही।

316

Humne Pyar Nahi Ishq Nahi Ibaadat Ki Hai
Rasmon Se Riwajon Se Bagawat Ki Hai
Manga Tha Humne Jise Apni Duaaon Me
Usi Ne Mujhse Juda Hone Ki Chahat Ki Hai.

317

Azeez Itna Hi Rakkho Ki Jee Sanbhal Jaye
Ab Is Qadar Bhi Na Chaaho Ki Dam Nikal Jaye.

318

मोहब्बत मुकद्दर है कोई ख़्वाब नही।
ये वो अदा है जिसमें हर कोई कामयाब नही।
जिन्हें मिलती मंज़िल उंगलियों पे वो खुश है।
मगर जो पागल हुए उनका कोई हिसाब नही।

319

तुझसे बिछड़ने के बाद मैंने कभी सुकून नही पाया
तेरी यादों को अपने दिल से मिटा नही पाया
करना तो बहुत कुछ चाहते थे अपने लिए
तेरे ख्यालों में फुर्सत मैं निकाल नही पाया।

320

Mat Chaho Kisi Ko Itna Tootkar Zindagi Me
Agar Bichhad Gaye To Har Adaa Tang Karegi.

321

मिल सके आसानी से
उसकी ख्वाहिश किसे है?
ज़िद तो उसकी है
जो मुकद्दर में लिखा ही नहीं…

322

जब ये दिल टूटता है तो दुख होता है
करके इश्क ये दिल रोता है
दर्द का एहसास तो तब होता है
जिससे इश्क हो वो किसी और का होता है।

323

Khuda Ne Likha Hi Nahi Tujhko Meri Kismat Me Shayad
Varna Khoya To Bahut Kuchh Tha Tujhe Paane Ke Liye.

324

Laakh Pata Badla
Magar Pahunch Hi Gaya
Ye Gam Bhi Tha Koi Daakiya Ziddi Sa.

325

Zabt Se Kaam Liya Dil Ne To Kya Faqr Karoon
Ismein Kya Ishq Ki Izzat Thi Ki Ruswaa Na Hua
Waqt Fir Aisa Bhi Aaya Ke Uss Se Milte Huye
Koi Aansoo Bhi Na Gira Koi Tamasha Bhi Na Hua.

326

वो कितनी आसानी से मेरे दिल के टुकड़े टुकड़े करके
किसी और कि बाहों में सो गया
कितने आसान से लफ़्ज़ों में बेवफ़ाई
का नाम मज़बूरी हो गया।

327

Jana Kahan Tha Aur Kahan Aa Gaye
Duniya Me Ban Kar Mehmaan Aa Gaye
Abhi To Pyar Ki Kitaab Kholi Thi
Aur Na Jane Kitne Imthaan Aa Gaye.

328

तारे और इंसान में कोई फर्क नहीं होता
दोनो ही किसी की ख़ुशी के लिऐ खुद को तोड़ लेते हैं।

329

किसी के हसीन चेहरे पर कभी नही मरना
किसी के ख्वाबों में अपनी नींदे बर्बाद मत करना
ऐसे ही हसीन चेहरे वाले बहुत सताते हैं इसलिए
कभी किसी चेहरे पर एतबार नही करना।

330

दुआ करना दम भी उसी तरह निकले
जिस तरह तेरे दिल से हम निकले।

331

तेरे हमनशीं चेहरे पे मर गए हम
इस इश्क में हद से गुज़र गए हम
जो तूने इश्क में मुझको धोखा दिया
तेरे गम में खुद पे कितने सितम कर गए हम।

332

Saman Baandh Liya Hai Maine Ab Batao Galib
Kahan Rehte Hain Wo Log Jo Kahin Ke Nahi Rahte.

333

Dil Ne Jise Yaad Kiya
Tha Usse Bahut Pyar Kiya
Aaj Bhi Usko Apna Kaha
Kal Tha Jisne Sath Diya.

334

तेरे बिना ज़िंदगी अधूरी है यारा
तुम मिल जाओ तो ज़िंदगी पूरी है यारा
तेरे साथ ज़िंदगी की सारी खुशिया
दुसरो के साथ हसना तो मज़बूरी है यारा।

335

इस दिल में आग सी लग गई जब वो खफा हुए
फर्क तो तब पड़ा जब वो जुदा हुए
हमे वो वफ़ा करके तो कुछ दे न सके
लेकिन दे गये वो बहुत कुछ जब वो वेबफा हुए।

336

मैं तेरे हिज़ार की बरसात में कब तक भीगू,
ऐसे मौसम में तो दीवारे भी गिर जाती है.

337

Woh Ek Khat Jo Usne Kabhi Likha Hi Nahi
Main Roz Baithh Kar Uska Jawab Likhta Hun.

338

तू मुझे क्यों इतना याद आता है
तू मुझे क्यों इतना तड़पाता है
माना के ज़िन्दगी है सिर्फ तेरे लिए
फिर मुझे तू क्यों इतना रुलाता है।

339

हम से हमारी पहचान ले गए
दिल के सारे अरमान ले गए
न करना किसी से कभी मोहब्बत
जान कहने वाले ही एक दिन जान ले गए।

340

Dil Ameer Tha Magar Muqaddar Gareeb Tha
Mil Kar Bichhadna To Humara Naseeb Tha
Hum Chaah Kar Bhi Kuchh Kar Na Sake
Ghar Jalta Raha Aur Samundar Qareeb Tha.

341

जब तक दर्द न हो किसी के आंसू आया नही करते
बिना वजह किसी का दिल दुखाया नही करते
ये बात सुन लो कान खोल कर
किसी के सपने तोड़ कर अपने सपने सजाया नही करते।

342

तेरा यूँ मेरे सपनो में आना ये तेरा कसूर था
और तुझ से दिल लगाना ये मेरा कसूर था
कोई आया था पल दो पल को जिंदगी में
और सर अपना समझ लेना वो मेरा कसूर था।

343

जब वो याद हद से ज़्यादा आने लगते हैं
तो सारे दर्द मेरे धुंधले पड़ने लगते हैं
तड़पती है मेरी ज़िन्दगी उनकी पनाहों में
और मेरे सांसों के दायरे सिमटने लगते हैं।

344

Meri Kismat Se Mujhe Milegi Tu
Mere Sath-Sath Chalegi Tu
Jitna Mai Tujhe Pyar Du
Utna Mujhe Pyar Degi Tu.

345

Meri Zindagi Aaj Mujhse Khaffa-Khaffa Rehti Hai
Thodi Si Khushi Mangta To Gam Hi Deti Hai
Jine Ko Kehti Magar Pyar Ke Bina
Kya Pata Kyu Mujhko Mujhse Dur Hi Rakhti Hai.

346

कहना बहुत कुछ है अल्फाज़ जरा से कम है खामोश सी तुम हो
गुमसुम से हम है|

347

तलाश मेरी थी और भटक रहा था वो
दिल मेरा था और धड़क रहा था वो
प्यार का तालुक भी अजीब होता है
आंसू मेरे थे सिसक रहा था वो..

348

मोहब्बत के बाद मोहब्बत करना तो मुमकिन है
लेकिन किसी को टूट कर चाहना
वो ज़िन्दगी में एक बार ही होता है.

349

Aadat Uski Thi Bus Mujhe Jalane Wale
Baat Ki Hans Ke Mgr Dil Ko Dukhane Wali
Ajkal Wo Mujhe Kuch Badla Howa Lgta Hy
Ho Gain Uski Nighein Bhi Zamane Wali
Hum Ne Ikhlas Ka Daman Nhi Chhora Ab Tk
Haye Uski Tu Muhabbat Hy Rulane Wali
Main Ne Samjha Tha Guzar Jaye Ga Mausam Lekin
Rut – E – Barsat Bi Nikli Tu Satane Wali
Tumhare Waste Ab Koi Nhi Hy Wasi
Khud Se Batein Na Karo Dil Ko Behlane Wali…

350

अगर कोई आप पर आँख बंद करके भरोसा करे
तो आप उसका भरोसा तोड़ कर ये
अहसास मत करवाओ कि वो अंधा है।

351

जिस दिन आप ज़मीन पर आए..वो आसमान भी खूब रोया था
आखिर उसके आंसू थमते भी कैसे उसने हमारे लिये
अपना सबसे प्यारा सितारा खोया था।

352

Mujhse Dur Ja Rahe Ho Meri Jaan Liye Ja Rahe Ho
Koi Wafa Nahi Kiye Par Sitam Kiye Ja Rahe Ho
Wada Bhi Kiye Tha Sath-Sath Jine Marne Ka
Tanha Kar Mujhe Kyu Mujhse Dur Ja Rahe Ho.

