800+ Love Shayari in Hindi For Girlfriend With Images

Browse through our love shayari in hindi for girlfriend to impress her.
These love shayari for her is bound to make her fall in love you even more. Share them to show your affection towards her. Since love should be shared in abundance, we have compiled this huge list so that you are never short of goog shayari to share.
Bookmark this page so that you can visit it later on and share more shayari.

Also, browse our – Bewafa Shayari and Sad Shayari collection.

Love Shayari for girlfriend in Hindi with Images

If you need more high-quality images then check out our Pinterest page where we have numerous love shayari in hindi for girlfriend images.

1

hindi girlfriend shayari
Banane Wale Ne Bhi Tujhe,

Kisi Karan Se Banaya Hoga,

Chhoda Hoga Jab Zameen Par Tujhe,

Uske Seene Mein Bhi Dard To Aaya Hoga

2

thank  you girlfriend shayari
तुम हर तरह से मेरे लिए ख़ास हो

शुक्रिया वो बनने के लिए जो तुम हो

3

love shayari hindi for gf
मुझे किसी से मोहब्बत नही सिवा तेरे,

मुझे किसी की ज़रूरत नही सिवा तेरे,

मेरी नज़र को थी तलाश जिस की बरसों से,

किसी के पास वो सूरत नही सिवा तेरे,

जो मेरे दिल और मेरी ज़िंदगी से खेल सके,

किसी को इतनी इजाज़त नही सिवा तेरे|

4

smile shayari for girlfriend
हसना हमारा किसी को गवारा नहीं होती

हर मुसाफिर ज़िन्दगी का सहारा नहीं होता

मिलते है हर लोग तनहा ज़िन्दगी में

पर हर कोई आपसा प्यारा नहीं होता

5

beautiful girlfriend shayari
Uski Mohabbat Ka Sila Bhi Kia Ajeeb Tha,

Apna Bhi Na Banaya Aur Kisi Ka Hone Bhi Nahin Dia.

6

तू चाँद और मैं सितारा होता,

आसमान में एक आशियाना हमारा होता,

लोग तुम्हे दूरसे देखते,

नज़दीक से देखने का हक बस हमारा होता|

7

हमारी आँख से गिरता,

जो तेरे प्यार का मोती,

उसे हाथो से चुन लेती,

अगर तुम सामने होती,

8

Pyar me Dhokha Khaye Hue Insaan ne

Khuda Se Kaha| YA Khuda Tu Ishq Na Karna

Varna Khub Pachtayga Hum to Mar k Tere Pas Aayenge.

Tu Kiske Paas Jayega

9

इतना मीठा था वो गुस्से भरे लफ्ज मत पूछो

उसने जिस जिस को भी जाने को कहा वो बैठ गया

10

जाने कब आपकी आँखों से इज़हार होगा,

आपके दिल में हमारे लिए भी प्यार होगा,

गुजर रही है ये रात आपकी याद में,

कभी तो आपको भी हमारा इंतज़ार होगा|

11

खुद को खुद की खबर ना लगे,

कोई अच्छा भी इस कदर ना लगे,

आप को देखा है बस उस नज़र से,

जिस नज़र से आप को नज़र ना लगे|

12

Andaaz hai kuchh mere alag sochne ka

Sab ko manjlzil ka shauk hai,

mujhe Raaston ka… Jinke chehre hote hai chand jaise,

uske dilon me daag hi hote hain

13

तू चाँद में सितारा होता आसमान के एक

आशियाना में एक आशियाना हमारा होता

लोग तुम्हे दूर से देखते नजदीक से

देखने का हक बस हमारा होता

14

तेरे चेहरे में मेरा नूर होगा,

फिर तू ना कभी मुझसे दूर होगा,

सोच क्या ख़ुशी मिलेगी जान उस पल,

जिस पल तेरी माँग में,

मेरे नाम का सिंदूर होगा|

15

Waqt Ki Andhi Mujhe Tumse Door Kar Degi

Tum To Jee Lo Ge Mere Bin Kisi Aur K Sahare

Aur Zindgi Mujhe Jeete Ji Marne Ko Majboor Kar Degi…

16

अधूरी हसरतों का आज भी इलज़ाम है तुम पर |

अगर तुम चाहते तो ये मोहब्बत ख़त्म ना होती |

17

Labo ko apne khamosh rakh kar,

Ye jo tum sharart kar jate ho,

Dil mera ghayal ho jata hai

Jab apni ankhon se tum keh jate ho.

18

Pyar Ke Panno Se Bhari Kitab Ho Tum,

Rishton Ke Phulo Mai Gulab Ho Tum,

Kuch Log Kehte Hai Ke pyar Sacha Nhi Hota,

Un Logon Ke Har Sawaal Ka Jawab Ho Tum Meri Jaan ho tum

19

मिले तुझे हर खुशी हम दुआ करते है,

तेरी हर मंज़िल हो हसीन हम दुआ करते है.

वैसे तो कबुल होती नही हमारी मन्नते पर,

तेरी हर दुआ कबुल हो हम दुआ करते है|

20

Dil se tujh apne laga loon,

Aa sanam tujh apna bana loon,

Kahi mujh ho na jaye deri

Aa tujh tujhse hi chura loon..

21

हथेलियो‬ पर ‪मेहदी‬ का जोर ना डालिये,

‪दब‬ के मर जाएगी ‪लकीरे‬ मेरे नाम की Iii

22

ऐसा नहीं है की

दिन नहीं ढलता

या रात नहीं होती

सब अधुरा सा लगता है

जब तुमसे बात नहीं होती

23

ऐ सनम मैं तेरे लिए बदनाम हो जाऊं,

तू अपनी ओर खींचे वो लगाम हो जाऊं,

किसी और मंजिल की चाह नहीं मुझको,

सिर्फ तेरी ही गलियों में गुमनाम हो जाऊं..

24

Meri har khwahish tum ho,

Meri chahat mera pyar tum ho,

Tum samjh na pao shayed is baat ko

Par meri jindgi mere jeene ki wajha tum ho.

25

नज़रे करम मुझ पर इतना न कर..

कि तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं

मुझे इतना न पिला इश्क-ए-जाम की,

मैं इश्क़ के जहर का आदी हो जाऊं।

26

Kitna Hasin Chaand Sa Chehra Hai,

Uspe Shabab Ka Rang Gehra Hai,

Khuda Ko Yakin Na Tha Wafa Pe,

Tabhi To Ek Chaand Pe Hazaaro Taaro Ka Pehra Hai.

27

बड़ी मुश्किल से बना हूँ टूट जाने के बाद |

मैं आज भी रो देता हूँ मुस्कुराने के बाद |

तुझ से मोहब्बत थी मुझे बेइन्तहा लेकिन |

अक्सर ये महसूस हुआ तेरे जाने के बाद |

28

मोहब्बत सब से करो

लेकिन उस से और भी

ज्यादा करो जिसके दिल में

तुम्हारे लिए तुमसे भी

ज्यादा मोहब्बत है

29

जो ढल जाये वो शाम होती है

जो ख़त्म हो जाये वो ज़िन्दगी होती है

जो मिल जाये वो मौत होती है

और जो न मिले वो मोहब्बत होती है

30

कुछ दिल को तसल्ली हो आराम तो आये |

शिक़वा ही हो लब पर -मेरा नाम तो आये |

अब तुमसे मुलाक़ात हुये- बख़्त है गुज़रा |

तुम सामने आ जाओ– वो शाम तो आये |

31

बेताब तम्मनाओ की कसक रहने दो

मंजिल को पाने की कसक रहने दो

आप चाहे रहो नजरो से दूर

पर मेरी आँखों में अपनी एक झलक रहने दो

32

लोग मुझ मे मोहब्बत तलाश करते रहे |

मै तेरे बाद किसी का रहा ही नहीं |

33

दर्द जितना है मेरी निगाहो मे,

पाओगे ना उतना किसी की राहों मे,

बितानी चाहते थे ज़िंदगी जिसकी बाहों मे,

मौत भी ना मिल पाई उनकी पनाहो मे|

34

हमे फिर सुहाना नज़ारा मिला है,

क्योंकि जिंदगी में साथ तुम्हारा मिला है,

अब जिंदगी में कोई ख्वाइश नही रही,

क्योंकि हमे अब तुम्हारी बाहों का सहारा मिला है।

35

बहुत तकलीफ होती है सच में

जब हम हद से ज्यादा किसी से प्यार करे |

और वो उसी प्यार की कोईकदर ना करे |

36

वो सुना रही थी अपनी वफाओ के किस्से |

हम पर नज़र पड़ी तो खामोश हो गई |

37

Achha Nahi Har Sakhs Se Ummeed Lagana

Matlab Parast Logo Hai Bachke Raha Karo

38

बदलते इंसानों की बात हमसे न पूछो |

हमने अपने हमदर्द को हमारा दर्द बनते देखा है |

39

Tete Mile Ki Aaas Na Hoti To

Zindagi Aaaj Udaas Na Hoti.

Mil Jati Jo Kabhi Tasweer Teri To Aaj

Humko Teri Talaash Na Hoti.

40

Chhoti nhi thodi badi chahat hai hamari,

Bas sath tumhare rehne ki khwahish hai hamari,

Zindagi ke har mod par sath tumhara nibhayenge

Bas qubool kar lo tum mohabbat hamari.

41

उजाले अपनी यादो के हमारे साथ भी रहने दो,

ना जाने किस गली मैं ज़िंदगी की शाम हो जाए|

42

Kahin yaadon ka mukabla ho to batana yaaro,

Mere paas bhi kisi ki yaaden behisaab hoti ja rahi hai.

43

Apni bahon me chupa mujhko le,

Seene se laga kar apna hi hissa bana mujhko le,

Chaha kar bhi kabhi dur naa jaa apun mein tujhse

Koi aise prem bandhan me bandh tu mujhko le.

44

Pyari teri bate mujh hasa deti hai,

Tujh se dooriya mujh saza deti hai,

Roshni banke aayi hai tu meri jindgi mein

Teri chahat teri wafa bata deti hai.

45

बस एक लफ्ज उनको सुनाने के लिये |

जाने कितने अल्फाज लिखे हमने जमाने के लिये |

46

Tum haso to khushi mujhe hoti hai,

Tum rutho to aankhein meri roti hain,

Tum door jaao to bechaini mujhe hoti hai,

Mehsoos karke dekhlo mohabbat aisi hi hoti hai.

47

Rab Kare Zindagi Mai Aisa Mukam aaye,

Meri Rooh Aur Jaan Aapke Kaam aaye,

Har Dua Mein Bas Yahi Mangte hain Rab Se,

Ki Agle Janam Mai Bhi Aapke Naam Ki Saath Mera Naam Aaye.

48

कितने कम लफ्जों में ज़िन्दगी

को ब्यान करू,

लो तुम्हारा

नाम लेकर किस्सा तमाम करू

49

संगमरमर के महल में तेरी ही तस्वीर सजाऊंगा

मेरे इस दिल में ऐ प्यार तेरे ही ख़्वाब सजाऊंगा

यूँ एक बार आजमा के देख तेरे दिल में बस जाऊंगा

मैं तो प्यार का हूँ प्यासा जो तेरे आगोश में मर जाऊंगा

50

तमाम उम्र उसके ख्याल मेँ गुजार दी यारो |

मेरा ख्याल जिसे उम्र भर नहीं आया |

51

मुझको तो होश नहीं तुमको खबर हो शायद |

लोग कहते हैं तुमने मुझे बरबाद कर दिया |

52

बहुत नाइंसाफी है,

,

,

प्यार किसी एक को होता है,

सैड शायरी सबको झेलनी पड़ती है ।

53

मुझे भी अब नींद की तलब नहीं रही,

अब रातों को जागना अच्छा लगता है,

मुझे नहीं मालूम वो मेरी किस्मत में है या नहीं,

मगर उसे खुदा से माँगना अच्छा लगता है..

54

बेवफा तुम हो तो वफादार हम भी नहीं ,

बेशरम तुम हो तो शर्मसार हम भी नहीं,

प्यार के इस मोड़ पर कहते हो की शादीशुदा हो,

तो क्या हुआ डार्लिंग कुंवारे हम भी नहीं|

55

इन आँखों से उनकी तस्बीर को कैसे हटाये,

इस दिल से उनकी यादें कैसे मिटाये,

हम उन्हें कैसे भुला सकते हैं,

इन धड़कनों को उनके बिन अब कैसे चलाये।

56

Dil Mein Kitne Zakhm Hain Kisi Ko Kiya Pataa,

Ye Or Baat Hai K Hum Muskurakar He

Jeete Hain Rulane Walo Ke Saamne..

57

प्यासी ये निगाहें तरसती रहती हैं

तेरी याद में अक्सर बरसती रहती हैं

हम तेरे ख्यालो में डूबे रहते हैं

और ये जालिम दुनिया हम पे हंसती रहती है

58

Kho Ja Jaoun Kahin Jamaane Me.

Mere Haathon Me Apna Haath Rahne De.

59

Mohabbat Ki Misal Main.. Bus Itna Hi Kahun Ga,

Be-Misaal Saza Hai.. Kisi Be-Gunahon K Liye.

60

Jis Din Unka Didar Ho Jata Hai,

Us Raat Sona Duswar Ho Jata Hai,

Marta Hai Koi Hum Par Bhi,

Ye Soch kar Aapne AapSe Pyar Ho Jata Hai..

61

अरमान था तेरे साथ ज़िन्दगी बिताने का

शिकवा है खुद के खामोश रह जाने का

दीवानगी इस से बढ़कर और क्या होगी

आज भी इंतज़ार है तेरे आने का

62

Soch Kar Rakhna Humhari Saltanat Mein Qadam

Humhari ”Mohobaat” Ki Qaid Mein Zamanat Nahi Hoti

63

ऐसे वीराने में एक दिन,

घूट के मर जायेंगे हम

जितना जी चाहे पुकारो,

फिर नहीं आयेंगे हम |

64

Chhupa Leta Tujhe Is Tarah Se Meri Baahon Mein,

Hawa Bhi Guzrjane Ke Liye Izazat Maange,

Ho Jaaye Tere Ishq Mein Madhosh Is Tarah Ki,

Hosh Bhi Wapas Aane Ki Izaazat Maange.

65

Aapki yaad hi meri jaan hain,

Shayad es haqeeqat se aap anjaan hai,

Mujhe khud nahi pata ki mai kaun hu,

Aap ka pyaar hi meri pehchan hain…|

66

कौन कहता है उसके बिना मैं मर जाउंगी,

दरिया हू सागर में उतर जाउंगी,

वो तरस जाएगा प्यार की एक बूँद के लिए,

मैं तो बादल हूँ किसी और पे बरस जाउंगी|

67

Zalim Duniya Mein Zara Sambhal Ke Rehna Mere Yaar,

Yahan Palkon Pe Bithaya Jata Hai Nazron Se Girane Ke Liye

68

आखों की गहराई में तेरी खो जाना चाहता हूँ,

आज तुझे बाँहों में लेकर सो जाना चाहता हूँ,

तोड़ कर हदे मैं आज सारी अपना तुझे बना लेना चाहता

69

In aakhon mein jo tasveer hai wo teri hai,

Dil ki har dhadkan bas teri hai,

Nahi chahiye saare jahan ki khushiyan mujhe,

Khuda kare tujhe mil jaayein,

Wo saari khushiyan jo meri hai.

70

अपना लडना भी मोहब्बत है तुझे एल्म नही

चिल्लाती तुम रहे और मेरा गला बैठ गया

71

यह मौसम भी कितना प्यारा है

करती यह हवाए कुछ इशारा है

ज़रा समझो इनकी जज़्बातो को

तुम्हारी दिलरुबा ने दिलसे तुम्हे पुकारा है

72

आपको दिल में और दुनिया को भुलाये रखती हूँ

कोई तुम्हे मेरी आँखों में देख न ले

इस वजह से निगाहों को झुकाए रखती हूँ

73

Mein khwahishon ki bandish main nhi bandha,

Na meri koi chahat jyada hai,

Jeene ke liye mujhe bas ek teri zarurt

Khud ki zindagi se bhi jyada hai.

74

पूँछा जो मैंने उससे मुझको भुला दिया कैसे

चुटकी बजा के वो बोला- ऐसे ऐसे ऐसे |

75

Ye Sheeshey,

Ye Seene,

Ye Rishte,

Ye Dhaage Saahab. Kise Kya Khabar Hai Kahaan Tuut Jayen.

76

मोहब्बत नाम है जिसका वो ऐसी क़ैद है यारों,

कि उम्रें बीत जाती हैं सजा पूरी नहीं होती।

77

तुझे देखु तो सारा जहाँ रंगीन नज़र आता है,

तेरे बिना दिल को चेन किसको आता है|

तुम ही हो मेरे दिल की धड़कन,

तेरा बिना यह संसार आवारा नज़र आता है|

78

जो कह दिया वो…

अल्फाज़ थे

जो कह न सके वो…

जज्बात थे

जो कहते-कहते कह न पाये वो…

एहसास थे

79

शक ना कर मेरे प्यार पर अगर में

Facebookपर बोल पड़ा तो बदनाम हो जायेगी

और तेरे आशिकों की लिस्ट छोटी हो जायेगी |

80

Labon ko labon se tu takra jane de,

Do tanha jismo ko sanam aaj ek ho jane de.

81

शान से हम तेरे दिल में रहेंगे,

तेरी मोहब्बत पे जान निसार करेंगे,

देख के जलेगी हमे दुनियाँ सारी,

इस कदर बे-पनाह प्यार तुझे करेंगे.

82

लोग अक्सर दुआ करते हैं,

कि खुदा प्यार करने वालो को

कभी जुदा ना करे,

पर हम तो हमेशा कहेंगे

कि जो ना हो किस्मत मे,

खुदा उससे प्यार कभी ना करवाए

83

रिश्ता वो नहीं होता जो दुनिया को दिखाया जाता है|

रिश्ता वह होता है,

जिसे दिल से निभाया जाता है|

अपना कहने से कोई अपना नहीं होता,

अपना वो होता है जिसे दिल से अपनाया जाता है|

84

हम तुझे याद करते है रात की तन्हाई में,

दिल डूबता है दर्द की गहराई में,

हमे मत ढूंढना इस जमाने की भीड़ में,

क्योंकि हम मिलेंगे तुझे तेरी ही परछाई में।

85

Main Janti Hun Kahan Tak Udaan Hai Uski…

Ye.. Mere Hathon Se Nikla Hua Parinda Hai

86

रूठ गया है मनाने वाला

अब कोई नही मेरे नाज़ उठाने वाला

जाने क्या सोचता है ये खुला दरवाज़ा

शायद रास्ता भूल गया है कोई आने वाला

87

दिल में न जैसे तेरे लिए इतनी जगह बन गयी,

तेरे मन कि हर छोटी से चाह मेरे जीने कि वजह बन गयी|

88

वो रख ले कहीं अपने पास हमें कैद करके,

काश कि हमसे कोई ऐसा गुनाह हो जाये।

89

कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है

कोई कहता है प्यार सजा बन जाता है

पर प्यार करो अगर सचे दिल से

तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है

90

वफ़ा का लाज हम वफ़ा से निभाएंगे

चाहत के दीप हम आँखों से जलाएंगे

कभी जो गुज़ारना हो तुम्हे दुसरे रास्तो से

हम फूल बनकर तेरी राहो में बिखर जायेंगे

91

दिन रात हम वो हर काम लिख लेते हैं,

तेरी याद में गुजरी हर शाम लिख लेते हैं,

तुझे देखे बिना इक पल भी कटता नहीं,

अकेले में हथेली पे तेरा नाम लिख लेते हैं..

92

Hasrat hai sirf tumhe pane ki,

aur koi khawahish nahi is dewane ki,

shikwa mujhe tumse nahi khuda se hai,

kya zarurat thi tumhe itna khubsurat banane ki?

93

tere chehre ne kuch aisa gazab dhaya hai,

ki tere Husn se aaj chand bhi sharmaya hai,

maang lete tujhe aaj uss khuda se,

par woh bhi aaj tera gulam nazar aaya hai|

94

Tere hone se hi khush hai hum,

Itni tere ehsas se mohabbat hai.

95

Ankho Mai Teri Tasveer Hai,

Zubaan Pe Tera Naam Hai,

Kya Kare Sanam Hum To,

Teri Chaahat Mai Badnaam Hai..

96

Apni Sanso Me Hum Tere Hone Ka Ehsaas Karte Hai,

Har Ek Aahat Pe Hum Tera Intezaar Karte Hai,

Khuda Se Aur Kya Mange Hum Tumhare Siwa,

Jab Apni Jaan Se Jyada Hum Tumhe Pyar Karte Hai.

97

” Mohbbat me sachha yaar na mila,

Dil se chahe hame wo pyar na mila|

Luta diya usko sab kuch maine,

usibat mei mujhe madadgaar na mila|”

98

Tujh had se jada hum chahenge

Tujh dil mein apne basayenge

Kar ke Iskq ka izhaar Tujh apna hum banayenge.

99

प्यार कमजोर दिल से किया नहीं जा सकता

ज़हर दुश्मन से लिया नहीं जा सकता

दिल में बसी है उल्फत जिस प्यार की

उस के बिना जिया नहीं जा सकता

100

वादा किया है तो ज़रूर निभाएंगे,

सूरज की किरण बनकर छत पर आएंगे,

हम हैं तो जुदाई का गम कैसा,

तेरी हर सुबह को फूलों से सजाएंगे|

||Good Morning||

101

Kabhi Aisi Bhi Berukhi Dekhi Hai Humne

Ke Log Aap Se Tum Tak,

Aur Tum Se Jaan Tak,

Fir Jaan Se Anjaan Tak Ho Jate Hain

102

किसी के द्वारा प्यार किये जाना

आपको ताकत देता है और किसी

को प्यार देना आपको हिम्मत देता है

103

ज़िंदगी तेरे बिना अब कटती नहीं है…

तेरी याद मेरे दिल से मिटती नही…

तुम बसे हो मेरी निगाहो में…

आँखो से तेरी सूरत हटती नही|

104

कलम थी हाथ में लिखना सिखाया आपने

ताकत थी हाथ में होसला दिलाया आपने

मंजिल थी सामने रास्ता दिखाया आपने

हम तो सिर्फ दोस्त थे,

आशिक बनाया आपने

105

Aao tum khawabo mein mere,

Or mein khawabo me sajsa ke rakhu tujhko.

106

मौसम बदल रहा है,

फ़िज़ाँ बदल रही है |

बादे-सवा भी अपना कुछ रुख बदल रही है |

पीने दे और साक़ी,

अभी रात कुछ है बाकी |

उधर चाँद ढल रहा है इधर शराब ढल रही है |

107

हमारी हर ख़ुशी का एहसास तुम्हारा हो

तुम्हारे हर ग़म का दर्द हमारा हो

मर भी जाए तो हमें कोई ग़म नही

बस आख़िरी वक़्त साथ तुम्हारा हो.

108

हमारा दिल उनके लिए ही महेकता है

ठोकर खाता है,

दर्द सहता है और संभलता है

किसी ने इस तरह से

हमारे दिल पे काबू कर लिया के

दिल तो हमारा है पर धडकता उनके लिए है

109

इस दिल की दास्तां भी बडी अजीब होती है

बडा मुस्किल से इसे खुशी नसीब होती है

किसी के पास आने पर खुशी हो न हो

पर दुर जाने पर बडी तकलीफ होती है

110

आँखें तो प्यार मे दिलकी ज़ुबान होती है,

सच्ची चाहत तो सदा बेज़ुबान होती है,

प्यार में दर्द भी मिले तो क्या घबराना,

सुना है दर्द से चाहत और जवान होती है|

111

घड़ी घड़ी वो हिसाब करने बैठ जाते है |

जबकि पता है,

जो भी हुआ,

बेहिसाब हुआ |

112

Khuda ke baad tera naam liya maine,

Kya pata tujhe kitna yaad kiya maine,

Kash sun sakte tum Dhadkan meri,

Har sans ko tere naam se jiya maine.