353

तेरे इश्क़ की अब ज़रूरत नहीं है हमे
हमें तो नफरत ने संभाल लिया
हमे अब नही है हसरत तेरी दोस्ती की
हमे तो अब दुश्मनो ने पाल लिया।

354

Mera Shahar To Baarishon Ka Ghar Thehra
Yahan Ki Aankh Ho Ya Dil
Bahot Barasti Hain

355

Tum Dil Me Na Samaate To Bhula Dete Tumhe
Tum Itna Pass Na Aate To Bhula Dete Tumhe
Yeh Kehte Huye Mera Talluq Nahi Tum Se Koi
Aankhon Me Aansu Na Aate To Bhula Dete Tumhe.

356

हम उनके लिए कब से अहम होने लगे
हाय रे दिल तुझे यूँ ही वहम होने लगे।

357

मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा
जिन्हें दावा था वफ़ा का
उन्हें भी हमने बेवफा देखा..

358

मोहब्बत ऐसी थी कि उनको बता न सके
चोट दिल पे थी इसलिए दिखा न सके
हम चाहते तो नही थे उनसे दूर होना
मगर दूरी इतनी थी उसे हम मिटा न सके।

359

भरोसा जितना कीमती होता है
धोखा उतना ही महँगा हो जाता है।

360

बात वफ़ाओ की होती
तो कभी न हारते
बात नसीब की थी
कुछ ना कर सके।

361

किसी की चाहत मे तड़प के देखो
तभी तो जानोगे के इंतेज़ार क्या होता है
अगर प्यार बिना तड़पे मिल जाये
तो कैसे जान पाओगे के प्यार क्या होता है।

362

टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी
मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से
कि मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी।

363

दर्द को दर्द अब होने लगा है।
दर्द अपने गम पे खुद रोने लगा है।
अब हमें दर्द से दर्द नही लगेगा।
क्योंकि दर्द हमको छू कर खुद सोने लगा है।

364

इस दुनिया मे जरूरी नहीं जिसे तुम चाहो वो तुम्हारा हो
जीने के लिए तुम्हें उसी का सहारा हो
कश्तियाँ टूट जाया करती हैं
ज़रूरी तो नही होता कि हर कश्ती को किनारे हो।

365

Mujhko Rula Kar Dil Uska Bi Roya To Hoga
Us Ki Aankho Me Bhi Aansu Aaya To Hoga
Agar Na Kia Kuchh Haasil Hamne Pyar Me
Kuchh Na Kuchh Usne Bhi Khoya To Hoga.

366

तू हमसफ़र तू हमडगर तू हमराज नजर आता है
मेरी अधूरी सी जिंदगी का ख्वाब नजर आता है
कैसी उदास है जिंदगी बिन तेरे हर लम्हा
मेरे हर लम्हे में तेरी मौजूदगी का अहसास नजर आता है।

367

मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते हैं
जगती आँखों के भी कुछ ख्वाब होते हैं
जरुरी नहीं के ग़म में आँसू ही निकले
मुस्कुराती आँखों में भी शैलाब होते हैं।

368

Pal Bhar Ke Liye Agar Wo Apna Bana Le
Apni Zindagi Ka Agar Wo Sapna Bana Le
Fir Bhale Hi Dam Nikal Jaye Hamara
Bas Ek Rat Ke Liye Wo Mujhe Apna Bna Le.

369

चर्चा हो रही थी मोहब्बत लिखने वालो की
स्याही भटक गई तेरा नाम लिखते लिखते..

370

प्यार मोहब्बत तो सब करते है
इसको खोने से भी सब डरते है
हम तो न प्यार करते है न मोहब्बत करते है
हमतो बस आपकी एक मुस्कुराहट पाने को तरसते है।

371

Fursat Kise Hai Zakhmon Ko Sarahane Ki
Nigahen Badal Jaati Hain Apne Beganon Ki
Tum Bhi Chhodkar Chale Gaye Hamen
Ab Tamanna Na Rahi Kisi Se Dil Lagane Ki.

372

हम तो बिछड़े थे तुमको अपना अहसास दिलाने के लिए
मगर तुमने तो मेरे बिना ही जीना सीख लिया..

373

मैंने खुदा से पूछा वो क्यों छोड़ गया मुझे
उसकी क्या मजबूरी थी
खुदा ने कहा न कसूर तेरा था न गलती उसकी थी
मैंने ये कहानी लिखी ही अधूरी थी।

374

Ab Ye Guman Na Raha Ki Aaina Hai Dil Mera
Toot Kar Patthar Pe Hi Jab Girna Mujhe Pada.

375

वो अपने दर्द को रो-रोकर कर सुनाते रहे
हमारी तन्हाईयो से अपना मुंह घूमाते रहे
हमे ही दे दिया वेबफाई का खिताब
क्योंकि हम हर दर्द मुस्कुरा कर छुपाते रहे।

376

Ek Pal Me Ek Sadi Ka Maza Hum Se Puchhiye
Do Din Ki Zindagi Ka Maza Hum Se Puchhiye.

377

हम तो आपसे पलके बिछा कर प्यार करते हैं
ये वो गुनहा है जो हम बार बार करते हैं
दिल में ख्वाइशों के कई चिराग जलाकर
हम सुबहो शाम तेरे मिलने का इंतज़ार करते हैं।

378

ना पूछ मेरे सब्र की इंतहा कहाँ तक है
तू सितम कर ले तेरी हसरत जहां तक है
वफ़ा की उम्मीद जिन्हें होगी उन्हें होगी
हमे तो देखना है तू बेवफा कहा तक है.

379

होले होले कोई याद आया करता है
कोई मेरी हर साँसों को महकाया करता है
उस अजनबी का हर पल शुक्रिया अदा करते हैं
जो इस नाचीज़ को मोहब्बत सिखाया करता है।

380

जब छोटे थे तब बड़े होने की बड़ी चाहत थी !
पर अब पता चला कि :
अधूरे एहसास और टूटे सपनों से
अधूरे होमवर्क और टूटे खिलौने अच्छे थे !

381

Subah Hoti Hai Shaam Hoti Hai
Umra Yun Hi Tamaam Hoti Hai.

382

हमने रस्म रिवाज़ों से बग़ावत की है
हमने वेपन्हा उनसे मोहब्बत की है
दुआओं में जिसे था कभी मांगा
आज उसी ने जुदा होने की चाहत की है।

383

Ajeeb Tarah Se Gujar Gayi Meri Bhi Zindagi
Socha Kuch
Kia Kuch
Hua Kuch
Mila Kuch.

384

Raah-E-Wafa Me Humko Khushi Ki Talaash Thi
Do Kadam Hi Chale The Ki Har Kadam Pe Ro Pade.

385

Itni Shiddat Se Na Dekh Asmaan Ki Taraf
Jis Ki Tujhe Hasrat Thi Wo Sitara Hi Toot Gaya.

386

मोहब्बत ना सही
मुकदमा ही कर दे मुझ पर
कम से कम तारीख दर तारीख मुलाकात तो होगी!!

387

अब तो वफ़ा करने से मुकर जाता है दिल
अब तो इश्क के नाम से डर जाता है दिल
अब किसी दिलासे की जरूरत नही है
क्योंकि अब हर दिलासे से भर गया है दिल।

388

Keh Do Inn Hasraton Se Kahin Aur Ja Basein
Itni Jagah Kahan Hai Dil-E-Daagdaar Me.

389

इस जमीन से तो हम रिश्ता तोड़ जाएंगे
बस यादों का एक शहर छोड़ जाएंगे
वेबफा तू मुझे सताएगा कितना
एक दिन तुझसे हमेशा के लिए मुह मोड़ जाएंगे।

390

कहाँ मांग ली थी कायनात मैंने
जो इतना दर्द मिला
ज़िन्दगी में पहली बार खुदा
तुझसे ज़िन्दगी ही तो मांगी थी।।

391

उम्र भर के गमो का पैगाम दे गया
हमे तो वो वेबफा का इल्ज़ाम दे गया
चाहा था जिसे कभी टूटकर हमने
वही हमे तन्हाईयों के सैलाब दे गया।

392

आज किसी की दुआ की कमी है
तभी तो हमारी आँखों में नमी है
कोई तो है जो भूल गया हमें
पर हमारे दिल में उसकी जगह वही है..

393

Wo Ek Pal Hi Kaafi Hai Jisme Tum Shamil Ho
Us Pal Se Jyada To Zindgi Ki Khwaish Hi Nahin Mujhe.

394

कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये
दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह
वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए
सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह।

395

तू याद आता है बहुत इसलिए तेरी याद में खो लेते है
तेरी याद जब आती है तो आंसुओ से रो लेते है
नींद तो अब हमे आती नही
तू हमारे सपनो में आयेगा ये सोच कर सो लेते है।

396

मेरी दोस्ती की कहानी आपसे है
इन साँसों की रवानी आपसे है
ऐ दोस्त मुझे कभी बुला ना देना
इस दोस्त ली ज़िंदगानी आपसे है ।।

397

न जाने क्यों ये लहरे समंदर से टकराती है
और फिर समंदर में लौट जाती है
कुछ समझ नही पाते की किनारों से वेबफाई करती है
या समंदर से वफ़ा निभाती है।


Jisne Dard Chupana
Seekh Liya
Usne Jeena Seekh
Liya

398

मैंने कहा था मुझे अपने दिल में रहने दो
क्योकि बेघर बच्चा आवारा हो जाता है

399

उस बेवफा ने मेरा दिल शीशे की तरह तोड़ दिया
इसलिए हमने अपनी ज़िन्दगी का रास्ता ही मोड़ लिया
बस मोहब्बत की बात ही मत करना
क्योंकि अब हमने मोहब्बत करना ही छोड़ दिया।

400

जो एक नज़र देखोगे देखते रहे जाओगे
हम जैसा प्यार करने वाला कहां पाओगे
जान देने की बात तो सभी करतें है
लेकिन बात बनाने वाला कहां पाओगे।

401

Tere Paas Aane Mein Aadhi Umar Gujri Hai
Aadhi Umar Gujregi Tujh Se Door Jane Mein.

402

Toda Kuch Is Ada Se Talluk Usne Ghalib
Ke Sari Umr Apna Kasoor Dhudhte Rah Gaye.

403

तुझे बहुत सी डिग्रियां मिली होंगी
लेकिन तुझमे किसी की आंखे पड़ने की कला नही होगी।

404

Na Gul Khile Hain Na Unse Mile Na May Pee Hai
Ajeeb Rang Me Ab Ke Bahaar Gujari Hai.

405

हकीकत जान लो जुदा होने से पहले
मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले
ये सोच लेना भुलाने से पहले
बहुत रोई हैं आँखें मुस्कुराने से पहले.

406

हम तो तेरे शहर तेरी गलियों से भी नहीं गुज़रा करते
हमे पता होता मोहब्बत में इतने दर्द हैं
तो हम मोहब्बत कभी नही करते।

407

इस दिल मे जिसे बसाया वो दूर हो गया
ऐसा क्या हमसे कसूर हो गया
न वेबफा तू ही है न वेबफा मैं ही हूँ
ये तो बस वक्त का दस्तूर हो गया।

408

बहुत मुश्किल से करता हूँ
तेरी यादों का कारोबार
मुनाफा कम है
पर गुज़ारा हो ही जाता है

409

Dil Kya Hai Aaj Sanam Meri Jaan Bhi Lele
Bekrar Hu Mujhe Aaj Thoda Sa Pyar Dede
Rahne De Kuch Waqt Tu Mujhe Apne Saye Mein
Pyar Ke Liye Betab Dil Ko Thoda Chain Dede.

410

कौन कहता है कि मुसाफिर ज़ख्मी नही होते
रास्ते गवाह है
बस कमबख्त गवाही नही देते।

411

कौन कहता है मोहब्बत में सब कुछ छिन जाता है
एक दर्द का तोहफा अधूरे प्यार करने वाले को मिल जाता है।

412

कितना दर्द है इस दिल में लेकिन हमे एहसास नही है
कोई था बहुत खास पर वो पास नही है
हमे उनके इश्क ने बर्बाद कर दिया
और वो कहते है की ये कोई प्यार नही है।

413

जब से वो हमें जगा गए हम उम्र भर सो न सके
जाने क्या कशिश थी उनमे
किसी और को हम अपना बना न सके।

414

Aankhe Dil Ka Har Raaz
Bayan Karti Hai
Bas Unko Padhne Wala
Dil Koi Chahiye.

415

Hum To Maujood The Raat Me Ujalon Ki Tarah
Log Nikle Hi Nahi Dhoondhne Walon Ki Tarah
Dil To Kya Hum Rooh Me Bhi Utar Jaate
Usne Chaha Hi Nahi Chahne Walon Ki Tarah.

416

वो रो रो कर कहती रही मुझे नफरत है तुमसे
मगर एक सवाल आज भी परेशान किये हुए है
की अगर नफरत ही थी तो वो इतना रोई क्यों …

417

तेरे दिए ज़ख्मो को दिल पे सज़ा के रखते हैं
ऐ बेवफा तुझे रात दिन हम याद करतें हैं
अजनबी से चेहरे भी अपने से लगने लगतें है
जब भी तेरे शहर से होकर गुजर ने लगतें हैं।

418

कहाँ मिलता है कोई समझने वाला जो
भी मिलता है समझा के चला जाता है|

419

आओ फिर से दोहराए अपनी कहानी
मैं तुम्हें बेपनाह चाहूँगा और तुम मुझे बेवजह छोड़ जाना.

420

मुझे इश्क है बस तुमसे नाम बेवफा मत देना
गैर जान कर मुझे इल्जाम बेवजह मत देना
जो दिया है तुमने वो दर्द हम सह लेंगे मगर
किसी और को अपने प्यार की सजा मत देना ।।

421

बस इतनी सी ही कहानी थी मेरी मोहब्बत की मौसम की तरह तुम बदल गए
फसल की तरह मैं बरबाद हो गया|

422

Qaasid Ke Aate Aate Khat Ek Aur Likh Rakkhun
Main Jaanta Hoon Jo Woh Likhenge Jawaab Mein.

423

वो बिछड़ के हमसे ये दूरियां कर गई
न जाने क्यों ये मोहब्बत अधूरी कर गई
अब हमे तन्हाइयां चुभती है तो क्या हुआ
कम से कम उसकी सारी तमन्नाएं तो पूरी हो गई।

424

Itna Toota Hoon Ki
Chhoone Se Bikhar Jaooanga
Ab Agar Aur Dua
Dogi To Mar Jauanga..

425

दिल तोड़ने बाले का कुछ नही जाता है
लेकिन जिसका दिल टूटता है उसका सब कुछ चला जाता है।

426

Udaas Kar Gayi Aaj Ki Subah Bhi Mujhe
Jaise Bhula Raha Ho Koi Aahista-Aahista.

427

Bedili Kya Yun Hi Din Gujar Jayenge
Sirf Zinda Rahe Hum To Mar Jayenge.

428

काश कोई इस तरह वाकिफ हो मेरी ज़िन्दगी से
कि में  रोऊँ और वो मेरे आँसू पढ़ ले।

429

माफ़ करना मुझे तुम्हारा प्यार नही चाहिये
मुझे मेरा हँसता खेलता दिल बापस कर दो।

430

Ab Bhi Taaza Hain Zakhm Mere Seene Mein
Bin Tere Kya Rakha Hai Zindagi Jeene Mein
Hum To Zinda Hain Tera Sath Paane Ko Bas
Warna Der Kitni Lgti Hai Zehar Peene Mein.

431

वक्त के बदल जाने से इतनी तकलीफ नही होती है
जितनी किसी अपने के बदल जाने से तकलीफ होती है।

432

हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है
ख्वाबों ने पलकों पे आना छोड़ दिया है
नही आती अब तो हिचकियाँ भी
शायद आप ने भी याद करना छोड़ दिया है.

433

वो बात क्या करें जिसकी कोई खबर ना हो।
वो दुआ क्या करें जिसका कोई असर ना हो।
कैसे कह दे कि लग जाय हमारी उमर आपको।
क्या पता अगले पल हमारी उमर ना हो।

434

जिस जिस ने मुहब्बत में
अपने महबूब को खुदा कर दिया
खुदा ने अपने वजूद को बचाने के लिए
उनको जुदा कर दिया

435

गम में वही शख़्स रोता है
जो अपने बेहद करीबी को खोता है।

436

Aaya Hai Bekasi-E-Ishq Pe Rona Ghalib
Kiske Ghar Jayega Sailab-E-Bala Mere Baad.

437

कभी किसी को इतना सताया न करो
अपने लिए कभी किसी को तड़पाया न करो
जिनकी साँसे ही वो आपके लव्ज़ हो
उन लफ़्ज़ों के लिए कभी किसी को तरसाया न करो।

438

बहुत दूर है तुम्हारे घर से हमारे घर का किनारा
पर हम हवा के हर झोंके से पूछ लेते हैं क्या हाल है तुम्हारा।

439

Shero-Shayari To Dil Behlane Ka Zariya Hai Saahab
Lafz Kagaj Par Utarne Se Mahboob Nahi Lauta Karte.

440

Pyas Aisi Ki Tujhe Pyar Hi Pyar De Du
Dard Aisa Ki Puri Kitab Likh Du
Ye Jawani Kya Hai Apni Kahani Kya Hai
Tere Naam Pe Aaj Main Puri Zindgani Likh Du.