113

मत पूछ वजह की क्यू

चाहती हूँ तुझे

क्योंकि साचा इश्क वजह से नहीं

बेवजह होता है

114

जब खामोश आँखों से बात होती है

ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है

तुम्हारे ही ख्यालो में खोये रहते है

पता नहीं कब दिन और कब रात होती है

115

साँस थम जाती हे पर जान नही जाती,

दर्द होता हे पर आवाज़ नही आती,

अजीब लोग हे इस ज़माने मे,

कोई भूल नही पता ओर किसी को याद नही आती|

116

रात की गहराई आँखों में उतर आई |

कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई |

ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के |

कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई |

117

आपकी धड़कन से है रिश्ता हमारा,

आपकी सांसो से है नाता ह्मारा,

भूल के भी कभी भूल ना जाना,

आपकी यादो के सहारे है जीना हमारा|

118

Har Ashiq Ki Ek Ajab Kahani Hai

Chup Rehna Bhi Pyar Ki Nisani Hai

Koi Zakhm Nahi Fir Bhi Dard Ka Ehsas Hai

Lagta Hai Dil Ka Ek Tukra Aj Bhi Uske Paas Ha

119

सुबह की हवा मे कभी रात के ख्वाबों मे मिल जाओ,

कभी दिन की रोशनी मे कभी ढलती शाम मे मिल जाओ,

आ कर कभी पास मेरे मिलो मुझसे,

या कभी बाँहों मे आकर मुझ मे मिल जाओ|

120

हज़ार बार ली है तुमने तलाशी मेरे दिल की,

बताओ कभी कुछ मिला है इसमें प्यार के सिवा..|

121

जरा सी बदमाश जरा सी नादान है तू,

लेकिन ये भी सच है की मेरी जान है तू।

122

तेरे प्यार की हिफाजत कुछ

इस तरह से की है हमने

जब भी कभी किसी ने प्यार

से देखा तो नज़रे

झुका ली हमने

123

तेरे मिलने की आस न होती

तो ज़िन्दगी आज यूँ उदास न होती

मिल जाती कभी तस्वीर जो तेरी

तो हमको आज तेरी तलाश न होती

124

नज़रें मिले तो प्यार हो जाता है,

पलकें उठे तो इज़हार हो जाता है,

ना जाने क्या कशिश है चाहत में,

की कोई अंजान भी हमारी ज़िंदगी

का हक़दार हो जाता है|

125

राहे वफ़ा में ऐसा मकाम आये,

की तेरे सिवा कोई और काम न आये।

126

Tere Bagair Is Zindagi Ki Hame Zarurat Nahi,

Tere Siwa Hame Kisi Aur Ki Chahat Nahi,

Tum Hi Rahoge Hamesha Mere Dil Main,

Kisi Aur Ko Is Dil Me Aane Ki Ijaazat Nahi.

127

आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है

इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है

कोई संभाले मुझे,

बहक रहे है मेरे कदम

वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है

128

Vaham Aankhon Ko Ab Bhi Hai

Tumhare Laut Aane Ka

Hai Mera Khwab Nanha Sa

Ye Gul Fir Se Sjane Ka

Hawao Tumse Kya Shikwa

Bujha Do Tum Diya Mera

Jlana Preet Ki Jid Hai

Tumhen Hak Hai Bujhane Ka

129

तेरे जिस्म पर अपने जिस्म को रखूं,

तेरे होठों को अपने होठों से मसलू,

तुझ से प्यार मैं इतनी शिद्दत से करू,

की उस मीठे दर्द से तेरी आह निकल जाए,

दर्द से तेरी आँखो से आंसू झलक जाए,

ओर तू तन से ओर मन से सिर्फ़ मेरी हो जाए,

बदन से तेरे लिपटा रहूं ओर सुबह हो जाए,

सुबह तुझसे जब मैं पूछू तेरी रात का आलम,

तू शर्मा कर मेरे सीने से लिपट जाए|

130

Kuch Rishte Anjane me hi ho Jaate hain,

Pehle Dil fir Zindagi se jur jaate hain,

Kehte hain us Dour ko Pyaar,

Jisme log Zindagi se bhi pyaare ho jaate hain.

131

अपनी प्यारी आँखों मे छुपालो मुझको

मोहब्बत तुम से हैं,

चुरालो मुझको.

धूप हो या सेहर तेरा साथ चलेंगे हम

यक़ीन ना हो तो आज़मा लो मुझ को.

तेरे हर दुख को सह लेंगे हंस के हम

अपने वजूद की चादर बना लो मुझको

ज़िंदगी भी तेरे नाम कर दी है हमने,

बस चंद लम्हे सीने से लगा लो मुझको|

132

चेहरे पे मेरे ज़ुल्फो को फैलाओ किसी दिन,

क्यों रोज़ सिर्फ़ गरजते हो,

बरस जाओ किसी दिन,

खुश्बू की तरह गुज़रो मेरे दिल की गली से,

फूलों की तरह मुझ पर बिखर जाओ किसी दिन|

133

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है|

जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है|

दिल टूटकर बिखरता है इस कदर|

जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है|

134

दिल पे क्या गुज़री वो अनजान क्या जाने,

प्यार किसे कहते है वो नादान क्या जाने,

हवा के साथ उड़ गया घर इस परिंदे का..

कैसे बना था घोसला वो तूफान क्या जाने|

135

नजर को नजर की खबर न लगे

कोई अच्छा भी इस कदर न लगे

आपको देखा है बस उस नजर से

जिस नजर से आपको नजर न लगे

136

Tum Hatheli Ko Mere Piyar Ki Mehndi Se Rango

Apni Aankhon Me Mere Naam Ka Kajal Kardo

Dhoop Hi Dhoop Hon Mein Toot Ke Barso Mujh Par

Mein To Sehra Hun Mujhe Piyar Ka Badal Kardo

137

Kayi baar ye soch kar dil mera ro deta hai ki,

mujhe aisa kya pana tha jo mene khud ko bhi kho diya.

138

उसे लगता था कि उसकी चालाकियां

हमें समझ नहीं आतीं हम बड़ी खामोशी से

देखते थे उसे अपनी नजरों से गिरते हुए।

139

कुछ इस अदा से तोड़ा है ताल्लुक उस सक्श ने |

कि एक मुद्दत से ढुढ़ रहा हु कसुर अपना |

140

अजनबी बनकर मिले थे ये दुनिया के सफ़र में

ये यादो के प्यारे लम्हे कभी भूलेंगे नहीं

अगर याद रखना आपकी फितरत है जानेमन

तो वादा है आपसे के हम भी आपको भूलेंगे नहीं

141

आज बारिश मे तेरे संग नहाना है,

सपना ये मेरा कितना सुहाना है,

बारिश की बूंदे जो गिरे तेरे होठो पे,

उन्हे अपने होठो से उठाना है|

142

हम वही हैं,

बस जरा ठिकाना बदल गया हैं अब,

तेरे दिल से निकल कर,

अपनी औकात में रहते हैं।

143

Tum Mere Ho Tumhara Koi Naam Na Le,

In Bheegti Ankho Ka Koi Jaam Na Le,

Kuch Is Liye Bhi Maine Tumhara Hath Na Chora,

Ki Tum Gir Gaye To Tumhe Koi Thaam Na Le.

144

Shab-e-gham me raat is tarah gujri… Na tum aaye,

na chain aaya,

na maut aayi,

na khwab aaya.

145

खुदा ने मुझसे कहा तू चाहे लाख सजदे कर

ना वो तेरा था,

ना है और ना ही होगा

हमने भी कहा ए खुदा वो मेरा हो चाहे ना हो

मुझे तो उसी से इश्क़ था,

उसी से इश्क़ है और उसी से इश्क़ रहेगा

146

Aik Aik Qart-E Dor Main Yunhi Hi Muje Bi Do

Jam-E Sharab Par Na Karo,

Main Nashe Mein Hun

147

दिल टूटेगा तो फरियाद करोगे तुम भी,

हम न रहे तो हमें याद करोगे तुम भी,

आज कहते हो हमारे पास वक़्त नहीं हैं,

पर एक दिन मेरे लिए वक़्त बर्बाद करोगे तुम भी|

148

Ab Kisi Aankh Ka Jaadun Nahin Chalta Mukhpar

Wo Nazar Bhool Gai Hai Mujhey Paththar Karke

149

इश्क करो तो मुस्कुरा कर,

किसी को धोखा न दो अपना बना कर,

करलो याद जब तक जिन्दा हैं,

फिर न कहना चले गये दिल में यादे बसा कर।

150

मेरा बस चले तो तेरी अदायेँ खरीद लूं |

अपने जीने के वास्ते तेरी वफायेँ खरीद लूं |

कर सके जो हर वक्त दीदार तेरा |

सब कुछ लुटा के वो निगाहेँ खरीद लूं |

151

हर रात जान-बुझकर रखता हूँ दरवाजा खुला |

शायद कोई लूटेरा मेरा गम भी लूट ले |

152

तुम्हारे नाम को होंठों पर सजाया है मैंने |

तुम्हारी रूह को अपने दिल में बसाया है मैंने |

दुनिया आपको ढूंढते ढूंढते हो जायेगी पागल |

दिल के ऐसे कोने में छुपाया है मैंने |

153

वो आये थे मेरी कबर पर अपने हमसफर के साथ

कौन कहता है के मरने के बाद कोई याद नहीं करता

154

ये जो तेरी आँखों के प्याले है,

ये मेरी जिंदगी के उजाले हैं।

155

Tarapte Hain Na Roote Hain,

Na Hum Faryad Karte Hain

Sanam Ki Yaad Me Har Dam Khuda Ko Yaad Karte Hain

156

गुलाब मोहब्बत का पैगाम नहीं होता

चाँद चांदनी का प्यार सरे आम नहीं होता

प्यार होता है मन की निर्मल भावनाओ से

वरना यूँ ही राधा-कृष्ण का नाम नहीं होता

157

आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी

साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी

पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,

जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी.

158

करके वादा मुकर गया आखीर |

तु भी दिल से उतर गया आखीर |

159

जब उस की धुन में रहा करते थे,

हम भी चुपचाप जिया करते थे,

आँखों में प्यास हुआ करती थी,

दिल में तूफान उठा करते थे,

लोग आते थे गज़ल सुनने,

हम उसकी बात किया करते थे,

सच समझते थे उस क वादों को,

रात दिन घर में रहा करते थे,

किसी वीराने में उसे मिल कर,

दिल में क्या फूल खिला करते थे,

अपना घर सजाने की खातिर,

हम उसका नाम लिखा करते थे,

कल उसे देखा तो याद आया

हम भी कभी मोहब्बत किया करते थे|

160

धड़कन दिल की रुक जाती है,

साँसे अक्सर थम जाती है,

बहुत बुरी हालत होती है यारो,

जब Boyfriend से शादी करने की नौबत आती है|

161

प्यार की अनदेखी सूरत हो तुम

ज़िन्दगी की सबसे बड़ी जरूरत हो तुम

खुबसूरत तो गुलाब के फूल भी होते है

फूलो से भी खुबसूरत हो तुम

162

जिस के इक़रार का इंतज़ार था मुझे,

जाने क्यू उस से इतना प्यार था मुझे|

ऐ खुदा आ ही गया वो हसीन पल,

जब उसने कहा तुमसे बहुत प्यार है मुझे|

163

Tujhme baat he kuch aise hai

Dil na diya tumhe to jaan chali jaayegi.

164

पूछ लो बेशक परिन्दों की हसीं

चेहकार से तुम शफ़क़ की झील हो

और शाम का मंज़र हूँ मैं।।

165

Karta Hun Tum Se Mohabbat Marne Par Ilzam Hoga

Kfan Utha Ke Dekhna Labo Pe Tara Naam Hoga

166

Ek Katraa he sahi Maula Lekin,

Esi Niyyat de k Kisi ko

Pyaasa Dekhu toh Paani ho Jau.

167

Itne Mayoosh Kyu Ho Us Ki Bewfai Pr

Tum Khud Hi Kahte The Wo Sab Se Aalag Hai

168

तूने दिखी ही नहीं इश्क मैं कलन्दर की धमाल

पाओ पत्थर पर भी पडते है तो धूल उडती है

169

प्रत्येक प्रेमकथा सुन्दर ही होती है

और हमारे वाली मुझे

सबसे ज्यादा पसंद है

170

ये जो हम-दर्द मिलते है

न यकीन मानों उन्हीं से दर्द मिलते हैं

171

मिलता भी नहीं तुम्हारे जैसा कोई इस शहर में |

हमें क्या मालूम था की तुम एक हो वो भी किसी औरके |

172

जब कोई ख्वाब अधुरा रह जाते हैं |

तब दिल के दर्द आंसु बनकर बाहर आते हैं |

जो कहते है हम आप ही के हैं |

पता नही जिन्दगी मे कैसे अलविदा कह जाते हैं |

173

मेरी सांसो पर नाम बस तुम्हारा है…

मैं अगर खुश हूं तो ये एहसान तुम्हारा है।

174

दूरियों से रिश्तों में फ़र्क नही पड़ता,

बात तो दिल की नज़दीकियों की होती है,

पास रहने से भी रिश्ते नही बन पाते,

वरना मुलाक़ातें तो रोज़ कितनों से होती हैं|

175

उदास रात अधूरा चाँद और तनहा है दिल मेरा

कुछ भी तो मुकम्मल नहीं मेरे पास,

एक तेरे वजूद के

176

हो सके तो निकाल फेंको हमें ज़हन से |

सुना है टूटी हुई चीज़ों को घर में नहीं रखते |

177

सदियों से जागी आँखों को एक बार सुलाने आ जाओ

माना की तुमको प्यार नहीं नफरत ही जताने आ जाओ

जिस मोड़ पे हमको छोड़ गए हम बैठे अब तक सोच रहे

क्या भूल हुई क्यों जुदा हुए बस यह समझाने आ जाओ

178

ज़िंदगी में बार बार सहारा नही मिलता |

बार बार कोई प्यार से प्यारा नही मिलता जो पास है |

उसे संभाल के रखना,

क्योकि |

खो कर फिर वो कभी दुबारा नही मिलता |

179

उंगलियाँ थक गयी पत्थर तराशते तराशते,

जब सूरत बनी यार की तो खरीदार आ गये|

180

मैने अपने “दिल” से कहा ऐ दिल अब तु उसे भुल जा

तो कम्बख्त “दिल” ने कहा

साहिल” तु हद से बाहर की बाते ना किया कर |

181

किसी को चाहो तो इस अंदाज़ से चाहो,

कि वो तुम्हे मिले या ना मिले,

मगर उसे जब भी प्यार मिले,

तो तुम याद आओ.

182

दिल की आवाज को इज़हार कहते है

झुकी निगाह को इकरार कहते है

सिर्फ पाने का नाम इश्क नहीं

कुछ खोने को भी प्यार कहते है

183

उलफत में कभी यह हाल होता है,

आँखें हस्ती हैं मगर दिल रोता है|

मानते हैं हम जिससे मंज़िल अपनी,

हमसफ़र उसका कोई और होता है|

184

अब तो आदत बन चुकी है,

तुम दर्द दो और हम मुस्कुराएंगे

185

मुझे सीने से लगा कर सारे गम दूर कर दो,

तुमसे जुड़ा न हो पाऊं इतना मजबूर कर दो|

186

बहुत गौर से देखने पर

ज़िन्दगी को जाना मैंने

दिल से बड़ा दुश्मन

पुरे जमाने में नहीं है

187

खुदा ने जब तुम्हे बनाया होगा

उसके दिल में भी सुकून आया होगा

पहले सोचा होगा तुम्हे अपना लूं

फिर उसे मेरा ख्याल आया होगा

188

कैसे ब्यान करू सादगी मेरे महबूब की

पर्दा हामी से था मगर नजर हम पर ही थी

189

उस दिल से प्यार ना करो जो तुम्हे दर्द दे,

पर उस दिल को कभी दर्द ना दो जो तुमसे प्यार करे,

क्यूकी तुम दुनिया के लिए कोई एक हो,

पर किसी एक के लिए सारी दुनिया हो|

190

Aap jab samne se gujar jate h,

Armaan dil ke ubhar jaate h,

Dekh kar aapki pyari surat,

Sehme hue phool bhi nikhar jaate h.

191

आज तेरी एक अदा

वो काम कर गयी

सिर्फ नज़रों से ही

दिल अपने नाम कर गयी

192

Jab khamosh aankho se baat hoti hai.

Aise hi mohabbat ki shurwat hoti hai.

Tumhare hi khyalo mein khoye rehte hai.

Pata nahi kab din kab raat hoti hai ?

193

तुम लाख छिपाओ सीने में एहसास हमारी चाहत का,

दिल जब भी तुम्हे धड़का है आवाज़ यहां तक आयी है|

194

मेरा कत्ल करने का इरादा हो तो खंजर से वार न करना |

मेरे मरने के लिए काफी है तेरा औरों से प्यार करना |

195

गिले शिकवे दिलसे न लगा लेना.

कभी रूठ जाऊ तो मना लेना.

कल का क्या पता हम हो नहो.

इसलिए जब भी मिलू.

प्यार से मेरा हाथ थाम लेना

196

Himmat nahi mujh mein,

Ki tujhey duniya se chheen loon,

Lekin mere dil se tujhey koi nikale,

Itna haq to maine khud ko bhi nhi diya.

197

आपकी अदा से हम मदहोश हो गये,

आप ने पलट कर देखा तो हम

बेहोश हो गये,

यही एक बात कहनी

थी आपसे,

ना जाने क्यूँ आपको

देखते ही,

हम खामोश हो गये|

198

मुलाक़ात हो आपसे ,

कुछ इस तरह हमारी…..

सारी उम्र बस एक,

मुलाक़ात में गुज़ार लूँ…

199

बड़े शौक से बनाया तुमने मेरे दिल मे अपना घर

जब रहने की बारी आई तो तुमने ठिकाना बदल दिया

200

Hasrat hain sirf tumhe paane ki,

Aur koi khawahish nahi is deewane ki,

Shikwa mujhe tumse nahi khuda se hai,

Kya zarurat thi tumhe itna khubsurat banaane ki.

201

तेरी आवाज़ सुनने को तरसे है मन मेरा,

तेरी एक झलक पाने को बेकरार है मन मेरा,

अपनी ज़िंदगी का हर लम्हा तेरे साथ गुजारु,

हर पल बस यही चाहता है मन मेरा|

202

Zarre zarre ko aftab hum kar denge,

Phool ko le kar hath me gulaab hum kar denge,

Lamhe bhar bhi naa rahe sako gaye tum bin hamare

Mohabbat me apni itna tumhe kharab hum kar denge.

203

मैंने प्यार किया बड़े जोश के साथ |

पर हम अब प्यार करेंगे बड़ी सोच के साथ |

क्योंकि कल उसे देखा मैंने किसी और के साथ |

204

एक तू तेरी आवाज़ याद आएगी,

तेरी कही हुई हर बात याद आएगी,

दिन ढल जाएगा रात याद आएगी,

हर लम्हा पहली मुलाकात याद आएगी|

205

Bade Kush Nasib Honge Jinka Huaa Ishq Mukammal

Logo Ko To Sirf Humne Barbad Hote Dekha Hai

206

नहीं बस्ती किसी और की सूरत अब इन आँखों में

काश की हमने तुझे इतने गौर से ना देखा होता ।

207

ये कैसे सिलसिले हैं तेरे मेरे दरम्यां |

फासले भी बहुत है,

चाहत भी बहुत |

208

उन्हे चाहना हमारी कमज़ोरी है,

उनसे कह नही पाना हमारी मजबूरी है,

वो क्यूँ नही समझते हमारी खामोशी को,

क्या प्यार का इज़हार करना ज़रूरी है|

209

Kuch Log Pyar karte Hain Nibhane Ke Liye,

Kuch Log Pyar Karte He BhuL jane ke Liye,

Pyar karo To aisa karo ki Dono Tadpe,

Ek Dusre Ke Paas Aane ke Liye.

210

मेरी हर खुशी हर बात तेरी है,

साँसो में छुपी ये हयात तेरी है,

दो पल भी नहीं रह सकते तेरे बिना,

धड़कनो की धड़कती हर आवाज तेरी है।

211

Doshton Se Jo Jakhm Milte Hain,

Unke Hote Nahin Nishan Sahab

212

मेरे वजूद में काश तू उतर जाये

में देखू आईना और तू नजर आये

तू हो सामने और वक़्त ठहर जाये

ये ज़िन्दगी तुझे यु ही देखते हुए गुज़र जाये

213

हर दर्द की दवा हो तुम,

आज तक जो मांगी मेरी एक लौटी दुआ हो तुम,

तुम्हे मिलने की तमन्ना नहीं उठती कभी,

क्यूंकि जो हर वक़्त साथ रहती है वो हवा हो तुम

214

तुम्हारे ‪नाम‬ को ‪‎होंठों‬ पर ‪‎सजाया‬ है मैंने |

तुम्हारी ‪‎रूह‬ को ‪अपने‬ ‪‎दिल‬ में ‪बसाया‬ है मैंने |

‪‎दुनिया‬ आपको ‪#‎ढूंढते‬ ढूंढते हो जायेगी ‪‎पागल |

दिल के ऐसे ‪‎कोने‬ में ‪‎छुपाया‬ है ‪‎मैंने |

215

कुछ लोग खोने को प्यार कहते हैं.

तो कुछ पाने को प्यार कहते हैं,

पर हकीक़त तो ये है,

हम तो बस निभाने को प्यार कहते हैं.

216

वो रात दर्द और सितम की रात होगी

जिस रात रुखसत उनकी बरात होगी

उठ जाता हूँ मैं ये सोचकर नींद से अक्सर

के और गैर की बाहों में मेरी सारी कायनात होगी

217

जब से देखा है तेरी आँखों में झांक कर

कोई भी आईना अच्छा नहीं लगता

तेरी मोहब्बत में ऐसे हुए है दीवाने

तुम्हे कोई और देखे अच्छा नहीं लगता

218

Tujhe Paana Hai Aaj Nahi To Kal,

Saath Dena Mera Mere Humsafar,

Dukh Ho Ya Sukh Paar Kar Lenge Har Dagar,

Tere Pyar Ke Sahare Kaat Lenge Zindagi Ka Safar.

219

एक आस,

एक एहसास,

मेरी सोच और बस तुम,

एक सवाल,

एक मज़ाल,

तुम्हारा ख़याल ओर बस तुम,

एक बात,

एक शाम,

तुम्हारा साथ ओर बस तुम,

एक दुआ,

एक फर्याद,

तुम्हारी याद ओर बस तुम,

मेरा जुनून,

मेरा सुकून बस तुम ओर बस तुम|

220

लाजवाब कर देते हैं तेरे खयाल दिल को,

मोहब्बत तुझसे अच्छा तेरा तसव्वुर है।

221

खुश्बुओं का तो सिर्फ़ एहसास होता है,

दिल तो दिल के पास होता है,

हर बात को ज़ुबान से कहना मुमकिन नही,

सचे प्यार की पहचान तो बस विश्वास होता है|

222

प्यार करना सीखा है

नफरतो का कोई ठोर नहीं

बस तू ही तू है इस दिल में

दूसरा कोई और नहीं

223

इश्क बिना जिंदगी फ़िज़ूल है,

लेकिन इश्क के भी अपने उसूल है,

कहते है इश्क में है बहुत उल्फ़ते,

जब तेरे जैसा हो साथी तो सब कबूल है।

224

उदास होंठों पे मुस्कराहट के फूल आये तो जान लेना

की दिल के अंदर कोई उदास,

बहुत उदासी में ढल रही है

225

Aankhon ki zuban woh samajh nahin patay,

Hont magar kuch bhi keh nahin paatay,

Apni bay basi kis tarah kahain,

Koi hay jis k bina hum rah nahin patay.

226

बार बार तुम को परेशान करना अच्छा लगता है,

जान कर भी हर बात से अनजान बनना अच्छा लगता है,

बस करते रहो आप प्यार का इकरार पे इकरार,

इसलिए सुन के भी अनसुना कर देना अच्छा लगता है|

227

Mujhe Tum Bas Apni Aankhon Me Basa Kar To Dekho,

Sirf Tumhare Liye Hi Hogi Meri Har Muskurahat,

Mehak Jaye Gi Tumhari Zindagi Gulaabon Ki Tarah,

Bas Apni Saans Ko Meri Saanson Se Takra Kar To Dekho.

228

Barbaad Ho Gaye The Hum Duniya Ne Yun Humko Sataya Tha

Har Ek Mod Pe Hum Girte The Kisi Ne Bhi Na Humko Uthaya Tha

Tab Tune Hi Sanam Ek Umeed Ka Diya Jalaya Tha

Apne Har Ek Gam Ko Chupakar Mujhe Jeena Sikhaya Tha

229

Ye Choch Kar Palko Me Chopa Leta Ho Aasu

Gir Kar Mere Aakhon Se Be Gharnaho Jaye

230

Ye dil hi toh janta hain meri pak mohabbat ka aalam,

Ke mujhe jeenay ke liye sanso ki nahin teri zarurat hain.

231

सवाल कुछ भी हो,

जवाब तुम ही हो

रास्ता कोई भी हो,

मंज़िल तुम ही हो

दुख कितना ही हो,

खुशी तुम ही हो

अरमान कितने भी हो,

आरज़ू तुम ही हो

गुस्सा कितना भी हो,

प्यार तुम ही हो,

खवाब कोई भी हो,

उस मे तुम ही हो

क्यूंकी तुम ही हो…| अब तुम ही हो,

मेरी आशिक़ी अब तुम ही हो….|

232

करना है हाल-ए-दिल बयान तुझसे,

मेरी ज़िंदगी बदल देगा तेरा इकरार भी तेरा इनकार भी|

233

Us rab ne diya hai sath tumhara,

Tere pyar se kam nahi pyar hamara,

Koi tamanna nahi hai ek khwaish ko chhodkar,

Na tum rutho na kabhi Chhute ye sath tumhara.

234

Aahat Koi Ho To Lagta Ha K Tum Ho,

Saaya Koi Lehrye To Lagta Ha K Tum Ho,

Ab Khud He Baatoo,

Jaan E Maan Tum Kise Bhoot Se Kam Ho…|

235

बेझिझक मुस्कुराये जो भी गम है,

जिंदगी में टेंशन किसको कम है,

अच्छा या बुरा तो केवल भ्रम है,

जिंदगी का नाम ही कभी ख़ुशी कभी गम है|

236

यादों की धुंध में आपकी परछाई सी लगती है,

कानो में गूँजती शहनाई सी लगती है,

आप करीब है तो अपनापन है,

वरना सीने में साँस भी पराई सी लगती है|

237

Dil Chahta Hai Tumse Pyari si Baat Ho,

Khamosh Taraane Hon,

Lambi si Raat Ho,

Fir Unse Raat Bhar Yahi Meri Baat Ho,

Tum Meri Jindgi Ho,

Tum Hi Meri Kaynaat Ho.

238

सारे ताबीज़ गले में

पहन कर देख लिए

आराम तो बस तेरे

दीदार से ही मिला

239

Mohabbat Karli Tumse Bahut Sochne K Baad,

Ab Kisiko Dekna Nhi Tumhe Dekhne K Baad,

Dunia Chod Denge Tmhe Pane K Baad,

Khuda Maff Kre Itna Jhoot Bolne Ke Baad.

240

आपकी आरज़ू में हमने बहारो को देखा

तेरे ख्वाबो में हमने सितारों को देखा

हमें आपका साथ एक पसंद आया

वरना इन निगाहों ने तो हज़ारो को देखा

241

कुबूल हमने कर लिया आज प्यार का पैगाम

होगा सो देखा जायेगा आज इश्क का अंजाम

242

हम पीना चाहते है.. उनकी निगाहों से,

हम जीना चाहते हैं.. उनकी पनाहों में,

हम चलना चाहते हैं.. उनकी राहों में,

हम मरना चाहते हैं.. उनकी बाहों में|

243

Aankhon Mein Na Humko Dhoondo Sanam,

Dil Mein Hum Bas Jaayenge,

Tamanna Hai Agar Milne Ki Toh,

Band Aankhon Mein Bhi Hum Nazar Aayenge.

244

वो वक्त वो लम्हे कुछ अजीब होंगे

दुनिया में हम खुश नसीब होंगे

दूर से जब इतना याद करते है आपको

क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे?

245

ज़्यादा कुछ नही बस तेरा साथ चाहिए |

जमाने को जलाने के लिए बस इतना ही काफ़ी है |

246

होने लगा है हिसाब,

नफे और नुकसान का

मासूम सी मोहब्ब़त,

व्यापार हो गई …|

247

कुछ सोचूँ तो तेरा ख़याल आ जाता है,

कुछ बोलूं तो तेरा नाम आ जाता है,

कब तक छुपाऊ दिल की बात,

उसकी हर अदा पर मुझे,

प्यार आ जाता है|

248

राब्ते रिश्ते वास्ते कुछ नहीं पहले जैसा

दिल उदास और और बहुत उदास है

249

हर पल हर लम्हा हम होते बेक़रार है,

तुझसे दूर होते है तो लगता है लाचार है,

बस एक बार देखो आँखों में मेरी,

मेरे इस दिल में तेरे लिए कितना प्यार है|

250

वो आज करते है नजर अंदाज तो बुरा क्या मानू,

|

टूट कर पागलो की तरह मोहब्बत भी तो सिर्फ मैंने की थी |

251

हमारी आँखों में तुम हो दिल में तुम्हारी तस्वीर है,

तुम्हारे लिए दिल तो क्या जान भी हाजिर है।

252

तेरा साथ है तो मुझे क्या कमी है

तेरी हर मुस्कान से मिली मुझे ख़ुशी है

मुस्कुराते रहना इसी तरह हमेशा

क्योंकि तेरी इस मुस्कान में मेरी जान बसी है

253

तेरा इंतेज़ार मुझे हर पल रहता है,

हर लम्हा मुझे तेरा एहसास रहता है,

तुझ बिन धड़कने रुक सी जाती है,

की तू मेरे दिल मे मेरी धड़कन बनके रहता है|

254

Andaz-e-mohabat bhi teri ek ada hai,

Door hai tu mujh se ye meri saza hai,

Dil mein basi hai ek pyari si tasveer teri,

Phir kaise keh don ke tu mujh se juda hai.

255

आग रोशनी देती हैं और जलना ज़मीन को पड़ता,

मोहब्बत निगाहे करती है ओर तड़पना दिल को पड़ता है|

256

दुनिया मे मोहब्बत आज भी बरकरार है..

क्योंकि एकतरफा प्यार अब भी वफादार है।

257

Dil mein chhipi yaadon se sawaru tujhe

Tu dekhe to apni ankho me utaru tujhe,

Tere naam ko labo pe aise sajaya hain,

So bhi jaau to khawbo me pukaru tujhe…|

258

सुन पगली मेरी यही ख़्वाहिश है,

हर पल हम साथ हो,

मेरे हाथो में तेरा हाथ हो,

जहाँ भी देखें एक साथ देखें,

तुम मेरी नज़र से देखो और मैं तुम्हारी नज़र से.

259

Dil karta hai zindagi tujhe dedu

zindagi ki sari khusiyan tujhe dedu

dede agar tu mujhe bharosa apne sath ka

to yakin maan apni sanse Bhi tujhe dedu.

260

तुझे मेरे बाहों में रहने कि इजाजत हैं।

आजकल पल पल कुछ भि कहने कि इजाजत हैं ।

तुम तो इजाजत हो मेरी जिंदगी कि,

तेरी हर खुशी मेरे लिये एक इबादत है ।

261

ढूँढता हूँ मैं जब अपनी ही ख़ामोशी को

मुझे कुछ काम नहीं दुनिया की बातो से

आसमा दे न सका चाँद अपने दामन का

मांगती रह गयी धरती कई रातो से

262

मेरे हाथो में तेरा हाथ हो,

मेरी तन्हाइयों में तेरा साथ हो,

ओर हो सर्द रात बिलकुल खामोश

हम हो तेरी बाहों में ओर सिर्फ प्यार की बात हो|

||Sweet Dreams Janu||

263

B Ehsaas Se Chu Kar Mujhe Sandal Kardo

Mein Ke Sadiyon Se Adhoora Hun Mukamal Kardo

Na Tumhein Hosh Rahe Aur Na Mujhe Hosh Rahe

Is Qadar Toot Ke Chaho Ke Mujhe Pagal Kardo

264

जिंदगी के लिये जान ज़रूरी है,

जीने के लिये अरमान ज़रूरी है,

हमारे पास हो चाहे कितना भी गम,

लेकिन तेरे चहरे पर मुस्कान ज़रूरी है।

265

देखा हजारो दफा आपकी फिर बेकरारी किसी है,

संभाले सम्भलता नहीं ये दिल,

कुछ आप में बात ही ऐसी है|

266

वो मुस्कुराकर मिले तो इश्क समझ बैठे हम

उनकी उल्फत को इज़हार समझ बैठे हम

हमारा नसीब बहोत अच्छा तो नहीं था

खुद को उनके मोहब्बत का हक़दार समझ बैठे

267

मुझे नही खबर कि तुम्हारी

जिन्दगी में वो कौन सा पल है?

जो सिर्फ मेरे लिए हो…

पर मेरी जिन्दगी का हर इक पल.

सिर्फ तुम्हारे लिए है.

268

Bahut Dard Hota Hai Ye Mohabbat Aey Khuda

Tu Bewfaao Ki Alag Duniya Bna De

269

इंतज़ार तेरा छु कर रूह को जब जब गुजरा है |

हर पन्ना ज़िंदगी का,

टूटे पत्ते की तरह बिखरा है |

270

थक गया हु इस जहा में चलते चलते मै |

सोने दे अपने आँचल में बचपन की तरहा ऐ माँ |

बहुत कुछ हासिल कर लिया है लेकिन जाने क्यू |

चैन कही नहीं मिल रहा तेरे आँचल जैसा ऐ ‘माँ |

271

Ghar Se Nikal Pade Hain Awaargi Uthaa Kar;

Hum Ko Yahi Bahut Hai Asbaab Is Safar Mein|

272

दर्द की महफ़िल मे हम भी जीया करते हैं

ना किसी से मरहम ना किसी से दुआओं की उमीद किया करते हैं

कई चेहरे लेकर लोग यहा जीया करते हैं

हम इन आँसुओ को एक चेहरे के लिए पिया करते हैं

273

Iss husan ka didar hum bar bar karte hai,

Her pal hum apka iktiyar karte hai,

Waqt mila to hum pe aitbaar kar lena,

Warna aapka intezaar to hum har bar karte hai.

274

लिख दूं….तो लफ्ज़ तुम हो

सोच लूं….तो ख़याल तुम हो

मांग लूं….तो मन्नत तुम हो

चाह लूं….तो मुहब्बत भी तुम हो..

सब कुछ तुम ही हो.

275

इस दिल को अगर तेरा एहसास नही होता,

तू दूर भी रह कर के यूँ पास नही होता,

इस दिल ने तेरी चाहत कुछ ऐसे बसा ली है,

एक लम्हा भी तुझ बिन कुछ खास नही होता|

276

Kin Lafzon Main Bayaan Karun Apne Dard Ko Main.

Sunnay Walay To Bohat Hain Smajnay Wala Koi Nahin

277

अपनी आँखों में,

किसी और को बसा ना देना,

मेरे सिवा किसी और को,

अपनी वफ़ा ना देना,

तेरा ख्वाब,

तेरी चाहत,

तेरी आरज़ू हूँ मैं,

मुझे ज़िंदगी में कभी,

भुला ना देना,

हद से ज़्यादा,

बस तुम्ही को चाहा है,

पल भर भी हम जुदा हो,

ऐसी सज़ा ना देना,

तुमसे बिछड़कर,

जीना ना आएगा हमें,

हम मर जाएँगे,

कभी दगा ना देना,

मुंतज़ीर है मेरी आँखें,

तेरे दीदार को,

रात भर जगा कर,

इन्हे थका ना देना,

जिधर भी देखूं,

बस तुमको ही पाऊं मैं,

नज़र आ जाए मेरा अक्स,

वो आईना ना देना,

राह-ए-उलफत में चल पढ़े है मेरे क़दम,

या रब मंज़िल से पहले मुझको क़ज़ा ना देना|

278

Jab kisiki hansi kisike labon ki muskaan ban jaaye,

Jab kisike sapney kisike armaan ban jaaye,

Sacchi mohabbat usse kehte hai,

Jab kisiki saanse kisiki dhadkan ban jaaye.

279

Meri Ankho Me Ek Haseen Khwab Saza De,

Dekh Ke Mujhe Tu Ek Baar Muskura De,

Takdir Badal Jayegi Apni,

Agar Khuda Tujhe Ish Janam Me Meri Jaan Bana De.

280

Tumhari Khamoshi Hamari Aadat Hai,

In Dooriyon Mein Bhi Hamari Chahat Hai,

Hamari Zindagi Agar Khoobsurat Hai,

To Uski Wajah Bhi Aapki Muskurahat Hai.

281

हम ना अजनबी हैं ना पराए हैं,

आप और हम एक रिश्ते के साए हैं,

जब भी जी चाहे महसूस कर लीजिएगा,

हम तो आपकी मुस्कुराहट में समाए हैं|

282

Meri dhadkan tujh se hai,

Meri saanse tujh se hai,

Tere liye lad jao duniya se mein

Itni aashiqui tujh se hai…

283

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है

दिल न चाह कर भी,

खामोश रह जाता है

कोई सब कुछ कहकर,

प्यार जताता है

कोई कुछ न कहकर भी,

सब बोल जाता है

284

कुछ रोशन है ज़िंदगी तेरे आने से,

कुछ बहकी सी हैं फ़िज़ा तेरे आने से,

तू मुक्कद्दर हैं मेरे प्यार का,

झूम उठा है मेरा दिल तेरे आने से,

अब आए हो तो कभी लौट कर मत जाना,

टूट कर भीकार जाउंगी तेरे चले जाने से|

285

ये चुभन अकेलेपन की,

ये लगन उदास सब से

मैं खुद से लड रहा हूँ तुझे किया बताऊ कब से

286

ज़िन्दगी में बार-बार सहारा नहीं मिलता

बार-बार कोई प्यार से प्यारा नहीं मिलता

है जो पास उसे संभाल के रखना

खो कर वो फिर कभी दोबारा नहीं मिलता

287

डूबना है तो समुन्दर में जाके डुबो

किनारे पर क्या रखा है,

प्यार करना है

तो बाहों में आके करो,

किनारे पर क्या रखा है

288

देख मेरी आँखों में ख्वाब किसके हैं|I

दिल में मेरे सुलगते तूफ़ान किसके हैं |

नहीं गुज़रा कोई आज तक इस रास्ते से |

फिर ये क़दमों के निशान किसके हैं |

289

Aankho Ke Parde Bhi Nme Ho Gaye Hai

Bato Ke Selsele Bhi Kme Ho Gaye Hai

Pata Nahi Galte Kiske Hai

Waqt Bura Hai Ya Bury Hum Ho Gaye Hai

290

कभी किसी से प्यार मत करना

हो जाये तो इनकार मत करना

चल सको तो चलना उस राह पर

वरना किसी की ज़िन्दगी खराब मत करना

291

ये जिंदगी चाहे कितने पल की भी मिले,

बस यही दुआ है बस तेरे संग मिले।

292

Sookh Gai Jo Dali Uspe Fool Nahi Fir Khilte

Is Duniya Ka Rit Yahi Hai Jo Chaho Nahi Milta

293

Meri Baaton Main Jikar Hai Tera,

Tu Hai Meri Aur Main Hun Tera,

Teri Bahoon Main Mujhe Hai Rehna,

Tere Pyar Main Hai Jeena Tere Dard Main Marna.

294

मेरे वजूद में वफ़ा की रोशनी उतार दे,

फिर इतना प्यार दे के मुझे चाहतो से मार दे

बहुत उदास हू इसलिए मैं तेरे पास आ गयी,

कुछ ऐसी बात कर जो दिल को चैन-ओ-क़रार दे,

सुना है तेरी एक नज़र संवारती हैं ज़िंदगी,

जो हो सके तो आज मेरी ज़िंदगी संवार दे|

295

हर रात्रि आपके पास उजाला हो,

हर कोई आपका चाहने वाला हो,

वक़्त गुजर जाये उनकी यादो के सहारे,

ऐसा कोई आप के सपनो को सजाने वाला हो|

Good Night@ Dil Se

296

सबर कर इश्क भी मर जायेगा 1 दिन

तब करेंगे उसने मुलाकात जो अभी मसऱूफ है

297

Chahat apni hum tumhe bata nhi pa rahe,

Himmat tumhare karib aane ki hum jutaa nhi pa rahe,

Kash tum pehchan lo dur se hi

Hamari wo mohabbat jo hum hothon tak laa nhi paa rahe.

298

Tujhe Dekhta Hu To Accha Lagta Hai,

Tujhse Bolta Hu To Accha Lagta Hai,

Bhale Hi Ho Dard Dunia Bhar Ka Mere Jeevan Me Par,

Mai Ek Pal Tujhe Sochta Hu To Accha Lagta Hai.

299

सारी दुनियां के रूठ जाने से मुझे कोई गर्ज़ नहीं |

बस एक तेरा खामोश रहना मुझे तकलीफ देता हैं |

300

जरुरी है तेरे अहसास मेरे अल्फ़ाजों के लिये |

तुम बिन हर शायरी अधुरी है मेरी |

301

Pyar Tumse Na Karte To Aur Kya Karte,

Jaan Tumhare Naam Na Karte To Aur Kya Karte,

TumHi To Zindagi Ho Humari,

TumPe Na Marte To Aur Kya Karte.

302

Dilme Naam Unka Hi Basta Hai,

Dur Hai Fir bhi Jane Kyu Kareeb Hone Ka Ehsaas Jagta Hai,

Itni Mohabbat Na Hui Thi Pehle Kisi Se,

Ab To Unke Bina Jeena Bhi Gunah Lagta Hai.

303

तुम आके दिल में हमारे घर बनाए बैठे हो,

ख्वाबो में भी अपना डेरा बसाए बैठे हो,

ये ना पूछना की क्या हम दीवाने है तुम्हारे,

बस ये जान लो तुम अपनी हर अदा से हमारा दिल छुआए बैठे हो|

304

Mein Tod Leta Agar Tum Gulab Hoti,

Main Jawab Banta Agar Tum Sawal Hoti,

Sabhi Jante Hai Ki Mein Nasha Nahi Karta,

Fir Bhi Pee Lete Agar Tum Sharaab Hoti….

305

जब हमे धोखा मिला प्यार में,

तो जीवन में उदासी छा गई,

सोचा था छोड़ देंगे इस रास्ते को,

पर मोहल्ले में दूसरी आ गई।

306

मेरी यादों में तुम हो या मुझ में ही तुम हो,

मेरे ख़यालों में तुम हो या ख़याल ही तुम हो,

दिल मेरा धड़क के बार बार ये पूछे,

मेरी जान में तुम हो या मेरी जान ही तुम हो|

307

Aadat Nahin Mujhako Rone Kee Par

Aankhon Se Aansoo Nikal Jaate Hai,

Na Karana Chaahoo Par Baate Aksar

Tere Hee Kisse Nikal Aate Hai

308

Bahana Kyu Dhudhte Ho Mujhse Door Jane Ki

Safsaf Kah Do Mere Dil Me Aur Koye Hai

309

Mohabbat se apni sawaru tujh,

Bahon mein lekar dil mein utaru tujh,

Basa ke tujh apni aankhon mein Ishq apna bana loon tujh.

310

कभी इतना मत मुस्कुराना की

नजर लग जाये जमाने की

हर आँख मेरी तरह

मोहब्बत की नहीं होती

311

तेरी बाहों में मिली ऐसी राहत सी मुझे,

हो गयी जाने जहां तेरी आदत सी मुझे|

312

मोहब्बत का इम्तेहान असान नहीं

प्यार सिर्फ पाने का नाम नहीं

मुद्दते बीत जाती हैं किसी के इंतज़ार में

ये सिर्फ पल-दो-पल का काम नहीं

313

Mere Jane Ke Baad Kisi Ko

Fark To Nai Padega

Bass Tanhayi Hi Royegi

Ki Mera Humsafar Chala Gya

314

वो मोहब्बतें जो तुम्हारे दिल में हैं,

उससे जुबां पर लाओ और बयां कर दो,

आज बस तुमकहो और कहते ही जाओ,

हम बस सुनें ऐसे बे-ज़ुबान कर दो.

315

सबसे यूं मिलना के जैसे दिल में कोई दुख न हो |

मुझमे ये खूबी है सब खामियों के बावजूद |

316

दुनिया की भीड़ में एक दुआ है हमारी

जिस से मांगी हर ख़ुशी तुम्हारी

जब भी आप मुस्कुराये अपने दिल से

समझो दुआ कबूल है हमारी

317

दिल के रिश्ते का कोई नाम नहीं होता,

हर रास्ते का मुक़ाम नहीं होता,

अगर निभाने की चाहत हो दोनों तरफ,

तो क़सम से कोई रिश्ता नाक़ाम नहीं होता|

318

काग़ज़ भी हमारे पास है,

कलम भी हमारे पास है,

लिखू तो क्या लिखू ऐ सनम,

ये दिल तो तुम्हारे पास है|

319

बड़ी फ़ुर्सत से तुम्हें देखता हूँ,

बड़ी मुद्दत से तुम्हें चाहता हूँ,

मेरी इज़्ज़त,

मेरा ईमान तुझ से है,

उसी नीयत से तुम्हें देखता हूँ,

तुझमे छिपी मेरी तमाम खुशिया,

अपनी पूरी दुनिया तुम्हें मानता हूँ,

शायद मिल जाए तुझमे खुदा मुझे,

बड़ी हसरत से तुम्हें पूजता हूँ|

320

Ankh se gira aansu koi utha nahi sakta,

Kismat mein likha koi mita nahi sakta,

Aapka pyaar hai jaan hamari,

Aur hamari jaan ko hamse koi chura nahi sakta.

321

Dekha tujko jab se he Ye bat is dil me tab se he

Mil jaye mujko pyar tera Fir manga kuch na rab se he.

322

क्यों दुनिया वाले प्यार को इश्वर का

दर्जा देते हैं? मैंने तो आज तक नहीं

सुना की इश्वर ने बेवफाई की हो

323

चाहे तू मुझे कभी मिले या न मिले..

लेकिन मेरे हिस्से की भी सारी खुशी तुझे मिले।

324

ऐ चाँद चमकना छोड़ दे

तेरी चांदनी हमको सताती है

तेरे जैसा ही उसका चेहरा है

तुझे देख के वो याद आती है

325

हर शख्स को दीवाना बना देता है इश्क

जन्नत की सैर करा देता है इश्क

दिल के मरीज हो तो कर लो मोहब्बत

हर दिल को धडकना सिखा देता है इश्क

326

आँखे दिल का हर राज़ बयान करती थी,

बस उनको पढ़ने वाला दिल कोई चाहिए,

इश्क़ का तो रास्ता बहुत ही मुस्किल हैं,

बस उसे मंज़िल तक पहुचने वाला चाहिए,

होसले हो बुलंद तो खुदा भी मिल जाता हैं,

बस उन होसलो को ज़िंदा रखने वाला चाहिए|

327

Jaati Nai Aankhon Se Surat Teri,

Na Jaati Hai Dil Se Mohabbat Teri,

Tere Jaane Ke Baad Hota Hai Mehsoos Yu,

Humein Aur Bhi Jyada Hai Zaroorat Teri.