441

मोहब्बत और भरोसा ज़िन्दगी में कभी मत खोना
क्योंकि मोहब्बत हर किसी से नही होती
और भरोसा हर किसी पे नही होता।

442

Wo To Shayaron Ne Mohabbat Se Saza Rakha Hai
Varna Mohabbat Itni Bhi Hasin Nahin Hoti.

443

Kal Halki Halki Barish Thi
Kal Sard Hawa Ka Raqs Bhi Tha.
Kal Phool Bhi Nikhre Nikhre The
Kal Un Pe Aap Ka Aks Bhi Tha..
Kal Badal Kaley Gehre The
Kal Chand Pay Lakhon Pahre The
Kuch Tukray Aap Ki Yaad Ke
Bari Der Se Dil Me Thehre The..
Kal Yaadein Uljhi Uljhi Thi
Aur Kal Tak Yeh Na Suljhi Thi..
Kal Yaad Bohut Tum Aye The
Kal Yaad Bohut Tum Aye The..

444

अरमानों के रंग बदले कई अर्से हो गए
ऐसा लगता है तेरे लिए हम पुराने हो गए।

445

Aaj Tak Hai Uske Laut Aane Ki Ummeed
Aaj Tak Thahri Hai Zindagi Apni Jagah
Laakh Ye Chaha Ki Use Bhool Jayein Par
Hausle Apni Jagah Bebasi Apni Jagah.

446

Mere Sabr Ki Intihan Kya Poochhte Ho
‘Faraz’ Wo Mere Samne Ro Raha Hai Kisi Aur Ke Liye.

447

Wo Dil Me Hai Dhadkan Me Hai Rooh Me Hai
Sirf Kismat Me Nahi To Khuda Se Gila Kaisa.

448

Bewafa Hum Nahi Bewafa Tum Ho
Khafa Hum Nahi Khafa Tum Ho
Kehte Hain Tumse Pyar Nahi Hame
Par Is Samasya Ka Samadhan Tum Ho.

449

Waqt Ki Ek Aadat
Bahut Acchi Hai
Jaiha Bhi Ho
Guzar Jata Hai.

450

तुम एक बार रूठ कर तो देखो
हम जान भी दे देंगे तुम्हे मनाने के लिए।

451

ये तेरी चाहत मुझे किस मोड़ पर ले आई
इस दिल में गम है
और दुनिया में रुसबाई
अब तो कटता है हर पल सदियों के बराबर
अब तो लगता है के मार ही डालेगी तेरी ये जुदाई।

452

मैंने तो किया था लाखो बार अपने प्यार का इज़हार
लेकिन तूने कभी नही किया अपने प्यार का इकरार
इस जमाने ने हमे समझाया तो बहुत था
लेकिन इस जमाने पर हमने कभी नही किया ऐतवार।

453

Tum Apne Ghar Ke The
Tumse Koi Parda Na Tha Lekin
Jo Dil Ki Baat Thi Zalim
Wahi Munh Se Nahi Nikali.

454

Zindagi Tamasha Hai Aur Is Tamashe Mein
Khel Hum Bigadenge Khel Ko Banane Mein.

455

इश्क में हमने तो दर्द से हाथ मिला लिया
हर गम को आंखों में छुपा लिया
उसने तो बस हमसे रोशनी की ख्वाहिश की
इसलिए हमने तो अपने दिल को जला लिया।

456

मुझसे वादा करो मुझे रुलाओगे नहीँ
हालात जो भी हो मुझे भुलाओगे नहीं

457

तरस आता है मुझे अपनी मासूम सी पलकों पर
जब भीग कर कहती है की अब रोया नहीं जाता।

458

दिल में हर राज़ दबा कर रखते है
होंटो पर मुस्कुराहट सजाकर रखते है
ये दुनिया सिर्फ खुशी में साथ देती है
इसलिए हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है।

459

चाहा ना उसने मुझे बस देखता रहा
मेरी ज़िंदगी से वो इस तरह खेलता रहा
ना उतरा कभी मेरी ज़िंदगी की झील में
बस किनारे पर बैठा पथर फेंकता रहा ।।

460

Ganthh Padi Hai Kis Tarah Ye Baat Hai Kuchh Iss Tarah
Wo Dor Tooti Bar Bar Har Bar Hamne Jod Di.

461

टूटे हुए सपनो और छुटे हुए अपनों ने मार दिया
वरना ख़ुशी खुद हमसे मुस्कुराना सिखने आया करती थी|

462

Apki Chahat Mai Duniya Bhula Denge
Is Tarah Se Apko Dil Mai Basa Lenge
Dur Na Jaynge Kabhi Apse Hum
Is Qadar Se Apko Khuda Se Mang Lenge.

463

खुशियों ने मेरी ज़िन्दगी से किनारा कर लिया
अब तो मेरे दिल मे दर्द ए तन्हाई ने सहारा कर लिया।

464

Hum Bhi Jite The Kabhi Insan Ki Tarah
Aaj Teri Chahat Ne Beiman Kar Dala
Tujhme Kho Kar Duniya Bhul Kar
Aaj Tujhe Apna Khuda Keh Dala.

465

Idhar Se Aaj Wo Gujre To Munh Phere Hue Gujre
Ab Unn Se Bhi Humari Bekasi Dekhi Nahi Jati.

466

तुमसे जुदा होके ऐसा लगता है ज़िन्दगी ये मेरी सज़ा है
बस मुझे ऐसा लगता है मेरी सासें ही मुझ से अब खफा हैं।

467

हर पल साथ देने का वादा करते हैं तुझसे
क्यों अपनापन इतना ज्यादा है तुझसे
कभी ये मत सोचना भूल जायेंगे तुझे हम
हर पल साथ निभाने का वादा है तुझसे।

468

हमने तो देखा है खुद को कई बार आजमा कर
अक्सर लोग धोखा देते है करीब आकर
इस जमाने ने समझाया था लेकिन दिल नही माना
छोड़ जाओगे एक दिन हमे अपना बना कर।

469

मै ये तलब नही करता मेरे गमो का सैलाब थम जाए
मैं ये सोचकर डरता हूँ कहीं उसका दिल न बदल जाये
अगर तेरे दिल मे कभी मुझे भूल जाने का ख्याल आये
तो हमे ज़ख्म इतना देना की हमारी जान चली जाए।

470

Main Khayal Hun Kisi Aur Ka
Mujhe Sochta Koi Aur Hai
Sar E Aayina Mera Aks Hai
Pas E Aaina Koi Aur Hai.

471

Socha Na Tha Vo Shakhs Bhi Itana Jaldi Saath Chhod Jayega
Jo Mujhe Udas Dekhakar Kehta Tha “Main Hu Na”.

472

मेरे हिस्से की ज़मीन बंजर थी
मैं वाकिफ ना था
बे-सबब इलज़ाम मैं देता रहा बरसात को..

473

बड़ी अजीब मुलाकाते होती थी हमारी;
वो मतलब से मिलते थे.
और हमें मिलने से मतलब था!

474

चेहरे पर हँसी छा जाती है।
आँखों में सुरूर आ जाता है।
जब तुम मुझे अपना कहते हो।
अपने आप पर ग़ुरूर आ जाता है।

475

सोचता हूँ अपने सारे दर्द तुझसे बयां कर दूं
सारे जख्म तुझसे अपने रूबरू कर दूं
ये दर्द दिल के हैं दिखाए नही जाते
फिर सोचता हूँ इनको यहीं दफन कर दूं।

476

बद-नसीबी का मैं कायल तो नहीं हूँ
लेकिन मैंने बरसात में जलते हुए घर देखे है..

477

हजारो गम है सीने मे मगर शिकवा करें किससे.
इधर दिल है तो अपना है… उधर तुम हो तो अपने हो

478

ठुकरा गए वो मेरा बुरा वक्त देख कर
ऐसा दिन बनाऊंगा मिलना पड़ेगा मुझसे वक्त लेकर।

479

हम खुश हैं कम से कम कोई हमारी बात तो करता है
वो बुरा कहता है तो क्या
कम से कम कोई याद तो करता है।

480

Pal Pal Uska Saath Nibhate Hum
Ek Ishare Par Duniya Chor Jaate Hum
Samnder Ke Beech Mein Pahunch Kar Fareb Kiya Usne
Wo Kehta To Kinare Par Hi Doob Jaate Hum

481

जिनकी तस्वीरे बनाकर खुश हुआ करते हैं
आज वही बदले बदले लगने लगे हैं
जो कभी हमारे दिल में रहा करते थे
आज वही दूसरों के दिलों में रहा करते हैं।

482

इस जमाने मे कौन इश्क निभाता है
इस दिल को तो जमाने मे खिलौना समझा जाता है।

483

Laajimi Nahin Ke Usko Bhi Mera Khayal Ho
Mera Jo Haal Hai Wahi Uss Ka Bhi Haal Ho
Koyi Khabar Khushi Ki Kahin Se Mile Munir
Iss Rozo Shab Me Aisa Bhi Ik Din Kamaal Ho.

484

बीच सफर में तुम हमसे अलविदा कह गये
पहले अपना बनाया फिर पराया कर गये
जब जिंदगी की जरूरत सी बन गये
तभी वो हमसे किनारा कर गये।

485

ऐ बेवफा सांस लेने से तेरी याद आती है
ऐ बेवफा सांस न लूँ तो भी मेरी जान जाती है
मैं कैसे कह दूं कि बस मैं सांस से जिंदा हूँ
ये सांस भी तो तेरी याद आने के बाद आती है।

486

हम आँखों से रोये और होठो से मुस्कुरा बैठे
हमतो बस यूँ ही उनसे इश्क-ए-वफ़ा निभा बैठे
वो हमे अपनी मोहब्बत का एक लम्हा भी न दे सके
और हम उन पर यूही हर लम्हा लूट बैठे।

487

पलक से पानी गिरा है
तो उसको गिरने दो
कोई पुरानी तमन्ना
पिंघल रही होगी!!

488

मेरे पॅल्को मे भरे आँसू उन्हे पानी सा लगता है
हमारा टूट कर चाहना उन्हे नादानी सा लगता है…!

489

जो प्यार करतें है वो बड़े अजीब होतें हैं
उन्हें खुशी के बदले गम नसीब होते है
न करना तू प्यार कभी किसी से
क्योंकि प्यार करने वाले बड़े बदनसीब होतें है।

490

मुझे तो अपने दर्द में एक सुकून सा मिलने लगा है
अगर दर्द न मिले तो अब तो दर्द होने लगा है।

491

Karunga Kya Jo Ho Gaya Nakam Mohabbat Mein
Mujhe To Koyi Aur Kaam Bhi Nahi Aata Iske Siwa.

492

सुकून की तलाश में हम दिल बेचने निकले थे
खरीददार दर्द भी दे गया और दिल भी ले गया|

493

छोड़ने से पहले कहते तो आप
दर्दे दिल एक बार हमे सुनाते तो आप
ऐसी क्या मजबूरी थी आपकी
जो हमे जिंदगी के सफर में छोड़ गये आप।

494

Tujhe Kho Kar Paane Ke Liye Likhta Hun
Aaj Bhi Tujhe Bhool Jaane Ke Liye Likhta Hun.

495

मैं टूट गया हूँ तेरे दूर जाने से
हो सके तो लौट आओ किसी बहाने से
तू मुझसे कितनी भी दूर होजा बस एक बार देख ले
कोई बिल्कुल तन्हा हो गया है तेरे दूर जाने से।

496

तू ये मत सोचना तुझसे जुदा हो के हम सुकून से सोते हैं
तुझे क्या पता तेरी तस्वीर को रखके हम कितना रोते हैं।


तेरी मोहब्बत में इस जहां को भूल गए
हम औरों को अपनाना भूल गए
सारे जहां को बताया तुझ से मोहब्बत है
सिर्फ तुझे ही बताना भूल गए।

497

उनकी चाहत तो हम भी रखते हैं
हो न हो लेकिन हम भी उनके दिल मे धड़कते हैं
वो हमें याद करें या न करें
लेकिन हम तो सिर्फ उनके लिए ही तड़पते हैं।

498

Nashili In Nigahon Mein Ab Bhi Pyar Jhalakta Hai
Inhe Dekhe Bina Ab Ek Pal Na Ye Dil Lagta Hai
Kya Kahu Bevas Hai Tere Pyar Ka Mara Hai
Har Pal Ab Isi Chehre Se Pyar Karta Hai.

499

Na Haath Thaam Sake Aur Na Pakad Sake Daaman
Bahut Hi Kareeb Se Gujar Kar Bichhad Gaya Koi.

500

मेरी आँखों मे बस एक ख्वाब याद रहता है
सदियां बीत गई पर वो लम्हा याद रहता है
तुझमें न जाने ऐसी क्या बात है
मैं दुनिया भूल जाता हूँ बस तेरा चहरा याद याद रहता है।

501

Gujre Dino Ki Bhuli Huyi Baat Ki Tarah
Aankho Me Jagta Hai Koyi Raat Ki Tarah
Us Se Umeed Thi Ki Nibhayega Saath Wo
Wo Bhi Badal Gaya Mere Halaat Ki Tarah.

502

इश्क में मेरा दिल टूटा और ख्वाब बिखर गए
दर्द मिला इतना के हम ज़ख्मों से निखर गए।

503

Kisi Toote Hue Dil Ki Aawaaj Mujhe Kahiye
Taar Jiske Sab Tute Ho Wo Saaz Mujhe Kahiye
Main Kaun Hoon Aur Kiske Liye Zindaa Hoon
Main Khud Nahi Samajha Wo Raaz Mujhe Kahiye.

504

Wo Naraj Hain Humse Ke Hum Kuchh Likhte Nahi
Kahan Se Layein Lafz Jab Humko Milte Nahi
Dil Ki Jubaan Hoti To Bata Dete Shayad
Wo Zakhm Kaise Dikhayein Jo Dikhte Hi Nahi.

505

महोबत भी बड़ी अजीब चीज़ है
कही कोई अपने प्यार से बोहत खुश है
तो कही कोई अपने प्यार को कोस्ता है
विश्वास करो यारो प्यार बड़ी दिलचसब चीज़ है

506

फूलों में भी काटें होते हैं
क्यों मोहब्बत करने वाले रोते हैं
ज़िन्दगी भर तड़पते है इश्क करने वाले
और तड़पाने वाले चैन से सोते हैं।

507

कहते है प्यार में लोग जान तक दे देते है
पर जो किसी को टाइम नहीं दे सकता
वो जान क्या देगा ||

508

हर पल यही सोचता रहा
के कहा कमी रह गयी थी मेरी चाहत में
उसने इतनी शिदत्त से मेरा दिल तोड़ा
के आज तक नहीं संभल पाए ||

509

मेरी क्या ख़ता है तू मुझे सजा देदे
क्यों तेरे अंदर इतना दर्द है इसकी तू वजह देदे
कुछ देर हो गयी तुझे याद करने में मुझसे
लेकिन मुझे छोड़ कर न जाने का इशारा देदे।

510

सनम बेवफा है
ये वक्त बेवफा है
हम शिकवा करें भी तो किस्से
कमबख्त ज़िन्दगी भी तो वेबफा है।

511

Zamane Se Suna Tha Ki Mohabbat Haar Jati Hai
Jo Chahat Ek Taraf Ho Wo Chahat Haar Jati Hai
Kahin Dua Ka Ek Lafz Asar Kar Jata Hai
Aur Kahin Barson Ki Ibadat Bhi Haar Jati Hai.

512

Hamein Bhi Yaad Rakhna Jab Likho Tareekh Gulshan Ki
Ke Humne Bhi Lutaya Hai Chaman Me Aashiyaan Apna.

513

Teri Mohabbat Se Lekar
Tere Alvida Kehne Tak
Maine Sirf Tujhe Chaaha
Tujh Se Kuchh Nahi Chaha.

514

अब तेरे बिना जिंदगी गुजारना मुमकिन नही है
अब और किसी को इस दिल में बसाना आसान नही है
हम तो तेरे पास कब के चले आये होते सब कुछ छोड़ कर
लेकिन तूने कभी हमे दिल से पुकारा ही नही है।

515

तू मेरे साथ रहना उम्र भर
चाहे दर्द बन कर
चाहे मोहब्बत बन कर।

516

Wo Jise Samjhte The Zindagi
Meri Dhadkano Ka Fareb Tha
Mujhe Muskurana Sikha Ke
Wo Meri Rooh Tak Rula Gaye.

517

हम गए उनकी गली में
तो वो फूल बरसाने लगे
जब देखा उनकी मम्मी ने तो
साथ में गुलाब भी आने लगे|

518

चुप रह कर भी कह दिया सब कुछ ये मेरा सलीका था
और तुम सुनकर भी समझ नही पाए ये उनका प्यार था।

519

वो हम पर हर इल्ज़ाम लगाते हैं
वो हर ख़ता हमे बताते है
हम तो बस चुप रहतें है क्योंकि
वो हम पे अपना हक जताते हैं।

520

ऐसा नही है मेरे दिल में तेरी तस्वीर नही है
पर शायद मेरे हाथो में ही तेरे नाम की लकीर नही है।

521

Dua Nahi To Gila Deta Koi
Meri Wafa Ka Sila Deta Koi.
Jab Muqaddar Hi Nahi Tha Apna
Deta Bhi To Bhala Kya Deta Koi.