328

मेरी पागल सी मोहब्बत तुम्हे बहुत याद आएगी |

जब हँसाने वाले कम और रुलाने वाले ज्यादा होंगे |

329

तेरा नाम ही क्यों ये दिल रटता है,

क्यों ये दिल सिर्फ तुझ पे ही मरता है,

न जाने कितना नशा है तेरे इश्क में,

अब तो तेरी याद में ही ये दिन कटता है।

330

सकून मिलता है जब उनसे बात होती है,

हज़ार रातों में वो एक रात होती है,

निगाह उठाकर जब देखते हैं वो मेरी तरफ,

मेरे लिए वो ही पल पूरी कायनात होती है।

331

Ae Dost Kabhi Mujhe Bhula Na Dena

Hanste Hue Chehre Ko Kabhi Rula Na Dena

Kabhi Kisi Baat Per Khafa Ho Bhi Jao

Par Mujhse Door Hokar Judai Ki Saza Na Dena

332

Kia Khabar Ab Wo Kahan Rahta Hai

Khush Rahe Yaar Jahan Rahta Hai

Kis Zzazizi Se Lo Mujhey Mangte Rahe

Dil Tha Ke Ek Sakhs Ki Zidd Par Ada Raha

333

Nahi Karain Gay Tumhari Minatain

Hum Aaj K Baad Kabhi Bhi,

Jub Ooper Wala Razi Howa To Tum

Kya Har Cheez Ko Mera Hona Pare Ga..|

334

रंग में तेरे में रंग जाऊं,

तेरी बाहों में आऊं ओर थम जाऊं,

प्यार करो तुम बेपँहा मुझको,

इतनी में तेरी चाहत बन जाऊं|

335

र मैं तुझसे करती हूँ,

और अपनी जिंदगी से ज्यादा करती हूँ।

336

न जाने मोहब्बत में कितने अफ़साने बन जाते है

शमा जिसको भी जलाती है वो परवाने बन जाते है

कुछ हासिल करना इश्क की मंजिल नहीं होती

किसी को खोकर भी कुछ लोग दीवाने बन जाते है

337

Waqt Bahot Kuch Chheen Leta Hai,

Khair Meri To Muskarahat Thi.

338

किस्मत से अपनी सबको शिकायत क्यों है?

जो नहीं मिल सकता उसी से मोहब्बत क्यों है?

कितने खाए है धोखे इन राहो में

फिर भी दिल को उसी का इंतज़ार क्यों है?

339

Bas samjh nhi aata bataon kese tujhko,

Mohabbat hai or kitni mohabbat hai tujh se.

340

तेरा चुप रहना मेरे क्या जहन मै बैठ गया

इतनी आवाजे तुझे दी के गला बेठ गया

341

बीत गयी है तारों वाली सुनहरी रात,

याद आई फिर वही प्यारी सी बात,

खुशियो से हर पल हो आपकी मुलाकात,

इसलिए मुस्कुरा के करना दिन की शुरुआत|

$$Keep Smiling My Jaanu$$

342

दुनिया में रहने की सबसे अच्छी दो

जगह किसी के दिल में या किसी की दुआओं में

343

तुझे चाहते है बे-इंतेहा पर चाहना नहीं आता,

ये कैसी मोहब्बत है कि हमें कहना नही आता,

ज़िंदगी में आ जाओ हमारी ज़िंदगी बन कर,

के तेरे बिन हमें ज़िंदा रहना नही आता,

हर पल तुझे बस तुझे दुआओं मे माँगते हैं,

क्या करे क तुम्हारे सिवा माँगना नहीं आता|

344

Yarab Wo Na Samjhe Hain Na Samjhenge Meri Baat.

Dey Aur Dil Unko,

Jo Na Dey Zuban Mujhko.

345

Kisi Ki Tareef Karne Me Jegar Chahiae Burai

To Bin A Hunar Ke Kisi Ki Bhi Ki Ja Sakti Hai |

346

अंदाज-ऐ-प्यार तुम्हारी एक अदा है

दूर हो हमसे तुम्हारी खता है

दिल में बसी है एक प्यारी सी तस्वीर तुम्हारी.

जिस के नीचे ‘आई मिस यू’लिखा है

347

ख्वाहिश बन मेरे रूह की महका दे तू मुझे,

खो जाऊ में तुझमे,

अपना ले तू मुझे|

348

सर्द रातों मे जगकर हर पल तुम्हें याद करते रहे |

दुआओ मे ,

ईबादत मे ,

तेरे लिए फरीयाद करते रहे |

पर इतने दुआओ का न तुझपे असर कोई आया था |

पता नही किस मिट्टी से ,

रब ने तुझे बनाया था |

349

आँखों में ह्या हो तो पर्दा दिल का ही काफी है

नहीं तो नकाब से भी होते है,

इशारे मोहब्बत के

350

तेरे इश्क में इस तरह मैं नीलाम हो जाऊं |

आख़री हो तेरी बोली और मैं तेरे नाम हो जाऊं |

351

दिल को तेरी ही तमन्ना

दिल को तुझसे ही प्यार

चाहे तू आये

या न आये

हम करेंगे इंतज़ार

352

तमन्ना हो मिलने की तो,

बंद आँखों में भी

नजर आयेंगे,

महसूस करने की कोशिश तो कीजिये

दूर होते हुए भी पास नजर आयेंगे

353

Log Ahsaas Ki Raundee Huee Galiyoon Meen Saahab.

Phenk Dete Hai Rishton Ko Puraana Karake

354

दिल मैं हर राज़ दबा कर रखते है,

होंटो पर मुस्कराहट सजाकर रखते है,

ये दुनिया सिर्फ़ खुशी मैं साथ देती है,

इसलिए हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है|

355

उदास देख के वजह-ए-मलाल पूछेगा |

वो मेहरबाँ नहीं ऐसा कि हाल पूछेगा |

356

चलो आज खामोश प्यार को इक नाम दे दें,

अपनी मुहब्बत को इक प्यारा अंज़ाम दे दें

इससे पहले कहीं रूठ न जाएँ मौसम अपने

धड़कते हुए अरमानों एक सुरमई शाम दे दें|

357

खुशनसीब समझता हूँ खुद को मैं,

जब कोई हसीन सा ख्वाब पूरा हो जाता है|

358

Tujhe baahon me bharneko Dil chahta hai,

Tujhe toot kar chahne ko Dil chahta hai,

Kash door ho jaye ye fasle darmiyan Hamare,

Ki Tujhe jee bhar kar dekhneko Dil chahta hai.

359

कहते हैं रिश्ते नशा बन जाते हैं…

कोई कहते हैं रिश्ते सजा बन जाते हैं..

पर रिश्ते निभाओ सच्चे दिल से तो वे

रिश्ते ही जीने की वजह बन जाते हैं.

360

तु दिल से ना जाये तो मैं क्‍या करू,

तु ख्‍यालों से ना जाये तो मैं क्‍या करू,

कहते है ख्‍वावों में होगी मुलाकात उनसे,

पर नींद न आये तो मैं क्‍या करू।

361

तू मेरी ज़िंदगी तू ही मेरा ख्वाब है,

तू ही सादगी तू ही मुस्कान है,

जी चाहता है बस यही कहता रहूँ,

तू ही मेरी मन्नत तू ही मेरी जान है।

362

अगर खुश है वो देख कर आँसू मेरी आँखों मे,

तो खुदा की कसम हम मुस्कुराना ही छोड़ देंगे.

तड़पते रहेंगे उसे देखने को

मगर उसकी तरफ पलके उठना ही छोड़ देंगे.

वो मंज़िल ही क्या मेरी जो दुख दे उस को,

खुदा की कसम उस मंज़िल पे हम जाना ही छोड़ देंगे|

363

अक्सर बैठे -बैठे खुद से ही मैं रूठ जाता हूँ |

एक तेरे ना होने के ख्याल से मैं टूट जाता हूँ |

364

Unka haal bhi kuch aap jesa hi hoga,

aapka haale dil unhai bhi mehsus hoga,

bekarari ki aag me jo jal rahe hai aap,

aap se jyada unhai is jalan ka ehsaas hoga|

365

इस प्यार का अंदाज़ कुछ ऐसा है,

क्या बताये ये राज़ कैसा है,

कौन कहता है कि आप चाँद जैसे हो,

सच तो ये है कि खुद चाँद आप जैसा है।

366

अगर माँगते हम से जान हम वो भी दे देते

मगर इनके इरादे कुछ और ही थे

367

कर दे नज़रे करम मुझ पर,

मैं तुझपे ऐतबार कर दूँ,

दीवाना हूँ तेरा ऐसा,

कि दीवानगी की हद को पर कर दूँ,

368

Tumhari is d aka kya jawab du,

apne dost ko kya uphar du,

koi achcha sa phool hota to mali se mangvata,

jo khud gulab hai usko kya gulab du

369

मैं एक हाथ से पूरी दुनिया

से लड़ सकता हूँ

बस मेरे दुसरे हाथ में तेरा

हाथ होना चाहिए

370

ना चाँद की चाहत

ना तारों की फ़रमाईश

हर जन्म तू मिले

बस यही मेरी ख्वाईश| ❤

371

तुम मेरी बाहों का हार बनो,

मेरे आँखो की चमक बनो,

तुम इस दिल की धड़कन बनो,

मेरे साँसों की महक बनो,

बस हर पल यूही इस दिल की चाहत बनो.

Love You Sweet Heart

372

Jo Pyar Hamesha Sath Rahe Wo Sacha Hai Ji

Jo Musibaton Mein Kaam Aaye Wo Acha Hai Ji

Kabhi Kabhi Humse Bhi Ho Jati Hai Nadaniya

Kyonki Dil To Baccha Hai Ji.

373

Bichadte Hue Yaad De Jayenge

Khud Rone Se Pehle Har Khushi De Jayenge

Tumhe Gila Hai Hum Baat Nahi Karte

Vada Raha Sans Rukne Se Pehle

Har Baat Keh Jaayenge.

374

तुझसे रु-ब-रु होकर बातें करू,

निगाहें मिलकर वफ़ा के वादे करू,

थाम कर तेरा हाथ बैठ जाऊं तेरे सामने,

तेरी हसीन सूरत के नज़ारे करू|

375

ढूँड रही है वो मुझे भूल जाने का तरीका |

सोचता हूँ मैँ ही खफा होकर उसकी मस्किल आसान कर दूँ |

376

Mujhe Wo Lakh Tarpaye Magar,

Uss Shaks Ki Khatir.

Mere Dil K Andheron Mein,

Duaein Raqs Karti Hain.

377

तुम्हारी इस अदा का क्या जवाब दू,

अपने दोस्त को क्या सौगात दू,

कोई अच्छा सा फूल होता तो माली से मँगवाता,

जो खुद गुलाब है उसको क्या गुलाब दू|

378

मेरी यादो मे तुम हो,

या मुझ मे ही तुम हो…

मेरे खयालो मे तुम हो,

या मेरा खयाल ही तुम हो…

दिल मेरा धडक के पूछे,

बार बार एक ही बात…

मेरी जान मे तुम हो,

या मेरी जान ही तुम हो…

379

तमन्ना नही तुझे पाने की

फिर भी ये दिल इतना बेकरार क्यो है,

मुझे पता है की मेरे किस्मत मे तू नही

फिर भी इस दिल को तेरे आने का इंतजार क्यो है|

380

इस कदर हम उनकी मोहब्बत में खो गए

की एक नजर देखा और बस उन्हें के हम हो गए

आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था

आँख बंद की और उन्ही सपनो में फिर सो गए

381

A boyfriend like you is

The only way to not feel blue,

The only way to experience love so true

And the only way to see life’s beautiful view.

382

जीवन एक लहर थी और आप साहिल थे

क्या मालूम कैसे आप हमारे काबिल थे

नहीं भूलेंगे उन हसीन लम्हों को

जिस दिन आप हमारी ज़िन्दगी में शामिल थे

383

मुहब्बत की इन्तिहां न पूछिये।

इस प्यार की वजह न पूछिये हर सांस मे समाये रहते हो

कहां बसे हो तुम जगह न पूछिये.

384

अब तो साँसें भी पराई सी हो गई |

दिल में बसी यादें किराये सी हो गई |

उनका जाना तो तय था “,

अकेला” |

फूल तो है खुशबू हरजाई सी हो गई |

385

रब करे मुझसे ऐसा क़सूर हो जाए,

मुझे करके कैद वो अपने साथ ले जाए|

386

लेकर के मेरा नाम मुझे कोसती तो है …

नफरत में ही सही पर मुझे सोचती तो है…

387

मुझको तो होश नहीं तुमको खबर हो शायद |

लोग कहते है की तुमने मुझे बर्बाद कर दिया |

388

ज़िंदगी में बार बार सहारा नही मिलता,

बार बार कोई प्यार से प्यारा नही मिलता,

है जो पास उसे संभाल के रखना,

खो कर वो फिर कभी दुबारा नही मिलता…

389

प्यार का बदला कभी चुका न सकेंगे,

चाह कर भी आपको भुला न सकेंगे,

तुम ही हो मेरे लबों की हँसी…

तुमसे बिछड़े तो फिर मुस्कुरा न सकेंगे।

390

तुम्हे मैं याद करता हूँ तो खुद को भूल जाता हूँ |

हद-ए-बेबसी देखो न तुम मेरे न मैं अपना |

391

मेरे जान की जहाँ से निराली है अदा,

हर अंदाज़ है उनका सबसे जुदा,

खफा हो जाए तो कातिल से कम नही,

मेहरबान हो जाए तो लगते है खुदा|

392

उतरा था चाँद मेरे आँगन मे,

यह सितारों को गवारा ना था,

मैं तो सितारों से बग़ावत कर लेता,

पर चाँद भी कहा हमारा था|

393

Duriyan he dilon ko nazdik lati hain,

Duriyan he ek duje ki yaad dilati hain,

Dur hokar bhi koi kareeb hai kitna,

Duriyan hi is baat ka ehsas dilati hain.

394

कश्ती के मुसाफिर ने समंदर नही देखा

आँखो को देखा,

पर दिल के अंदर नही देखा

पत्थर समझते है मेरे चाहने वाले

हम तो मोम थे किसी ने छूकर नही देखा

395

उस दिल की बस्ती में आज अजीब सा सन्नाटा है,

जिसमें कभी तेरे नाम की महफ़िल सजा करती थी

396

दर्द जितना है में निगाहों में न दे खुदा किसीकी राहो में

बिताना चाहते थे ज़िन्दगी जिनकी बाहों में

शायद मौत भी न मिल पायेगी उनकी पनाहों में

397

Usne Kaha Pyar Ek Dard Hai

Humne Kaha Dard Qabul Hai

Usne Kaha Dard Ke Saath Ji Na Paoge

Humne Kaha Teri Pyar Ke Saath Marna Qabul Hai

398

तुझे भुल जाना नहीं मुमकीन मत कर इसका तकाजा |

आंखे अंधी भी हो जाये तो आंसु बहाना नहीं छोडती |

399

Ye Hum Bhi Gawara Karte Hai

Ye Tum Bhi Gawara Kar Lena

Ro Ro Ke Gujari Hai Hamne

Tum Hans Ke Gujara Kar Lena

Betabi Had Se Badh Jaye

Aur Need Na Aaye Rato Ko

To Doob Ke Mery Yado Me

Duniya Se Kinara Kar Lena

Jes Waqt Zanaza Guzre Ga

Us Sakhs Ka Teri Kunche Se

Zazbat Pe Kaboo Kar Lena

Khidki Se Nazara Kar Lena

400

तुम पूछ लेना सुबह से,

न यकीन हो तो शाम से,

ये दिल धड़कता है तेरे ही नाम से।

401

रंजिश ही सही दिल को दुखाने के लिए आ,

आ फिर से मुझे छोड़ जाने के लिए आ,

कुछ तो मेरे इश्क़ का रहने दे भरम,

तू भी तो कभी मुझे मनाने के लिए आ।

402

तमाम उम्र उसके ख्याल मेँ गुजार दी यारो |

मेरा ख्याल जिसे उम्र भर नहीं आया |

403

मुझसे मत पूछना की मैं तुम्हे प्यार

क्यों करता हूँ क्यूंकि तब मुझे अपने

जीने की वजह बतानी पड़ेगी

404

नफरत सी हो गयी है इस दुनिया से

एक तुम से मोहब्बत करके

405

उठती नही है आँख अब किसी ओर की तरफ |

पाबंद कर गई है किसी की महोब्बत मुझे |

406

दर्द दे कर इश्क़ ने हमे रुला दिया |

जिस पर मरते थे उसने ही हमे भुला दिया |

हम तो उनकी यादों में ही जी लेते थे |

मगर उन्होने तो यादों में ही ज़हेर मिला दिया |

407

Azib Kissha Hai Zindagi Kakambakht Ek Din Marne Ke Liye

Puri Zindagi Jina Padta Hai

408

हर पल बस ख्याल आता है तुम्हारा,

देख के तुम्हे दिल दीवाना हो जाता है हमारा,

कुछ इतना असर है मुहब्बत का तेरी मुझ पर,

की बातो बातो में होठों पे नाम आ जाता है तुम्हारा|

409

Unse Roj milne ko dil chahta hai,

kuch sun-ne aur sunane ko dil chahta hai,

Tha kisi ke manane ka andaz aisa ki,

Ek baar rooth jaane ko dil chahta hai.

410

आप हम पर मत किया करो इतना शक,

आपका मैं हूँ सिर्फ आपका ही है मुझ पर हक।

411

इतना खूबसूरत कैसे मुस्कुरा लेते हो,

इतना क़ातिल कैसे शर्मा लेते हो,

कितनी आसानी से जान ले लेते हो,

किसी ने सिखाया है.. या बचपन से ही कमीने हो|

412

इश्क ने हमें बेनाम कर दिया

हर ख़ुशी से हमें अनजान कर दिया

हमने तो कभी नहीं चाह की हमें भी मोहब्बत हो

लेकिन आप की एक नजर ने हमें नीलाम कर दिया

413

मुझे ये दिल की ‪‎बीमारी‬ ना होती

अगर तू इतनी.‪प्यारी‬ ना होती |

414

Kuch Thokro Ke Baad Samajhdar Ho Gaae Hum |

Ab Dil Ke Mashwro Par Amal Nahi Karte |

415

परवाह कर उसकी जो तेरी परवाह करे,

ज़िंदगी में जो कभी ना तन्हा करे,

जान बन के उतार जाए उसकी रूह में,

जो जान से भी ज़्यादा तुझसे वफ़ा करे|

416

अजीब सी आदत और गजब की फितरत है अपनी |

मोहब्बत हो या नफरत बहोत शिद्दत से करते है |

417

बहुत खूब सूरत है आखै तुम्हारी |

इन्हें बना दो किस्मत हमारी हमें नहीं चाहिये |

ज़माने की खुशियाँ अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी |

418

कैसे कहूँ कि अपना बनालो मुझे,

निगाहों में अपनी समा लो मुझे,

आज हिम्मत कर के कहता हूँ की मैं,

तुम्हरा हू अब तुम ही सम्भालो मुझे|

419

Khud se jyada zarurt teri har bar rehti hai,

Didar ko tere nazrein meri bekraar rehti hai,

Ab or na chup payegi humse sanam

Wo mohabbat jo dil tere liye beshumar rehti hai.

420

अब तो बिसलेरी की बोतल भी किंग फिशर जैसे लगने लगी है,

और तुझे देख कर अब स्प्राइट भी चढ़ने लगी है।

421

अंजाम की परवाह होती तो,

हम मोहब्बत करना छोड़ देते,

मोहब्बत में तो जिद्द होती है,

और जिद्द के बड़े पक्के हैं हम।

422

अपने होठो से कुछ न कह कर,

आँखों से सब कह जाती हो,

तुम जब भी मुझसे मिलने आती होज

मुझसे मुझ ही को चुरा जाती हो।

423

तेरे बिना तो

सिर्फ साँसे चलती हैं

ज़िन्दगी तो वो

होती है जब तू

पास होती है

424

खुदा जाने मोहब्बत कौन-सी मंजिल को कहते हैं?

न जिसकी इब्तिदा ही है,

न जिसकी इंतिहा ही है।

425

ढूँड रही है वो मुझे भूल जाने का तरीका |

सोचता हूँ मैँ ही खफा होकर उसकी मस्किल आसान कर दूँ |

426

Log Puchte Hai Kyu Surkh Hai Tumhari Aankhe

Hans Ke Kah Deta Hoo Raat Ko So Na Ska

Lakh Chahu Bhi Magar Ye Kah Na Ska Raat Ko Roneki

Hasrat Thi Magar Ro Naa Ska

427

मेरे दिल में एक

धड़कन तेरी है

उस धड़कन की कसम

तू ज़िन्दगी मेरी है

मेरी एक सांस में

एक सांस तेरी है

वो सांस जो रुक जाये

तो मौत मेरी है

428

बहुत उदास हूँ मैं की गम सदा नहीं रहता

बहुत उदास हूँ मै कि जख्म भर जाते हैं

429

उसका मिलना तक़दीर में नही था |

वरना मैने क्या कुछ नही खोया उसे पाने के लिये |

430

तेरी आँखों के ये जो प्याले हैं,

मेरी अंधेरी रातों के उजाले हैं,

पाटा हूँ जाम पर जाम तेरे नाम का,

हम तो शराबी बे-शराब वाले हैं|

431

हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की,

और कोई ख्वाहिश नहीं इस दीवाने की,

शिकवा मुझे तुमसे नहीं खुदा से है,

क्या ज़रूरत थी,

तुम्हें इतना खूबसूरत बनाने की|

432

जब खामोश आँखो से बात होती है

ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है

तुम्हारे ही ख़यालो में खोए रहते हैं

पता नही कब दिन और कब रात होती है

433

पलकों को जब-जब आपने झुकाया है,

बस एक ही ख्याल दिल में आया है,

कि जिस खुदा ने तुम्हें बनाया है,

तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है।

434

जो दिल से करीब हो उसे रुसवा नहीं कहते

यूँ अपनी मोहब्बत का तमाशा नहीं करते

खामोश रहेंगे तो घुटन और बढ़ेगी

इसलिए अपनों से कोई बात छुपाया नहीं करते

435

तुम्हारी यादो की महक इन हवाओं मे है

प्यार ही प्यार बिखरा इन फ़िज़ाओं मे है

ऐसा ना हो कि दूरियाँ दर्द बन जायें

अब तो आप के आने का इंतेजर इन निगाहो मे है

436

आज अपने दिल में ही कहीं छिपा लो मुझको,

मैं एक ख्वाब हूँ,

आँखों में बसा लो मुझको,

जुदा हो जाने का कारवा बहुत दूर का है,

पहले एक बार अपने गले से लगा लो मुझको,

ना जाने कितनी चोटों को सहती रहती हूँ मैं,

बिखर जाऊं तो,

तू एक बार तो संभाल लो मुझको,

अगर आप खुद नहीं आते तो आपकी याद ही आ जाए,

किसी रात अपनी बाहों के तले सुला लो मुझको,

कितनी दिलकश हैं आपकी खामोशियाँ भी,

सिर्फ आँखों से अपने पास कभी बुला लो मुझको,

वह इश्क़ ही क्या जिसमें खुद को न गंवाए हम,

या खुदा आज करदे उस शख्स के हवाले मुझको,

ज़िन्दगी के इस सफर में मैं आपकी अपनी हूँ,

काश वह भी अपना बना ले मुझको|

437

“Teri dhadkan hi zindagi ka kissa hai mera,

tu zindagi ka ek aahmiyat hai mera.

Meri mohbbat tujhse,

sirf lafjo ki nahi hai,

teri ruh se ruh tak ka rista hai mera”

438

इतनी शिद्दत से मुझको ना देखा करो,

लुट ना जाए कहीं मेरी दीवानगी,

सनम ऐसे पत्थर ना पूजा करो,

मिल ना जाए उसे भी कहीं जिंदगी।

439

तेरी याद ने बुरा हाल कर दिया,

तन्हाई मे जीना दुश्वार कर दिया,

सोचा जो तुम्हे याद ना करे तो,

इस दिल ने धड़कने से इनकार कर दिया|

440

रेत पर नाम कभी लिखते नहीं

रेत पर नाम कभी टिकते नहीं

लोग कहते है की हम पत्थर दिल हैं

लेकिन पत्थरो पर लिखे नाम कभी मिटते नहीं

441

चलो अब जाने भी दो क्या करोगें दास्ताँ सुन कर,

खामोशी तुम समझोंगें नहीं और बयां हमसे होगा नहीं

442

Teri har pareshani ko mein khud main utar lun,

Teri chahat me apni zindagi sanwar lun,

Lamhe bhar ki mulakat bhi gar tujhse ho jaye,

To sari umar me apni us mulakat me guzar lun.