522

जाने उस शख्स को कैसे ये हुनर आता है
रात होती है तो आंखो में उतर आता है
मैं उस के ख्यालो से बच के कहाँ जाऊ
वो मेरी सोच के हर रास्ते पे नज़र आता है.

523

तुम क्यों मुझे छोड़ गए ऐ बेवफा
मेरा दिल क्यों तोड़ गए ऐ बेवफा
चाहा था मैंने तो सिर्फ तेरा साथ
इस भीड़ मे तन्हा क्यों कर गए ऐ बेवफा।

524

Bahut Mashroof Ho Shayad
Jo Hamko Bhool Baithe Ho
Na Ye Poocha Kahan Pe Ho
Na Yeh Jana Ki Kaise Ho.

525

Ja Kabhi Fursat Mile Mere Dil Ka Bojh Utaar Do
Main Bahut Dino Se Udaas Hun Mujhe Koi Shaam Udhhar Do.

526

मैंने तो सिर्फ मोहब्बत की
मुझे दर्द के सिवा क्या मिला। मेरी एक फूलों की बगिया थी
उसमें कांटो के सिवा क्या खिला।
अंदर से मैं टूट गया हूँ बस नही किसी से शिक़वा गिला
इस दुनिया मे मोहब्बत करने बालो को प्यास के सिवा क्या मिला।

527

ऐ बेवफा थाम ले मुझको मजबूर हूँ कितना
मुझको सजा न दे मैं बेकसूर हूँ कितना
तेरी बेवफ़ाई ने कर दिया है मुझे पागल
और लोग कहतें हैं मैं मगरूर हूँ कितना।

528

Iss Dil Ko Kisi Ki Aahat Ki Aas Rehti Hai
Nigaah Ko Kisi Surat Ki Talash Rehti Hai
Tere Bina Zindagi Me Kami To Nahi
Phir Bhi Tere Bina Zindagi Udhas Rehti Hai.

529

Kitna Ikhtiyar Tha Usse Apni Chaahat Par
Jab Chaaha Yaad Kiya Jab Chaaha Bhula Diya
Achhe Se Janta Hai Wo Mujhe Buhlane Ke Tareeke
Jab Chaaha Hansa Diya Jab Chaaha Rula Diya.

530

कागज पे तो अदालत चलती है
हमने तो तेरी आँखों के फैसले मंजूर किये.

531

पाने से खोने का मज़ा कुछ और है
बंद आँखों से सोने का मज़ा कुछ और है
आँसू बने लफ़ज़ और लफ़ज़ बनी जुबा
इस ग़ज़ल में किसी के होने का मज़ा कुछ और है

532

अब तो हम दर्द से खेलना सीख गये है
अब तो हम वेबफाई के साथ जीना सीख गये है
क्या बताये यारो की कितना दिल टूटा है हमारा
अब तो हम मौत से पहले कफ़न ओढ़ कर सोना सीख गये है।

533

मेरे दिल किसी से इतना प्यार मत करना
दर्दे जुदाई कभी तू मत सहना
तू टूट कर बिखर जाएगा उनकी मोहब्बत में
इसलिए कभी किसी से दिल की लगी मत करना।

534

तुम्हारी प्यारी सी नज़र अगर इधर नहीं होती
नशे में चूर फ़िज़ा इस कदर नहीं होती
तुम्हारे आने तलक हम को होश रहता है
फिर उसके बाद हमें कुछ ख़बर नहीं होती.

535

मेरी ज़िंदगी की सांस थम जाती है
लेकिन मेरी जान नही जाती है
मुझे दर्द वे इन्तेहाँ होता है
लेकिन आवाज़ नही आती है
इस दुनिया के अजीब दस्तूर हैं
हम उन्हें भूल नही पाते और उन्हें
हमारी याद नही आती है।

536

उनके इश्क की पहचान अभी बाकी है
नाम उसका लवो पर है और मुझ में जान बाकी है
वो हमे देख कर मुँह फेर लेते है तो क्या हुआ
कम से कम उनके चेहरे की पहचान तो बाकि है।

537

Uski Mohabbat Ka Silsila Bhi Kya Ajeeb Silsila Tha
Apna Banaya Bhi Nahi Aur Kisi Ka Hone Bhi Na Diya.

538

Kya Ajeeb Khel Raha Hai Iss Mohabbat Ka Bhi
Kisi Ko Hum Na Mile Aur Koi Hume Na Mila.

539

Mere Dil Ke Liye Mehmaan Ho Tum
Mere Gum Se Abhi Anjaan Ko Tum
Khuda Ne Bheja Tujhe Mere Liye
Meri Jaan Ho Aur Meri Pehchan Ho Tum.

540

जरूरी नही जीने के लिए सहारा हो
जरूरी नही जिसे हम अपना माने वो हमारा हो
कई कस्तियां बीच भबर में डूब जाया करती हैं
जरूरी नही हर कस्ती को किनारा हो।

541

Bewaqt Bewajah Besabab Si Berukhi Teri
Phir Bhi Beinteha Chahne Ki Bebasi Meri.

542

हमे इतना वक्त ही कहाँ की हम मौसम सुहाना देखे
जब तेरी याद से निकले तभी तो मौसम सुहाना देखे।

543

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे
वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे!

544

Har Dard Ko Dafan Kar Gehrayi Me Kahin
Do Pal Ke Liye Sab Kuchh Bhulaya Jaaye
Rone Ke Liye Ghar Me Kone Bahut Se Hain
Aaj Mehfil Me Chalo Sabko Hansaya Jaaye.

545

मुझे दिल से यूँ पुकारा न करो
यूँ आँखों से हमे इशारा न करो
दूर हूँ तुझसे मजबूरी है मेरी
यूँ तन्हाइयों में मुझे तड़पाया न करो।

546

सच कहा था किसी ने अकेले जीना सीख लो
मोहब्बत जितनी भी सच्ची हो साथ छोड़ ही जाती है|

547

चिंगारी का ख़ौफ़ न दिया करो हमे
हम अपने दिल में दरिया बहाय बैठे है
अरे हम तो कब का जल गये होते इस आग में
लेकिन हमतो खुद को आंसुओ में भिगोये बैठे है।

548

Jiski Kafas Me Aankh
Khuli Ho Meri Tarah
Uske Liye Chaman Ki
Khizaan Kya Bahaar Kya.

549

याद आयेगी हर रोज
मगर तुझे आवाज़ न दूंगा
लिखूंगा तेरे लिये हर गजल
मगर तेरा नाम न लूंगा।

550

जो लम्हा साथ है
उसे जी भर के जी लेना..
कमबख्त ये जिंदगी भरोसे के काबिल नहीं है

551

वफ़ा की ज़ंज़ीर से डर लगता है
कुछ अपनी तक़दीर से डर लगता है.
जो मुझे तुझसे जुदा करती है
हाथ की उस लकीर से डर लगता है!

552

Mana Ki Sab Kuchh Paa Lunga Main Apni Zindagi Me
Magar Wo Tere Mehndi Lage Haath Mere Na Ho Sakenge.

553

वो करते है मोहब्बत की बात
लेकिन मोहब्बत के दर्द का उन्हें एहसास नही
मोहब्बत तो वो चाँद है जो दिखता तो है सबको
लेकिन उसको पाना सबके बस की बात नही।

554

Lagta Nahin Hai Dil Mera Ujade Dayaar Me
Kiski Bani Hai Aalam-E-Napayedar Me.

555

तुमने कहा था आँख भर कर देख लिया करो मुझे
पर अब आँख भर आती है और तुम नज़र नहीं आते हो.

556

मेरी चाहत ने उसे खुशी दे दी
बदले में उसने मुझे सिर्फ खामोशी दे दी
खुदा से दुआ मांगी मरने की
लेकिन उसने भी तड़पने के लिए ज़िन्दगी दे दी।

557

हम तो तेरी यादों में यूं खो लेते हैं
आंखों में आँसू आ जाएं तो रो लेते हैं
आजकल नींद तो आती नही मेरी आँखों मे
लेकिन तू ख्वाबों में आ जाये इसलिए सो लेते हैं।

558

Usne Kaha Tha Aankhein Bhar Ke Dekha Kar Mujhe
Ab Aankhein To Bhar Aati Hain Par Wo Nahi Dikhte.

559

हँसते हुए ज़ख्मों को भुलाने लगे हैं हम
हर दर्द के निशान मिटाने लगे हैं हम
अब और कोई ज़ुल्म सताएगा क्या भला
ज़ुल्मों सितम को अब तो सताने लगे हैं हम।

560

जख़्म इतना गहरा हैं इज़हार क्या करें।
हम ख़ुद निशां बन गये ओरो का क्या करें।
मर गए हम मगर खुली रही आँखे हमरी।
क्योंकि हमारी आँखों को उनका इंतेज़ार हैं।

561

Kaarwan Ko Unka Bhi Kuchh Khyal Aata Hai
Jo Safar Mein Bichhde Hain Rasta Banane Mein.