443

Ek tammanna thi jo hasrat ban gayi,

Kabhi dosti thi ab mohabat ban gayi,

Kuch is tarah shamil hue tum zindagi mein ki,

Tumhe sochte rehna meri aadat ban gayi.

444

Jis Pal Aap Dil Se Muskuraoge,

Apni Hasi Mai Hamari Jhalak Paoge,

Na Samjna Ki Sath Chod Denge Hum,

Palat Kar Dekhoge To Har Rah Par Hame Paoge.

445

आपके ख्यालो का ख़याल रखना अच्छा लगता है,

हमें पल पल आपके पास रहना अछा लगता है,

आप ही चाहत हो आप ही ख्वाहिश हमारी,

इसलिए हर पल आपको प्यार करना अच्छा लगता है|

446

तू एक भी बार हमसे मिली नही वरना,

तेरे ही दिल को तेरे ही खिलाफ कर देते|

447

आँखों मे आँसुओं की लकीर बन गई,

जैसी चाहिए थी वैसी तकदीर बन गई,

हमने तो सिर्फ रेत में उँगलियाँ घुमाई थीं,

गौर से देखा तो आप की तस्वीर बन गई|

448

Meri jindgi tum se hai,

Itni mohabbat tum se hai,

Mangte rehte hai roj khuda se tum ko

Mujh itni chahat tum se..

449

Kitne Azib Hai Ye Zamane Ke Log

Khilona Chor Kar Zazbato Se Khelte Hai

450

अहसास ही नहीं था के तन्हा हुं आज कल |

तुने सवाल छेड के अच्छा नहीं किया |

451

Saaki dekh zamane ne,

Kya tohmat lagaya hai.

Aankhe teri nasheeli hai

Aur sharabi hume bataya hai.

452

आपकी नयी सुबह इतनी सयानी हो जाये,

दुःखों की सारी बाते आपकी पुरानी हो जाये,

दे जाये इतनी खुशियाँ ये दिन,

कि खुशी भी आपकी मुस्कुराहट की दिवानी हो जाये|

$$Good Monring Jaan,

Dil SE$$

453

कितना दूर निकल गए रिश्ते निभाते-निभाते

खुद को खो दिया हमने अपनों को पाते-पाते

लोग कहते है दर्द है मेरे दिल में

और तुम थक गए मुस्कुराते-मुस्कुराते|

454

प्यार तो जिंदगी का एक अफसाना है,

इसका अपना ही एक तराना है,

सबको मालूम है कि मिलेंगे सिर्फ आंसू,

पर न जाने क्यों,

दुनियां में हर कोई इसका दीवाना है

455

Ya Hathon Hath Lo Muje,

Manind Jaam-E May

Ya Thori Door Sath Chalo,

Main Nashe Mein Hun

456

कुछ लोग खोने को प्यार कहते हैं,

तो कुछ पाने को प्यार कहते हैं,

पर हकीक़त तो ये है,

हम तो बस निभाने को प्यार कहते हैँ.

457

हां मेरा हर लम्हा चुरा लिया आपने

आँखों को एक नया चाँद दिखा दिया आपने

हमें ज़िन्दगी दी किसी और ने

पर इतना प्यार देकर जीना सिखाया आपने

458

Ek chahat hai meri tumse pyari bat ho,

Jara jara khamosh ho or lambi rat ho,

Or fir os raat yhi batate rahe tum ko

Ki tum meri jindgi meri kainat ho.

459

खाली हाथों को कभी गौर से देखा है फ़राज़ |

किस तरह लोग लकीरों से निकल जाते हैं |

460

मुझे ना ढूंढ ज़मीन-ओ-आसमान की गर्दिश में |

तेरे दिल में अगर नहीं हूँ तो फिर कहीं नहीं हूँ |

461

Usko Apni pasand banate banate,

Humhi Us Ki Pasand Bann Gye.

462

सुर्ख आँखो से जब वो देखते है,

हम घबराकर आँखे झुका लेते है,

क्यू मिलाए उन आँखो से आखे,

सुना है वो आखो से अपना बना लेते है।

463

Yaadon me humari aap bhi khoye honge,

Khuli aankho se kbhi aap bhi soye honge,

Mana hasna hain adaa gam chhupane ki

Par haste haste kabhi aap bhi roye honge.

464

पास होकर भी दूरिया महसूस कर रहा हू,

मे तो सह लूँगा दर्द-ए-ज़ख़्म पर तेरी फिकर कर रहा हू,

तुम मेरे इतने करीब आ गई हो की कैसे बताउ,

तुम्हारी खामोशियो से मे पल पल मर रहा हू|

465

मिल गया होगा कोई गज़ब का हमसफर |

वरना मेरा यार यूँ बदलने वाला तो ना था |

466

भला जखम खोलकल मैं दिखाऊं क्यों

उदास हूँ तो हूँ तुम्हें बताऊँ क्यों

467

बरसात की जरुरत,

हर रेगिस्तान को होती है

सितारों की जरुरत,

हर आसमान को होती है

आप हमें भूल मत जाना,

क्यूंकि सचे प्यार की जरुरत

हर इंसान को होती है

468

DIL Ki Dharkanen RUK C Gai Hain

SAANSE Meri THAM C Gai Hay

Pucha DIL K Doctor Se HUMNE Pata Chala

Is DIL Me AAPKI YAADEN SARDI

Ki Wajah Se JAM C Gai Hain

469

हर ऱोज हर वक़्त हर पल बस तेरा ही तेरा ख्याल

ना जाने मेरे कौनसे कर्ज की किश्त हो तुम |

470

Woh Khush Hai Par Shayad Hum Se Nahi,

Woh Naraz Hai Par Shayad Hum Se Nahi,

Kon Kehte Hai Unke Dil Me Mohabbat Nahi,

Mohabbat To Hai Par Shayad Hum Se Nahi.

471

Unhin Ke Ishq Me Hum Naala-O-Faryaad Karte Hain

Elaahi Dekhiye Kis Din Hame Wo Yaad Karte Hain

472

खुदा से क्या मांगू तेरे वास्ते

सदा खुशियाँ हो तेरे रास्ते

हंसी तेरे चेहरे पे रहे इस तरह

खुशबु फूलो का साथ निभाती है जिस तरह

473

बदनाम करते हैं लोग मुझे जिसके नाम से |

क़सम खुदा की जी भर के कभी उसको देखा भी नहीं |

474

चेहरे पर हंसी छा जाती है

आँखों में सुरूर आ जाता है

जब तुम मुझे अपना कहते हो

अपने पर गुरूर आ जाता है

475

तेरे गुस्से पर भी आज

हमे प्यार आया है

चलो कोई तो है

जिसने इतने हक से

हमे धमकाया है

476

अपने साथ हूँ न तेरे पास हूँ

मैं कई दिनों से यूं ही उदास हूँ

477

Khamoshi Se Bikharna Aa Gaya Hai

Hamian Ab Khud Ujarna Aa Gaya Hai

Kisi Ko Bewafa Khte Nahi Hame

Hamian Bhi Ab Badlna Aa Gaya Hai

Kisi Ki Yad Main Rote Nahi Hm

Hamian Chup Chap Jalna Aa Gaya Hai

Gulabun Ko Tm Apne Pass Rakho

Hamian Kantun P Chalna Aa Gaya Hai

478

दर्द का एहसास जानना है तो प्यार कर के देखो,

अपनी आँखो मे किसी को उतार कर देखो,

चोट उनको लगेगी आँसू तुम्हे आ जाएँगे,

ये एहसास जानना हो तो दिल हार कर देखो|

479

Tere Husn Ko,

Parde Ki Zaroorat Hi Kya Hai Zaalim,

Kon Rehta Hai Hosh Main,

Tujhe Dekhne K Baad.

480

Tujhe Ao Bekhabar Kya Khabar Hai

Kha Hoo Mai Kha Meri Nazar Hai

Akela Kis Tarah Sfar Tay Kr Skunga

Bhut Lamba Zwani K Safar Hai

481

तुम आये ज़िन्दगी में कहानी बनकर

तुम आये ज़िन्दगी में रात की चांदनी बनकर

बसा लेते है जिन्हें हम आँखों में

वो अक्सर निकल जाते है आँखों से पानी बन कर

482

एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यों है,

इनकार करने पर चाहत का इकरार क्यों है,

उसे पाना नही मेरी तक़दीर में शायद,

फिर हर मोड़ पे उसी का इंतेज़ार क्यों है|

483

तकलीफ ये नहीं की किश्मत ने मुझे धोखा दिया|

तकलीफ तो ये है मेरा यकीन तुम पे था किश्मत पे नहीं

484

रुला के जो मना ले वो सचा यार है

और

जो रुला के खुद आंसू बहाए वो सचा प्यार है

485

तेरी फुर्सतों को खबर कहाँ

मेरी धडकने उदास हैं

486

उन्हें ये परेशानी है के वो हर किसी

को देखकर मुस्कुराते है,

वो नादान ये नहीं

समझते के हमें हर चेहरे में वो नजर आते है

487

इश्क वो नहीं जो तुझे मेरा कर दे

इश्क वो है जो तुझे किसी और का

होने न दे

488

Sath Rhte Uski Adat Ho Gayi,

Usse Baat Krte Usse Chahat Ho Gayi,

Ek Pal Na Mile To Becheni Si Lagti Hai,

Dosti Nibhate-Nibhate Na Jane Kab Mohabbat Ho GaYI.

489

Dil mai khila hai aapke naam ka phool,

Dil se kahin hona jaye koi bhool,

Dil ka hai aapke liye alag sa usool,

Ki aapki khushi ke aage hai sab kuch kabool.

490

Bindas muskurao kya gam hai,

Zindgi me tension kisko kam hai,

Yaad karne wale to bahut hai aapko,

Dil se ‘TANG’ karne wale to sirf HUM hai.

491

My silence is just another word for my pain.

Being single is smarter than being in the wrong relationship.

492

ग़म ने हसने न दिया

जमाने ने रोने न दिया

इस उलझन ने चैन से जीने न दिया

थक के जब सितारों से पनाह ली

नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया

493

चलो पूरी कायनात का बंटवारा

करते हैं,

तुम सिर्फ मेरे बाकी

सब तुम्हारा

494

Kabhi Wo Mere Samne Aakr Mujhse Mile Bhi Nahi

Mai Unse Baat Karu Itna Hosla Bhi Nahi

Suna Hai Wo Magte Sitaro Ki Roshni

Pr Mujh Garib Ke Pas To Mitti Ka Diya Bhi Nahi

495

तूने छुआ मेरी रूह को,

कुछ इस तरह..

कि सदियों तक वो तेरी ग़ुलाम बन गई….

Romantic Shayari

496

Pyar ka mosam pyar ki barish sath laya h

Pyar ka tufaan aaj dil me yu umad aaya h

Tuje chumne k liye fir wahi armaan laya h

Tere tan badan or mann tak bhigone k liye

Badalo par bhi aaj koi shaitaan sa chaya h

497

Tumhe apna keh ker bulana aacha lagta hai,

Tumhe iss Dil ka haal sunana aacha lagta hai,

Tum ho hi itni pyari ki tum per

tumse jyada haq jatana aacha lagta hai,

Ab toh milne ki tareekh ki aas main,

Har raat ka beet jana aacha lagta hai.

498

कैसे रखता मैं उस परिंदे कोअपने दिल के पिंजरेमें |

ऐ दोस्तो उस बेवफा का शौक ही था डालियां बदलने का |

499

Taras gaye apke deedar ko,

phir bhi dil aap hi ko yaad karta hai,

humse khusnaseeb to apke ghar ka aaina hai,

jo har roz apke husn ka deedar karta hai…

500

मोहब्बत यूँ ही किसी से हुआ नहीं करती

अपना वजूद भुलाना पड़ता है

किसी को अपना बनाने के लिए

501

सचा प्यार इश्वर की तरह होता है

जिसके बारे में बाते तो सभी करते है

लेकिन महसूस कुछ ही लोगो ने किया होता है

502

Batane ko jo bekarar hai wo bat batane do jara,

Mohabbat ka ikrar hume karne do jara,

Rakhenege tumhe apni jindgi apni jaan bana kar

Bas pyar ka izhaar karne do jara.

503

Ma’azoor Hun,

Jo Paon Mere Be Tarah Pare

Tu Sargaran Tu Muj Se Na Ho,

Main Nashe Mein Hun

504

तुझे पलकों पे बिठाने को जी चाहता है

तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है,

खूबसूरती की इंतेहा हैं तू,

तुझे ज़िन्दगी में बसाने को जी चाहता है.

505

तन्हाई में मुश्कुराना भी इश्क है,

और इस बात को छुपाना भी इश्क है।

506

एक सचे प्यार का अंत नहीं हो

सकता,

क्यूंकि सचा प्यार

कभी ख़त्म नहीं होता

507

ये मेरी मोहब्बत थी की दीवानगी की इंतिहा,

तेरे करीब से गुजर गया तेरे ही ख़यालो में|

508

तनहा रहना तो सीख लिया हमने लेकिन

खुश कभी न रह पाएंगे तेरी दुरी

तो फिर भी सह लेता ये दिल लेकिन

तेरी मोहब्बत के बिना न जी पाएंगे

509

मेरा दिल सिर्फ तुम्हारे

लिए धड़कता है

510

हमे इंसान तो बना दिया

मगर इंसानियत देना भूल गया,

खुद को हुमारा खुदा तो

बता दिया मगर खुदाई करना भूल गया|

511

मैंने कभी सोचा तक नहीं था

की ऐसा दिन भी आएगा

मेरे सीने में बैठा दिल

किसी और का हो जायेगा

512

अंतिम कोशिश की है तुझे पाने की |

नही तो ओर तो ओर कोई बजह ढूढ लेगे मुशकुराने की |

513

Na Jane Kab Wo Rista Ban Gaya,

Koi Anjana Na Jane Kab Aapna Ban Gaya,

Hame Ehsaas Bhi Na Hua Aur Koi,

Hamari Zindgi Ki Zarurat Ban Gaya.

514

सूरज की गठरी खोली तो उसमें मिली रात रोती |

पत्थर के बिस्तर पर सोये हैं किसकी आँखों के मोती |

515

आप खुद नही जानती आप कितनी प्यारी हो,

जान तो हमारी पर जान से प्यारी हो,

दूरियों के होने से कोई फ़र्क नहीं पड़ता,

आप कल भी हमारी थी आज भी हमारी हो|

516

उसने इस कमाल से खेली इश्क़ की बाज़ी |

मैं अपनी फतह समझता रहा मात होने तक |

517

अब शिकायते तुमसे नहीं खुद से है माना की

सारे झूठ तेरे थे लेकिन उनपर यकीन तो मेरा था |

518

Sari duniya ruth jaye chalega,

Par tera ruthna nhi,

Bin duniya ke zindagi guzaar lenge hum

Par bin tere nhi…

519

Thokar Na Lga Patthar Nahi Hoon Mai

Hairat Se Na Dekh Koye Manjar Nahi Hun Mai

Uski Nazar Me Meri Kdarkuch Bhi Nahi

Mgar Unse Puchao Jnhe Hasil Nahi Hoon Mai

520

आँसू आ जाते हैं आँखों मैं,

पर लबों पे हँसी लानी पड़ती हे,

यह मोहब्बत भी क्या चीज़ है यारो,

जिससे करते हो उसी से छिपानी पड़ती है|

521

Hume Aap Ki Jaan Nahi Sirf Saath Chahiye,

Sacche Ishq Ka Sirf Ek Ehsaas Chahiye,

Jaan Tho Ek Pal Me Di Jaa Sakti Hain,

Par Hume Aapki Mohabbat Aakhri Sans Tak Chahiye..

522

कुछ सोचु तो तेरा ख्याल आ जाता है

कुछ बोलू तो तेरा नाम आ जाता है

कब तलक ब्यान करूँ दिल की बात

हर सांस में अब तेरा एहसास आ जाता है

523

चंद साँसे बची हैं आखिरी बार दीदार दे दो |

झूठा ही सही एक बार मगर तुम प्यार दे दो |

जिंदगी वीरान थी और मौत भी गुमनाम ना हो |

मुझे गले लगा लो फिर मौत मुझे हजार दे दो |

524

हर पल हर सोच पे ख्याल तेरा आता है,

मोहब्बत की बात हो तो होठों पे नाम तेरा आता है,

भूल जाता है तुझ देख के दिल भी धड़कना मेरा,

ना जाने कैसे तेरे दीदार से दिल में इतना प्यार भर आता है|

525

बहुत गरूर था मुझे उस सख्स पर

जिसे में मोहबत करता था |

कमबख्त ने मोहबत को इस तरह बिखेरा

की समेटने का भी मन नही किया |

526

ख़ुदा महफूज़ रखें आपको तीनों बलाओं से.

वकीलों से,

हक़ीमों से,

हसीनों की निगाहों से

रोमांटिक शायरी

527

प्यार का रिश्ता भी कितना अजीब

होता है,

मिल जाये तो बाते लम्बी

और बिचाद जाये तो यादे लम्बी

528

Wo mere bina khush hai to shikayat kaisi.

Aur me use khush bhi na dekh pau to mohabbat kaisi.

529

तेरे दिए हुए जख्म धीरे धीरे भर जायेंगे,

बस तू जमाने से जिक्र न करना,

बहुत शुक्रिया है तेरा दर्द देने के लिये,

बस तू मेरी फ़िक्र न करना।

530

Apne Mout Bhi Kya Mout Hoge

Ek Din You Hi Mar Jayenge Tum Pe Marte Marte

531

अपनी जिंदगी में हमने तेरी जरूरत देखी है,

तेरी आँखों में हमने अपने लिए मोहब्बत देखी है,

जितनी बार खुद को भी नही देखा होगा,

उतनी बार हमने तेरी सूरत देखी है।

532

Jab hum duniya se chale jayenge,

Apko har tare mai najar aayenge,

Hame dekh kar koi dua mang lena,

Hum har bar dua puri krne k liye tut jayenge.

533

न किसी का दिल चाहिए

न किसी की जान चाहिए

जो मुझे समझ सके

बस एक ऐसा इंसान चाहिए

534

फ़ासले कब कम हुए है राबतो के बाद भी,

अजनबी थे,

अजनबी है मोहब्बत के बाद भी|

535

प्रेम तब तक सिर्फ शब्द भर है

जब तक आप इसका एहसास नही कर लेते

536

ज़ुबान खामोश आँखों मे नमी होगी,

यही बस मेरी एक दास्तान-ए-ज़िंदगी होगी|

भरने को तो हर ज़ख़्म भर जाएगा,

केसे भरेगी वो जगह जहा तेरी कमी होगी|

537

उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी

क्या अजीब है,

अपना भी नहीं

बनती और किसी ओर का होने भी

नहीं देती

538

उदास नगरी में कदम रखा तो ये जाने मैंने

गमोकी महफिले कमाल सजती हैं

539

काश के कोई मेरे आंसूओं की कीमत जान लेता कोई,

छोड़ कर अपनी जिद मुझे अपना मान लेता कोई।

540

रातों मे सुनी है मगर देखी तो नही,

एक आह सी आती है,

उनकी तो नही,

अपना हुनर तराशा है जिनके हुस्न से,

मेरी इन ग़ज़लों मे वही अक्स तो नही,

दिल को ये दिलासा है,

वो है ज़मीन पे,

ये चाँद उसी दिलदार का साया तो नही,

जिस अजनबी ने मुझको तलबगार किया है,

उनसे मेरे रूह का कोई रिश्ता तो नही|

541

Kaate nahin kat-te lamhe intezaar ke,

Nazaren bichaye baithe hain raste pe yaar ke,

Dil ne kaha dekhe jo jalwe husne yaar ke,

Laya hai unhe kaun falak se utaar ke.

542

निगाहो पर दस्तक देने को एक सपना आने वाला है,

खबर मिली है वो सपना सच होने वाला है,

हमने कहा है कि उनकी पलकों पे जाना क्योंकि,

हमारा प्यारा सा सनम अभी सोने वाला है|

Good Night my Love@@

543

Mujhe Kis Taraf Jana Hai Koi Khabar Nahi,

Ae Dosto,

Mere Raste Bhi Kho Gaye,

Meri Mahobat Ki Tarah.

544

फूल खिलते हैं बहारों का समा होता है,

ऐसे मौसम में ही तो प्यार जवां होता है,

दिल की बातों को होठों से नहीं कहते,

ये फ़साना तो निगाहों से बयाँ होता है।

545

तुमसे कितनी मोहब्बत है

मालूम नहीं

मुझे लोग आज भी तेरी

कसम दे कर

मना लेते हैं

546

कभी तो अपने अन्दर भी कमियां ढूंढे,

ज़माना मेरे गिरेबान में झाँकता क्यूँ हैं|

547

तगाफुल इनकी आदत है तसबुल इनकी फितरत है

दे रहे है वो मेरे प्यार का जवाब आहिस्ता आहिस्ता

548

Kasam Hai Tumhe In Aasuon Ki

Agar Karte Ho Pyar To Laut Aana

Pyar Nahi Hai To Samjh Ker In Aasuon Ko Pani

Mujhe Chhod Bahut Door Chale Jana

549

न हीरो की तम्मना है और

न परियो पे मरता हूँ

वो एक भोली सी लड़की है

जिसे मैं मोहब्बत करता हूँ

550

बहुत खूबसूरत उनका हर अंदाज़ है,

हक़ीक़त है या ख्वाब है,

खुशनसीबों के पास रहते हैं वो,

मेरे पास तो बस उनकी मीठी सी याद है|

551

Sah Lete Hain Har Gham Hanskar,

Log Kahte Hain Hame Rona Nahin Aata.

552

तेरी आँखों मे,

मैं खो नहीं सकता,

तेरे काँधे पे मैं सो नहीं सकता,

हैं तो बहुत आँसू मेरी आँखों मे पर,

तेरे सामने तो मैं रो भी नहीं सकता|

553

डूबा है मेरा बदन मेरे ही लहू में |

ये कांच के टुकड़ो पे भरोसे की सज़ा है |

554

प्यार का बदला कभी चूका न सकेंगे,

जिंदगी भर आपको भुला न सकेंगे,

आप ही हमारे होठो की हँसी हो,

अगर जिंदगी में न मिले तो चाह

कर भी कभी मुस्कुरा न सकेंगे।

555

परवाह करनेवाले अक्सर रुला जाते है |

अपना कहकर पराया कर जाते है |

वफ़ा जितनी भी करो कोई फर्क नहीं |

मुझे मत छोड़ना कहकर खुद छोड़ जाते है |

556

ज़िंदगी मे हर नज़ारा रंगीन हो जाता है,

जब तेरे जैसा साथी ज़िंदगी बन जाता हैं|

557

हमारी ज़िंदगी हमारी साँस बन गये हो तुम,

खूबसूरत मुहब्बत का एहसास बन गये हो तुम,

हमे ज़रूरत है सांसो से ज्यादा तुम्हारी,

क्योंकि हमारी ज़िंदगी का

एक हिस्सा खास बन गये हो तुम|

558

मेरी तन्हाई भी महफ़िल सी नज़र आती है,

जब तेरे संग बिताया हर पल याद आ जाता है|

559

Itana Tarape Hain Bas Intaha Ho Gaee,

Zindagee Tere Bin Kya Se Kya Ho Gaee

560

एक पल का एहसास बनकर आते हो तुम,

दूसरे ही पल खुश्बू की तरह उड जाते हो तुम,

जानते हो तन्हाइयों से डर लगता है हमे,

फिर भी तन्हा छोड़ जाते हो तुम|

561

सितारो से भरी इस रात मे जन्नत से

भी खूबसूरत ख्वाब आपको आए

इतनी हसीन हो आने वाली सुबह की

माँगने से पहले ही आपकी हर मुराद पूरी हो जाए

562

इज़ाज़त हो तो एक बात पुछु,

जो

हमसे इश्क सीखा था,

वो अब तुम

किस से करते हो?