562

Main Phir Bhi Tumko Chahunga
Is Chahat Mein Mar Jaunga.

563

मेरी रूह में न समाती तो भूल जाता तुम्हे
तुम इतना पास न आती तो भूल जाता तुम्हे
यह कहते हुए मेरा ताल्लुक नहीं तुमसे कोई
आँखों में आंसू न आते तो भूल जाता तुम्हे|

564

चुपचाप गुजार देंगे तेरे बिना भी ये जिंदगी
लोगो को सिखा देंगे मोहब्बत ऐसे भी होती है|

565

मत पूछ कैसे गुज़र रही है जिंदगी
उस दौर से गुजर रही हु जो गुजरता ही नहीं|

566

उस वेबफा को अपना समझा जिसे हमने इतना प्यार किया
उसने किया हमसे सिर्फ धोखा हमने फिर भी एतवार किया।

567

Aaj Is Pyasi Zami Pe Bundo Ki Chham-Chham Hogi
Dil Ki Muskurati Kali Ke Chehre Pe Sharam Hogi
Aaj Honge Kayi Wade Badenge Irade
Jawa Do Dil Ki Dhadkano Mai Aaj Badi Uffan Hogi.

568

Ek Rishta Jo Muh Bola Tha
Uska Bhee Tumne Tiraskaar Kiya
Chhod Kar Dur Chale Gaye
Ye Kaisa Tumhaara Pyaar Hua

569

तू मुझे दिल से पुकारा न कर
तू मुझे इतना रुलाया न कर
ये मजबूरी है हमारी के तुझसे दूर हैं
तू तन्हाईयो में इतना तड़पाया न कर।

570

Kahin Kisi Roj Yun Bhi Hota
Jo Humari Haalat Hai Wo Tumhari Hoti
Jo Raat Humne Gujari Tadap Kar
Wo Raat Tumne Bhi Gujari Hoti.

571

मुझको कोई तो वजह दे तुझे कैसे मैं भुलाऊँ
ज़ख्म सीने पर खाया है कैसे दिखाऊँ
इस दिल पे मेरा ज़ोर कहाँ है
क्या है तिश्नगी मेरे दिल की समझ न पाऊँ।

572

कोई मिला ही नही हमे कभी हमारा बन कर
वो मिला भी तो हमे सिर्फ किनारा बनकर
हर ख्वाब बन कर टुटा है यहां
अब बस इंतज़ार ही मिला है एक सहारा बन कर।

573

Ye Mohabbat Bhi Kya Rog Hai Faraz
Jise Bhule Wo Sada Yaad Ayaa

574

Koi To Hai Mere Andar Mujhko Sambhale Huye
Ke Beqarar Hokar Bhi Barqarar Hun Main.

575

मेरी आँखों मे नींद आ जाये बस यही गुज़ारिश करते हैं।
मेरे सपनों में उसका चेहरा आ जाये बस यही शिफारिश करते हैं।

576

किसी ने मुझसे कहा-
तुम्हारी आंखें बहुत प्यारी है
मैंने हस कर कहा-
बारिश होने के बाद अक्सर
मोसम हसीन हो जाता है|

577

Mujh Ko Halaat Ki Aandhi Ne Giraya Varna
Mere Seene Me Bhi Kuchh Log Raha Karte The.

578

न जाने क्या कमी है मुझमे
और न जाने क्या खूबी है उसमे
वो मुझे याद नहीं करती
और मैं उसे भुला नहीं पाता.

579

अपनी मोहब्बत की बस इतनी कहानी है
डूबी हुई कस्ती और ठहरा हुआ पानी है।

580

जब से देखी है हमने दुनिया करीब से;
लगने लगे हैं सारे रिश्ते अजीब से !

581

मेरी आँखों मे आँसुओ का समंदर है
लेकिन हम इन्हें बहा नही सकते है
इस ज़माने से डरतें हैं
इसलिए इन आँसुओं को दिखा नही सकतें हैं
ये तो आप भी वा खूब समझतें होंगे के
हम आप के सिबा किसी और को हम चाह नही सकतें हैं।

582

जब भी वो आये तो एक अलग ही मन्ज़र बनाती है
तेरी खामोश निगाह मेरे दिल पे एक ख़ंजर चलाती है।

583

कौन कहता है सिर्फ नफरतो में ही दर्द है
कभी कभी बेपनाह मोहब्बत भी बहुत दर्द देती है.

584

आदतन तुम ने कर दिए वादे
आदतन हम ने ऐतबार किया
तेरी राहो में बारहा रुक कर
हम ने अपना ही इंतज़ार किया
अब ना मांगेंगे जिंदगी या रब
ये गुनाह हम ने एक बार किया

585

ठीक है बदल जाओ तुम
लेकिन ये याद रखना की हम बदल गए तो तुम करवटे बदलते रह जाओगे.

586

Silsile Tod Gaya Wo Sabhi Jate-Jate
Varna Itne To Marasim The Ki Aate-Jate.
Shikwa E Zulmate Shab Se To Kahin Behtar Tha
Apne Hisse Ki Koi Shamma Jalate Jate.
Kitna Aasaan Tha Tere Hijr Me Marna Jana
Phir Bhi Ek Umr Lagi Jaan Se Jate Jate.
Jashn-E-Maqtal Hi Na Barpa Hua Varna Hum Bhi
Pa Bajola Hi Sahi Nachte Gaate Jate.
Uski Wo Jaane Use Paas-E-Wafa Tha Ki Na Tha
Tum Faraz Apni Taraf Se To Wafa Nibhate Jate.

587

Zindagi Ne Kai Sawaal Badal Diye
Waqt Ne Mere Halaat Badal Diye
Itne Bure Nahin Hai Hum
Na Jaane Kyu Logon Ne Apne
Khayaal Badal Diye…

588

ज़िन्दगी है नादान इसलिए चुप हूँ दर्द ही दर्द है
सुबह- शाम इसलिए चुप हूँ। कह दु ज़माने से दास्तान अपनी
उसमे आया तेरा नाम इसलिए चुप हूँ।

589

किस्मत और दिल की आपस में कभी नहीं बनती
क्यूंकि जो दिल में होता है वो कभी किस्मत में नहीं होता है.

590

Jakhm To Ham Bhi Apne Dil Me Tumse Gahre Rakhte Hain
Magar Ham Jakhmo Pe Muskurahaton Ke Pahare Rakhte Hain.

591

तू पास नहीं तो क्या हुआ मोहब्बत तो हम तेरी दूरियों से भी करते है|

592

समंदर से जब लहरें उठतीं हैं और पलट जाती हैं
उसकी यादें मेरे सीने में ही सिमट जातीं हैं
लहरों में और यादों में बस फर्क इतना है
समंदर से लहरें तो कभी कभी उठतीं है
लेकिन उसकी यादें हर वक्त उठ जाया करती हैं।

593

इश्क हमें जीना सिखा देता है
वफा के नाम पर मरना सिखा देता है।
इश्क नहीं किया तो करके देखो जालिम
हर दर्द सहना सीखा देता है।।

594

Ab Jis Ke Jee Me Aaye Wo Hi Paaye Roshani
Hum Ne To Dil Jala Kar Sar-E-Aam Rakh Diya.

595

चोट जो हमने दिल पे खाई है
तो मेरी आँख भर आई है
मत करना किसी से भी बेपनाह मोहब्बत
अब तो मेरे दिल से यही सदा आई है।


Ye Mere Sher Mere Dil Ke Arman Hai
Inke Badolat Mai Hu Ye Meri Shaan Hai
Rishta Hai Inse Mera Janam Janam Ka
Zindagi Hai Tumse Tu Meri Jaan Hai.

596

जरा ख्याल की जिए मर न जाऊँ कहीँ
बहुत जहरीली है तेरी ख़ामोशी मैं पी न जाऊँ कहीँ।

597

दिल मे आरज़ू के दिये जलते रहेगे।
आँखों से मोती निकलते रहेगे।
तुम शमा बन कर दिल में रोशनी करो।
हम मोम की तरह पिघलते रहेंगे।

598

Ajeeb Halaat Ho Gayi Hai Dil Ki
Na Tu Iski Hui Aur Na Ye Mera Raha.