563

उनकी दुआओं से हमे वो सहारा मिला,

जो मिलता नही किसी को वो किनारा मिला,

किन लफ़्ज़ों मे हम बयान करे उनकी अहमियत,

जाने कितनो की भीड़ मे कोई इतना प्यारा मिला|

564

कमज़ोर पड़ गया है मुझसे तुम्हारा ताल्लुक |

या कहीं और सिलसिले मजबूत हो गए हैं |

565

हमारी गलतियों से कभी टूट मत जाना,

हमारी शरारत से रू ठ मत जाना,

आपकी चाहत ही हमारी जिंदगी है,

जिंदगी में कभी हमे भूल मत जाना।

566

उदास रहता है मोहल्ले में बारिशों का पानी

कागज की कश्ती बनाने वाले बच्चे इश्क कर बैठे

567

प्यार,

मोहब्बत,

आशिकी

ये बस अलफ़ाज़ थे

पर जब तुम मिले

इन अल्फाजो को

मायने मिले

568

कही खो ना जाउ राह् चलते चलते ख़ुद को |

तेरी यादों को सदा साथ साथ लिए चलता हूँ |

ये इश्क है इतना आसान नही छुपाना इसको |

फिर भी बदनाम ना हो,

एक परदा किए रहता हूँ |

569

मिले जो आप कुछ ख़ास मिला हमें,

तन्हा ज़िंदगी में एक खूबसूरत साथ मिला हमें,

जिस प्यार की होती है सब को अपनी ज़िंदगी में चाहत,

बस वही प्यार का एहसास आज मिला हमें|

570

Dhadkan Dil Ki Ruk Jati Hai,

Sanse Aksar Tham Jati Hai,

Bahut Buri Halat Hoti Hai Yaaro,

Jab GF Se Shaadi Karne Ki Naubat Aati Hai

571

रूकना नहीं है मुझे बस चलना चाहती हूं |

अनजान चेहरों को पढ़ना चाहती हूं |

अनुभव के खजाने में नये मोती सजाने हैं |

तन्हाई की बातों को समझना चाहती हूं |

572

Bahon me chupa ke rakhu tujhko,

Seene se laga ke rakhu tujhko.

573

ज़िंदगी में बार-बार सहारा नही मिलता,

बार-बार कोई प्यार से प्यारा नही मिलता,

है जो पास उसे संभाल के रखना,

खो कर वो फिर कभी दुबारा नही मिलता।

574

करीब इतना रहो की रिश्तों में प्यार रहें,

दूर भी इतना रहो की आने का इंतेजार रहें,

रखो उम्मीद रिश्तों के दरमियाँ इतनी,

की टूट जायें उम्मीद मगर रिश्ते बरकरार रहें|

575

Jis din hum unse dil laga baithe,

Tanhai me gumo ki mehfil saja baithe.

Wo to khoye rehte hain apni hi duniya me,

Or hum hai jo UNHE hi apni duniya bana baithe.

576

Auron Se To Umeed Ka Rishta Bhi Nahi Tha,

Tum Etnay Badal Jaoge,

Socha Bhi Nahi Thaa…

577

Choan De Ab Wfa Ki Aash Jo Rooth Sakte Hai Wo Bhool Bhi Sakte Hai

578

Hayo Raba Dil Jalta Hai Jhuthe Sabhi Dilase Hai

Pyar Batne Wale Dekho Pyar Ke Kitne Pyase Hai

579

काश तुम मेरे होते

सांस ही थम जाती

अगर,

ये अलफ़ाज़

तेरे होते

580

शमा कहती है मुझे बनाया किसने

जिस-जिस के हाथ लगी मुझे जलाया उसने

वो शमा क्या जिसे कोई जलाने वाला न हो

वो इंसान ही क्या जिसे कोई चाहने वाला न हो

581

Aay Di Aay Dil Tu Use Bhool Ja

Wo Gya Bhool Tu Bhi Bhool Ja

582

Tere khayalon mein khoya kuch aisa ho,

Ki sab kuch bhul jata hoo or pata nhi chalta,

Ki meri saanso se mein ho

Ya tere hone se meri saanse.

583

Unki Khubsurati Ki Kya Taarif Karun Eh Yaaron,

Khuda Bhi Un Jaisa Koi Aur Na Bana Paya Hoga,

Main Toh Pareshan Hun Yeh Sochkar Ki Shayad,

Na Zindagi Mein Aayega,

Na Un Jaisa Koi Aaya Hoga

584

हर शख्स को दिवाना बना देता है

इश्क जन्नत की सैर करा देता है

इश्क दिल के मरीज हो तो कर लो

महोब्बत हर दिल को धड़कना सिखा देता है इश्क |

585

Tu Mujhe Chahe…Yeh meri Kismat hain,

Har Pal Tujhe dekho..Yeh meri Hasrat hain,

Teri Bahon Mein Kho jao,

Yeh meri Chahat hain,

Humara Pyaar yuhi rahe…Yeh meri Saason ki Akhiri jarrurat hain.

586

Adaon se teri mohabbat hai,

Nigahon se teri mohabbat hai.

587

Ab To Kuch Apni Tabiyat Bhi Juda Lagti Hai

Saans Leta Hun To Zakhmo Ko Hawa Lagti Hai

Kabhi Razi To Kabhi Mujse Kafa Lagti Hai

Zindgi Tu Hi Bata Tu Meri Kiya Lagti Hai.

588

तुझे दिल से जुदा कभी होने नहीं देंगे

हाथ हमारा कभी छोड़ने नहीं देंगे

तेरी मुस्कान ही इतनी प्यारी है की

हम मर भी जाये पर तुझे रोने नहीं देंगे

589

मोहब्बत किसी ऐसे शख्स की तलाश नहीं करती

जिसके साथ रहा जाये,

मोहब्बत तो ऐसे शख्स की

तलाश करती है,

जिसके बगैर रहा न जाये

590

गुजारिश हमारी वह मान न सके

मज़बूरी हमारी वह जान न सके

कहते हैं मरने के बाद भी याद रखेंगे

जीते जी जो हमें पहचान न सके

591

मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है,

और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको,

हुमारा ये पेघाम हैं,

“वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो,

वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो”

592

उसने रात के अंधेरे मे,

मेरे हाथ की हथेली पे,

लिखा था अपनी उंगली से,

मुझे प्यार है तुमसे,

जाने किसी स्याही थी वो,

के मिटती भी नहीं ओर दिखती भी नहीं|

593

Gulab to toot kar bikhar jaata hai,

Par khusbu hawa me barkarar rehti hai,

Jaane wale to chod ke chale jaate hain,

Par ehsaas to dilon me barkarar rehte hain..

594

Zikar Karta Hai Dil Subah Shaam Tera,

Girte Hai Aansu Banta Hai Naam Tera,

Kisi Aur Ko Kyu Dekhe Ye Aakhein,

Jab Dil Pe Likha Hai Sirf Naam Tera.

595

अजीब सा दिल मे एक एहसास है,

लगता है मिलने वाला तोहफा कुछ खास है|

ना खेल इस दिल से इस कदर ऐ खुदा,

आज बस मे नही जज़्बात है|

596

जैसे वक़्त थम सा गया है तेरे जाने के बाद,

जैसे मुस्कुराहट खो सी गयी है मेरी तेरे जाने के बाद,

तू गयी मेरा सब कुछ ले गयी,

मगर फिर भी क्यू,

रोज याद आती है तेरी तेरे जाने के बाद|

597

वो अक्सर मुझसे पूछा करती थी,

तुम मुझे कभी छोड़ कर तो नहीं जाओगे,

. काश मैंने भी पूछ लिया होता..

598

दिल लगता नही है अब तुम्हारे बिना,

खामोश से रहने लगे है तुम्हारे बिना,

जल्दी लौट आओ अब यही चाह है,

वरना जी ना पाएँगे तुम्हारे बिना|

599

तेरे हाथ की मैं वो लकीर बन जाऊं,

सिर्फ़ मैं ही तेरा मुक्क्दर तेरी तक़दीर बन जाऊं,

मैं तुझे इतना चाहूँ क तू भूल जाए हर रिश्ता

सिर्फ़ मैं ही तेरे हर रिश्ते की तस्वीर बन जाऊं,

तू आँखें बंद करे तो आऊं मैं ही नज़र,

इस तरह मैं तेरे हर खवाब की तदबीर बन जाऊं|

600

आँखों में ही देखा दिल में उतरकर नहीं देखा,

कश्ती के मुसाफिर ने समंदर नहीं देखा,

और पत्थर ही समझते रहे मेरे चाहने वाले,

मै मोम था उसने कभी छूकर नहीं देखा|

601

उलझन भरे दिन हे मेरे,

तनहा हे मेरी राते,

दे जाती हे जख्म,

मुझे तेरी वो तीखी बातें,

हम भी बढ़ के थाम लेते तेरा दामन,

यूँ तूने हमको अगर रुलाया ना होता,

तेरी नजरो के हम भी एक नज़ारे होते,

जो तूने अपनी नजरो में हमे बसाया होता|

602

Khuda Agar Meri Aakhri Khwaish Puche,

Toh Teri Hasi Maang Lun,

Akhri Dua Puche To Tere Liye Khusi Maang Lun,

Dubara Janam De To PehLe Tera Pyar Maang Lun.

603

Apne Mizaz Me Main Khoob Waqif Hun,

Thode Logon Se Milta Hun Magar Dil Kholkar

604

Jhuk jate hai jo log aapki khatir kisi bhi hadd tak,

wo sifr aapki izzat hi nahi

Aapse mohabbat bhi beshoomar karte hai.

605

आँखे खोलू तो चेहरा सामने तुम्हारा हो

बंद करू तो सपना तुम्हारा हो

मर जाऊ तो भी कोई ग़म नहीं

अगर कफ़न के बदले आँचल तुम्हारा हो

606

Wo Kehte Hain Hum Badal Gaye Hain

Koi Jakar Samjhaye Unhe K Rang

Sookhe Hue Patton Ka Aksar Badal Jata Hai

607

चाहते है जो हद से ज्यादा किसी को

वो ही तो सब से ज्यादा तकरार करते है

करो न फिकर अगर वो नाराज हो जाये

नाराज होते है वोही जो सब से ज्यादा प्यार करते है

608

प्यार क्या होता है हम नहीं जानते,

ज़िंदगी को हम अपना नही मानते,

गम इतने मिले के एहसास नही होता,

कोई हमे प्यार करे अब विश्वास नही होता|

609

पलकों से रास्ते के काँटे हटा देंगे,

फूल तो क्या हम अपना दिल बिछा देंगे,

टूटने ना देंगे हम इस प्यार को कभी,

बदले मे हम खुद को मिटा देंगे|

610

आजाओ किसी रोज़ तुम तो तुम्हारी रूह मे उतर जाऊं,

साथ रहूं में तुम्हारे ना किसी ओर को नज़र आऊं

चाहे भी तो कोई छु ना सके मुझ को इस तरह से,

तुम कहो तो यूँ तुम्हारी बाहों मे बिखर जाऊं,

करूँ जो निछावर मोहब्बत में तुम से लिपट कर,

इस अदा से चूम लूँ तुम्हे के हद से गुज़र जाऊं,

अब तो लग जाओ सीने से कि मेरी साँस थम जाए,

आगोश मे ले कर अपनी तुम्हारी साँसों मे उतर जाऊं|

611

मेरा हर लम्हा ज़िन्दगी का संवर जाये,

अगर तेरे साथ प्यार में गुज़र जाये।

612

कुछ इस तरह वो मेरी बातो

का जिक्र किया करती है

सुना है वो आज भी

मेरी फ़िक्र किया करती है

613

ये वादा है तुमसे वो दिन भी मैं लाऊँगा,

जब तुम ख़ुद कहोगी,

मुझे दुनिया की परवाह नहीं।

मैं बस तुम्हारी होना चाहती हूँ।

मैं बस तुम्हारी हूँ।

614

मैने सुना है कि तुम भी हो बेताब मेरा होने के लिये |

जिंदगी के शेष लम्हें फिर अफवाहों के हवाले हैं |

615

Life Sara Jhagda He Khwahishon Ka Hai,

Na To Kisi Ko Gam Chahiye Aur Nahi Kisi Ko Kam Chahiye.

Life Jhagda And Khwahish

616

ज़िक्र करता है दिल सुबह शाम तेरा,

गिरते हैं आँसू बनता है नाम तेरा,

किसी और को क्यों देखे ये आँखें,

जब दिल पे लिखा सिर्फ नाम तेरा।

617

काश उनको कभी फ़ुर्सत में यह ख़याल आ जाए,

के कोई याद करता है उन्हे ज़िंदगी समझ कर|

618

उस शख्स का इन्तजार मुझे उम्रभर रहा |

जो दो कदम साथ चलकर छोड़ गया मुझे |

619

दिल को था आपका बेसब्री से इंतज़ार

पलके भी थी आपकी एक झलक को बेकरार

आपके आने से आई है कुछ ऐसी बहार

की दिल बस मांगे आपके लिए खुशिया बेशोमार

620

तेरे इश्क़ में सब कुछ लूटा बैठा |

मैं तो ज़िंदगी भी अपनी गँवा बैठा |

अब जीने की तमन्ना ना रही बाकी |

सारे अरमान मैं अपने दफ़ना बैठा |

621

ये प्यारा सा जो रिश्ता है,

कुछ मेरा है

कुछ तेरा है,

कही लिखा नहीं,

कही पढ़ा नहीं

कही देखा नहीं,

कही सुना नहीं

फिर भी जाना पहचाना है

कुछ मेरा है,

कुछ तेरा है

622

Rakhte Nahin Khyaal Bhi Apna Tere Liye..

Hum Bey Khyaal Log Hain Kuch To Khyaal To Kar.

623

कितना अधूरा सा लगता हैं जब चाँद हो,

और तारे ना हो,

उसी तरह जब ज़िंदगी हो और उस में तुम ना हो.

624

Ab Kahan Tak Mohabbat Nibaoun Mein,

Do Mujhko Bad-Dua K Usko Bhool Jaon Mein.

625

फूलों की वादियों में हो बसेरा तेरा,

सितारों के आँगन में हो घर तेरा,

दुआ है एक दोस्त की एक दोस्त को,

कि तुझसे भी खूबसूरत हो सवेरा तेरा.

626

प्यार किया तो उनकी मोहब्बत नज़र आई

दर्द हुआ तो पलके उनकी भर आई

दो दिलों की धड़कन में एक बात नज़र आई

दिल तो उनका धड़का पर आवाज़ इस दिल की आई|

627

खुश्बू बनकर तेरी सांसो में समा जाएँगे,

सुकून बनकर तेरे दिल में उतर जाएँगे,

महसूस करने की कोशिश तो कीजिए,

दूर रहते हुए भी पास नज़र आएँगे|

628

Pyar Wo Hai JisMe Sachchai Sath Ho,

Sathi Ki Har Baat Ka Ehsas Ho,

Uski Har Adaa Pr Naaz Ho,

Dur Rehkar Bhi Pass Hone Ka Ehsas Ho.

629

बतानी है तुम्हे आज चाहत हमारी,

जतानी है तुम्हे दिल की ख्वाहिश हमारी,

ओर कुछ नहीं है दिल में हमारे,

बसी है एक तस्वीर तुम्हारी|

630

Zaroori Ye Nahi,

Ki Ishq Mein Tum Taj Banwao; Zaroori To Ye Hai Ki,

Bas Ishq Mein Tum Khud Mit Jaao|

631

सब कहते हैं ज़िन्दगी में सिर्फ एक

बार प्यार करना चाहिए,

लेकिन

तुमसे तो मुझे बार-बार प्यार

करने को दिल चाहता है

632

आपकी न थी खता हम ही कुछ

गलत समझ बैठे

आप मोहब्बत से बात करते थे हम

मोहब्बत ही कर बैठे

633

एक पल की ये बात नहीं,

दो पल का ये साथ नहीं,

कहने को तो जिन्दगी जन्नत से प्यारी है,

पर वो साथ ही क्या जिसमे तेरा हाथ नहीं.

634

उनके साथ रहते रहते उनसे चाहत सी हो गई,

उनसे बात करते करते एक आदत सी हो गई,

एक पल वो हमे न मिले तो दिल बेचैन हो जाता है,

उनसे दोस्ती निभाते निभाते उनसे मोहब्बत सी हो गई।

635

कुछ उलझे सवालों से डरता है दिल

जाने क्यों तन्हाई में बिखरता है दिल

किसी को पाने की अब कोई चाहत न रही

बस कुछ अपनों को खोने से डरता है ये दिल

636

मैं तुझे ढूँढने यादों की खुली सड़कों पर |

ख़ुश्क पतों की तरह रोज़ बिखर जाता हूँ |

637

मैंने कब कहा मुझे गुलाब दे.या फिर मोहब्बत से नवाज दे |

आज बहुत उदास है दिल मेरा गैर बनके ही सही तू मुझे आवाज़ दे |

638

शुक्र है तुम मेरी ज़िन्दगी में हो

तुमसे यह दुनिया मुझे खुबसूरत

नजर आती है

639

लिपट जाओ एक बार फिर गले हमारे,

कोई दीवार ना रहे बीच हमारे तुम्हारे,

लिपट जाती ज़रूर अगर जमाने का डर ना होता,

बसा लेती मैं तुमको अगर सीने में घर होता|

640

गम में हसने वालों को रुलाया नही जाता,

लहरों से पानी को हटाया नही जाता,

होने वाले हो जाते हैं खुद ही अपने,

किसी को कह कर अपना बनाया नही जाता|

641

अपना प्यारा सा एक एहसास दे दो,

दिल में छोटी सी ही सही पर जगह ख़ास दे दो,

हमे प्यार है तुम से ज़िंदगी से ज्यादा,

बना के हमे अपना ज़िंदगी को एक खुशी का साथ दे दो|

642

जाम पे जाम पीने से क्या फायदा,

शाम को पी सुबह उतर जाएगी,

अरे दो बूंद मेरे प्यार की पीले,

जिन्दगी सारी नशे मे गुज़र जाएगी|

643

मुस्कुराने की आदत भी कितनी महेंगी पड़ी हमको,

भुला दिया ये कहकर की तुम तो अकेले भी खुश रह लेते हो |

644

अजनबी की तरह मिले ओर उलफत हो गयी,

अजनबी दोस्त ऐसा मिले की दोस्ती हो गयी,

सच्ची दोस्ती का इरादा था उनसे,

लेकिन मुझे उनसे सच्ची मुहब्बत हो गयी|

645

गजल के रूप में ढल जाऊ काश मै भी कभी

उदास लम्हों में शायद तुम मुझे गुनगुनाया करो

646

तेरी आँखों से प्यार करूँ,

तेरी बातों से प्यार करूँ|

तेरी मोहब्बत मे डूब,

तुझे प्यार में सुबह शाम करूँ|

तुम रहे ना पाओ हमारे बिना,

इस तरह टूट कर तुझे में प्यार करूँ|

647

होने लगती हो जिस पल

दूर मुझसे कसम से

उस पल बहुत याद आती है

चाहती हो कितना

पुछु जब कभी तो

आँखों ही आँखों में

सब कुछ बताती हो

648

आता नही था हमें इकरार करना,

ना जाने कैसे सीख गये प्यार करना,

रुकते ना थे दो पल कभी किसी के लिए,

ना जाने कैसे सीख गये इंतेज़ार करना|

649

ज़िंदगी से इश्क़ हम यू करने लगे है,

,

तुम पर सिर्फ़ तुम पर मरने लगे है,

मेरी सासो पर नाम तेरा आने लगा है,

दिल तेरे ही नगमे गाने लगा है,

इश्क़ हुआ है,

या है,

फितूर तेरा

दिल मेरा यू झूमने नाचने लगा है,

दिल करता है,

ज़माने से चुरा लू तुझे,

अपना बना के पलकों पर सज़ा लू तुझे,

दूर ना जाने दूँ एक पल के लिए भी,

इस कदर दिल मे मेरे छिपा लू तुझे|

650

Dil ke sagar me lehre uthaya na karo,

khwab bankar neend churaya na karo,

bahot chot lagti hai mere dil ko,

tum khwabo mein aa kar yu tadpaya na karo…

651

चेहरा हसीन गुलाबो से मिलता जुलता है |

नशा पीने से ज्यादा तुमको देखने से चढ़ता है |

652

तरस गये आपके दीदार को,

दिल फिर भी आपका इंतज़ार करता है,

हमसे अच्छा तो आपके घर का आईना है,

जो हर रोज़ आपका दीदार करता है।

653

रूठना अच्छा लगता है बार बार मुझे तुमसे,

मनाने मे मुझ पे तेरा प्यार बरस जाता हैं|

654

दुनियाँ में इतनी रस्में क्यों हैं,

प्यार अगर ज़िंदगी है तो इसमें कसमें क्यों हैं,

हमें बताता क्यों नहीं ये राज़ कोई,

दिल अगर अपना है तो किसी और के बस में क्यों है

655

सोचते है उस को तो डुबते ही चले जाते है |

आंखे ही नहीं उस की यादें भी समंदर है |

656

Wo jiski yaad mei kharch di zindagi apni|

wo sakhs aaj mujhko garib keh ke chla gya

657

बस मुझे अपने बाहों में सुलालो,

फिर चाहे कितना भी मुझे रुला लो।

658

Aaoge Jab tum O Saajna,

Angna phool khilenge…

659

नज़ाने क्यू रेत की तरह हाथो से निकल जाते है लोग,

जिन्हे हम ज़िंदगी समझ कर कभी खोना नहीं चाहते|

660

दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है,

बातें करने का अंदाज हुआ करता है,

जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती,

सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है|

661

हो के मायूस न यूं शाम से ढलते रहिये |

ज़िन्दगी भोर है सूरज सा निकलते रहिये |

एक ही पाँव पे ठहरोगे तो थक जाओगे |

धीरे-धीरे ही सही राह पे चलते रहिये |

662

Mujhe un aankho me kavi aansu achhe nahi lagte

jin aankho me main akshar khud ke liye pyar dekhta hu

663

उदास हूँ किसी की बेवफाई पर

वफाकही तो कर गए हो खुश रहो

664

न हम खफा है तुम से न कोई फरयाद करते है

तुम कॉल करो या न करो ये जान लो

हम तुम्हे हर पल याद करते है

665

मैं रोज अपने खून का दिया जलाऊँगा |

ऐ इश्क तू एक बार अपनी मजार तो बता |

666

तुझे भूलकर भी न भूल पाएंगे हम

बस यही एक वादा निभा पाएंगे हम

मिटा देंगे खुद को भी जहां से लेकिन

तेरा नाम दिल से न मिटा पाएंगे हम

667

Jo hoti hai na kabhi khatam mohabbat,

Wesi mohabbat apni bana ke rakhu tujhko.

668

Ye Jo Tum Nazar Andaaz Kar Rahe Ho

Khamoosh Hun Andha Nahin

669

Tum Ne Mohabbat Mein Ik Pal Khoya Hai;

Meine Us Pal Mein Sari Zindagi Kho Di|

670

दीवानगी में कुछ ऐसा कर जायेंगे

मोहब्बत की सारी हदे पार कर जायेंगे

वादा है तुमसे दिल बनकर तुम धड्कोगे

और सांस बनकर हम आयेंगे

671

सोचा था कभी हो जाऐगा अहसास मेरे सच्चे प्यार

का मगर ऐसा कोई दिन साल महीना बरस नही आया |

थक कर जिन्दगी से जब मे पहूचा उसकी चोखट

पर माथा टेक मेने बीख मे उसके प्यार की दोलत मागी |

ठूकरा दिया मुझे ठोकर मार कर अपनी चोखट के

बाहर जालिम को मुझ पर थोडा सा भी तरस नही आया |

672

सुनी थी सिर्फ हमने ग़ज़लों में जुदाई की बातें |

अब खुद पे बीती तो हक़ीक़त का अंदाज़ा हुआ |

673

चाँद को भी मिल गई चाँदनी,

अब सितारों का क्या होगा,

अगर मोहब्बत एक से ही करली,

तो बाकी हज़ारों का क्या होगा।

674

मैं उसके दिल की धड़कन…

वो मेरी आँख का पानी है.

उसके लबों पे हंसी..

मेरे प्यार की निशानी है।

675

Koi Rasta Nahi Dua Ke Siva Koi Sunta Nahi

Khuda Ke Siva Maine Bhi Zindgi Ko Karib Se Dekha Hai

Mere Dost Muskil Me Koi Saath Nahi Deta Aansu Ke Siva.

676

Pyaar Ka Ye Ehsaas Pyaar Se Bhi Pyara Hai,

Dekhiye Ji Pyaar Mera Pyaar Se Bhi Pyaara Hai,

Na Raha Koi Kaabu Is Par Na Koi Sahaara Hai,

Dil jaan Aur Jigar,

Ye Sab Kuch To Tumhara Hai.

677

Masti Se Barhami Hai Meri,

Guftagu Ke Bech

Jo Chaho Tum Bi Muj Ko Kahu,

Main Nashe Mein Hun

678

Raat Hogi To Chand Duhai Dega

Khawabon Mein Aapko Woh Chehra Dikhai Dega

Ye Mohabbat Hai Zara Sochke Karna

Ek Aansoo Bhi Gira To Sunai Dega

679

उसे भूल कर जिया तो

क्या जिया

दम है तो उसे पाकर दिखा

लिख पथरों पर अपनी प्रेम

कहानी

और सागर को बोल,

दम है तो

इसे मिटाकर दिखा

680

Nazak Mazaj Aap Qayamat Hain Mir Ji

Joon Shesha Mere Munh Na Lago,

Main Nashe Mein Hun

681

Teri Yaadon Ke Bina Zindagi Adhuri Hai,

Tu Jo Mil Jaye To Zindagi Puri Hai,

Tere Sath Judi Hai Meri Khushiya,

Baaki Sabke Sath Hasna To Meri Majburi Hai.

682

Jaan Se Zyada Chahte Hai Aapko,

Har Khushi Se Zyada Mangte Hai Aapko,

Agar Koi Kahe Pyar Ki Koi Had Hoti Hai,

To Us Had Se Bhi Zyada Chahte Hai Aapko.|

683

खामोशियों में धीमी सी आवाज़ है,

तन्हाईयों में भी एक गहरा राज़ है,

मिलते नही हैं सबको अच्छे दोस्त यहाँ,

आप जो मिले हो हमें खुद पर नाज़ है..

684

ज़िंदगी है कुछ पल की बाकी अभी

इन पलों को मेरे साथ तुम गुज़ार लो

कल का ना कराओ इंतेज़ार तुम

आज मिला है मौका मेरा हाथ थम लो तुम

685

Mainne Logon Se Mutaasir Hona Chhod Diya

Kyonki Logo Vo Nahin Hote Jo Nazar Aate Hain

Aajakal Log Vaphaadaar Kam

Aur Adaakaar Zayaadah Ho Gae Hain

686

अपल पल से बनता है एहसास,

एहसास से बनता है विश्वास,

विश्वास से बनते हैं कुछ रिश्ते,

और उन रिश्तों से बनता है कोई खास।

687

Hansil hai manjil par dil ki dawa nahi..

Duriya hai rishte me par unse me khafa nahi.

Ilm hai pyar hai ab bhi unhe mujhse,

Wo thode jiddi hai par bewafa nahi.

688

Pyara Sa Ek Ehsaas Hai Aap,

Har Pal Humhare Paas Hai Aap,

Jine Ki Ek Aas Hai Aap,

Mann Ka Ek Vishwaas Hai Aap,

Shayad Isi Liye Kuch Khaas Hai Aap.

689

Ankho Ki Chamak In Palko Ki Shan Ho Tum,

Chehre Ki Hasi Mere Labo Ki Muskan Ho Tum,

Dhadkta Hai Ye Dil Sirf Tumhari Arzoo Me,

Phir Kaise Na Kahu Ke Meri Jaan Ho Tum.

690

अगर तुम कहो तो मैं फूल बन जाऊं,

ज़िंदगी का तुम्हारी एक उसूल बन जाऊं,

सुना है की रेत पर चलने से तुम महक जाते हो,

कहो तो अबके ज़मीन की धूल ही बन जाऊं,

नायाब है वो लोग जिन्हे तुम अपना कहते हो,

इज़ाज़त दो की मैं भी इस क़दर अनमोल बन जाऊं|

691

दुनिया मे कोई ना सहारा नज़र आया

बस तू ही एक हमारा नज़र आया

तेरे प्यार मे इस कदर बहते गये

ना तूफान नज़र आया ना किनारा नज़र आया

692

हम रूठे तो किसके भरोसे,

कौन आएगा हमे मानाने के लिए

हो सकता है,

तरस आ भी जाए आपको

पर दिल कहा से लाये,

आप से रूठ जाने के लिए

693

Mera Nasib Mit Gaya Mere Hatho Se

Ban K Ansu Jhalak Gya Meri Ankho Se

Aap hi Batao Kaise Bhul Jau Tumko

Jo Door Hi Nahi Gaye Meri Saanso Se.

694

Gili Lakdi Se Ishq Tumne Sungaya Hai

Naa Pura Jal Paya Kabhi Naa Hi Bujh Paya Hai

695

Mery Dil Ko Kise Se Geela Nahi

Man Se Jis Ko Chaha Vo Mujhe Mila Nahi

Badnashibi Khoo Ya Vaqt Ki Bewfaye

Aandhery Me Ek Dipak Mila Par Wo Jala Nahi

696

मेरा जूनून मेरी दीवानगी मेरी इन्तहा हो तुम

तुम्हे भला कैसे समझाए मेरे लिए क्या हो तुम

697

Guzar Jayenge Aapke Pas Se Hwa Ban Kr

Bah Jayenge Aankho Se Aansu Bankar

Aaj To Aap Ke Pas Fursatnahi Lekin

Karoge Yad Jab Rah Jayenge Yaad Bankr

698

हर मुलाकात पर वक्त का तकाज़ा हुआ |

हर याद पे दिल का दर्द ताजा हुआ |

सुनी थी सिर्फ हमने गज़लों मे जुदाई की बातें |

अब खुद पे बीती तो हकीकत का अंदाजा हुआ |

699

ये लकीरें,

ये नसीब,

ये किस्मत

सब फ़रेब के आईनें हैं…

हाथों में तेरा हाथ होने से ही

मुकम्मल ज़िंदगी के मायने हैं…

700

पत्थर तो बहुत मारे थे लोगों ने मुझे लेकिन |

जो दिल पर आ के लगा वो किसी अपने ने मारा था |

701

अच्छा लगता है तेरा नाम मेरे नाम के साथ |

जैसे कोई सुबह जुड़ी हो किसी हसीन शाम के साथ |

702

Meri Zindgi Ki Kitaab Mai Har Khwaab Tumhara Tha,

Kahaani To Meri Hi Thi Par Kalaam Tumhara Tha,

Meri Zindgi Ke Afsaane Mai Log To Bahut Se The,

Par Mujhko Jiski Chahat Thi Wo Naam Tumhara Tha.

703

Chupake se aakar is dil mein utar jaate ho,

Saanson mein meee khushabu ban ke bikhar jate ho,

kuchh yoon chala hai tere ishk ka jaadu,

Sote-jaagate tum hi tum nazar aate ho.

704

Tanhaion me unko hi yaad karte hain,

Wo salamt rahe yahi fariyad karte hai,

Ham unke hi mohabbt ka intzar karte hai,

Unko kya pata hum unse kitna pyaar karte hai.

705

Socho Us Waqt dil kitna majboor hota hai,

Jab koi kisi ki yaado mai choor hota hai,

Pyar kya hai pata tab chalta hai,

Jab koi najro se door hota hai.

706

Rota To Hoga Khud Bhi Barish Ko Dekh Dekh

Aankhon Ko Jisne Bakhsi Hai Barsaat Doshton

707

अपनी सांसो मे महकता पाया है आपको,

क्यू ना करे शिद्दत से याद आपको,

जब हमारे प्यार के लिए ही,

खुदा ने बनाया है आपको|

708

जो कभी लिपट जाया करती थी बादलों के गरजने पर

वो आज बादलों से भी ज्यादा गरजती है

709

♡ तेरी हर अदा मोहब्बत सी लगती है,

एक पल की जुदाई मुद्दत सी लगती है,

पहले नही सोचा था अब सोचने लगे है हम,

जिंदगी के हर लम्हों में तेरी ज़रूरत सी लगती है.

710

Jab Mai Mar Jaaunga To Kafan Tu Dal Dena

Mere Mout Ka Karan Puchenge To Mohabbat Bol Dena

711

दिल की किताब में गुलाब उनका था

रात की नींदों में ख़्वाब उनका था

कितना प्यार करते हो जब हमने पुचा

मर जायेंगे तुम्हारे बिना यह जवाब उनका था

712

तेरे सीने से लग कर तेरी आरज़ू बन जाऊँ,

तेरी सांसों से मिलकर तेरी खुशबू बन जाऊँ,

फासले न रहें कोई हम दोनों के दरम्यान,

मैं,

मैं न रहूँ… बस तू ही तू बन जाऊँ।

713

बहुत अन्दर तक तबाही मचाता है |

वो आंसू जो आँखों से बह नहीं पाता |

714

लम्हों का ये इश्क़ नहीं ,

सदियों की ये मोहब्बत है ,

कैसे करें शिक़ायत तुझे ,

हर साँस को तेरी चाहत है

715

तेरे ग़म को अपनी रूह में उतार लूं

ज़िन्दगी तेरी चाहत में सवार लूं

मुलाकात हो तुझ से कुछ इस तरह

तमाम उम्र बस इस मुलाकात में गुज़र लूं

716

उनके चेहरे पे रुक जाती है नज़र,

नज़रे मिलते ही शर्मा के झुक जाती है नज़र,

जब दिल नही रहता उनको देखे बिना तो,

इक बार फिर उन की तरफ उठ जाती है नज़र|

717

तेरी हर बदमाशी मंजूर हैं हमे,

तेरा वो रूठना मंजूर हैं मे,

तेरी हर नादानी हमारे सर आँखो पर,

तेरा दिया हर दर्द मंजूर हैं हमे,

ना मंजूर तो बस इतना के…

तेरी आँखों में आंसूओ का आ जाना,

और तेरा वो टूटकर बिखर जाना|

718

बुजदिल हैं वो लोग जो मोहब्बत

नहीं करते,

बहुत होंसला चाहिए

बर्बाद होने के लिए

719

आज भी एक सवाल है इस दिल मे,

प्यार का गम बेशुमार है इस दिल मे,

कुछ कह नही पता ये कम्बख़्त दिल,

मगर तुम्हारे लिए बहुत प्यार है इस दिल मे|

720

किसी को मेरे बारे में…पता कुछ भी नही |

इल्जाम हजारों है ✻और खता.. कुछ भी नही |

721

आपकी वफ़ा हमेशा मुझपर उधार रहेगी,

मेरी ज़िंदगी आपकी मुस्कुराहट पर निसार रहेगी,

दिया है आपने इतना प्यार मुझे,

की मर कर भी मेरी ज़िंदगी आपकी कर्ज़दार रहेगी|

722

तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा,

तू ज़िंदगी का एक अहम हिस्सा है मेरा,

मेरी मुहब्बत तुझसे,

सिर्फ़ लफ्जों की नहीं है,

तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा|

723

Dil Ke Tutne Ki Aawaz Nahi Aati

Lagta Hai Mohabbat Manzil Nahi Pati

Ye Kaise Lahre Hai Jo Kabhi Sahil Se Mil Nahi Pati

724

न जाने किस तरह का इश्क़ कर रहे है हम,

जिसके हो नहीं सकते उसी के हो रहे है हम|

725

Koi Khamoosh Ho Jaye To Hum Tarap Jate Hain,

Hum Khamoosh Huye To Kisi Ne Haal Tak Nahin Poocha

726

रात की चांदनी से मांगता हूँ सवेरा,

फूलों की चमक से मांगता हूँ रंग गहरा,

दोलत,

शोहरत से ताल्लुख़ नहीं है मेरा,

मुझे चाहिए हर सुबह में बस साथ तेरा|

|Good Morning Sweet Heart|

727

सुना है तुम ले लेते हो हर बात का बदला,

आजमाएंगे कभी तुम्हारे लबों को चूम कर|

728

“Takdir likhne wale ek ehsaan likh de,

mere pyar ki takdir me muskan likh de,

na mile zindagi me kavi v dard usko,

chahe uski kismat me meri jaan likh de”

729

दे दो अपना हाथ हाथो में हमारे,

रहना है दिल को साथ तुम्हारे,

यू ही नहीं रहते खोए हुए हम,

हमें आते है हर सुबह ख्याल तुम्हारे|

**Good Morning My Love**

730

रोती हुई आँखो मे इंतेज़ार होता है,

ना चाहते हुए भी प्यार होता है,

क्यू देखते है हम वो सपने,

जिनके टूटने पर भी उनके सच होने का इंतेज़ार होता है?

731

सामान बाँध लिया है मैने भी अब बताओ दोस्त,

वो लोग कहाँ रहते हैं जो कहीं के नही रहते|

732

Jee Bhar Ke Dekhu Tujhe Agar Tujhe Gawara Na Ho,

Betab Mere Nazare Ho Aur Pyar Tumhara Ho,

Jaan Ki Fikar Ho Na Zamane Ki Parwha,

Ek Tera Pyar Ho Jo Sirf Humara Ho.

733

मेरे खुदा मुझे लाखो मे छांट के दे दे,

एक ऐसा इंसान जो कांटो पे भी साथ चलता हो|

734

मैं तुझपे अपनी जान,

तक लुटा दूं,

तू मुझसे मुझ जैसी मोहब्बत तो कर|

735

प्यारा सा एहसास हो तुम

हर पल मेरे पास हो तुम

जीने की इक आस हो तुम

शायद इस लिए कुछ ख़ास हो तुम

736

Usse Kya Batau Ki Woh Mujhe Kitni Zarrori Hai,

Usske Bina Meri Yeh Zindgi Adhuri Hai,

Uska Pass Hona Mere Liye Saans Lene Ke Brabar hai,

Agar Dur Gyi To Yeh Sansien Bhi Ruk Jani Hai.

737

हैं वो बेवफा फिर भी ऐतबार करते है,

अपना दिल हर बार उसी के नाम करते है,

इश्क़ करना हैं गुनाह हम जान गये है,

फिर क्यू ये गुनाह हम हर बार करते है|

738

दिल की किताब में गुलाब उनका था

रात की नींद में एक ख़्वाब उनका था

है कितना प्यार हमसे जब यह हमने पूछ लिया

मर जायेंगे बिन तेरे यह जवाब उनका था

739

कुछ नशा तो आपकी बात का है,

कुछ नशा तो धीमी बरसात का है,

हमे आप यूही शराबी ना कहिए,

यह दिल पर असर तो आपसे मुलाक़ात का है|

740

नाराज़गी बहुत है हम दोनों के दरमियान …

वो गलत कहता है कि कोई रिश्ता नहीं रहा…

741

पता है तुम्हारी और हमारी

मुस्कान में फ़र्क क्या है?

तुम खुश हो कर मुस्कुराते हो,

हम तुम्हे खुश देख के मुस्कुराते हैं..

742

हर तरफ रौनक है बस एक तेरी ही कमी

शरद मौसम हल्के बादल और उदासी भरी शाम

743

अगर आती बुलाने पे,

हर एक राधा किशन के तो,

मोहब्बत इस तरह से फिर,

कभी बदनाम ना होती|

744

उसकी मर्जी वो जिसे चाहे पास बोलले अपने

2 कदम जो भी उसके साथ चला बैठ गया

745

तेरी ख़ुशी से नहीं ग़म से भी रिश्ता है मेरा

तू ज़िन्दगी का एक अनमोल हिस्सा है मेरा

मेरी मोहब्बत सिर्फ लफ्जों की मोहब्बत नहीं

तेरी रूह से रूह का रिश्ता है मेरा

746

दम तोड़ जाती है हर शिकायत लबों पे आकर |

जब मासूमियत से वो कहती है “मैंने क्या किया |

747

Udaas Hoon Par TujhSe Naraz Nahi,

Tere Dil Mein Hoon Par Tere Paas Nahi,

Jhoot Kahoon To Sub Kuch Hai Mere Paas,

Aur Such Kahoon To Ek Tere Siwa Kuch Bhi Khaas Nahi.

748

ऱैत पर लिखना तो आदात है हमारी

इसलिए तो सागर से दुश्मनी है हमारी

चाहे वो लाख बार मिटाए नाम आपका

पर आपको भूलना तक़दीर मे नही हमारी

749

याद करते है तुम्हे तनहाई में,

दिल डूबा है गमो की गहराई में,

हमें मत ढूंढना दुनिया की भीड़ में,

हम मिलेंगे में तुम्हे तुम्हारी परछाई में|

750

Kisi Ne Dil Ko Aise Chu Liya Ki,

Hum Kisi Ke Dil Ko Chu Na Sake,

Hum To Chale The Dost Banane UnKo,

Par Woh To Dil Ki Dhadkan Ban Gaye.

751

Iske Saye Mein Mere Khwab Mehak Uthen Gey

Mere Chehre Pe Umeedon Bhara Aanchal Kardo

Apne Honton Se Koi Mohar Lagao Mujh Par

Ik Nazar Piyar Se Dekho Mujhe Ghayal Kardo

752

उस दौर से गुज़री है दास्ताने मोहोब्बत हमारी,

लम्हों ने ख़ता की थी,

सदियों ने सज़ा पाई|

753

सुनो| दिल धड़कने लगता है ख़यालों से ही,

ना जाने क्या हाल होगा मुलाक़ातों में.

754

Kabhi kabhi aisa bhi hota hai,

Pyar ka asar zara der sa hota hai,

Aapko lagta hai hum kuch nahi sochte aap ke bare main,

Par hamari har baat mai aap ka hi zikr hota hai.

755

कितनी जल्दी ये मुलाकात गुज़र जाती है,

प्यास बुझती भी नहीं बरसात गुज़र जाती है,

ए जान

अपनी यादों से कहो के न आया करे,

नींद आती भी नहीं रात गुज़र जाती है|

756

इतनी लंबी उम्र की दुआ मत माँग मेरे लिए,

ऐसा ना हो के तू भी छोड़ दे ओर मौत भी ना आए|

757

Kitana Pyar Hai Unse Ab Wo Jaan Le,

Wo Hi Hai Zindagi Meri Ye Baat Maan Le,

Unko Deneke Ke Liye Kuch Nahi Paas Hamare,

Bas Ek Jaan Hai Jab Chahe Mang Le.

758

मरब से आपकी खुशीयां मांगते है,

दुआओं में आपकी हंसी मांगते है,

सोचते है आपसे क्या मांगे,

चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगते है.

759

तुझे सब का ख्याल है पर मेरा नहीं,

मुझे बस तेरा ख्याल है और किसी का नही|

760

मैं लव हूँ पर मेरी बात तुम हो,

और मैं तब हूँ जब मेरे साथ तुम हो।

761

अगर रुकने लगे साँसे मेरी तो,

मेरे पास आ जाना,

अपनी गोद मे रखकर सिर मेरा

मुझे सहलाना,

कुछ पल ही सही हम सारी

तन्हाई की दास्तान बयान कर देंगे

फिर मेरी कहानी सुनकर थोड़ा

गुमसुम हो जाना

रोना मत वरना हमे भी

रोना आ जाएगा

बस एक बार मुस्कुरा कर प्यार

से हमे सुला जाना…|

762

मिटा दिया हर जगह से तेरा नाम मगर |

आज भी जिन्दा है तेरा वजूद अश्कों में मेरे|

763

Aag Dil Me Lagi Jab Wo khafa Hue,

Mehsoos hua Tab,

Jab Wo Juda Hue,

Kar K Wafa Kuch De Na Sake Wo,

Per Bahut Kuch De Gaye Jab Wo Bewafa Hue.

764

जख्म जब मेरे सीने में भर जाएंगे

आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएंगे

ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया

वरना कुछ अपनों के चेहरे उतर जाएंगे |

765

Tere siva zindagi me

Nahi aa sakta koi

Ek mout hi hai

Jis ka hum wada

Nahi karte

766

ईश्क की गहराईयो में खूब सूरत क्या है,

मैं हूं ,

तुम हो,

और कुछ की जरूरत क्या है|

767

तुमसे ही रूठ कर

तुम्ही को याद करते हैं

हमे तो ठीक से

नाराज़ होना भी नहीं आता

768

Mohabbat ke chaand ko apni panah mein rehne do..

Labon ko na kholo aankhon ko kuch kehne do..

Dil peh haath rakho aur kuch dair rehne do..

Mujhe mehsoos karo aur apne paas hi rehne do.

769

Teri baaho me aaj mjhe bikhar jane de

Mahakti huyi sanso me muje utar jane de

Tanha hai raat aur mosam sard hain

Apni saanso me aaj mjhe mahak jane de

Khawabo me tere mjhe aaj bahak jane de

770

उदास होने की जो वजह पूछी मै गिरगिट से

बोला शर्त हार गया हू तेरे महबूब से रँग बदलने मे

771

प्यार करने वालो की किस्मत बुरी होती है

हर मिलन जुदाई से होती है

रिश्तो को कभी परख कर देखना

दोस्ती हर रिश्ते से बड़ी होती है

772

फूलों की वादियों में हो बसेरा तेरा,

सितारों के आँगन में हो घर तेरा,

दुआ है ऐ सनम कि,

तुझसे भी खूबसूरत हो सवेरा तेरा|

|Have A Nice Day Dear|

773

हंसी आपकी कोई

चुरा न पाए

आपको कभी कोई

रुला न पाए

खुशियों का दीप ऐसा जले

ज़िन्दगी में

की कोई तूफ़ान भी उसे

बुझा न पाए

774

आप आएँगे कबतलक इतना तो बता दीजिए,

आप के इंतेज़ार में खुद को भुलाए बैठे हैं,

वापस जा ना पाओगे बस एक बार चले आओ,

आपकी राहों में हम पलकें बिछाये बैठे हैं|

775

अगर तुम न होते तो ग़ज़ल कौन कहता

तुम्हारे चेहरे को कमल कौन कहता

यह तो करिश्मा है मोहब्बत का

वरना पत्थर को ताज महल कौन कहता

776

चाहने से कोई चीज़ अपनी नहीं होती

हर मुस्कराहट ख़ुशी की नहीं होती

अरमान तो भूक होती है दिल में

मगर कभी वक़्त तो कभी किस्मत सही नहीं होती

777

साथ रोती थी,

साथ हँसा करती थी |

एक परी मेरे दिल मे बसा करती थी |

किस्मत थी हम जुदा हो गए |

वरना वो मुझे अपनी तकदीर कहा करती थी |

778

Aankho ki gehrai mein teri kho jana chahta hoon,

Aaj tujh bahon mein lekar so jana chahta hoon,

Tood kar hade mein aaj sari

Aapna tujh banana lena chahta hoon..

779

इश्क में गुलाब का फूल,

आप जरा इसे करलो कबूल,

वैसे तो जिंदगी ने दिए है बहुत से गम,

अगर आप मिल जाओ तो सारे गम जाऊंगा मैं भूल।

780

Har Khushi Se Khubsurat Teri Sham Karun

Apna Payar Main Siraf Tere Naam Karun

Mil Jaye Agar Dobara Ye Zindgi.

Har Bar Main Ye Zindgi Tere Naam Karun.

781

कोई सिसक उठता होगा,

किसी की आँख भर आती होगी |

इतना तो यकीन है मेरी शायरी

दिल चीर के निकल जाती होगी |

782

सीने से लगा कर तुझे आरज़ू बना लूँ आज,

खुश्बू बना तुझे सासों में बसा लूँ आज,

मिटा के फ़ासले दोनो के दरमियाँ,

ले तुझे बाहों में अपनी बसा लूँ आज|

783

अगर मैं हद से गुज़र गयी तो मुझे माफ़ करना,

तेरे दिल में उतार गयी तो मुझे माफ़ करना,

रात में तुझे देख के तेरे दीदार की खातिर,

पल भर जो ठहर गयी तो मुझे माफ़ करना|

784

Pahle Anjaan The Par Ab Wo Jaan Ban Gaye,

Kismat Ne Yu Milaya Ki Hamari Pehchan Ban Gaye,

Rabba Unko Hamesha Khush Rakhna,

Jo Ish Chehre Ki Muskaan Ban Gaye.

785

chalakte hoton se chu ke,

hoton ko unhone pyala bana dala,

pass aai kuch wo ese..

zindagi ko unhone madhushala bana dala.

786

Mujhe Maloom Hai Tum Bahot Khush Ho Is Judai Se

Ab Khayal Rakhna Apna

Tumhe Tum Jaisa Koi Na Mil Jaaye

787

माथे को चूम लूँ मैं और उनकी जुल्फ़े बिखर जाये |

इन लम्हों के इंतजार में कहीं जिंदगी न गुज़र जाये |

788

जब याद तेरी आए तो क्या करू,

जब हर लम्हा मुझे सताए तो क्या करू.

वैसे तो नींद हमे आती नही रातो मे पर,

बेवक्त ख़याल तेरा आए तो क्या करू|

789

तेरे प्यार ने ज़िन्दगी से पहचान करायी है

मुझे वो तूफानों से फिर लोटा के लायी है

बस इतनी ही दुआ करते हैं खुदा से हम

बुझे न यह शमा कभी जो हमने जलाई है

790

तुम हक़ीकत नहीं हो हसरत हो,

जो मिले ख़्वाब में वही दौलत हो,

किस लिए देखती हो आईना,

तुम तो खुदा से भी ज्यादा खूबसूरत हो।

791

मिलती नही राह यहा मंज़िल तक पहुँचू कैसे

यकीन कोई करता नही,

उसे यकीन दिलाऊ कैसे

अब तो तन्हा हो गयी है ज़िंदगी मेरी

इस ज़िंदगी को रोशन करू कैसे

792

तेरी चाहत अब मेरी आँखों मे है,

तेरी खुश्बू मेरी साँसों मे है,

मेरे दिल को जो घायल कर जाए,

ऐसी अदा सिर्फ़ तेरी बातों मे ही है|

793

Usne gam de ke bataya meri kimat kya hai|

Main v gam kha ke aa bta du mohbbat kya hai|

Jamana kyu pareshan hai meri tanhai per|

Itni gahrai me jane ki jarurat kya hai|

794

कभी शहरों से गुज़रेंगे कभी सेहरा भी देखेंगे |

हम इस दुनिया में आएं हैं तो ये मेला भी देखेंगे |

तेरे अश्कों की तेरे शहर में क़ीमत नहीं लेकिन |

तड़प जाएंगे घर वाले जो एक क़तरा भी देखेंगे |

मेरे वापस ना आने पर बहुत से लोग ख़ुश होंगे |

मगर कुछ लोग मेरा उम्र भर रस्ता भी देखेंगे |

795

ज़िंदगी भर के लिए तेरा साथ निभाना चाहते हैं,

तुम्हारी इन आँखो मे सदा के लिए बस जाना चाहते है,

चाहते इस दिल की,

ना जाने हमसे क्या क्या चाहती हैं,

नज़र भर तुम्हे देखकर,

तुम पर मर जाना चाहते है|

796

रास नही आता मुझे हर वो लम्हा,

जब कभी भी तू मुझ से दूर हो जाता है|

797

कितनी ‪‎झूठी‬ होती है ‪‎मोहब्बत‬ की ‪कसमे |

देखो ‪‎तुम‬ भी ‪जिन्दा‬ हो देखो ‪‎मैं‬ भी जिन्दा हूँ |

798

हर किसी को प्यार मिले तो कैसा हो

हर दिल मे प्यार हो तो कैसा हो

बरसो से प्यार की मिसाल देता है ताज महल

हर गली मे ताज महल हो तो कैसा हो

799

तेरे होने पर भी खुद को तनहा समझूँ |

में बेवफा हु के तुजे बेवफा समझूँ |

तेरी बेरुखी से वक़्त तो गुज़र गया हें मेरा |

यह खुद्दारी हें तेरी या तेरी अदा समझूँ |

तेरे बाद क्या हाल हुआ हें मेरा |

ये तेरी इनायत हें या समझूँ |

ज़ख़्म देती हो और मरहम भी लगाती हो |

यह तेरी आदत हें या तेरी अदा |

800

अपनी सांसों में महकता पाया है तुझे,

हर ख्वाब मे बुलाया है तुझे,

क्यू न करे याद तुझ को

जब खुदा ने हमारे लिए बनाया है तुझे.

801

फिज़ाओ का मौसम जाने के बाद बहारो का मौसम आया,

गुलाब से गुलाब का रंग तेरे गालों पर आया,

तेरे नैनो ने काली घटा का जब काजल लगाया,

जवानी जो तुम पर आई तो नशा मेरी आँखों में आया|

802

वो मुझे मेहंदी लगे हाथ दिखाकर रोयी

मैं किसी और की हूँ,

बस इतना बता कर रोयीं

शायद उम्र भर की जुदाई का ख्याल आया था उसे

वो मुझे पास अपने बिठाकर रोयीं,

दुःख का एहसास दिला कर रोयीं

कभी कहती थी मैं न जी पाऊँगी बिन तुम्हारे

और आज ये बात दोहरा कर रोयीं

मुझ से ज्यादा बिछुड़ने का गम था उसे

वक्त-ए-रुक्शांत,

वो मुझे सीने से लगा कर रोयीं

मैं बेकसूर हूँ,

कुदरत का फैसला हो ये

लिपट कर मुझसे बस वो इतना बता कर रोयीं

मुझ पर दुःख का पहाड़ एक और टुटा

जब वो मेरे सामने मेरे ख़त जलाकर रोयीं

मेरी नफरत और अदावत पिघल गयी एक पल में

वो बेवफा है तो,

क्यों मुझे रुलाकर रोयीं ?

सब गिले-शिकवे मेरे एक पल में बदल गए

झील सी आँखों में जब आंसू सजाकर रोयीं

कैसे उसकी मोहब्बत पर शक करे ये दोस्तों

भरी महफ़िल में वो मुझे गले लगा कर रोयीं |

803

दिल को कागज समझ रखा है क्या |

आते हो,

जलाते हो,

चले जाते हो |

804

Pas Hote To Lab Chum Ke Jagate Apko,

Rkh Ke Dil Pe Hath Dhadkan Sunate Apko,

Jo Aap Sukun Ki Aarzu Karte,

Rakhte Sar Sine Pe Aur Sulate Apko.

805

जो लोग सबकी फिक्र करते है अक्सर

उन्ही की फिक्र करने वाला कोई नहीं होता

806

ज़िन्दगी से यही गिला है मुझे,

तू बहुत देर से मिला है मुझे,

तू मोहब्बत से कोई चाल तो चल,

हार जाने का हौसला है मुझे।

807

उदास करने की उसने भी इन्तहा कर दी

उदास होने का मैने भी हक अदा किया

808

हम पर अपनी ख़ुशी बर्बाद मत करना,

हमारे लिए खुदा से फरियाद मत करना,

आज चाहो तो जी भरके देख लो हमें,

हम ना होंगे तब हमें याद ना करना|

809

तरसती नजरो की प्यास हो तुम

तड़पते दिल की आस हो तुम

बुझती ज़िन्दगी की साँस हो तुम

फिर कैसे न कहू? कुछ ख़ास हो तुम

810

सुबह होती नहीं शाम ढलती नहीं

नजाने क्या खूबी है आप में के

आप को याद किये बिना ख़ुशी मिलती नहीं

811

तेरी मोहब्बत से लेकर तेरे अलविदा कहने तक,

मेने सिर्फ़ तुझे चाहा है तुज़से कुछ नही चाहा|

812

Yaaro Muje Maaf Rakho Main Nashe Mein Hun

Ab Do Tu Jaam Khali Hi Do,

Main Nashe Mein Hun

813

जिस पल आप दिल से मुस्कुराओगे

अपनी हसी मे हमारी झल्क पाओगे

ना समझना के साथ छोड़ देंगे हम

पलट कर देखोगे तो हर राह पर हमे पाओगे

814

उलझा रही है मुझको,

यही कश्मकश आजकल..|

815

हमसे पूछो क्या होता है पल पल बिताना,

बहुत मुश्किल होता है दिल को संजाना,

यार ज़िंदगी तो बीत जाएगी,

बस मुश्किल होता है कुछ लोगो को भूल पाना|

816

सुनो| तुम मेरी जिद

नहीं हो जो पूरी हो

तुम मेरी धड़कन हो

जो जरूरी हो

817

जाने मेरी मंजिलो के रास्ते कौनसे है |

चल तो रहे है कदम पर दायरे कौनसे है |

क्या ढूँढती है नज़र हर पल कौन अपने और पराये कौन से है |

818

तुम हस्सो तो ख़ुशी

मुझे होती है

तुम रूठो तो आँखे

मेरी रोती है

तुम दूर जाओ तो बैचैनी

मुझे होती है

महसूस करके देखलो

प्यार ऐसा होता है

819

Bhagwan Ne Tumhe Bhuka Dekha To Domino Pizza Bnaya,

Pyasa Dekha To Pepse Bnayi,

Andhere Mein Dekha To Light Bnayi,

Aur Mujhe Bina Musibat Ke Dekha To Tumhe Bnaya,

820

Ek pyari si kali thi jo phool ban gayi

Ek nanhi si muskan thi jo hasi ban gayi

Ye choti choti si mulakat ab toh pyar ban gayi

Aur aapka har pal saath toh jaise bahar ban gayi.

821

ज़िंदगी का हर वो रंग दिलकश लगता है,

जो आपके प्यार में हम’पर चढ़ता है …|

822

Wo Tujhe Bhool He Gaya Hoga,

Itni Muddat Koi Masroof Nahi Rahta.

823

प्यार की कोई हद समझाना मेरे बस की बात नहीं

दिल की बातो को न करना मेरे बस की बात नहीं

कुछ तो बात है तुझमे तब तो दिल ये तुमपे मरता है

वरना यूँ ही जान गवाना मेरे बस की बात नहीं

824

Nahi Chahiye Tere Ishq Ke Dukan Se Kuch Bhi

Har Chij Me Milawat Hai Bewfai Ki

825

ना देख खुदको अपनी नज़र से

क्यूंकी हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा

सब कहते हैं चाँद का टुकड़ा है तू

मेरी नज़र से देख चाँद भी तेरा टुकड़ा लगेगा

826

उदास कर देती है हर रोज…ये शाम मुझे |

लगता है जैसे कोई भूल रहा हो मुझे आहिस्ता आहिस्ता |

827

ना छेड किस्सा-ए-उल्फत बडी लम्बी कहानी है |

मैं ज़माने से नहीं हारा किसी की बात मानी है |

828

कभी पहलू मे आओ तो बताएँगे तुम्हे,

हाल-ए-दिल अपना तमाम सुनाएँगे तुम्हे,

काटी हैं कैसे हमने तन्हाई की ये राते,

हर उस रात की तड़प दिखाएँगे तुम्हे|

829

Zindgi Mein Pehle Hi Itna Gum Samet Liya He Yaaron

Ab Aur Aasuon Ki Jagah Baaki Kahan Hai

Hum To Apni Saanse Sambhal K Baithe The Bas

Par Kambakth Es Duniya Ko Hi Chain Kaha Hai…

830

न दिल होता न रोते दिल दिल कोई जुदा होता

न तुम इतनी हसी होती न दिल तुझ पर फिदा होता

831

सच्ची मुहब्बत एक जेल के कैदी की तरह होती हैं,

जिसमे उम्र बीत भी जाए तो सजा पूरी नहीं होती|

832

जाती नही आँखो से सूरत तेरी,

ना जाती है दिल से मोहब्बत तेरी|

तेरे जाने के बाद होता है महसूस यूँ,

हमे और भी ज़्यादा है ज़रूरत तेरी|

833

मेरी यादो में तुम हो,

या मुझ मे ही तुम हो,

मेरे ख्यालो में तुम हो,

या मेरा ख्याल ही तुम हो,

दिल मेरा धड़क के पुछे बार बार एक ही बात,

मेरी जान में तुम हो या मेरा जान ही तुम हो।

834

बहुत रोयी होगी वो खाली कागज देख कर

खत में उसने पुछा था ज़िंदगी कैसी बीत रही है

835

मस्त नज़रों से देख लेना था अगर तमन्ना थी आज़माने की,

हम तो बेहोश यूँ ही हो जाते क्या ज़रूरत थी मुस्कुराने की|

836

Wo Nazar Kha Se Laau Jo Tujhe Bhoola De

Wo Dawa Kha Se Laau Jo Es Dard Ko Meta Se

Milna To Likha Rahta Hai Takdero Me

Parwo Takdeer Kha Se Laau Jo Hum Dono Ko Mila De

837

Ab Youn Hee Khamoosh Nahin Hun Mai

Apni Khamooshiyon Ko Jalaya Hai

Waqt Ne Khatam Kar Diye Sab Waseele Shauk Ke

Dil Tha Ulat Palat Gaya Aankh Thi Bujh Bujha Gai

838

मेरी आँखो का हर आँसू तेरे प्यार की निशानी है,

जो तू समझे तो मोती है,

ना समझे तो पानी है|

839

तुम्हारी फिक्र है मुझे इसमे कोई शक नही,

तुम्हे कोई और देखे किसी को ये हक नही।

840

Meri Chaahaten Tumse Alag Kab Hain ,

Dil Ki Baaten Tumse Chhupi Kab Hain..

Tum Saath Raho Dil Mein Dhadkan Ki Jagah ,

Phir Zindagi Ko Saanson Ki Zaroorat Kab Hai …|

841

Ae khuda itni si guzarish meri puri kar de,

Mohabbat ka meri aaj fisal kar de,

Usse mera or mujhe uska kar de

Ya mohabbat me aaj mujhe fana kar de.

842

हम वो नही जो तुम्हे गम में छोड़ देंगे ,

हम वो नही जो तुजसे नाता तोड़ देंगे ,

हम वो हे जो तुम्हारी साँसे रुके तो ,

अपनी साँसे छोड़ देंगे…।।

843

हर पल मोहब्बत करने का वादा है आपसे,

हर पल साथ निभाने का वादा है आपसे,

कभी ये मत समझ न हम आपको भूल जायेंगे,

जिंदगी भर साथ चलने का वादा है आपसे।

844

तेरे चेहरे पर मेरा ही नूर होगा,

फिर न कभी तू मुझसे दूर होगा,

सोच रहे है उस दिन क्या ख़ुशी होगी,

जिस दिन तेरी मांग में मेरे नाम का सिन्दूर होगा।

845

चाहत हर दिल की होती हे की उसे भी कोई दिल से चाहे|

मगर चाहत उसी की पूरी होती है

जिसने किसी की चाहत को समझो |

846

ना जीने की खुशी ना मरने का गम बस |

तुमसे की मिलने की दुआ करते है |

हम जीते है इस आस पर कि एक दिन |

तुम आओगे मरते इसलिए नही |

कयोंकि तुम अकेले रह जाओगो |

847

हमने लिया सिर्फ होठों

से जो तेरा नाम

दिल होठों से उलझ पड़ा

कि ये सिर्फ मेरा है

848

बनाने वाले ने दिल कांच का बनाया होता

तोड़ने वाले के हाथ में जख्म तो आया होता

जब भी देखता वो अपने हाथो को

उसे हमारा ख्याल तो आया होता

849

फिर वो हसीन रात हो जाए,

निगाहों-निगाहों में बात हो जाए,

हम खामोशी से देखते रहे तुम को,

ओर तुम्हारे होंठो की सुर्खियां

हमारे होंठो के साथ हो जाए|

**Good Night Love**

850

जिंदगी हमारी बदलने लगी है तुम्हारे आने के बाद,

ख्वाहिशे पूरी होने लगी है तुम्हारे आने के बाद,

जहां हमारी ज़िंदगी तन्हा थी भीड़ में,

आज खुशियां से भरने लगी तुम्हारे आने के बाद|

851

Dil ki nazuk dhadkano ko.. mere sanam tumne dhadakna sikha diya,

jab se mila hai tera pyaar dil ko,

gum me bhi muskurana sikha diya.

852

Mohabbat mukammal hoti to ye rog kaun palta.

Aksar adhure aashiq hi shayar hua karte hai.

853

सौ बार मरना चाहा उनकी निगाहों में डूब के,

वो हर बार निगाहें झुका लेते हैं,

मरने भी नहीं देते हैं।

854

“Mohbbat zindagi badal deti hai,

mil jaye toh v na mile toh v…”

855

वो जाते हुए कह गये की अब तो

हम सिर्फ़ तुम्हारे ख्वाबो मे ही आएगे,

कोई कह दे उनसे जाके की वो वादा तो

निभाए हम ज़िंदगी भर के लिए सो जाएगे|

856

किसी मासूम लम्हे में किसी मासूम चेहरे से |

मोहब्बत की नहीं जाती,

मोहब्बत हो जाती है |

857

किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं

किसी को दिल में बसाना कोई कहता तो नहीं

गुनाह हो यह जमाने की नजर में तो क्या

जमाने वाले कोई खुदा तो नहीं

858

ज़ख़्मों को हरा करता है झोंका तेरी यादों का|.

पुरानी यादों के निशां…अब तो मिटा लेने दे |

859

रूठी जो जिदंगी तो मना लेंगे हम,

मिले जो गम वो सह लेंगे हम,

बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो,

निकलते हुए आंसूओ में भी मुस्कुरा लेंगे हम।

860

एक दिन उसने मुझसे कयामत का मतलब पूछ लिया,

मैंने भी घबरा कर उससे रूठ जाना तेरा कह दिया।

861

मुझे तो आज पता चला कि मैं किस क़दर तनहा हूँ,

पीछे जब भी मुड़ कर देखूं तो

मेरा साया भी मुँह फेर लेता है…|

862

सिर्फ़ मेरी ही नज़रे हो हमेशा उनपे,

कोई और आँखें उनका दीदार ना करे,

मेरी मुहब्बत की हो शिद्दत इतनी गहरी,

के भूल से भी वो किसी और से इश्क़ ना करे|

863

ना जाने क्यों इतनी जल्दी ये रात आ जाती है,

बातों ही बातों में आपकी बात आ जाती है,

हम तो बहुत सोने की कोशिश करते हैं,

लेकिन न जाने क्यों आपकी याद आ जाती है|

$Miss You My Shonaaaa Sleep Tight$

864

कौन कहता है हम उसके बिना मर जायेंगे

हम तो दरिया है समंदर में उतर जायेंगे

वो तरस जायेंगे प्यार की एक बूँद के लिए

हम तो बादल है प्यार के

किसी और पर बरस जायेंगे

865

जब तू बनके हमसफर मेरा साथ देता है,

हर मुश्किल सफ़र मेरा आसान हो जाता हैं|

866

Ye Isq Karna Chor Diya Yaro Warna Hum To

Aaj Bhi Palat Ke Dekh Le To Ladkiya

Somvar Ke Wart Suroo Kar De

867

21 तोपो की सलामी उन छोरो के लिये

जो हफ्ते में 1 बार 5 रुपया वाला नेट पैक कराके

ऐसी सैड शायरी करेंगे जैसे आसमान टूट पड़ा हो इनके ऊपर

868

मोहब्बत इंसान को जीना सिखा देती है,

बफा के नाम पर मरना सिखा देती है,

अगर मोहब्बत नही की तो करके देखना,

ये जालिम हर दर्द सहना सिखा देती है।

869

दुनिया मे कितनी हैं नफ़रातें

फिर भी दिलों मे हैं चाहतें

मर भी जायें प्यार वाले

मिट भी जायें यार वाले

ज़िंदा रहती हैं उनकी मोहब्बतें

870

बदल गई सारी दुनिया बस एक तुम नही बदले हो,

कल भी दर्द दिया करते थे आज भी दर्द देते हो।

871

Khudaa jab husn deta hai..

nazaakat aa hi jati hai,

Kadam chun chun kar rakhti ho..

Phir bhi kamar balkha hi jaati hai

872

आपके प्यार को सलाम किया है

जीने का हर अंदाज आपके नाम किया है

मांग लीजिये आज खुदा से कुछ भी

हमने अपनी हर मन्नत को आपके नाम किया है

873

उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है,

उनके इंतज़ार में दिल तरसता है,

क्या कहें इस कमबख्त दिल को अब,

अपना होकर भी जो किसी और के लिए धड़कता है|

874

दूर जाके तुमसे दूर ना जा सके,

कितना रोए किसिको बता ना सके|

गम ये नही की,

आप मिल ना सके दर्द बस ये है की,

एक पल क लिए भी आपको भुला ना सके|

875

दीवाना उस ने कर दिया एक बार देख कर,

हम कर सके न कुछ भी लगातार देख कर|

876

तेरे नाम से मोहब्बत की हैं,

तेरे एहसास से मोहब्बत की है,

तुम मेरे पास नही फिर भी,

तुम्हारी याद से मोहब्बत की है,

कभी तुमने भी मुझे याद किया होगा,

मैने उन लम्हो से मोहब्बत की हैं,

तुम से मिलना तो एक ख्वाब सा लगता हैं,

मेने तुम्हारे इंतेज़ार से मोहब्बत की है|

877

एक और शाम बीत चली है तुझे चाहते हुए |

तू आज भी बे-खबर है,

बीते हुए कल की तरह |

878

भंवर से निकलकर किनारा मिला है,

जीने को फिर से एक सहारा मिला है,

बहुत कशमकश में थी ये ज़िंदगी मेरी,

उस ज़िंदगी में अब साथ तुम्हारा मिला है।

879

Jab Bhi Unki Gali Se Guzarta Hoon,

Meri Ankhein Ek Dastak De Deti Hai,

Dukh Ye Nahi,

Wo Darwaja Band Kar Dete Hai,

Khusi Ye Hai,

Wo Mujhe Ab Bhi Pahchan Lete Hai.

880

रात होगी तो चाँद दुहाई देगा

ख्वाबो में आपको वह चेहरा दिखाई देगा

ये मोहब्बत है,

ज़रा सोचकर करना

एक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा

881

किसी मोड़ पर तेरा दीदार हो जाये,

काश तुझे मुझ पर ऐतबार हो जाये,

तेरी पलकें झुके और इकरार हो जाये,

काश तुझे भी मुझसे प्यार हो जाये।

882

मेरे दिल मे तुम रहना तुम्हारे दिल मे हम रहेगे|

जब भी किसी का दिल टूटे तो एक दूजे को थाम लेंगे|

883

बहुत खूबसूरत वो रातें होती हैं,

जब तुमसे दिल की बातें होतीं हैं।

884

मेरी निगाह की गुस्ताखिया समझता है

वो जाने क्यों मुझे फिर भी सजा नहीं देता

We hope you enjoyed our collection of love shayari in hindi for girlfriend. Share these love shayari in hindi for girlfriend on social media and your website. In case we have missed out any Shayari, feel free to drop us a comment and we will include that love shayari in hindi for girlfriend to this list.

Also, make sure to bookmark this love shayari in hindi for girlfriend article so that you can, later on, pick out more Shayari to share on Facebook and Whatsapp.

Like and Share our FB page :)

Enjoy the awesome collection of Shayari.