599

क्यों अनजाने में हम अपना दिल गवां बैठे
क्यों प्यार में हम धोखा खा बैठे
उनसे हम अब क्या शिकवा करे क्योंकि गलती हमारी ही थी
क्यों हम वेदिल इंसान से दिल लगा बैठे।

600

तू क्या जाने की क्या है तन्हाई
टूटे हर पत्ते से पूंछो की क्या है जुदाई
हमको तू कभी वे वेबफाई का इलज़ाम न देना
तू उस वक्त से पूछ की मुझे तेरी याद कब नही आई।

601

हम उसके चेहरे को कभी कभी रुख से उतार देते है
कभी कभी तो हम खुद को ही मार देते है।

602

बनके अजनबी मिले है ज़िंदगी के सफर में
इन यादों को हम मिटायेंगे नहीं
अगर याद करना फितरत है आपकी
तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं ।।

603

Isaq Koi Kyu Karta Hai
Ise Jaan Lena Jaroori Hai
Iske Bina Kaise Jiye Koi
Bin Iske Zindagi Adhuri Hai.

604

सब कुछ बदल चुका था जब वो अर्सों बाद मिले
हम उनसे कुछ कहे भी न सके वो इतने पराये से लगे।

605

यूँ सजा न दे मुझे बेकसूर हूँ मैं
अपना ले मुझे गमों से चूर हूँ मैं
तू छोड़ गई हो गया मैं पागल
और लोग कहते है बड़ा मगरूर हूँ मैं।

606

सपनो में आने वाली तेरा शुक्रिया
दिल को धड़काने वाली तेरा शुक्रिया
कौन करता है आज जहाँ में किसी से इतनी महोबत
हमें अपनी ज़िंदगी में शामिल करने वाली तेरा शुक्रिया ||

607

वो नही आती पर अपनी निशानी भेज देती है
ख्वाबो में दास्ताँ पुरानी भेज देती है
उसकी यादों के पल कितने भी मीठे हैं
मगर कभी कभी आँखों में पानी भेज देती है।

608

Tum Khas Nahi Ho
Magar Har Sans Me Ho
Ru-Ba-Ru Nahi Ho Magar
Har Ehsaas Me Ho
Miloge Ya Nahi Magar
Meri Har Talash Me Ho
Chahe Poori Ho Ya Na Ho
Magar Har Sans Me Ho
Door Hi Sahi Tum
Magar Fir Bhi Paas Hi Ho.

609

सारी दुनिया के रूठ जाने की परवाह नहीं मुझे
बस एक तेरा
खामोश रहना मुझे तकलीफ देता है!

610

Do Char Nahin Mujhe Sirf Ek Dikha Do
Wo Shaks Jo Andar Bhi Bahar Jaisa Ho

611

हम तो ख्वाबो की दुनिया में बस खोते गये
होश तो था फिर भी मदहोश होते गये
उस अजनबी चेहरे में क्या जादू था
न जाने क्यों हम उसके होते गये।

612

क्या हुए वो तेरे वादे जो तूने हमपे थे लादे
अब हमपे न ये सितम करो थोड़ा सा तो रहम करो
पहले तूने हमको रुलाया अब कहता है हमे भुलादे
अब न हमपे ये सितम करो अब न हमसे मुह मोड़ो।

613

Mat Sataao Hume Hum Sataye Hue Hain
Akela Rahne Ka Gam Uthhaye Hue Hain
Khilona Samajh Kar Na Khelo Hum Se
Hum Bhi Usi Khuda Ke Banaye Hue Hain.

614

ये वक्त हमे महसूस कराता है
के कौन हमारा दिल दुखाता है
वक्त के साथ कुछ ज़ख्म कम हो जातें है
लेकिन उन ज़ख्मो पर फिर से कोई नमक लगाता है।

615

मुझे खबर है तेरे दिल मे मैं नही
तेरे दिल मे कोई और ही सही
तू कभी भुलाया न जायेगा
तू बस एक टूटा हुआ ख्वाब ही सही।

616

चाहें तू कितनी भी दुआ कर मुझसे दूर जाने की
मैं भी उसी रब से दुआ करूंगा तुझे मेरे पास लाने की।

617

मोहब्बत की दास्तां भी बहुत अजीब होती है
जो पल हंस कर बिताए थे उन्हें याद करके रोना आता है
और जो पल रो कर बिताए थे उन्हें याद करके हंसी आती है।

618

Ai Naye Dost Main Samjhunga Tujhe Bhi Apna
Pehle Maazi Ka Koyi Zakhm To Bhar Jane De.

619

कब तक दूरियां इख्तियार करोगे हमसे
कभी तो मिलना पड़ेगा दूर जाकर हमसे
क्यों तूने मुझसे आज नज़रे हैं चुराई
हमे सज़ा दे अगर हो गयी है कोई भूल हमसे।

620

Hai Pyar Mohabbat Ka Sila Kuchh Nahi
Bas Ek Dard Ke Siwa Mila Kuchh Nahi
Saare Armaan Jal Kar Khaak Ho Gaye
Log Fir Bhi Kehte Hain Jala Kuchh Nahi.

621

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।

622

उफ वो तेरी कसमे उफ वो तेरे वादे
तू सब भूल गया हम दोनों ने क्या क्या किये थे इरादे।

623

कल रात को खोल कर देखी यादो की किताब.
रो पड़े की क्या क्या खोया है हमने ऐ ज़िंदगी।

624

सुना है प्यार करने वाले बड़े अजीब होते है
खुशी के बदले गम नसीब होते है|
मेरे दोस्त मोहब्बत ना करना कभी
क्योकि प्यार करने वाले बड़े बदनसीब होते है|

625

जब तू याद आती है तेरी तस्बीर को सीने से लगा लेते हैं
गम एक आग का दरिया है इसे हम मिटा लेते हैं
महफिलों में कभी तेरा जिक्र हुआ करता है
तब हम अपनी भीगी पलकों को झुका लिया करते हैं।

626

दिल के समुन्दर में एक गहराई है
उसी गहराई से तुम्हारी याद आई है
जिस दिन हम भूल जाये आपको
समझ लेना हमारी मोत आई है

627

लोग जलते रहे हमारे मुस्कुराने से
क्योंकि हम अपना गम जताया नही करते
ज़िन्दगी की राहों में जो मिला उसे अपना लिया
और जो न मिला उसकी ख्वाइश हम किया नही करते।

628

Barson Ki Jaan Pehchan Thi Ek Roj Usne Tod Di
Hoshiyar Hum Bhi Kam Nahi Umeed Hamne Chhod Di.

629

हमे आदत नही है हर एक पर मर मिटने की
तुझ में बात ही कुछ ऐसी थी
दिल ने मोहलत ही न दी कुछ सोचने की।

630

ख्वाइशें तमाम पिघलने लगी है
फिर से एक और शाम ढलने लगी है
उनसे मुलाकात के इंतज़ार में बैठे है
अब ये जिद भी तो हद से गुजर ने लगी है।

631

किस कदर अनजान है यह सिलसिला -ए-इश्क भी
मोहब्बत तो कायम रहती है मगर इंसान टूट जाते है!

632

कुछ पता नही ये दिल सुधर गया
या किसी की मोहब्बत में उजड़ गया।

633

मेरा इश्क है वो
मेरी मज़बूरी न समझ न
सब कुछ ज़िन्दगी में मिल जाये
ये ज़रूरी न समझ न
जिसे हम चाहें वो हमारे सामने रहे
इसे जरूरी न समझ न।

634

अजीब खेल है ये मोहब्बत का
किसी को हम न मिले|
और कोई हमे न मिला|

635

किसी को फूलों में ना बसाओ
फूलों में सिर्फ सपने बास्ते है
अगर बसाना है तो दिल में बसाओ
क्युकी दिल में सिर्फ अपने बास्ते है

636

I’M Hurt
I’M Alone
I’M Depressed
I Cry Myself To Sleep All Because Of You
But I Hope You’Re Doing Okay Because
I Love You

637

गम कितना है हम आपको दिखा नही सकते है
ज़ख्म कितने गहरे है ये आपको दिखा नही सकते है
जरा हमारे इन आंसुओ को तो देख लो
ये आंसू गिरे है कितने ये हम आपको गिना नही सकते है।

638

Lutf Humko Aata Hai Ab Fareb Khane Mein
Aajmaaye Logon Ko Roj Aajmaane Mein.

639

Mausam Ki Misaal Dun Ya Naam Lu Tumhara
Koi Puchh Baitha Hai Badalna Kisko Kehte Hai.

640

जब कोई आपसे मजबूरी में जुदा होता है
जरूरी नही वो इंसान वेबफा होता है
जब कोई देता आपको जुदाई के आँसू
तन्हाइयों में वो आपसे ज्यादा रोता है।

641

Na Koi Ilzam
Na Koi Tanz
Na Koi Ruswai Mir
Din Bahut Ho Gaye Yaar Ne Koi Inayat Nahi Ki.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *