700+ Love Shayari (लव शायरी) Hindi – Sad, Pyar Bhari, True Love

Searching for love shayari? Your search ends here.

प्यार की सबसे अच्छी बात ये है की उसे शब्दों में लिखा नहीं जा सकता लेकिन हम कुछ हद तक अपने अंदर की भावनाओं को बता सकते है। तो चलिए कोशिश करते है इन शायरिओ के जरिये।

हमने सभी प्रकार के लव शायरी को यहाँ पे रखने के कोशिश की है । आप इस पेज को बुकमार्क कर ले और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर कर।

List of best love shayari

1

love shayari 1
आप दिल से दूर हैं और पास भी,

आप लवो की हँसी हो और आँसू भी,

आप दिल का सुकून हो और बेचैनी भी,

आप हमारी अमानत हो और एक सपना भी।

2

love shayari 2
Tujhse Pyar Ke Vade Kar,

Tere Sath Chal Diye Hai,

Ab Bewas Nahi Hum Tum,

Hamare Kaarwan Mil Gayen Hai.

3

love shayari 3
माना की तुम जीते हो ज़माने के लिये,

एक बार जी के तो देखो हमारे लिये,

दिल की क्या औकात आपके सामने,

हम तो जान भी दे देंगे आपको पाने के लिये!

4

love shayari 4
खामोश बैठें तो लोग कहते हैं उदासी अच्छी नहीं,

जरा-सा हंस लें तो मुस्कुराने की वजह पूछते हैं।

5

love shayari 5
तू पूछ लेना सुबह से न यकीन हो तो शाम से,

ये दिल धड़कता है सिर्फ तेरे ही नाम से।

6

तुम्हारे साथ खामोश भी रहूँ तो बातें पूरी हो जाती हैं,

तुम में तुम से

तुम पर ही मेरी दुनिया पूरी हो जाती है!

7

अगर कभी उदास हो जाओ तो मेरे हँसी मांग लेना,

अगर कभी कोई गम आपके पास आये तो मेरी ख़ुशी मांग लेना,

खुदा आपको लम्बी उम्र दे जीने के लिए,

अगर एक पल भी कम पड़े तो मेरी मेरी जिंदगी मांग लेना।

8

Apni Har Saans Me Aabaad Kiya Hai Tumko,

Ai Meri Jana Bahut Yaad Kiya Hai Tumko,

Meri Zindagi Me Tum Nahin To Kuch Bhi Nahi,

Apni Zindagi Se Badkar Pyar Kiya Hai Tumko.

9

तेरी झील सी आँखों में डूब जाने का दिल चाहता है,

वफ़ा पर तेरी बर्बाद हो जाने का दिल चाहता है,

कोई सम्भाले हमे,

बहक रहे हैं कदम,

तेरे इश्क में मर जाने का दिल चाहता है।

10

Jab Kabhi Toot Kar Bikhro To Batana Humko,

Hum Tumhe Ret Ke Zarron Se Bhi Chun Sakte Hain.

11

Chehre Par Marne Wale Hajaar Mil Jayenge,

Kuchh Log Har Jarurat Poori Kar Jayenge,

Khwahish Hai Uski Jo Dil Se Samjhe Humein,

Hum To Zindagi Bhi Uske Naam Kar Jayenge.

12

पहली मोहब्बत में दिल जिसे चुनता है,

वो अपना हो न हो लेकिन दिल उसी को चुनता है।

13

जब किसी से कोई गिला रखना,

सामने अपने आईना रखना,

मिलना-जुलना जहां ज़रूरी हो,

मिलने-जुलने का हौंसला रखना.

14

तेरी मोहब्बत ने हमे बेनाम कर दिया,

हमे हर ख़ुशी से अंजान कर दिया,

हमने तो कभी नही चाहा था हमे मोहब्बत हो,

लेकिन उसकी पहली नज़र ने हमे नीलाम कर दिया।

15

जब कोई ख्याल दिल से टकराता है,

दिल न चाह कर भी खामोश रह जाता है,

कोई सब कुछ कहकर प्यार जताता है,

कोई कुछ न कहकर भी सब बोल जाता है।

16

Gulab Ki Mehak Bhi Fiki Lagti Hai,

Kaun Si Khushbu Mujme Basa Gayi Ho Tum,

Zindgi Hai Kya Teri Chehat Ke Siva,

Yeh Keisa Khawb Aankho Ko Dikha Gayi Ho Tum.

17

Dil Mera Bahut Najuk Hai,

Jara Ise Sambhal Kar Rakhna,

Tumse Juda Na Ho Hum,

Bas Itni Dua Karna.

18

Tareeka Mere Qatl Ka Tum Ek Yeh Bhi Eejaad Karo,

Mar Jaaun Main Hichkiyon Se Mujhe Itna Yaad Karo.

19

आपको याद करना मेरी आदत बन गई है,

आपका खयाल रखना मेरी फितरत बन गई है,

आपसे मिलना ये मेरी चाहत बन गई है,

आपको प्यार करना मेरी किस्मत बन गई है।

20

My Love For You Is Like Water,

Falling Countless,

The Beating Of My Heart,

For You Is So Heavy And Soundless,

The Feeling Of Being In Your Arm Is So Precious And Endless.

21

Pyar Me Bewafai Mile To Gum Na Karna,

Apni Aankhe Kisi Ke Liye Num Na Karna,

Wo Chahe Laakh Nafrat Kare Tumse,

Par Tum Apna Pyar Kabhi Uske Liye Kam Na Karna.

22

न गुलफाम चाहिये,

न कोई सलाम चाहिये,

मोहब्बत का बस कोई पैगाम चाहिये,

और जिसको पीकर उड़ जायें होश हमारे,

हमारे ल्वजो को तो ऐसा ज़ाम चाहिये।

23

तेरी मोहब्बत ने हमे बेनाम कर दिया,

हर ख़ुशी से हमे अंजान कर दिया,

हमने तो नही चाहा था हमे भी मोहब्बत हो,

लेकिन तेरी पहली नज़र ने मुझे नीलाम कर दिया।

24

एक उम्र है जो तेरे बगैर गुजारनी है,

और एक लम्हा है जो तेरे बगैर गुज़रता नहीं.

25

Pyaar Karte Ho Mujhse To Izhaar Kar Do,

Apni Mohabbat Ka Zikar Aaj Sare Aam Kar Do,

Nahi Karte Agar Pyaar To Inkaar Kar Do,

Ye Lo Mera Masoom Dil Iske Tukde Hazar Krdo.

26

अगर मैं जानता हूँ कि प्यार क्या है,

तो इसकी वज़ह सिर्फ तुम हो।

27

Tamanna Yahi Hai Meri

Ki Mere Haathon Me Haath Tera Ho

Zindagi Chahe Pal Bhar Ki Ho Ya Ho Sadiyon Ki

Saari Zindagi Bas Saath Tera Ho.

28

आदत बदल दू कैसे तेरे इंतेज़ार की,

ये बात अब नही है मेरे इकतियार की,

देखा भी नही तुझ को फिर भी याद करते है,

बस ऐसी ही खुश्बू है दिल मे तेरे प्यार की.

I Love Shayari Hindi

29

कुछ देर का इंतज़ार मिला हमको,

पर सबसे प्यारा यार मिला हमको,

तेरे बाद किसी और की ख्वाइश न रही,

क्योंकि तेरे प्यार से सब कुछ मिला हमको।

30

Tujhse Rubaru Hokar Baatein Karu,

Nigahe Milakar Wafa Ke Vaade Karu,

Thaam Kar Tera Hath Baith Jaun Tere Samne,

Teri Haseen Surat Ke Nazaare Karu.

31

अपनी मोहब्बत में बस इतना सा उसूल है,

जब तू कुबूल है तो तेरा सब कुछ कुबूल है।

32

Kaash Use Chahne Ka Arman Na Hota,

Main Hosh Me Rehte Hue Anjan Na Hota,

Na Pyar Hota Kisi Pathar Dil Se Humko,

Ya Phir Koyi Pathar Dil Insaan Na Hota.

33

Bholi Si Ada Koi Phir Ishq Ki Zid Par Hai

Phir Aag Ka Dariya Hai Aur Doob Ke Jana Hai.

34

क्यों सताते हो हमें बेगानो की तरह,

कभी तो याद करो चाहने वालों की तरह,

हम में थी कोई कमी जो आपको याद ना आये,

आपमें थी कुछ बात जो हम आपको भुला ना पाये.

35

मोहब्बत तो जीने का नाम है

मोहब्बत तो यूँ ही बदनाम है

एक बार मोहब्बत कर के तो देखो

मोहब्बत हर दर्द पिने का नाम है।

36

Tujhko Bnane Vala Tujh Par Naz Karta Hai,

Tera Chahne Wala Teri Chahat Se Pyar Krta Hai,

Sach Hai Tu Hoti Hai Kisi Aur Ki Mohabbat,

Ji Rha Hua Har Saksh Tujhe Pyar Krta Hai.

37

कितना प्यार है उनसे काश वो ये जान लें,

वो ही है ज़िंदगी मेरी ये बात मान लें,

उनको देने को नहीं कुछ पास हमारे,

बस एक जान है हमारी जब चाहे मांग लें!

38

Jis Din Sapno Me Unka Didaar Ho Jata Hai,

Us Raat Sona Bhi Duswaar Ho Jata Hai,

Marta Hai Koi Hum Par Bhi,

Ye Soch Kar Apne Aap Se Pyaar Ho Jata Hai.

39

सफर वहीं तक जहाँ तक तुम हो,

नजर वहीं तक जहां तक तुम हो,

हज़ारों गुल देखें हैं गुलशन में हमने,

पर खुशबू वहीं तक जहां तक तुम हो।

40

Tujhe Khwabon Me Pakar Dil Ka Karaar Kho Jata Hai,

Jitna Rokun Khud Ko Tujhse Pyar Ho Hi Jata Hai.

41

वो चाहते है जी भर के प्यार करना और हम सोचते है,

वो प्यार ही क्या जिससे जी भर जाए.

42

मेरी सांसो पर नाम बस तुम्हारा है,

मैं अगर खुश हूं तो ये एहसान तुम्हारा है।

Pyar Bhari Shayari

43

न जाने क्यों वो हमसे मुस्कुरा ☺कर मिलते हैं,

अंदर के सारे गम छुपा कर मिलते हैं,

वो जानते हैं शायद नजरे सच बोलती हैं,

इसलिये वो हमसे नजरे झुका कर मिलते हैं।

44

Dil Ki Kitaab Me Gulab Unka Tha,

Raat Ki Neendo Me Khwab Unka Tha,

Kitna Pyar Karte Ho Jab Humne Puchha,

Mar Jayenge Tumhare Bina Ye Jawab Unka Tha.

45

तेरा चेहरा सुब्ह का तारा लगता है,

सुब्ह का तारा कितना प्यारा लगता है,

तुम से मिल कर इमली मीठी लगती है,

तुम से बिछड़ कर शहद भी खारा लगता है,

रात हमारे साथ तू जागा करता है,

चाँद बता तू कौन हमारा लगता है,

किस को खबर ये कितनी कयामत ढाता है,

ये लड़का जो इतना बेचारा लगता है,

तितली चमन में फूल से लिपटी रहती है,

फिर भी चमन में फूल कँवारा लगता है,

‘कैफ’ वो कल का ‘कैफ’ कहाँ है आज मियाँ,

ये तो कोई वक्त का मारा लगता है।

46

Safar Wahi Tak Hain Jaha Tak Tum Ho,

Nazar Wahi Tak Hain Jaha Tak Tum Ho,

Phool Bahut Dekhe Hain Is Gulshan Mein,

Khusbu Wahi Tak Hain Jaha Tak Tum Ho.

47

Sukoon Mil Gaya Hai Mujhko Badnaam Hokar,

Aapke Har Ek Ilzaam Pe Yun Bejubaan Hokar,

Log Parh Hi Lenge Aapki Aankho Me Mohabbat,

Chaahe Kar Do Inkaar Yun Hi Anjaan Ho Kar.

48

ऐसी क्या दुआ दूं

आपको जो आपके लबो पर हँसी के फूल खिलें।

बस यही दुआ है मेरी

सितारों से रोशन ख़ुदा आपकी तकदीर बने।

49

Gum Hi Gum Hain Meri Zindagi Me,

Pyaar Mere Paas Nahi,

Dil Bhi Usko Diya Jiske Milne Ki Aas Nahi.

50

हम पीना चाहते है उनकी निगाहों से,

हम जीना चाहते हैं उनकी पनाहों में,

हम चलना चाहते हैं उनकी राहों में,

हम मरना चाहते हैं उनकी बाहों में!

51

Humne Dekhi Hai Inn Aankhon Ki Mahekti Khushbu,

Haath Se Chhu Ke Ise Ishq Ka Ilzaam Na Do,

Ek Ehsaas Hai Ise Rooh Se Mahsoos Karo,

Pyar Ko Pyar Hi Rehne Do Ise Koi Dusra Naam Na Do.

52

जब किसी की रूह में उतर जाता है मोहब्बत का समंदर,

तब लोग जिन्दा तो होते हैं लेकिन किसी और के अंदर।

53

दिल के कोने से एक आवाज़ आती है,

हमें हर पल उनकी याद आती है,

दिल पूछता है बार – बार हमसे,

के जितना हम याद करते है उन्हें,

क्या उन्हें भी हमारी याद आती है.

True Love Shayari

54

दुनिया मे मोहब्बत आज भी बरकरार है,

क्योंकि एकतरफा प्यार अब भी वफादार है।

55

ढलती शाम का खुला एहसास है,

मेरे दिल में तेरी जगह कुछ खास है,

तू नहीं है यहाँ मालूम है मुझे पर,

दिल ये कहता है तू यहीं मेरे पास है।

56

Chalo Apni Chaahate Neelaam Karte Hain,

Mohabbat Ka Sauda Sare Aam Karte Hain,

Tum Kebal Apna Saath Hamare Naam Kardo,

Hum Apni Zindagi Tumhare Naam Karte Hain.

57

तुम साथ हो तो दुनियां अपनी सी लगती है,

वरना सीने मे सांसे भी पराई सी लगती है.

58

अपनी कलम से लिखूं वो लफ़्ज़ हो तुम,

अपने दिमाग से सोच लूँ वो ख्याल हो तुम,

अपनी दुआओ में मांग लूँ वो मन्नत हो तुम,

और जिसे हम अपने दिल में रखते हैं वो चाहत हो तुम।

59

Aap Rutha Na Kro Humse,

Mere Dil Ke Dhadkan Badh Jati Hai,

Dil Ton Aapke Naam Kar Hi Chuke Hai Hum,

Ek Jaan Hi Baki Hai,

Vo Bhi Nikal Jati Hai.

60

बस आखरी बार इस तरह मिल जाना,

मुझ को रख लेना या मुझ में रह जाना.

61

वो दिल ही क्या जो वफ़ा ना करे,

तुझे भूल कर जीयूं खुदा ना करे,

रहेगा तेरा प्यार ज़िंदगी बन कर,

वो बार और है अगर ज़िंदगी वफ़ा ना करे.

62

Jhuthi Baton Se Dil Darta,

Jhuthe Pyar Se Dur Rehta Hai,

Anjani Mein Na Koi Dokha De,

Ye Rab Se Dua Karta Hai.

Love Shayari for boyfriend

63

Chehre Pe Mere Zulfo Ko Phailao Kisi Din,

Kyu Roz Sirf Garajate Ho,

Baras Jao Kisi Din,

Khushbu Ki Tarah Guzro Mere Dil Ki Gali Se,

Phulon Ki Tarah Mujpe Bikhar Jao Kisi Din.

64

Itna Guroor Kis Baat Ka Ladkon,

Hamari Aik Ishare Ki Maar Ho Tum.

65

मैं तुम्हारे संग अपनी जिंदगी गुजारना चाहती हूँ,

वक्त नही।

66

उनके देखे से जो आ जाती है मुंह पर रौनक़,

वो समझते हैं कि बीमार का हाल अच्छा है.

67

अपने होंठों पर सजाना चाहती हूँ,

आ तुझे मैं गुनगुनाना चाहती हूँ,

कोई आँसू तेरे बाजूओं पर गिराकर,

बूँद को मोती बनाना चाहती हूँ,

थक गयी मैं करते-करते याद तुझको,

अब तुझे मैं याद आना चाहती हूँ,

आख़री हिचकी तेरे ज़ानों पे आये,

मौत भी मैं शायराना चाहती हूँ.

68

Tujhe Palko Pe Bithane Ko Jee Chahta Hai,

Teri Baho Se Lipatne Ko Jee Chahta Hai,

Khubsurti Ki Intehaa Hain Tu,

Tuje Zindagi Me Basane Ko Jee Chahta Hai.

Love Shayari for girlfriend

69

Sochta Hun Milkar Tujhse Dil Ka Hal Kahunga,

Khamosh Ho Jaunga Jo Tujhse Milunga,

Koshish Karunga Dil Ki Bat Ankhon Se Kehne Ki,

Tu Samajh Le Mujhe Ye Rab Se Dua Karunga.

70

Itna Khoobsurat Chehara Hai Tumhara,

Har Dil Diwana Hai Tumhara,

Log Kehate Hai Chand Ka Tukda Ho Tum,

Lekin Ham Kehate Hai Chand Tukda Hai Tumhara.

71

आखों की गहराई में तेरी खो जाना चाहता हूँ,

आज तुझे बाँहों में लेकर सो जाना चाहता हूँ,

तोड़ कर हदे मैं आज सारी अपना तुझे बना लेना चाहता

72

Zindagi Ki Har Ek Udaan Baaki Hai,

Har Mod Pr Ek Imtihan Baki Hai,

Abhi To Sirf Aap Hi Pareshan Hai,

Mujhse Abhi To Pura Hindustan Baaki Hai.

73

जब ख्याल तेरा मेरे दिल में आता रहा,

तो बहुत देर तक मेरा दिल जोर से धड़कता रहा,

जो तेरा जिक्र कल मेरे घर में छिड़ गया,

तो बहुत देर तक मेरा घर महकता रहा।

Sad Love Shayari

74

Yun Dur Rehkar Duriyon Ko Badaya Nahi Karte,

Apne Deewane Ko Is Tarah Sataya Nahi Karte,

Har Waqt Bas Jise Tumhara Hi Khayal Ho,

Use Apni Awaaz Ke Liye Tadpaya Nahi Karte.

75

कैसे बयान करें सादगी अपने महबूब की

पर्दा हमीं से था मगर नजर भी हमीं पे थी।

76

Jis Ko Tum Chaaho Wo Mohabbat,

Aur Jo Tumhein Chaahe Us Ka Kya?

Jis Ke Liye Tum Roye Wo Mohabbat

Jo Tumare Liye Roya Uska Kya?

Jis Ke Liye Tum Tarpe Wo Mohabbat

Jo Tumhare Liye Tarpa Uska Kya?

Jis Ko Tumne Chaaha Wo Tumko Mile

Aur Jis Ko Tum Na Mile Uska Kya?

77

छोड़ दिया मैंने अपने दिल का साथ,

प्यार ने थाम लिया है तनहाई का हाथ।

इतना तो गुरूर है मुझे आज भले अहसासों ने छोड़ा,

तनहाई न होगी दगाबाज़।

78

Bhula Diya Tujhko Tere Hr Ehassas Ko,

Mita Diya Hr Drd Ko Teri Hr Yad Ko,

Phir Kyu Aaj Aesa Hua.. Jb Tu Mere Samne Aaya,

Teri Yaado Ko Mene Phir Apne Rubaru Paya.

79

Zindagi 1 Raat Hai Jisme Na Jaane Kitne Khawab Hai,

Jo Mil Gya Wo Apna Hai,

Jo Toot Gaya Wo Sapana Hai.

80

Dard Jitna Saha Jaye Utna Hi Sehna,

Kisike Dil Ko Lag Jaye Woh Baat Na Kehna,

Milte Hain Hamare Jaise Log Bahut Kam,

Isliye Hamse Kabhi Alvida Naa Kehna.

81

Tum Loutkar Aa Jana Jab Bhi Tumhara Dil Kare

Sau Bar Bhi Lautoge To Hame Apna Hi Paoge.

82

उसकी याद आई है सांसो,

ज़रा आहिस्ता चलो,

धड़कनों से भी इबादत में ख़लल होता है.

83

आग लगी दिल में जब वो खफ़ा हुए,

एहसास हुआ तब,

जब वो जुदा हुए,

करके वफ़ा वो हमे कुछ दे न सके,

लेकिन दे गये बहुत कुछ जब वो वेबफा हुए।

84

याद रखना ही मोहब्बत में नहीं है सबकुछ,

भूल जाना भी बड़ी बात हुआ करती है…

85

Kaha Koi Aisa Mila Jis Par Dil Luta Dete,

Har Ek Ne Dhoka Diya Kis-Kis Ko Bhula Dete,

Hum Apna Gum Dil Me Dabaye Phirte Hai,

Karte Hai Baya To Mehfil Ko Rula Dete Hai.

86

देख मेरी आँखों में ख्वाब किसके हैं,

दिल में मेरे सुलगते तूफ़ान किसके हैं,

नहीं गुज़रा कोई आज तक इस रास्ते से,

फिर ये क़दमों के निशान किसके हैं.

87

दो बातें उनसे की तो दिल का दर्द खो गया,

लोगो ने हमसे पूछा तुमको क्या हो गया,

हम तो बस यूँ ही मुस्कुरा कर रह गये,

अब कैसे कह हमे भी किसी से प्यार हो गया।

88

शुक्र करो हम दर्द सहते हैं,

लिखते नहीं,

वरना काग़ज़ों पर लफ्ज़ों के जनाज़े उठते.

89

आंखों से दूर दिल के करीब था,

मैं उसका,

वो मेरा नसीब था,

न कभी मिला न जुदा हुआ,

रिश्ता हम दोनों का कितना अजीब था.

90

वो आँखों से अपनी शरारत करते हैं,

वो अपनी अदाओं से कयामत करतें हैं।

हमारी निगाहें उनके चहरे से हठतीं नही,

और वो हमारी निगाहों की शिकायत करतें हैं।

More Romantic Love Shayari

91

ये जिंदगी कितनी खूबसूरत है,

बस अब आप आइये आपकी ही जरूरत है।

92

Sabhi Takto Se Badi Hai Jo Pyar Ki Takat,

Insan Vahin Kush Hai Jha Ki Hai Mohabbat,

Yakin Nahi To Un Marne Valo Se Puchoo,

Vo Insan Nahi Haiwan Hai Jinke Dil Mein Hai Nafrat.

93

Na Gulfaam Chahiye,

Na Salaam Chahiye,

Na Mubarak Ka Koi Paigam Chahiye,

Jisko Pee Ker Hosh Urr Jayain,

Labon Ko Aisa,Jaam Chahiye!!

94

Shauk A Mohabbat Aur Bhi Badha Deta Hai,

Har Baar Uska Nahin Nahin Karna.

95

मैं देखू तो सही ये

दुनियां तुझे कैसे सताती है

कोई दिन के लिए तुम अपनी

निगेह्वानी मुझे दे दो।

96

Behke Behke Hi Andaaz E Bayaan Hote Hain

Jab Aap Hote Hain To Hosh Kahan Hote Hain.

97

Hum Yaad Tujhi Ko Karte He

Ek Ada Pe Marte He

Ek Hi Baat Se Darte He

Ki Aap Close-Up Kyo Nahi Karte He.

98

झूठ बोलकर तो मैं भी दरिया पार कर जाता

डुबो दिया मुझे सच बोलने की आदत ने.

99

Roj Woh Khwab Mein Aate Hain Gale Milne Ko

Main Jo Sota Hun Toh Jaag Uthhti Hai Kismat Meri.

100

तलब करें तो ये आंखें भी उनको दे दें हम,

मगर वो तो इन आंखों के ख्वाब मांगते हैं.

101

Har Vaqt Fizaon Mein Mahasoos Karoge Tum,

Main Pyaar Kee Khashaboo Hoon Mahakoongee Zamaane Tak.

102

Kaash Ik Din Aisa Bhi Aaye Hum Teri Bahon Me Sama Jayen,

Sirf Hum Ho Aur Tum Ho Aur Waqt Hi Thhar Jaye.

103

Is Pyaar Ka Kissa Kya Likhana,

Ek Baithak Thee Barkhaast Huyee.

104

Meri Baahon Me Bahekne Ki Sazaa Bhi Sun Le,

Ab Bahut Der Me Main Aazad Karunga Tujh Ko.

105

याददाश्त का कमजोर होना उतना भी बुरा नहीं,

बड़े बैचेन रहते हैं वो जिन्हें हर बात याद रहती है.

106

Ek Chhoote Se Sawal,

Par Itni Khamoshi.

Bas Itna Hi Toh Puchha Tha,

Kabhi Wafaa Ki H Kisi Se?

107

मिल सके जो आसानी से,

उसकी ख्वाहिश किसे है,

जिद्द तो उसकी है,

जो मुकद्दर में लिखा ही नहीं है।

108

Abhi To Saath Chalna Hai,

Samandar Ki Musafat Mein,

Kinare Par Hi Dekhenge,

Kinara Kaun Karta Hai.

109

मौत उसकी है करे जिसका ज़माना अफसोस,

यूं तो दुनिया में सभी आए हैं मरने के लिए.

110

Raat Ka Chand Aasman Me Nikal Aaya Hai,

Sath Me Taron Ki Barat Laya Hai,

Zara Aasman Ki Or Dekho Wo Aapko,

Meri Or Se Good Night Kehne Aaya Hai.

111

Dil Ke Liye Hayat Ka Paigaam Ban Gayi,

Bechainiya Simat Ke Tera Naam Ban Gayi.

112

मांगकर तुझसे खुशी लूं मुझे मंज़ूर नहीं,

किस का मांगी हुई दौलत से भला होता है.

113

वो समझे या ना समझे मेरे जज्बात को,

मुझे तो मानना पड़ेगा उनकी हर बात को,

हम तो चले जायेंगे दुनिया से एक दिन,

मगर देख लेना वो सोंएगे अकेले हर रात को ।

114

Kuchpal Ke Liye To Aa Jao Vaapis,

Hum Dil Ki Kahani Keh Denge,

Samjhe Naa Tum Jo In Aankho Se,

Voh Baat Zubaani Keh Denge.

115

ऐ आसमां तेरे ख़ुदा का नहीं है ख़ौफ़,

डरते हैं ऐ ज़मीन तेरे आदमी से हम.

116

Ye Maana Na Khul Saka,

Kaun Hoon,

Kis Se Pyaar Karata Hoon.

117

कुछ रिश्तों की चमक नहीं जाती,

कुछ यादों की कसक नहीं जाती,

कुछ दोस्तों से होता है ऐसा रिश्ता,

के दूर रह कर भी उनकी महक नहीं जाती।

118

टूट जाएगी तुम्हारी जिद की आदत उस दिन,

जब पता चलेगा कि याद करने वाला अब याद बन गया!

119

Aadat Ke Baad Dard Bhi Dene Laga Maza,

Hans Hans Ke Aah Aah Kiye Ja Raha Huun Main.

120

उसके साथ रहते रहते हमे चाहत सी हो गयी,

उससे बात करते करते हमे आदत सी हो गयी,

एक पल भी न मिले तो न जाने बेचैनी सी रहती है,

दोस्ती निभाते निभाते हमे मोहब्बत सी हो.

121

चंद रातों के ख्वाब उम्र भर की नींद मांगते हैं।

122

Aap Kahte The Ki Roney Se Na Badlengey Naseeb,

Umr Bhar Aap Ki Is Baat Ne Rone Na Dia.

123

नहीँ चाहिए मुझे ऐसी खुशी जो तुझ से दूर कर दे,

मै राजी हूँ ऐसे दुखो मे भी,

जो तुझ को याद करने पर मजबूर कर दे.

124

ख़ामोश ज़िन्दगी जो बसर कर रहे हैं हम,

गहरे समंदरों में सफर कर रहे हैं हम.

125

Kya Bat Hai Jo Tujhe Dekha Apna Hosh Gavan Diya,

Jisme Tum Mili Use Apna Bna Liya,

Main Bhi Dar-Bdar Firta Diwano Ki Trah,

Ki Ek Teri Surat Ne Mujhe Shayar Bna Diya.

126

Zaroori Kaam Hai Lekin Rojana Bhul Jata Hu,

Mujhe Tumse Mohabbat Hai Batana Bhul Jata Hu,

Teri Galion Me Firna Itna Achha Lagta Hai,

Mein Rasta Yaad Rakhta Hun Thhikana Bhul Jata Hu,

Bas Itni Baat Par Main Logon Ko Achha Nahi Lagta,

Main Neki Kar To Deta Hun Jatana Bhul Jata Hu.

127

वो पूँछतें हैं की हमे क्या हुआ है,

अब हम उनसे कैसे कह उनसे इश्क हुआ है।

128

हर एक हसीन चहरे में गुमान उसका था,

वस सका न इस दिल कोई क्योंकि ये मकान उसका था,

मिट गया हर एक गम मेरे दिल से,

लेकिन जो मिट न सका मेरे दिल से वो नाम उसका था।

129

लबों पर उसके कभी बददुआ नहीं होती,

बस एक मां है,

जो कभी ख़फ़ा नहीं होती।

130

Ro Rokar Guzare Din,

Tadap-Tadap Ke Guzare Ratein,

Nasib Se Koi Pal Milen,

Ho Tumse Pyar Ki Batein.

131

बडी हसीन हो तुम,

रोज आईने पर यूं सितम ना ढाया करो,

माना मिलना सही नहीं दुनिया की नजरों में हमारा,

कभी कभी सपनों में तो आ जाया करो.

132

Main Ghar Se Teri Tamanna Pahan Ke Jab Niklu,

Barhana Shahar Me Koi Nazar Na Aaye Mujhe.

133

एक ही ख्वाब देखा है कई बार मेने,

तेरी साडी में उलझी है चाबियां मेरे घर की.

134

कभी तो शाम ढले अपने घर गए होते,

किसी की आँख में रह कर सँवर गए होते.

135

मैं यूँ मिलूँ तुझसे की तेरा लिबास बन जाऊँ,

तुझे बना कर समंदर खुद प्यास बन जाऊँ,

आज पहलू में टूट कर बिखर जाऊँ,

कल को शायद मुमकिन नही हो मैं तुझको पाऊँ।

136

Kaisi Beeti Raat Kisi Se Mat Kehna,

Sapno Wali Baat Kisi Se Mat Kehna,

Kaise Uthhe Baadal Aur Kahan Jakar Takraye,

Kaisi Hui Barsaat Kisi Se Mat Kehna.

137

वह अक्लमंद कभी जोश में नहीं आता,

गले तो लगता है,

आगोश में नहीं आता।

138

आपकी परछाई हमारे दिल में है,

आपकी यादें हमारी आँखों में हैं,

आपको हम भुलाएं भी कैसे,

आपकी मोहब्बत हमारी सांसो में हैं।

139

जिंदगी किस क़दर आसां होती रिश्ते गर होते लिबास और बदल लेते क़मीज़ों की तरह.

140

Tumhara Dukh Hum Seh Nahi Sakte,

Bhari Mehfil Mein Kuch Keh Nahi Sakte,

Hamare Girte Hue Aansuo Ko Pad Kar Dekho,

Woh Bhi Kehte Hai Ke Hum Aapke Bin Reh Nahi Sakte.

141

Manzile Tere Alawa Bhi Kayi Hain Lekin,

Zindagi Aur Kisi Raah Pe Chalti Hi Nahi.

142

उसके दुश्मन हैं बहुत आदमी अच्छा होगा,

वो भी मेरी ही तरह शहर में तन्हा होगा.

143

तुम्हारी फिक्र है मुझे इसमे कोई शक नही,

तुम्हे कोई और देखे किसी को ये हक नही।

144

तोहमतें तो लगती रहीं रोज नई नई हम पर,

मगर जो सबसे हसीन इल्जाम था वो तेरा नाम था।

145

Nahi Hai Hausla Mujhme Tumhein Khone Ka Par Sun Lo,

Ye Duniya Mujhko Kho Degi Agar Tum Kho Gaye Mujhse.

146

बिन देखे ही तेरा यूँ मोहब्बत करना मुझसे,

बस तेरी यही चाहत ही तो मेरा नसीब है.

147

Andaaz Badalne Lagte Hai,

Aankhon Me Shararat Rahti Hai,

Chehre Se Pata Chal Jata Hai,

Jab Dil Me Mohabbat Hoti Hai.

148

Ajeeb Ka Love Tha Uski Udaas Aankon Me,

Mahsoos Tak Na Hua Ki Mulaqaat Aakhri Hai.

149

संभाले नहीं संभलता है दिल,

मोहब्बत की तपिश से न जला,

इश्क तलबगार है तेरा चला आ,

अब ज़माने का बहाना न बना।

150

तेरा पता नहीं पर मेरा दिल कभी तैयार नहीं होगा,

मुझे तेरे अलावा कभी किसी और से प्यार नहीं होगा.

151

Palko Mein Aansu Aur Dil Mein Dard Soya Hain,

Hasne Walo Ko Kya Pata Rone Wala Kis Kadar Roya Hai,

Ye To Bas Wohi Jaan Sakta Hai Meri Tanhayi Ka Alam,

Jisne Zindagi Mein Kisi Ko Pane Se Pehle Khoya Hai.

152

Sirf Najdikiyo Se Mohabbat Hua Nahi Karti,

Fasle Jo Dilon Me Ho To Fir Chahat Hua Nhi Karti,

Agar Naraz Ho Khafa Ho To Shikayat Karo Hamse,

Khamosh Rahne Se Dilo Ki Duriya Mita Nhi Karti.

153

किया है प्यार जिसे हमने ज़िन्दगी की तरह,

वो मिला भी हमसे अजनबी की तरह,

किसे ख़बर थी बढ़ेगी कुछ और तारीकी,

छुपेगा वो किसी बदली में चाँदनी की तरह।

154

Chupke Se Dhadkan Me Utar Jaayenge,

Raahen Ulfat Me Had Se Guzar Jaayenge,

Aap Jo Hamen Itna Chahenge,

Hum To Aapki Saanson Me Pighal Jaayenge.

155

दिल पर आये इल्ज़ाम से पहचानते हैं,

अब लोग तो मुझे तेरे नाम से पहचानते हैं।

156

तुझ पर एतवार करना हैं,

दिल जान से प्यार करना है,

मेरी ख्वाइश ज्यादा नही बस इतनी हैं,

तुझे हर लम्हे में अपना बना कर रखना है।

157

बस आखरी बार इस तरह मिल जाना,

मुझ को रख लेना या मुझ में रह जाना.

158

इश्क-ऐ-दरिया में हम डूब कर भी देख आये,

वो लोग मुनाफे में रहे जो किनारे से लौट आये.

159

उनकी यादो को प्यार करते है,

लाखो जनम उन पर निसार करते है,

अगर राह में मिले वो आपसे,

तो कहना उनसे हम आज भी उनका इंतज़ार करते है.

160

अगर तुम न होते तो ग़ज़ल कौन कहता,

तुम्हारे चहरे को कमल कौन कहता,

यह तो करिश्मा है मोहब्बत का,

वरना पत्थर को ताज महल कौन कहता।

161

बहुत कुछ है जिसे मैं फूंक देना चाहता हूं.

162

कैसे कर लुँ उसकी महोब्बत पे शक यारो.

वो भरी महफिल में मुझे गले लगा कर रोई.

163

Tum Apna Ranjo Gam Apni Pareshani Mujhe De Do,

Tumhe Meri Kasam Ye Dukh Ye Hairani Mujhe De Do,

Ye Maana Main Kisi Kabil Nahi Inn Nigahon Ke,

Bura Kya Hai Agar Iss Dil Ki Veerani Mujhe De Do.

164

क्यों किसी से इतना प्यार हो जाता है,

एक दिन का भी इंतज़ार दुष्वार हो जाता है,

अपने भी लगने लगते हैं पराये,

जब एक अजनबी पर एतवार हो जाता है।

165

दिल की बातें दूसरों से मत कहो

लुट जाओगे आजकल इज़हार के धंधे में है घाटा बहुत.

166

Meri Taraf Na Aa Mujhe Pya Na Kar,

Dil Ka Kehna Na Man Dimag Ka Kha Kar,

Mil Sakte Hai Bahut Tujhe Pyar Karne Wale,

Mai Tere Layak Nahi Mera Intzar Na Kar.

167

Dil Ki Dhadkan Aur Meri Sadaa Hai Wo,

Meri Pehli Aur Aakhiri Wafa Hai Wo,

Chaha Hai Use Chahat Se Bhi Barh Kar,

Meri Chahat Aur Chahat Ki Inteha Hai Wo.

168

Usne Aakhri Mulaqat Karke Meri Zindagi Ki Raat Kardi,

Abhi Thik Se Usko Jana Bhi Nhi Tha Ki Usne Jane Ki Baat Kardi,

Jise Naaz Tha Gurbat Pe Meri,

Usne Shaan Paiso Ki Dikha Kar Zahir Meri Aukaat Kardi,

Jiske Lehje Me Sirf Hum Tum Hua Karte The,

Aaj Usne Sharminda Mujhe Punch Kar Meri Zaat Kardi,

Jiski Chahat Me Maine Zamana Chhoda,

Aaj Usne Mujhe Chhod Kar Wahi Siyasat Mere Saath Kardi.

169

Tumhaare Love Ka Mausam,

Har Mausam Se Pyara Hai.

170

तुमसे बिछड़ा तो पसन्द आ गयी बेतरतीबी,

इससे पहले मेरा कमरा भी ग़ज़ल जैसा था!

171

Hanste Huye Tujhko Jab Bhi Dekhta Hu Main,

Tu Hi Duniya Hai Meri Yahi Sochta Hun Main.

172

बहुत सुकून मिलता है जब उनसे हमारी बात होती है,

वो हजारो रातों में वो एक रात होती है,

जब निगाहें उठा कर देखते हैं वो मेरी तरफ,

तब वो ही पल मेरे लीये पूरी कायनात होती है।

173

तेरे नज़रों के तीर इतने शातिर है,

की पता ही नही चलता किस के खातिर हैं।

174

बचाओ लाख दिल को लेकिन मोहब्बत हो ही जाती है,

निगाहे तो आखिर निगाहे हैं ये शरारत हो ही जाती है।

175

Har Kisi Ko Love Se Dekhte Ho,

Is Se Badi Dushmani Kia Hogi.

176

Toone Pyaar Bhee Ajeeb Cheej Banaee Hai Ya Rab,

Tere Hee Saamane Tera He Bandah Raata Hai To Kisee Aur Ke Lie.

177

कभी तुझे धोखा नही देंगे हम पर कुछ एतवार तो करो,

जरा मेरी तरह अपना दिल बेकरार तो करो,

जब तूम सामने होती हो तो जिंदगी में एक रौशनी सी होती है,

एक बार मेरी तरह मुझे तुम प्यार तो करो।

178

जब किसी रात आपको किसी की याद सताए,

और ठंडी हवा आपके बालों को सहलाये,

तो अपनी आँखे बन्द करके सो जाना,

और चुपके से हम आपके ख्वाबो में आ जायें।

179

वक्त बदलता है जिंदगी के साथ,

जिंदगी बदलती है मोहब्बत के साथ,

मोहब्बत नहीं बदलती अपनों के साथ,

बस अपने बदल जाते हैं वक्त के साथ.

180

Asaani Se Dil Lagaaye Jaate Hain,

Magar Mushkil Se Waade Nibhaaye Jaate Hai,

Mohabbat Le Aati Hain Un Raahon Pe,

Jahan Diyon Ke Badle Dil Jalaaye Jaate Hain.

181

Main Deewana Hun Tera Mujhe Inkaar Nahi,

Kaise Keh Dun Ke Mujhe Tumse Pyar Nahi,

Kuchh Shararat To Teri Najron Me Bhi Thi,

Main Akela Hi To Iska Gunahgar Nahi.

182

तू मुझें मिले या ना मिले,

मेरी तो बस यही दुआ है कि तुझें ज़माने की हर ख़ुशी मिले।

183

दिल के मंदिर में सजा़ रखी है मूरत तेरी,

मेरे जीने की तो सूरत है ये सूरत तेरी,

रात दिन साथ रहो.सीने में धड़कन की तरह,

आओ मिल जाऐं हम सुगंध और सुमन की तरह,

एक हो जाऐं चलो जान और बदन की तरह.

184

Chal Rahe Hain Jamane Me Rishwaton Ke Sil-Sile,

Tum Bhi Kuch Le De Kar Hmse Mohabbat Kar Lo.

185

यूँ दूर रह कर दूरियों को बढ़ाया नहीं करते,

अपने दीवानों को सताया नहीं करते,

हर वक़्त बस जिसे आपका ख्याल हो,

उसे अपनी आवाज़ के लिए तड़पाया नहीं करते.

186

Kya Kahein Ab Kuchh Kaha Nahi Jata,

Meetha Sa Dard Hai Aur Saha Nahi Jata,

Mohabbat Ho Gayi Hai Iss Kadar Apse,

Bina Yaad Kiye Apko Ab Raha Nahi Jata.

187

Hukumat Woh Hi Karata Hai Jisaka Dilo Par Raaj Ho,

Varana Yoon To Gali Ke Murgo Ke Sar Pe Bhi Taaj Hota Hai!

188

ख़ुशी से दिल को आबाद करना ग़म से,

ज़िन्दगी को आज़ाद करना बस इतनी सी है,

गुज़ारिश हमारी सोने से पहले हम को भी याद करना.

189

अब आपकी मर्जी है संभालें न संभालें। खुशबू की तरह आपके रुमाल में हम हैं।

190

Raat Ho Din Ho Gaflat Ho Bedaari Ho,

Usko Dekha To Nahi Use Socha Bahut Hai.

191

Kitaabon Se Daleel Du,

Ya Khud Ko Saamane Rakh Du,

Wo Mujhse Poochh Baitha Hai,

Mohabbat Kisko Kehte Hain?

192

Khak Udti Hai Raat Bhar Mujh Me,

Kaun Phirta Hai Dar-Ba-Dar Mujh Me,

Mujh Ko Mujh Me Jagah Nahi Milti,

Koyi Maujood Hai Iss Kadar Mujh Me.

193

उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है,

उनके इंतजार में दिल तरसता है,

क्या कहें इस कम्बख्त दिल को,

अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है।

194

कौन समझे शेर ये कैसे हैं और कैसे नहीं,

दिल समझता है कि जैसे दिल में थे वैसे नहीं.

195

Pyaar Se Dekh Lo You Hee Mar Jayengey,

Har Sitam Aazmaana Zaroori Nahin.

196

हर दिन तुम मेरे दिमाग़ में आने वाली पहली और आख़िरी चीज़ हो।

197

कभी करते है ज़िंदगी की तमन्ना,

तो कभी मौत का इंतज़ार करते है,

वो हमसे क्यों दूर है पता नहीं,

जिन्हे हम ज़िंदगी से भी ज़्यादा प्यार करते है ।

198

आज भी दिल्ली में कुछ लोग हैं ऐसे कि जिन्हें ‘आप’ कहकर जो पुकारो तो बुरा मानते हैं.

199

Na Samet Sakoge Qayamat Tak Jise Tum,

Kasam Tumhari Tumhe Itni Mohabbat Karte Hain.

200

एक न इक रोज़ तो होना है ये जब हो जाए,

इश्क का कोई भरोसा नहीं कब हो जाए।

201

इस शहर में जीने के अंदाज़ निराले हैं होठों पे लतीफ़े हैं,

आवाज़ में छाले हैं.

202

खोते हैं अगर जान तो खो लेने दे,

ऐसे में जो हो पाएगा वो हो लेने दे।

इक उम्र पड़ी है सब्र भी कर लेंगे,

इस वक्त तो जी भरके रो लेने दे।

203

Ek Dard Chhupa Rakha Hai Barso Se Dil Me,

Dil Karta Hai Aaj Kah Du Bhari Mehfil Me,

Kyun Aisa Lagta Hai Ki Mere Raste Mujhse Juda Hain,

Aa Vi Kyun Meri Manzil Mujhse Khafa Hai.

204

Musqurate Hain To Bijliya Gira Dete Hain,

Baat Karte Hain To Deewana Bana Dete Hain,

Husan Walo Ki Nazar Kam Nahi Qayamat Se,

Aag Pani Me Vo Nazaron Se Laga Dete Hain.

205

सकून मिलता है जब उनसे बात होती है,

हज़ार रातों में वो एक रात होती है,

निगाह उठाकर जब देखते हैं वो मेरी तरफ,

मेरे लिए वो ही पल पूरी कायनात होती है।

206

इश्क़ दिल में हो और मन में चोर ना हो,

बादल बरसे और शोर ना हो,

रात जाये फिर भी भोर ना हो,

कलियाँ चटके भौंरों का शोर ना हो,

उफ्फ.. इतनी क़ातिल अदाओ पर भी गौर ना हो,

तलाश.. तुम पर ही खत्म,

हमसफर अब कोई और ना हो।

207

ज़मीं किसी की नहीं आसमां किसी का नहीं,

ना कर मलाल कि कोई यहां किसी का नहीं.

208

Karni Hai Khuda Se Guzarish Itni,

Tere Pyar K Siva Koi Bandagi Na Mile,

Har Janam Me Mile Pyar Tera,

Ya Phir Kabhi Zindagi Na Mile.

209

Koyi Mile Iss Tarah Ke Phir Judaa Naa Ho,

Wo Samjhe Mera Mizaj Aur Kabhi Khafa Na Ho,

Apne Ehsaas Se Baant Le Saari Tanhayi Meri,

Itna Pyar De Jo Pahle Kisi Ne Kisi Ko Diya Na Ho.

210

Socha Aaj Kuch Tere Siva Sochoon,

Abhi Tak Isi Sonch Me Hun Aur Kia Sochoon.

211

मुझे बस तू चाहिये,

ये मत पूछ क्यों चाहिये।

212

उसकी झील सी आँखों में डूब जाने को दिल करता है,

उसके इश्क में तबाह हो जाने को दिल करता है,

कदम बहक रहे हैं और दिल धड़क रहा है,

उसके दीदार में मिट जाने का जी चाहता है।

213

सूखे पत्तो से प्यार कर लेंगे हम,

खुद पर फिर से ऐतबार कर लेंगे हम,

सिर्फ एक बार कह दो तुम मेरे हो सनम,

कसम से तेरा जिंदगी भर इंतज़ार कर लेंगे हम।

214

Tum Jo Bichhde Ho Jaldbaazi Men,

Yaar Tum Rooth Bhi Sakte They.

215

Ye Kaisa Silsila Hai Tere Aur Mere Darmiyan,

Faasle Bahut Hain Magar Mohabbat Kam Nahi Hoti.

216

Bhula Ke Mujhko Agar Tum Bhi Ho Salamat,

To Bhula K Tujko Smbhalna Muje B Aata Hai,

Nahi Hain Meri Fitrat Mein Ye Aadat Warna,

Teri Tarah Badalna Mujhe Bhi Aata Hain.

217

नजरो से क्यों जलाती हो आग चाहत की,

जलाकर क्यों बुझाती हो आग चाहत की,

सर्द रातों में भी कराती हो तपन का एहसास,

हवा देकर क्यों बढ़ाती हो आग चाहत की।

218

Har Zakhm Kisi Thokar Ki Meharbani Hai,

Meri Jindgi Bus Ak Kahani Hai,

Mita Dete Sanam K Dard Ko Sine Se,

Par Ye Dard Hi Uski Akhri Nishani Hai.

219

Pyar Na Dil Se Hota Hai,

Na Dimaag Se Hota Hai,

Yeh Pyar To Ittefaq Se Hota Hai,

Per Pyar Karke Pyar Hi Mile,

Ye Ittefaq Kisi Kisi Ke Sath Hota Hai.

220

एक तेरा दीदार मेरे सारे गमो को भुला देता है,

मेरी जिंदगी को जिंदगी बना देता है।

221

लिखना था कि खुश हैं तेरे बगैर भी यहां हम,

मगर कमबख्त… आंसू हैं कि कलम से पहले ही चल दिए।

222

Mere Haathon Ki Lakeero Me Samaane Wale,

Kaise Chheenenge Tujhe Mujhse Zamane Wale.

223

Dil Jab Tootta Hai To Aawaaj Nahin Aati,

Har Kisi Ko Muhabbat Raas Nahin Aati,

Ye To Apane-Apane Naseeb Ki Baat Hai,

Koi Bhoolata Nahin Aur Kisi Ko Yaad Bhi Nahin Aati.

224

दिल से तेरी निगाह जिगर तक उतार गई,

दोनो को एक आडया मेी रज़ामंद कर गयी.

225

मुझे तो प्यार से लुट लिया है तू ने,

किसी और को मेरी तरह बर्बाद नहीं करना.

226

Aap Jab Tak Rahenge Aankho Me Najara Bankar,

Roj Aayenge Meri Duniya Me Ujala Bankar.

227

आ जाओ किसी रोज़ तुम तो तुम्हारी रूह मे उतर जाऊँ,

साथ रहूँ मैं तुम्हारे ना किसी और को नज़र आऊँ,

चाहकर भी मुझे कोई छू ना सके मुझे कोई इस तरह,

तुम कहो तो यूं तुम्हारी बाहों में बिखर जाऊँ.

228

अपनी मोहब्बत से सजाना है तुझको,

कितनी चाहत है तुझसे ये बताना है तुझको,

राहों में तेरी बिछाकर मोहब्बत अपनी,

इश्क के सफर पर ले जाना है तुझको।

229

Badalna Nahi Aata Humein Mausam Ki Tarah,

Har Ek Rut Me Tera Intezar Karte Hain,

Na Tum Samjh Sakoge Jise Qayaamat Tak,

Kasam Tumhari Tumhein Itna Pyaar Karte Hain.

230

आँखों के सामने हमने हर पल आपको ही पाया है,

हमने तो हर पल इस दिल में बस आपको ही बसाया है,

हम आपके बिना जिए भी तो कैसे,

क्या कोई अपनी जान के बिना भी जी पाया है।

231

नजरें मिले तो प्यार हो जाता है,

पलकें उठे तो इजहार हो जाता है,

न जाने क्या कशिश है चाहत में के,

कोई अंजान भी हमारी जिंदगी का हकदार हो जाता है.

232

Ham Kahin Jayengey Bana Lengey Jagah Apne Liye,

Hamko Aata Hai Hunar Dil Me Utar Jana.

233

बुलंदियों का बड़े से बड़ा निशान छुआ,

उठाया गोद में माँ ने तब आसमान छुआ.

234

Bhool Na Jaun Maangna Use Har Namaaz Ke Baad,

Yehi Soch Kar Humne Naam Uska Dua Rakkha Hai.

235

Sard Raaton Ko Satati Hai,

Judai Teri Aag Bujhti Nahi,

Seene Mein Lagayi Teri Tum Jo,

Kehte The Bichar Kar Main Sukun Paa Lunga,

Phir Kyu Roti Hai Mere Dar Per Tanhayi Teri.

236

किसी न किसी को किसी पर एतवार हो जाता है,

एक अजनबी सा चेहरा ही यार हो जाता है,

खूबियों से ही नही होती मोहब्बत सदा,

किसी की कमियों से भी कभी प्यार हो जाता है।

237

Ilaahi Khair Ho Uljhan Pe Uljhan Barhti Jati Hai,

Na Mera Dam Na Unke Gesuon Ka Kham Niklta Hai,

Qayamat Hi Na Aa Jaye Jo Parde Se Nikal Aao,

Tumhare Munh Chhupane Mein To Yeh Aalam Gujrta Hai.

238

Sangmarmar Ke Mahal Me Teri Tasveer Sajauga,

Mere Iss Dil Me Aye Sanam Tere Khwab Sajaunga,

Aajma Ke Dekh Le Tere Dil Me Bas Jaunga,

Pyar Ka Pyasa Hun Tere Aagosh Me Simat Jaunga.

239

Tera Pyaar(Love) Pahan Kar Pooree Hoon,

Nahin Karana Haar Shrrngaar Piya.

240

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,

यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे वो,

हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे.

241

Bharam Rakho Mohabbat Ka Wafa Ki Shaan Ban Jao,

Kisi Par Jaan De Do Ya Kisi Ki Jaan Ban Jao,

Tumhare Naam Se Mujhko Pukaare Yeh Jahan Wale,

Main Ban Jayun Afsaana Aur Tum Unwaan Ban Jaao.

242

हर एक बात को चुपचाप क्यों सुना जाए?

कभी तो हौंसला कर के नहीं कहा जाए.

243

कौन कहता है प्यार सिर्फ रुलाता है,

अगर दिल से निभाओ तो वही प्यार जिंदगी बन जाता है।

244

अभी कमसिन हैं जिदें भी हैं निराली उनकी,

इसपे मचले हैं हम दर्द-ए-जिगर देखेंगे।

245

ख्वाइश है तुझे अपना बनाने की,

और कोई ख्वाइश नही इस दीवाने की,

शिकायत मुझे तुझसे नही खुदा से है,

क्या ज़रूरत थी तुझे इतना खूबसूरत बनाने की।

246

प्यार क्या होता है हम नहीं जानते,

अपनी ही ज़िंदगी को हम अपना नहीं मानते,

गम इतना मिला है के अब एहसास नहीं होता,

प्यार कोई करे हमसे तो हमें विश्वास नहीं होता ।।

247

Tumahare Baad Bhala Zindagi Kahan Jeetey,

Tumhare Baad To Saya Bhi Hamsafar Na Tha.

248

Fulo Ko Khusbu Ki Or Se,

Sagar Ko Lahro Ki Or Se,

Suraj Ko Kirno Ki Or Se,

Chand Ko Chandni Ki Or Se,

Aapko Hamari Or Se.

249

आप दौलत के तराज़ू में दिलों को तौलें,

हम मोहब्बत से मोहब्बत का सिला देते हैं।

250

Nazro Se Nazro Ka Takrav Hota Hai,

Har Mod Par Kisi Ka Intezar Hota Hai,

Dil Rota Ha Aur Mere Jakhm Haste Hai,

Kya Isi Ka Hi Naam Pyaar Hota Hai.

251

Pyar Mohabbat Aashiqi Ye Bas Alfaaz The,

Magar Jab Tum Mile Tab In Alfaazo Ko Mayane Mile.

252

हर पर्वत को झुका नही सकते,

हर दरिया को सुखा नही सकते,

तुम हमे भूल जाओ भले ही,

लेकिन हम तुम्हे कभी भुला नही सकते।

253

हमने हर बार बदला है खुद को.सिर्फ़ उसकी खातिर,

और वो कहता है..तुम पहले जैसे नहीं रहे.

254

खुदा करे वो मोहब्बत जो तेरे नाम से है,

हजार साल गुजरने पे भी जवान ही रहे।

255

Kal Tak Neendon Mein Sapne The,

Aur Un Sapno Mein Tum The,

Tere Vaste Kayi Khawab Saje The,

Jab Is Dil Mein Arman Jage Hai.

256

Wo Mujse Puch Baithi Ki Mujhe Tum Mante Ho Kya,

Mai Fakt Itna Hi Kah Paya Meri Zindagi Ho Tum.

257

प्यार सभी को जीना सिखा देता है,

वफ़ा के नाम पे मरना सिखा देता है,

प्यार नहीं किया तो मर के देख लो यार,

ज़ालिम हर दर्द सहना सिखा देता है।

258

Chehre Par Hansi Chha Jati Hai,

Aankho Me Suroor Aa Jata Hai,

Jab Tum Mujhe Apna Kehte Ho,

Mujhe Khud Par Guroor Aa Jata Hai.

259

खुद अपनी ही नज़रो मे गिर जाता हु मैं,

जब मेरी हर गलती पे मुस्कुरा के कहती है कोई बात नही.

260

हर कदम हर पल हम आपके साथ है,

भले ही आपसे दूर सही,

लेकिन आपके पास हैं,

जिंदगी में हम कभी आपके हो या न हों,

लेकिन हमे आपकी कमी का हर पल एहसास हैं।

261

किसी ने पूछा इश्क हुआ था क्या?

हमने मुस्कुरा कर कहा आज भी है।

262

जिसके साथ आप हँस सकते हो,

उसके साथ पूरा दिन बिता सकते हो,

लेकिन जिसके साथ आप रो सकते हो,

उसके साथ आप पूरी ज़िन्दगीं बिता सकते हो।

263

मैं तुमसे बेहद प्यार करता हूँ,

इसलिए नहीं कि तुम्हारा चेहरा कैसा है बल्कि इसलिए कि तुम कैसे हो।

264

Zindagi Zakhmo Se Bhari Hai,

Wakt Ko Marham Banana Sikh Lo,

Haarna To Maut Ke Samne Hai,

Zindagi Se To Jeetna Sikh Lo.

265

कभी हँसा देते हो तुम,

कभी रुला देती हो तुम,

कभी कभी नींद से जगा देती हो तुम,

लेकिन जब भी हमे दिल से याद करती हो,

तो सच में हमारी जिंदगी का एक पल बड़ा देती हो तुम।

266

Attitude To Ham Marane Ke Baad Bhi Dikhaenge,

Duniya Paidal Chalegi Aur Ham Kandho Par.

267

Haathon Se Yun Apne Chehre Ko Chhupate Kyu Ho,

Mujh Se Sharmaate Ho Toh Saamne Aate Kyu Ho,

Tum Bhi Meri Tarah Kar Lo Iqraar-E-Wafaa Ab,

Mohabbat Karte Ho To Phir Pyar Chhupate Kyu Ho?

268

अब काश मेरे दर्द की कोई दवा न हो

बढ़ता ही जाये ये तो मुसल्सल शिफ़ा न हो

बाग़ों में देखूं टूटे हुए बर्ग ओ

बार ही मेरी नजर बहार की फिर आशना न हो

269

Dar Haqeekat Mujhey Tumhare Siwa Kuch Nazar Nahin Aata,

Haqeekat Yah Mujhey Tumhare Siwa Kisi Ko Dekhne Ki Chaah He Nahin.

270

Nazakat Leke Aankhon Me Wo Unka Dekhna Tauba,

Maula Ham Unhen Dekhen Ya Unka Dekhna Dekhen.

271

दिल के बाज़ार में दौलत नही देखी जाती।

प्यार अगर हो जाये तो सूरत नही देखी जाती।

272

Tere Naam Ko Apne Labo Par Sajaya Hai Humne,

Teri Rooh Ko Apni Saanson Me Basaya Hai Humne,

Thak Jayegi Duniya Tumhein Dhundte Dhundte,

Dil Ke Aise Kone Me Tumhe Chhupaya Hai Humne.

273

Khwabo Me Ayenge Sms Ki Tarah,

Dil Me Bas Jayenge Ringtone Ki Tarah,

Pyar Kabhi Kam Na Hoga Balance Ki Tarah,

Bas Aap Busy Naa Rehna Network Ki Tarah.

274

Har Ek Manzar Pr Udasi Chhayi Hai,

Chand Ki Roshni Me V Kami Aayi Hai,

Akale Achhe The Hm Apne Aashiane Me,

Jane Q Toot Kr Aaj Fir Apki Yaad Aayi Hai.

275

Sabhi Ko Sab Kuchh Nahi Milta,

Nadi Ki Har Lehar Ko Sahil Nahi Milta,

Yeh Dil Walo Ki Duniya Hain Dost,

Kisi Se Dil Nhi Milta To Koi Dil Se Nhi Mil.

276

जिंदगी में कोई प्यार से प्यारा नही मिलता,

जिंदगी में कोई प्यार से प्यारा नही मिलता,

जो है पास आपके उसको सम्भाल कर रखना,

क्योंकि एक बार खोकर प्यार दोबारा नही मिलता।

277

धीरे से आकर हमारे दिल में उतर जाते हो,

खुशबू की तरह मेरी सांसो में बिखर जाते हो,

अब तो तुम्हारे इश्क में ये हाल हो गया है,

सोतें जागते बस तुम ही तुम नजर आते हो।

278

रात गयी तो तारे चले गऐ ,

गैरों से क्या गिला जब हमारे चले गऐ ,

हम जीत सकते थे कई बाज़िया ,

बस कुछ अपनों को जीताने के लिए हम हारे चले गऐ.

279

Charo Taraf Padhai Ka Saya H,

Har Paper Me Zero Nazar Aya H,

Hm To Yuhi Chale Jate H Bina Muh Dhoye Xm Dene,

Or Log Kehte He Sala Raat Bhar Padhai Kr K Aaya H.

280

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,

यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे,

वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,

और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे!

281

Jene Ke Liye Pina Jaruri Hai,

Jagne Ke Liye Sona Jaruri Hai,

Marne Ke Liye Darna Jaruri Hai,

Hasne Ke Liye Rona Jaruri Hai.

282

सिर्फ इतना ही कहा है,

प्यार है तुमसे;

जज्बातों की कोई नुमाईश नहीं की,

प्यार के बदले सिर्फ प्यार मांगती हूँ,

रिश्ते की तो कोई गुज़ारिश ही नहीं की

283

दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है,

बातें करने का अंदाज हुआ करता है,

जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती,

सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है!

284

सोती हुई आँखों को सलाम हमारा मीठे सुनहरें सपनों को आदाब हमारा,

दिल मे रहे प्यार का एहसास सदा ज़िंदा,

आज की रात का यही है पैग़ाम हमारा।

285

ऐसा कहां कि शहर के मंज़र बदल गए मंज़र वही हैं सिर्फ़ सितमगर बदल गए

286

Kalam Se Dil Ki Awaaz Likhta Hu,

Gum Aur Judai Ke Andaz-E-Bayan Likhta Hu,

Rukte Nahin Aankhon Se Aansu,

Jab Bhi Uski Yaad Me Alfaz Likta Hu.

287

Sabhi Insan Hai Magar Farq Sirf Itna Hai,

Koi Zakhm Deta Hai To Koi Zakhm Bhrta Hai.

Humsafar Bahut Hai Magar Farq Sirf Itna Hai,

Koi Saath Deta Hai To Koi Chhod Deta Hai.

Pyar Sare Karte Hai Magar Farq Sirf Itna Hai

Koi Jaan Deta Hai To Koi Jaan Leta Hai..!!

288

Neend Ka Sath Ho,

Sapno Ki Barat Ho,

Chand Sitaare Bhi Sath Ho,

Or Kuchh Rahe Na Rahe,

Par Hamari Yaade Aapke Sath Ho

289

किसी मोड़ पर उसका दीदार हो जाये,

काश उसे भी मुझ पर एतवार हो जाये,

उसकी पलके झुकें और इकरार हो जाये,

काश उसे भी मुझ से प्यार हो जाये।

290

तेरा वजूद तेरी शख्सियत,

कहानी क्या किसी के काम न आए तो जिंदगानी क्या हवस है जिस्म की,

आंखों से प्यार गायब है बदल गए हैं सभी इश्क के मआनी क्या

291

Khamosh Raastoon Mein Tera Saath Chahiye,

Tanha Hai Mera Haath Tera Haath Chahiye.

292

Unki Tarif Mein Gita Padhta,

Unke Sajde Mein Kuran,

Ye Khuda Mujhe Maf Kar Dena ,

Mera Pyar Hai Meri Jaan.

293

हमने जो की थी मोहब्बत वो आज भी है,

तेरे जुल्फों के साये की चाहत आज भी है,

रात कटती है आज भी ख्यालों में तेरे,

दीवानों सी मेरी वो हालत आज भी है,

किसी और के तसब्बुर को उठती नहीं.

बेईमान आँखों में थोड़ी सी शराफत आज भी है।

294

कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है! कोई कहता है,

प्यार सज़ा बन जाता है! पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से,

तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है!

295

Love Tumhare Baad Aur Wo Bhi Kisi Aur Se,

Aisey Ishq Ka Main Sar Qalam Na Kar Dun.

296

Ajnabi Rishto Ka Naam He Dosti,

Har Gum Ki Dawa He Dosti,

Dost Bichad Jaye To Rota He Dil,

Magar Dosti Tut Jaye To Roti He Zindagi.

297

Dil Todne Walo Ko Saza Kyu Nahi,

Har Kisi Ko Pyar Ki Dua Kyu Nahi ,

Log Kehte Hai Ishk To Ek Bimari Hai,

Fir Medical Me Uski Koi Dawa Kyu Nahi.

298

Ajeeb Taur Tareeqey Hain Uske Bhi Yaaron,

Wo Mujhse Love To Karta Hai,

Par Nahin Karta.

299

मुहब्बत को जब लोग खुदा मानते है,

प्यार करने वालों को क्यों बुरा मानते है,

जब जमाना ही पत्थर दिल है,

फिर पथर से लोग क्यों दुआ मांगते है.

300

Unse Keh Do Kisi Aur Se Mohabbat Ki Na Soche,

Ek Hum Hi Kafi Hain Umr Bhar Chahne Ke Liye.

301

Beautiful Lines About Love –

Pyar Me Isliye Bhi Dhokha Khane Lage Hain Log,

Dil Ki Jagah Jism Ko Chahne Lage Hain Log.

302

देख कर तुम्हारे बहते आँसू,

हम सह नही सकते हैं,

न जाने तुमसे हमे कितनी मोहब्बत हैं हम कह नही सकते हैं,

कितना भी नाराज हो जाएं हम तुमसे ऐ सनम,

लेकिन ये भी सच हैं हम तुम्हारे बिना रह नही सकते हैं।

303

हर फैसला किया नही जाता सिक्का उछाल के,

ये दिल का मामला होता है जरा देख-भाल के ,

तुम क्या जानो हमे तुमसे कितनी मोहब्बत है,

कहो तो अभी रख दूँ अपना कलेजा निकल के।

304

कितना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा,

ये दिल तो बस दीवाना है तुम्हारा,

लोग कहते है चाँद का टुकड़ा तुम्हें,

पर मैं कहता हूँ चाँद भी टुकड़ा है तुम्हारा।

305

तलाश मेरी थी और भटक रहा था वो,

दिल मेरा था और धड़क रहा था वो।

प्यार का ताल्लुक भी अजीब होता है,

आंसू मेरे थे और सिसक रहा था वो।

306

सर जिस पे न झुक जाए उसे दर नहीं कहते हर दर पे जो झुक जाए उसे सर नहीं कहते

307

हर लम्हा तेरी याद का पैगाम दे रहा है,

अब तो तेरा इश्क मेरी जान ले रहा है।

308

Najrein Mil Jayein To Pyar Ho Jata Hai,

Palkein Uthh Jayein To Izhaar Ho Jata Hai,

Na Jane Kya Kashish Hoti Hai Chahat Me Ke Koyi,

Anjaan Bhi Humari Zindagi Ka Hakdaar Ho Jata Hai.

309

तेरे ही किस्से तेरी कहानियाँ मिलेंगी मुझ में,

न जाने किस-किस अदा से तू आबाद है मुझ में!

310

हमसे एक वादा करो हमे रुलाओगे नही,

हालात जो भी हों कभी हमे भुलाओगे नही,

अपनी आँखों में छुपा कर रखोगे हमको,

और फिर किसी को दिखाओगे नही।

311

साहिल के सुकून से किसे इनकार है लेकिन,

तूफ़ान से लड़ने में,

मज़ा ही कुछ और है…

312

तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे,

तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे,

तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे,

तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे।

313

चाँद से चाँदनी होती है सितारों से नही,

और प्यार एक से होता है हजारो से नही।

314

You Know You Are In Love,

When You See The World In Her Eyes And Her Eyes Everywhere In The World.

315

अब हम न तुम्हे खोना चाहते हैं,

अब न तुम्हारी यादों में रोना चाहतें हैं,

बस तुम्हारा साथ मिले हमे हर पल,

अब बस इतनी सी बात तुमसे कहना चाहते हैं।

316

बहुत खूबसूरत वो रातें होती हैं,

जब तुम से दिल की बातें होतीं हैं।

317

Sirph Yaad Banakar Na Rah Jaaye Pyaar Mera,

Kabhee Kabhee Kuchh Vaqt Ke Lie Aaya Karo.

318

मेरे बजूद में काश तू उतर जाए,

मैं देखूं आईना और तू नज़र आये,

तू हो सामने और ये वक्त ठहर जाए,

और ये जिंदगी तुझे देखते हुए गुज़र जाए।

319

Socha Yaad Na Karke Thoda Tadpaun Tumhe,

Kisi Aur Ka Naam Lekar Jalaun Tumhe,

Par Chot Lagegi Tumhe To Dard Mujhe Hi Hoga.

Ab Ye Batao Kis Tarah Sataaun Tumhe.

320

तुम ज़माने के हो हमारे सिवाय हम किसी के नहीं,

तुम्हारे हैं.

321

Wo Pila Kar Jaam Labon Se Apni Mohabbat Ka,

Ab Kahte Hain Nashe Ki Adat Achhi Nahi Hoti.

322

नए दौर के नए ख़्वाब हैं,

नए मौसमों के गुलाब हैं ,

ये मोहब्बतों के चराग़ हैं,

इन्हें नफरतों की हवा न दो

323

Kabhi Sambhle To Kabhi Bikhar Gaye Hum,

Ab To Khud Me Hi Simat Gaye Hum,

Yun To Zamana Khareed Nahi Sakta Hame,

Magar Pyar Ke Do Lafzon Se Bik Gaye Hum.

324

हम सिमटते गए उनमें और वो हमें भुलाते गए,

हम मरते गए उनकी बेरुखी से,

और वो हमें आजमाते गए,

सोचा की मेरी बेपनाह मोहब्बत देखकर सीख लेंगी वफाएँ करना,

पर हम रोते गए और वो हमें खुशी-खुशी रुलाते गए.

325

Saamne Baithe Raho Dil Ko Qaraar Aayega,

Jitnaa Dekhenge Tumhe Utna Hi Pyar Aayega.

326

Gulshaan Me Bhanwron Ka Fera Ho Gaya,

Puraab Me Suraj Ka Dera Ho Gaya,

Muskaan Ke Saath Aankhe Khol Pyaare,

Ek Baar Fir Se Pyaara Sa Savera Ho Gaya.

327

तेरे लिबास से मोहब्बत की है,

तेरे एहसास से मोहब्बत की है,

तू मेरे पास नही फिर भी,

मैंने तेरी याद से मोहब्बत की है।

328

Teri Hassi Ke Aage Mere Ansoo Kuch Nhi,

Teri Khusi Ke Aage Mera Gam Kuch Nahi,

Tu Jaha Bhi Rahe Khush Rahe Saman,

Teri Zndgi Ke Aage Meri Maut Kuch Nhi.

329

अगर तुम न होते तो गजल कौन कहता,

तुम्हारे चहरे को कमल कौन कहता,

ये तो करिश्मा है मोहब्बत का,

वरना पत्थ को ताजमहल कौन कहता।

330

Agar Talaash Karoge To Koyi Mil Hi Jayega,

Magar Humari Tarah Kaun Tumhe Chahega.

Tumhe Zaroor Koyi Chahaton Se Dekhega,

Magar Wo Aankhein Humari Kahan Se Layega.

331

तू जो चाहे तो तेरा झूठ भी बिक सकता है,

शर्त इतनी है,

सोने का तराज़ू रख ले.

332

Koi Gham Nahi Magar Dil Udas Hai,

Tujh Se Koi Rishta Nahi Phir Bhi Ehsaas Hai,

Kehne Ko Bohut Apnay Magar Tu Ek Khas Hai,

Zyada Emotional Na Hona Uper Sub Bakwas Hai.

333

जाम पर जाम पीने से क्या फायदा,

शाम को पीके सुबह को उतर जाएगी,

जरा दो घूट मेरे इश्क की पी कर तो देख,

तेरी सारी जिंदगी नशे में गुजर जायेगी।

334

Mohabbat Naapne Ka Koyi Paimana Nahi Hota,

Kahin Tu Barh Bhi Sakta Hai,

Kahin Tu Mujhse Kam Hoga.

335

अब कयामत से क्या डरे कोई,

अब कयामत रोज आती है,

भागता हूं मैं ज़िंदगी से खुमार,

और नागिन डेसे ही जाती है.

336

तरसती नज़रो ने हर पल आपको ऐसे मागा।

जैसे हर अमावस में चांद मागा।

रूठ गया वो खुदा भी हमसे ।

जब हमने अपनी हर दुआ में आपको मागा।

337

जो दिल के करीब थे,

वो जबसे दुश्मन हो गए जमाने में हुए चर्चे,

हम मशहूर हो गए.

338

तेरी मोहब्बत का ये कितना खूबसूरत एहसास है,

अब तो मुझे लगता है हर पल की तू मेरे कहीँ आस पास है।

339

Daave Mohabbat Ke Mujhe Nahi Aate Hain,

Bas Ek Jaan Hai Jab Dil Chaahe Maang Lena.

340

Aapke Aane Se Zindagi Kitni Khoobsurat Hai,

Dil Me Basi Hai Jo Wo Aapki Hi Murat Hai,

Dur Nahi Jana Humse Kabhi Bhulkar Bhi,

Hume Har Kadam Par Bas Aapki Jarurat Hai.

341

Wo Mohabbat Ke Saude Bhi Ajeeb Karta Hai,

Bas Muskrata Hai Aur Dil Khareed Leta Hai.

342

दिल नाउम्मीद तो नहीं नाकाम ही तो है,

लंबी है ग़म की शाम मगर शाम ही तो है

343

Kho Jaoun To Veeraan Se Ho Jati Hain Raahen,

Mil Jaoun To Fir Jeene Ka Ahsaas Tum Ho

344

Na Pyar,

Na Yar,

Na Mohhabat,

Na Dosti Yaro,

Aaj K Ye Devdas Ki Bat Mano Yaro,

Na Chandramukhi,

Na Paro,

Bus Har Ladki Par Line Maro!

345

बहारें जब खिलती हैं तो फूल खिल जातें हैं,

और जब इश्क जवां होता है तो दो दिल मिल जाते हैं,

इश्क की राहें भी बहुत अजीब होती हैं,

लफ्ज आँखों से बयां होते हैं,

और होठ सिल जाते हैं।

346

Har Raat Chandni Raat Nahi Hoti,

Har Dost Me Aap Si Baat Nahi Hoti,

Na Jaane Khuda Kon Si Saza De Raha Hai,

Jo Aajkal Aapse Kuch Bat Bhi Nahi Hoti.

347

Nikla Karo Idhar Se Bhi Hokar Kabhi Kabhi,

Aaya Karo Humare Bhi Ghar Par Kabhi Kabhi,

Mana Ke Ruthh Jana Yun Aadat Hai Aapki,

Lagte Magar Hain Achhe Ye Tevar Kabhi Kabhi.

348

बहुत दूर मगर बहुत पास रहते,

हो आंखों से दूर मगर दिल के पास रहते हो,

मुझे बस इतना बता दो क्या तुम भी मेरे बिना उदास रहते हो

349

मेरी हर खुशी हर बात तेरी है,

मेरी साँसों में बसी वो महक तेरी है,

इक पल भी नही रह सकते बिन तेरे,

धड़कनो से निकलती हर आवाज़ तेरी है।

350

Toot Jate Hain Bikhar Jate Hain Kaanch Ke Ghar Hain Muqaddar Apne

Ajnabi To Sada Pyar Se Milte Hain Bhool Jate Hain To Aksar Apne.

351

वो रूह में उतर जाए तो पा ले मुझको,

इश्क़ के सौदे में जिस्म नहीं तोले जाते.

352

हम आह भी भरते हैं तो हो जाते हैं बदनाम,

वो कत्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होता.

353

Dil K Dard Ko Chupana Kitna Mushkil Hai,

Toot K Phir Muskrana Kitna Mushkil Hai,

Door Tak Jab Chalo Kisi K Sath To Phir.

Tanha Laut K Aana Kitna Mushkil Hai.

354

तेरे बाद हमने दिल का दरवाजा खोला ही नही..

वरना बहुत से चाँद आए इस घर को सजाने के लिए

355

Dil Koi De To Bas Aapko De,

Surat Aapki Ek Jhalak Mein Hi Jindagi De,

Dua Hai Meri Aapka Husan Slamat Rhe,

Har Dil Aapko Pyar Ko Apne Dil Mein Jagah De.

356

वक्त रहता नहीं कहीं टिक कर आदत इसकी भी आदमी-सी है,

357

Mera Dil,

Jigar,

Kidney,

Liver Ho Tum,

Wakt Bewakt Aa Jaye Vo Fever Ho Tum,

Dub Kar Jisme Mar Jaau Vo River Ho Tum,

Mere Jivan Mein Ab To Forever Ho Tum.

358

ये जो मुस्कराहट का लिबास पहना है मैंने,

दरअसल खामोशियों को रफ़ू करवाया है मैंने.

359

इश्क सभी को जीना सीखा देता है,

वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है,

इश्क नही किया तो करके देखना,

ज़ालिम हर दर्द सहना सिखा देता है।

360

हाल-ए-दिल नहीं मालूम इस कदर यानी हमने बार-हा ढूंढा तुमने बार-हा पाया।

361

मैं अकेला ही चला था जानिब-ए-मंजिल मगर,

लोग साथ आते गए,

कारवां बनता गया.

362

Kitaabo Me Kehte Hai Phool Todna Mana Hai,

Baagon Me Kehte Hai Phool Todna Mana Hai,

Phoolon Se Keemti Cheez Hain Dil Koyi Nahi ,

Kehta Ki Dil Todna Mana Hain..!!

363

तेरा नाम ही ये दिल रटता है,

ना जाने तुम पे ये दिल क्यू मरता है,

नशा है तेरे प्यार का इतना,

कि तेरी ही याद में ये दिन कटता है।

364

Kabhi Khyal Youn Laaye Mere Qareeb Tujhey,

Har Ek Lahza Har Aik Lab Se Too Sunayi De

365

कोई चराग़ जलाता नहीं सलीक़े से,

मगर सभी को शिकायत हवा से होती है

366

Log Kehte Hai Humne Unhe Bhula Rakha Hai,

Vo Kya Jane Is Dil Me Unko Chipa Rakha Hai,

Dekh Na Le Unhe Koi Meri Aankhon Me,

Is Dar Se Humne Palkon K Jhuka Rakha Hai.

367

Jaise Zulfon Ki Lat Hai Chehre Ke Kareeb Tere,

Kaash Hum Bhi Aaj Tere Itne Karib Hote,

Tere Phoolon Se Chehre Ko Hardam Niharte Hum,

Kaash Aisi Hoti Kismat Humari Aise Naseeb Hote.

368

Dikhai Kab Diya Karate Hain Buniyaad Ke Patthar,

Zamin Mein Jo Dab Gaye Imaarat Unhin Pe Qaayam Hai.

369

प्यार में किसी से झूठा इजहार नहीं करना!

जा यहाँ से तुझ से अब प्यार नहीं करना.

खोया रहता था दिन रात तेरी याद में!

चली जा अब तेरा इंतज़ार नहीं करना.

!!

370

फूल खिलतें हैं बहारों का समा होता है,

ऐसे मौसम में ही तो प्यार जमा होता है,

दिल की बातें होठों से नही कहते हैं,

ये फ़साना तो निगाहों से बयां होता है।

371

Lafj-E-Shayari Shayar Hi Jaane,

Mujhe Ruhani Ishq Hai Tumse Main To Mus Itna Janu.

372

हमें भी नींद आ जाएगी,

हम भी सो ही जाएंगे अभी कुछ बेकरारी है,

सितारों तुम तो सो जाओ।

373

जब ख़याल आया तो खयाल भी उनका आया,

जब आँखे बंद की ख्वाब भी उनका आया,

सोचा याद कर लू किसी और को,

मगर होठ खुले तो नाम भी उनका आया.

374

Pani Se Tasveer Kaha Banti He,

Khwabo Se Takdir Kaha Banti He,

Kisi Se Pyar Karo To Sacche Dil Se,

Kyunki Ye Zindagi Phir Kaha Milti He.

375

खुदा ही जाने क्यों हाथो पर तुम मेहँदी लगाती हो,

बहुत ना समझ हो फूलों पर पत्तों के रंग चढ़ाती हो।

376

हम भी अब मोहब्बत के गीत गाने लगे हैं,

जब से वो हमारे ख्वाबों में आने लगे हैं।

377

ना कर तू इतनी कोशिशें

मेरे दर्द को समझने की

पहले इश्क कर

फिर चोट खा

फिर लिख

दवा मेरे दर्द की।

378

नजर से दुर रहकर भी किसी की सोच मे रहना,

किसी के पास रहने का तरीका होतो ऐसा हो.

379

किसी को उनसे मिल के इश्क़ हुवा,

किसी को उनको देख के इश्क़ हुवा,

एक हम ही थे जो उनको न देखे न मिले,

हमको तो उनसे हुई बातों से ही उनसे इश्क़ हुवा।

380

Dil Ke Sagar Mein Leharein Uthaya Na Karo ,

Khwaab Bankar Neend Churaya Na Karo ,

Bahut Chot Lagti Hai Mere Dil Ko,

Tum Khwaabon Mein Aa Kar Yun Tadpaya Na Karo

381

हमारी बेबसी शहरों की दीवारों पे चिपकी है हमें ढूंढेगी कल दुनिया पुराने इश्तिहारों में.

382

ग़ैरों को कब फ़ुर्सत है दुख देने की,

जब होता है कोई हमदम होता है…

383

तू भी आईने की तरह बेवफा निकला,

जो सामने आया उसी का हो गया

384

काश मिल जाये कोई हमसफ़र मुझे भी ऐसा,

जो गले लगा कर कहे रोया मत करो मुझे भी तकलीफ होती है।

385

Koi Kehta Hai Pyar Nasha Ban Jata Hai,

Koi Kehta Hai Pyar Saza Ban Jata Hai,

Par Pyar Karo Agar Sachche Dil Se,

To Pyar Jeene Ki Wajah Ban Jata Hai.

386

Asal Mohabbat To Wo Pehli Hi Mohabbat Thi,

Uske Baad Har Shakhs Me Sirf Usi Ko Dhoondha Hai.

387

अब जानेमन तू तो नहीं,

शिकवा -ए-गम किससे कहें या चुप हें या रो पड़ें,

किस्सा-ए-गम किससे कहें।

388

मैं अकेला ही चला था जानिबे मंज़िल मगर,

लोग साथ आते गए कारवां बनता गया.

389

Aaj Kal Un Bachchon Ko Bhee Pyaar Ke Gam Lage Hote Hain,

Jinhen Nazar Ke Kaale Vaale Teeke Bhee Poore Nahin Lage Hote Hain.

390

बहुत हसीन-सी बातें,

नफ़ीस-सा लहज़ा,

जब दिखे समझिये कि झूठ का पुलिंदा है

391

दुश्मनी लाख सही,

खत्म न कीजे रिश्ता,

दिल मिलें या न मिलें हाथ मिलाते रहिए

392

Us Shakhs Se Bas Itna Sa Taalluk Hai Faraz,

Wo Pareshan Ho To Humein Neend Nahin Aati.

393

Tum Mujhe Kabhi Dil Se Kabhi Aankhon Se Pukaro,

Ye Hontho Ke Takalluf To Zamane Ke Liye Hain.

394

तुमने देखा है कभी चांद से पानी गिरते हुए !

मैने देखा है ये मंजर तुम्हें चेहरा धोते हुए !!

395

Pyar Ke Panno Se Bhari Kitab Ho Tum,

Rishton Ke Phulo Me Gulab Ho Tum,

Kuchh Log Kehte Hai Ki Pyar Sacha Nhi Hota,

Un Logon Ke Har Sawaal Ka Jawab Ho Tum..!!

396

Achha Lagta Hai Tera Naam Mere Naam Ke Saath,

Jaise Koi Khubsurat Jagah Ho Haseen Shaam Ke Saath.

397

कौन पूछता है पिंजरे में बंद पंछियों को,

याद वही आते हैं जो उड़ जाते हैं…

398

जो प्यार का रिश्ता हम बनाते है।

उसे लोगो से क्यों छुपाते है।

क्या गुनाह है किसी को प्यार करना।

तो बचपन से हमे प्यार करना क्यों सिखाते है।

399

Kamaal Ki Taqdeer Payi Ho Us Sakhs Ne,

Jisne Tujhse Mohabbat Bhi Nahin Ki,

Hogi Aur Tujhey Pa Bhi Liya Hoga.

400

हर आदमी में होते हैं दस-बीस आदमी,

जिसको भी देखना हो कई बार देखना…

401

Aapna Bna Le Mujhe Bahon Mein Bhar Le,

Bichde Na Kabhi Hum Ye Erada Kar Le,

Tut Jayenge Hum Tumse Juda Agar Huye To,

Kal Ko Kine Dekha Aaj Do Batein To Kar Le.

402

ज़िन्दगीं में किसी का साथ काफ़ी है,

हाथों में किसी का हाथ काफ़ी है,

दूर हो या पास फ़र्क नहीं पड़ता प्यार का तो बस एहसास काफ़ी है।

403

न जिद है न कोई गुरूर है हमे,

बस तुम्हे पाने का सुरूर है हमे,

इश्क गुनाह है तो गलती की हमने,

सजा जो भी हो मंजूर है हमे।

404

इस से पहले की सारे ख्वाब टूट जाएँ,

और यह ज़िन्दगी हम से रूठ जाए,

एक दुसरे के प्यार में खो जाएँ इस कदर,

के हम सारे ग़मों को भूल जाएँ!

405

Gadhe Hukm Ka Intazaar Karate Hain

Sher Sichueshan Ke Hisaab Se Kaam Karata Hai!

406

Dooriyan Bahut Hai Magar Itna Samajh Lo,

Paas Rehkar Hi Koi Khas Nahi Hota,

Tum Iss Kadar Paas Ho Mere Dil Ke,

Mujhe Dooriyon Ka Ehsaas Nahi Hota.

407

खो दिया मेने सब कुछ तेरी मोहब्बत में,

जा बेबफा अब तेरा एतबार नहीं करना,

देख लिया खुद को बर्बाद करके हमने,

तू किसी से अब प्यार की फरयाद नहीं करना.

408

Aarzu Hai Ki Tu Yahan Aae Aur Phir Umr Bhar Na Jaae Kahin.

409

रगों में दौड़ते फिरने के हम नहीं क़ाइल जब आंख ही से न टपका तो फिर लहू क्या है।

410

बरसात का बादल तो दीवाना है क्या जाने

किस राह से बचना है

किस छत को भिगोना है.

411

मुझे आदत नही यूँ किसी पे मर मिटने की – पर तुझे देख कर दिल ने सोचने की मोहलत ना दी

412

Zindagi Hai Nadan Isliye Chup Hoon,

Dard Hi Dard Subah Sham Isliye Chup Hoon ,

Keh Du Zamane Se Dastan Apni,

Usme Ayega Tera Naam Isliye Chup Hoon

413

लगा कर फूल होठो से उसने कहा चुपके से,

अगर यहा कोई नहीं होता तो फूल की जगह तुम होते.

414

दिन सलीके से उगा रात ठिकाने से रही,

दोस्ती अपनी भी कुछ रोज़ ज़माने से रही.

415

Husan Aapka Dekh Kar Kya-Kya Khayal Aata Hai,

Milti Jo Nazar Aapse Kya-Kya Sawal Uthta Hai,

Rukiye Ek Pal Meri Bhi Suniye Kahiye Kya Irada Hai,

Aap Se Ab Dor Kha Jayen Ek Aapse Hi Pyar Aata Hai.

416

Tum Apna Hath Sir Par Firao,

1 Bar Fir Firao,

2 Bar Firao,

Chalo 1 Bar Fir Dono Hath Firao,

Ab To Yakin Aa Gaya Na Gadhe K Sing Nahi Hote.

417

तू तोड़ दे वो कसम जो तूने खाई है,

कभी कभी याद करने में क्या बुराई है,

तुझे याद किये बिना रहा भी तो नही जाता,

तूने दिल में जगह जो ऐसी बनाई है।

418

ये तुमसे किसने कहा तुम इश्क का तमाशा करना,

अगर मोहब्बत करते हो हमसे तो बस हल्का सा इशारा करना।

419

हर आईने की किस्मत में तस्वीर नहीं होती ,

हर किसी की एक जैसी तकदीर नहीं होती ,

बहुत खुश नसीब हैं वो जिनके हाथों में ,

मिलने के बाद बिछड़ने की लकीर नहीं होती.

420

Sochte Hu Ki Kya Khu Tuje,

Tere Didar Ko Ankhte Trste Hi Mere,

Bankr Barish K Bunde Tu Bhiga De Muje,

Ik Hasi Ful Ki Tra Khila De Muje,

Tere Chuhan Se Mhak Jau Ge Me,

Ik Baar Us Chuhan Ka Ahsas Kr De Muje.

421

Badi Udas Hai Zindgi Tere Bin,

Nahi H Kuch Mere Paas,

Tere Bin Andhera Ho Ya Ho Ujala,

Aata Nahi Kuch B Raas Tere Bin.

422

Mujhe Udas Dekh Kar Usne Kaha,

Mere Hote Huye Tumhe Koi Dukh Nahi De Sakta,

Phir Kuch Aisa Hi Hua,

Baad Mein Jitne Bhi Dukh Mile Sab Ussi Ke Hue

423

तेरी यादों के जो आखिरी थे निशान,

दिल तड़पता रहा,

हम मिटाते रहे।

424

कुछ लोगो की मोहब्बत दिल में इस कदर उतर जाती है,

जब उन्हें दिल से निकालो तो जान निकल जाती है।

425

Zindagi To Uski Hai Jiski Mout Pe Zamana Afsos Kare Warna Janma To Har Kisi Ka Marne Ke Liye Hi Hota Hai.

426

गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में,

वो तिफ़्ल क्या गिरेंगे जो घुटनों के बल चले

427

ज़िन्दगी ने झेले हैं सब अज़ाब दुनिया के बस रहे हैं दिल में फिर भी ख्वाब दुनिया के.

428

Ab Dobara Kabhi Mohabbat Nahin Ki Jaye,

Agar Ki To Fir Shikayat Nahin Ki Jaye.

429

रातों को चलती हैं मोबाइल पर उंगलियां,

सीने पर किताबें रखकर सोए काफी वक्त हो गया.

430

कभी हम पर वो जान दिया करते थे जो हम कहते थे,

मान लिया करते थे अब पास से अनजान बनकर गुजर जाते हैं,

जो कभी दूर से ही हमें पहचान लिया करते थे.

431

इसी में इश्क़ की क़िस्मत बदल भी सकती थी,

जो वक़्त बीत गया मुझ को आज़माने में।

432

ख़ामोशी इकरार से काम नहीं होती,

सादगी भी सिंगार से काम नहीं होती,

ये तो अपना अपना नज़रिया है मेरे दोस्त,

वर्ना दोस्ती भी प्यार से काम नहीं होती ।

433

तू देख या न देख इसका गम नही,

पर तेरे न देखने की अदा किसी देखने से कम नही।

434

दिल को तेरी चाहत पे भरोसा भी बहुत है,

और तुझ से बिछड़ जाने का डर भी नहीं जाता.

435

मेरी जरूरत और ख्यायिस दोनों तूम हो और अगर रब की कभी मेहरबानी हुई तो कोई एक तो पूरी होगी !!

436

Kaash Koyi Hum Par Bhi Itna Pyaar Jatati,

Piche Se Aakar Wo Hamari Ankho Ko Chupati,

Hum Puchhte Ki Kaun Ho Tum?? Aur Wo Has Kar Khudko Hamari Jaan Batati.

437

मुझे खामोश देखकर इतना क्यों हैरान होते हो ऐ दोस्तो कुछ नहीं हुआ है बस भरोसा करके धोखा खाया है!

438

कुछ लोग ख्यालों से चले जाएं तो सोएं,

बीते हुए दिन-रात न याद आएं तो सोएं।

439

Koi Sahara Nahi Dua K Siwa,

Koi Sunta Nahi Khuda K Siwa,

Main Ne Bhi Zindagi Ko Qareeb Se Dekha Hai,

Mushkilon Mein Koi Saath Deta Nahi Khuda K Siwa.

440

Aap Khud Nahi Jaante Aap Kitne Pyare Ho,

Jaan Ho Hamaari Par Jaan Se Pyare Ho,

Dooriyon Ke Hone Se Koi Fark Nahi Padta,

Aap Kal Bhi Humare The Aur Aaj Bhi Humare Ho

441

दुश्मन भी मेरे मुरीद हैं शायद,

वक्त-बेवक्त मेरा नाम लिया करते हैं।

मेरी गली से गुजरते हैं छुपा के खंजर,

रू-ब-रू होने पर सलाम किया करते हैं।

442

Jala Di He Aag Mere Seene Me,

Ab Buzane Se Kya Fayda,

Mar Gaye Hum Tere Pyar Me ,

Ab Kabar Ke Paas Rone Se Kya Fayda

443

सुना है आज समंदर को बड़ा गुमान आया है,

उधर ही ले चलो कश्ती जहां तूफान आया है।

444

बचा लिया मुझे त़ूफां की मौज ने वरना…

445

कोई चाँद से मोहब्बत करता है,

कोई सूरज से मोहब्बत करता है,

हम उनसे मोहब्बत करते हैं,

जो हमसे मोहब्बत करता है।

446

Raat Hui Wo Sone Chale,

Mithe Sapno Me Khone Chale,

Ae Chand Unhe Mithi-Mithi Lori Suna Dena,

Jab Wo Reply Na De To Palang Se Gira Dena.

447

Khoya Itna Kuch Ki Hume Paana Na Aaya,

Pyar Kar To Liya Par Jatana Na Aaya,

Aa Gaye Tum Is Dil Mein Pehli Hi Nazar Mei,

Bas Hame Aaoke Dil Mein Samana Na Aaya.

448

कहाँ चलता है आजकल का प्यार वर्षो तक,

एक महीने में मिटा के जिस्म की प्यास मुँह फेर लेते है लोग.

449

Sanso Ka Pinjra Kisi Din Tut Jaega,

Fir Ye Dost Raste Me Chhuut Jaega,

Abhi Waqt Hai Baat Kr Liya Karo Yaro,

Na Jane Kab Jindgi Ka Dhaga Tut Jaega.

450

मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही,

वो मुझे चाहे या मिल जाये,

जरूरी तो नही,

ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसों में वो,

सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही!

451

सपना कभी साकार नही होता,

मोहब्बत का कोई आकार नही होता,

चाहे कुछ भी हो जाये इस दुनिया में,

लेकिन दोबारा किसी से सच्चा प्यार नही होता।

452

Mat Poocho Kaise ,

Guzarta Hai Her Pal Tumahre Bina,

Kabhi Milne Ki Hasrat Kabhi Dekhne Ki Tamana.

453

प्यार तो अचानक से हो जाता है,

जो इरादे से हो उसे तो सेटिंग कहते है.

454

समझदार एक मैं हूं बाकि सब नादान।

बस इसी भ्रम में घूम रहा आजकल हर इंसान।

455

Dhadakte Hue Dil Ka Qaraar Ho Tum,

Inn Saji Mehfilon Ki Bahaar Ho Tum,

Tarasti Hui Nigaaho Ka Intezar Ho Tum,

Meri Zindagi Ka Pehla Pyar Ho Tum.

456

Mujhey Hamsafar Teri Raftaar Se Chalna Nahin Aaya,

Tere Apne Dalayil Hain Mere Apne Masail Hain.

457

दिल भी तोड़ा तो सलीक़े से ना तोड़ा तुमने,

बेवफ़ाई के भी कुछ आदाब हुआ करते हैं.

458

Kiski Mazaal Thi Jo Humko Khareed Sakta Tha,

Hum Khud Hi Bik Gaye Hain Kharidar Dekh Kar.

459

ये मत सोचना कि तुम्हारे बिना मर जायेंगे हम,

वो लोग भी जी रहे हैं जिन्हें छोड़ा था मैंने तुम्हारी खातिर।

460

इश्क करती हूँ तुझसे अपनी जिंदगी से ज्यादा,

मैं डरतीं हूँ मौत से नही तेरी जुदाई से ज्यादा,

चाहे तो हमे आज़मा कर देख किसी और से ज्यादा,

मेरी जिंदगी में कुछ नही तेरी आवाज़ से ज्यादा।

461

हमें पता है तुम कहीं और के मुसाफिर हो,

हमारा शहर तो यूं ही रास्ते में आया था।

462

उदास नहीं होना,

क्योंकि मैं साथ हूँ,

सामने न सही पर आस-पास हूँ,

पल्को को बंद कर जब भी दिल में देखोगे,

मैं हर पल तुम्हारे साथ हूँ!

463

Jaan Hai Mujhko Zindagi Se Pyari,

Jaan Ke Liye Kar Du Kurbaan Yaari,

Ab Aap Se Hi Kya Chupana,

Aap Hi To Ho Jaan Humari .

464

Ye Pyaar Bhee Ajeeb Cheez Hai,

Jisase Hota Hai,

Usake Siva Poore Mohalle Ko Pata Hota Hai.

465

तेरे आने की क्या उम्मीद मगर,

कैसे कह दूं कि इंतज़ार नहीं.

466

Ye Hakiqat Hai Ke Hota Hai Asar Baaton Me,

Tum Bhi Khul Jaoge Do-Char Mulakaton Me,

Tumse Sadiyon Ki Wafaon Ka Koi Naata Na Tha,

Tumse Milne Ki Lakeere Thi Mere Haathon Me.

467

Sukun Milta Hai Jab Unse Baat Hoti Hai,

Hajaar Raaton Me Wo Ek Raat Hoti Hai,

Nigah Uthakar Jab Dekhte Hain Wo Meri Taraf,

Mere Liye Wahi Pal Poori Kaaynat Hoti Hai.

468

Socha Na Tha Ki Wo Muh Mod Legi,

Lekin Usne Muh Mod Hi Liya,

Socha Na Tha Ki Wo Dil Tod Degi,

Lekin Usne Dil Tod Hi Diya,

Maine Socha Ki Wo Sath Nibhayegi,

Lekin Usne Raste Mai Mujhe Chhod Hi Diya

469

जब भी मैं तुम्हे देखता हूँ तो मैं आश्चर्य में पड़ जाता हूँ कि मेरी किस्मत इतनी अच्छी कैसे हो सकती है।

470

Na Jane Kis Pal Mulakat Hogi,

Meri Jindagi Na Jane Kab Mere Sath Hogi,

Dil Kehta Hai Aaj Unse 2 Batein To Karlun,

Kabhi Na Kabhi To Takdir Mere Sath Hogi.

471

मुहब्बत का इम्तिहान आसान नहीं,

प्यार सिर्फ पाने का नाम नहीं,

मुद्दतें बीत जाती हैं किसी के इंतज़ार में,

ये सिर्फ पल-दो-पल का काम नहीं.

472

चुपके से आकर मेरे दिल में उतर जाते हो,

सांसो में मेरी खुशबू बन कर बिखर जाते हो,

कुछ यूँ चला है तेरे इश्क का जादू,

सोतें जागते अब तो तुम ही तुम नज़र आते हो।

473

हर दर्द की दवा हो तुम,

आज तक जो मांगी मेरी एक लौटी दुआ हो तुम,

तुम्हे मिलने की तमन्ना नहीं उठती कभी,

क्यूंकि जो हर वक़्त साथ रहती है वो हवा हो तुम.

474

Koyal Kookee Mauj-E Saba Paoon Mein Ghungharoo Baandh Lie,

Pyaar(Love) Ka Nagama Chhed Raha Hai Aaj Koee Shananee Mein

475

चूल्हे नहीं जलाए कि बस्ती ही जल गई कुछ रोज़ हो गए हैं अब उठता नहीं धुआं।

476

A Khuda Tune Itni Azeeb Use Kyun Bna Di,

Jisne Dekha Insa Ji Leta Hai Aaj Apni Jindagi,

Tarif Uski Kya Krun Jo Khud Mein Ek Tarif Ho,

Jiska Husan Jamal Puri Duniya Mein Hasin Ho.

477

Jee Chahta Hain Tum Se Pyari Si Baat Ho,

Haseen Chand Tare Ho,

Lambi Si Raat Ho,

Fir Raat Bhar Yhi Guftagu Rakhe Hum Dono Tum Meri Zindagi Ho,

Tum Meri Kayinat Ho.

478

Pyaar Se Chahe Armaan Mang Lo,

Roothkar Chahe Muskaan Mang Lo.

Tamanna Ye Hai Ki Na Dena Kabhi Dhoka,

Fir Haskar Chahe Meri Jaan Mang Lo.

479

तमाम उम्र हम एक-दूसरे से लड़ते रहे,

मगर मरे तो बराबर में जाके लेट गए.

480

Judai Key Lamhe Beqarar Karte Hain,

Mere Halaat Hi Mujhe Lachaar Karte Hain,

Kabhi Toh Pad Leti Aankhein Meri Kaise,

Khud Kahein Hum Key Tumhi Se Pyar Karte Hain

481

वख्त बदलता है जिंदगी के साथ।

ज़िन्दगी बदलती है वख्त के साथ।

वख्त नही बदलता अपनो के साथ।

बस अपने ही बदल जाते है वख्त के साथ।

482

मेरे बारे में कोई राय मत बनाना ग़ालिब,

मेरा वक्त भी बदलेगा तेरी राय भी!

483

Khushboo Bankar Teri Saanso Mein Sama Jayenge,

Sukun Bankar Tere Dil Mein Utar Jayenge,

Mehsoos Karne Ki Koshish To Kijiye Ek Baar,

Door Rahte Huye Bhi Pass Najar Aayenge.

484

Na To Bika Hoon Na Hi Kabhi Bik Paoonga,

Ye Na Samajhana Mai Bhi Hazaaro Jaisa Hoon.

485

Wo Na Aaye Unki Yaad Aakar Wafa Kar Gayi,

Unse Milne Ki Tamanna Sukoon Tabah Kar Gayi,

Aahat Hui Socha Asar Duaa Kar Gayi,

Darwaja Khola To Dekha Majak Humse Hava Kar Gayi.

486

बहुत दिनों से इन आंखों को यही समझा रहा हूं मैं,

ये दुनिया है,

यहां तो इक तमाशा रोज़ होता है…

487

Paas Aa Jara Dil Ki Baat Bataun Tujhko,

Kaise Dhadkta Hai Dil Awaaj Sunau Tujhko.

488

वो मोहब्बत की ऐसी मिसाल रखता है कि मुझसे ज्यादा Hi मेरा ख्याल रखता है।

489

जो लड़की आपकी बात सुन कर,

आपको पागल कहती है ना वही आपसे सच्ची मोहब्बत करती है।

490

दिल के पास आपका घर बना लिया,

ख्वाबों में आपको बसा लिया,

मत पूछो कितना चाहते हैं आपको,

आपकी हर खता को अपना मुक्कद्दर बना लिया।

491

जरा नजरों से देख लिया होता,

अगर तमन्ना थी डराने की,

हम यूं ही बेहोश हो जाते,

क्या जरूरत थी मुस्कुराने की!!

492

कभी हंसना,

कभी रोना,

कभी हैरान हो जाना,

मोहब्बत क्या भले चंगे को दीवाना बनाती है

493

Zakhm Humne Unki Mohabbat Me Khaye Hai,

Chiraag Rah Me Unki Hardam Jalaaye Hai,

Thirak Rahe Hai Vo Geet Aj Sabke Hothon Par,

Jo Mohabbat Me Unki Humne Gungunaye Hai.

494

ख़ुदा की इतनी बड़ी क़ायनात में मैंने,

बस एक शख़्स को मांगा,

मुझे वो भी ना मिला.

495

प्यार हम उनको करते हैं।

जो हमारी फ़िकर करते हैं।

कदर हम उनकी करते हैं।

जो हमारी इज्ज़त करतें हैं।

जीते हैं हम उनके लिए। जो हम पर मरते हैं।

496

Naya Yeh Daur Hai Lekin,

Wohi Kisse Puraane Hain,

Mohabbat Ke Zamaane The,

Mohabbat Ke Zamane Hain,

Mere Geeto Me Jo Tumne,

Sune Yaado Ke Kisse Hain,

Mohabbat Ke Taraane Toh,

Abhi Tumko Sunaane Hain.

497

उनके देखे से जो आ जाती है मुंह पर रौनक,

वो समझते हैं कि बीमार का हाल अच्छा है।

498

खुश नसीब होते हैं बादल,

जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,

और एक बदनसीब हम हैं,

जो एक ही दुनिया में रहकर भी मिलने को तरसते हैं.

499

Khush Rahane Ka Matalab Yah Nahi Ki Sab Kuchh Thik Hai,

Isaka Matalab Yah Hai Ki,

Aapane Apane Dukhon Se Oopar Uth Kar Jina Sikh Liya Hai

500

आप कभी किसी के लिये ऑंसू मत बहाना,

क्‍योंकि वो आपके काबिल नहीं होगा ,

और जो आपके काबिल होगा वो तो आपको कभी रोने ही नहीं देगा.

501

Lafzon Ki Banawat Mujhey Nahin Aati,

Too Bahot Sohni Hai Seedhi Si Baat Hai

502

बात बात मे जो रुठ जाते हैं।

अनजाने मे उनसे हाथ छूठ जाते है।

कहते है बड़े कमजोर होते हैं प्यार के रिश्ते।

इसमे हँसते हँसते दिल टूट जते हैं।

503

Katal Karna Hai To Nigahon Se Kar,

Talwar Me Kya Rakha Hai,

Pyar Karna Hai To Mujhse Kar,

Mere Doston Me Kya Rakha Hai.

504

Ab Kisi Se Gila Nahi,

Jab Tum Mil Gaye Ho,

Pyar Hi Pyar Bankar,

Nazar Mein Utar Gaye Ho.

505

Zindagi Ban Gaye Ho Tum Meri,

Aarzoo Ban Gaye Ho Tum Meri,

Mera Khuda Mujhe Maaf Kare,

Bandgi Ban Gaye Ho Tum Meri.

506

Tumko Paane Ki Tamanna Nahi Fir Bhi Khone Ka Darr Hai,

Kitni Shiddat Se Dekho Maine Tumse Mohabbat Kee Hai.

507

Kheench Leti Hai Har Baar Mujhe Teri Mohabbat,

Varna Main Bahut Baar Mila Hun Akhiri Baar Tujhse.

508

Ruke Se Hum Ruke Se Tum Aur Zamana Barh Gaya,

Ye Tera Dil Mere Dil Me Jane Kab Utar Gaya,

Abhi To Pyar Ki Shuruat Ho Rahi Hai Sanam,

Abhi Se Hi Dil Mera Tera Thhikana Ban Gaya,

Tum Mile Tu Yun Laga Mil Gaya Mera Khuda,

Nazrein Mili Tumse Meri Aur Fasana Ban Gaya.

509

नज़रो को तेरे प्यार से इंकार नही है,

अब मुझे किसी और का इंतज़ार नही है,

मैं खामोश हूँ तो वो वजूद है मेरा,

लेकिन तुम ये न समझना मुझे तुमसे प्यार नही है।

510

Jo Sakhs Tere Tasawwar Se He Mahak Jaye,

Soch Tumhare Deedaar Men Uska Kia Haal Hoga.

511

सफर वही तक जहाँ तक तुम हो,

नज़र वही तक जहाँ तक तुम हो,

वैसे तो हज़ारों फूल खिलतें हैं गुलशन में मगर,

खुशबू वही तक जहाँ तक तुम हो।

512

बदला ना अपने आप को जो थे वही रहे मिलते रहे सभी से मगर अजनबी रहे.

513

Jab Hume Unse Mohabbat Thi,

Tab Unhe Humari Mohabbat Par Shak Tha,

Jab Unhe Ehsas Hua Humari Mohabbat Ka,

Tab Hum Par Kisi Aur Ka Hak Tha.

514

जी भर क देखू तुझे अगर गवारा हो,

बेताब मेरी नज़रे हो और चेहरा तुम्हारा हो,

जान की फिकर हो न जमाने की परवाह,

एक तेरा प्यार सिर्फ और सिर्फ हमारा हो!

515

Hamako Hee Kyon Dete Ho Pyaar Ka Ilazaam,

Zara Khud Se Bhee Poochhon Itane Pyaare Kyon Ho.

516

Dil Ki Dharkanen Ruk C Gai Hain,

Saanse Meri Tham C Gai Hai,

Pucha Dil K Doctor Se Humne,

Pata Chala Is Dil Me Aapki Yaaden,

Sardi Ki Wajah Se Jam C Gai Hain…..

517

मोहब्बत में अच्छा खासा इंसान दीवाना बन जाता है,

बिना कुछ सोचे समझे फ़साना बन जाता है,

उनसे एक नजर ???? क्या मिली हमारे होश उड़ गये,

न जाने कैसे कोई किसी की जान बन जाता है।

518

बड़े लोगों से मिलने में हमेशा फ़ासला रखना,

जहां दरिया समंदर से मिला दरिया नहीं रहता…

519

कर दे नज़रे करम मुझ पर,

मैं तुझपे ऐतबार कर दूँ,

दीवाना हूँ तेरा ऐसा,

कि दीवानगी की हद को पर कर दूँ

520

खुद पुकारेगी मंज़िल तो ठहर जाऊंगा,

वरना खुद्दार मुसाफ़िर हूं गुज़र जाऊंगा…

521

नज़र में शोखियाँ लब पर मोहब्बत का फ़साना है,

मेरी उम्मीद की ज़द में अभी सारा ज़माना है,

कई जीते हैं दिल के देश पर मालूम है मुझको,

सिकंदर हूँ मुझे इक रोज खाली हाथ जाना है।

522

Aasmaan Me Jab Bhi Baadal Garajta Hoga,

Mausam Bhi Apna Rang Badalta Hoga,

Uthti Hogi Jab-Jab Aapki Nigahein,

Khuda Bhi Gir-Gir Ke Sambhalta Hoga…!.

523

Meri Duniya Bhi Salamat Rehti,

Ek Bar Jo Tu Mujhe Apna Kehti,

Mera Dil Bhi Na Yun Bekrar Rehta,

Jo Ek Pal Mujhe Apna Kehti.

524

Isi Kashmkash Ka Naam Mohabbat Hai,

Aankho Me Samandar Ho Fir Bhi Pyaas Rahti Hai.

525

Main Wahi Hu Jisse Tum Pyar Kiya Krte The,

Din Me So So Bar Naam Liya Karte The,

Aaj Kya Baat Hai Kyu Mujhse Khafa Bethe Ho,

Kya Kisi Or Ko Dildar Apna Baithe Ho,

Faasle Itne Toh Pahle Na Hua Karte The,

Main Wahi Hu Jisse Tum Pyar Kiya Karte The

526

तेरी रजा रहे.. और तू ही तू रहे,

बाकी न मैं रहूँ.. न मेरी आरजू रहे,

जब तक कि तन में जान.. रगों मे लहू रहे,

बस तेरा हो जिक्र या तेरी जुस्तजू रहे।

527

शिकवा करूं तो किससे करूं,

ये अपना मुकद्दर है अपनी ही लकीरें हैं।

528

Ashiqi Se Milega Ai Zahid,

Bandagi Se Khuda Nahin Milta.

529

मुहब्बत की इन्तिहां न पूछिये,

इस प्यार की वजह न पूछिये,

हर सांस मे समाये रहते हो,

कहां बसे हो तुम जगह न पूछिये।

530

किसी ने पूछा इतना अच्छा कैसे लिख लेते हो,

मैने कहा दिल तोड़ना पड़ता है,

लफ्जो को जोड़ने से पहले।

531

Har Baar Unki Salamati Ki Dua Karenge,

Unki Aarzoo Me Apni Hasti Fanaa Karenge,

Wo Chahe Daaman Bacha Lein Humse Lekin,

Hum Marte Dam Tak Unse Wafa Karenge.

532

Pyar Ki Koyi Had Samajhna Mere Bas Ki Baat Nahi,

Dil Ki Baton Ko Na Karna Mere Bas Ki Baat Nahi,

Kuchh To Baat Hai Tujhme Tab To Dil Ye Tumpe Marta Hai,

Warna Yun Hi Jaan Ganwana Mere Bas Ki Baat Nahi.

533

जाने कब आपसे प्यार का इज़हार होगा,

जाने कब आपको हमसे प्यार जोगा,

गुजर रही हैं आपकी ही याद में ये रातें,

जाने कब आपको भी हमारा इंतज़ार होगा।

534

उस नज़र की तरफ मत देखो,

जो तुम्हे देखना से इनकार करती है,

दुनिया की इस महफ़िल में उस नज़र को देखो,

जो आपका इंतज़ार करती है.

535

अब हवाएं ही करेंगी रोशनी का फ़ैसला,

जिस दीये में जान होगी,

वो दीया रह जाएगा…

536

Main Tamam Din Ka Thaka Hua,

Tu Tamam Shab Ka Jagaa Hua,

Jara Thhehar Ja Isee Mod Par,

Tere Saath Shaam Gujaar Lu.

537

Kitab-E-Ishq Padh Rhe The,

Mera B Nam Usme Juda Mila ,

Maine Apne Nam Ka Panna Khola,

Kismat Dekho Wahi Panna Fata Hua Mila.

538

Meri Mohabbat Pe Aitbar To Kiya Hota

Ae Jaan Kisi Aur Ke Hone Se Pehle Mera Intezar To Kiya Hota.

539

उलफत के मारों से न पूछो आलम इंतजार का पतझड़ सी है जिंदगी और खयाल बहार का।

540

टपकती है निगाहों से बरसती है अदाओं से,

मोहब्बत कौन कहता है कि पहचानी नहीं जाती।

541

Kaise Byaan Karu Alfaz Nahi Hai,

Dard Ka Mere Tujhe Ehsaas Nahi Hai,

Puchhte Ho Mujhse Kya Dard Hai?

Mujhe Dard Ye Hai Ke Tu Mere Pass Nahi Hai.

542

आओ सारे पहन लें आइने,

सारे देखेंगे अपना ही चेहरा।

543

एक ही ख्वाब ने सारी रात जगाया,

मैंने हर करवट सोने की कोशिश की है.

544

Kehne Ko Nazar Se Tikhi Jigar Se Mithi Lagti Ho,

Kya Faisla Ki Ho Jo Es Trah Akadti Ho,

Barbad Mujhe Na Kar Do Es Ada Ko Ab Chipa Lo,

Sawal Kya Krun Tumse Jo Khud Jawab Karti Ho.

545

दीवाना हूँ तेरा मुझे इंकार तो नही,

कैसे मैं कह दूँ मुझे प्यार नही,

कुछ शरारत तो तेरी निगाहों की भी थी,

मैं अकेला इसका गुनहा गार तो नही।

546

तमु लौटकर आने की तकलीफ दोबारा मत करना,

हम एक बार की गई मोहब्बत दोबारा नहीं करते!

547

तुम हकीकत को लिए बैठे हो तो बैठे रहो,

ये ज़माना है इसे हर दिन फ़साने चाहिए।

548

Nafarato Ke Jahaan Me Humko Pyar Ki Bastiyan Basaani Hain,

Dur Rehna Koyi Kamaal Nahi Paas Aao To Koyi Baat Bane.

549

मैं ना जानू इबादत,

मुझे माफ़ कर देना ऐ मेरे खुदा !

मैं तो तेरे दर पे आता हूँ,

उसकी गली से गुजरने के लिए !!

550

Wo Khafa Hai Humse To Khafa Hi Rehne Do,

Humko Unka Gunahgaar Hi Rehne Do,

Wo Samjhte Hain Ke Humne Chhod Diya Unko,

Baat To Jhoot Hai Magar Sach Hi Rehne Do,

Muddato Mangi Hai Khuda Se Khushiyan Unki,

Jo Aata Hai Ilzam Hum Pe To Ilzam Hi Rehne Do,

Unki Shart Hai K Main Bewafa Banu,

Agar Khushi Mile Unko To Mujhe Bewafa Hi Rehne Do,

Aayega Waqt To Dikhayenge Unko Apna Zakham,

Abhi Khamosh Hain Humko Bas Khamosh Hi Rahne Do.

551

खुल सकती हैं गांठें,

बस जरा से जतन से,

पर लोग कैंचियां चलाकर,

सारा फसाना बदल देते हैं।

552

काश एक दिन ऐसा भी आये हम दोनों एक दुज़े में समा जायें,

सिर्फ एक तुम हो और एक हम हो और वक्त ठहर जायें।

553

Dost Ruthe Toh Rab Ruthe,

Fir Ruthe Toh Jag Chhute,

Agarfir Ruthe Toh Dil Ruthe,

Agar Fir Ruthe?

Nikal Danda Maar Saale Ko Jab Tak Danda Na Tute

554

मोहब्बत तो सिर्फ एक इत्तेफाक है,

ये तो दो दिलों की मुलाकात है,

मोहब्बत ये नहीं देखती कि दिन है या रात है,

इसमें तो सिर्फ वफादारी और जज़्बात है।

555

किसी की धड़कनों के पीछे कोई बात होती है।

हर दर्द के पीछे कोई याद होती होती है।

आपको पता हो या ना हो।

आपकी हँसी या खुशी के पीछे हमारी फ़रयाद होती है।

556

Pyyar Ho Gaya Hai Tum Se Khud Se Zeyadah Had Se Zeyadah Sabse Zeyadah.

557

Ek Ladki Ko Dekha To Aisa Laga,

Dusri Ladki Ko Dekha To Waisa Laga,

Jab Dono Ne Thappad Mara To Ek Jaisa Laga.

558

बात बहुत मामूली-सी थी उलझ गई तकरारों में एक ज़रा-सी ज़िद ने आखिर दोनों को बर्बाद किया.

559

इन दूरियों को जुदाई मत समझना,

इन खामोशियो को नाराजगी मत समझना,

हर हाल में साथ देंगे आपका,

ज़िंदगी ने साथ न दिया तो बेवफाई मत समझना ।।

560

Khush Ho Tum To Ye Khushi Meri Ho,

Rone Lago Tum To Aankhe Nam Meri Ho,

Ae Dost Hamari Ye Dosti Itni Gehri Ho Ki,

Sadak Par Tum Pito Or Sari Galti Meri Ho .

561

क्या इतनी दूर निकल आये है हम,

की तेरे ख्यालों में भी नहीं आते.

562

Kitna Ajeeb Apni Zindagi Ka Safar Nikla,

Saare Jahan Ka Dard Apna Muqaddar Nikla,

Jiske Nam Apni Zindagi Ka Har Lmha Kar Diya,

Afsos Whi Humari Chahat Se Bekhabar Nikla.

563

Ret Par Likh Ke Mera Naam Mitaya Na Karo,

Aankh Sach Bolti Hai Pyar Chhupaya Na Karo,

Log Har Baat Ka Afsaana Bana Lete Hain,

Sabko Haalat Ki Rudaad Sunaya Na Karo.

564

ये भी अच्छा है कि हम किसी को अच्छे नहीं लगे !

कम से कम मेरे मरने के बाद कोई रोऐगा तो नहीं !!

565

जिंदगी एक लहर ???? थी फिर आप हासिल हुए,

न जाने कैसे हम आपके काबिल हुए,

न भूल पाएंगे कभी उस हंसी पल को,

जब आप हमारी जिंदगी में शामिल हुए।

566

बेहतर दिनों की आस लगाते हुए ‘हबीब’ हम बेहतरीन दिन भी गंवाते चले गए

567

Nice Love Poetry About Lover,

Kabhi Mom Ban Ke Pighal Gaya,

Kabhi Girte Girte Sambhal Gaya,

Use Rokta Bhi To Kis Tarah,

Ke Wo Shakhs Kitna Ajeeb Tha.

Kabhi Tadap Gaya Meri Aah Se,

Kabhi Aansu Se Bhi Na Pighal Saka,

Jo Mila Wo Kabhi Sar E Raah,

Wo To Nazar Chura Ke Gujar Gaya,

Wo Utar Gaya Meri Aankh Se,

Meri Rooh Se Kyu Na Utar Saka,

Wo Sambhal Gaya Mujhe Chodkar,

Main Bikhar Ke Phir Na Sambhal Saka,

Use Rokta Bhi To Kis Tarah,

Ke Wo Shakhs Kitna Ajeeb Tha.

568

Phir Na Keeje Meree Gustaakh Nikhaahee Kee Gila,

Dekhiye Aapane Phir Pyaar Se Dekha Mujhako.

569

Arz Kiya Hai,

Chai Ke Cup Se Uthte Dhuein Me Teri Shakal Nazaar Aati Hai,

Ese Kho Jate Hai Tere Khyalon Me Ki Aksar Meri Chai Thandi Ho Jaati Hai.

570

जब खामोश निगाहों से बात होती है,

तो ऐसे ही मोहब्बत की शुरुआत होती है,

हमतो बस खोये ही रहतें हैं उनके ख्यालों में,

पता ही नही चलता कब दिन कब रात होती है।

571

Is Dil Ka Kaha Mano Ek Kaam Kar Do ,

Ek Be-Naam Si Mohabbat Mere Naam Krdo ,

Meri Zaat Pr Faqat Itna Ahsaan Kar Do,

Kisi Din Subah Ko Milo Or Shaam Kr Do.

572

Chal Chalen Kisi Aisi Jagah,

Jahan Koi Na Tera Ho Na Ho,

Ishq Ki Raat Ho Aur Bus Mohabbat Ka Savera Ho.

573

Aankho Ki Gehrai Ko Samajh Nahi Sakte,

Honto Se Kuch Keh Nahi Sakte,

Kaise Baya Kare Hum Aapko Yeh Dil Ka Haal Ki,

Tumhi Ho Jiske Bageir Hum Reh Nahi Sakte.

574

Aap Na Hote To Hum Kho Gaye Hote,

Hum Aapni Zindagi Se Ruswa Ho Gaye Hote,

Ye To Aap Ko Good Morning Kehnay K Liye Uthey Hai,

Warna Hum To Abhi Bhi So Rahe Hote….

575

Aisa Kya Likhun Ke Tere Dil Ko Tasalli Ho Jaye,

Kya Ye Batana Kafi Nahi Ki Meri Zindagi Ho Tum.

576

अपने आगोश में एक रोज छुपा ले मुझको,

गम ए दुनिया से आज बचा लो मुझको,

उनको दी है इशारों में इजाज़त मैंने,

मांगने से न मिलूं तो चुरा लो मुझको।

577

Naseeb Mera Q Mujse Khafa Ho Jata H,

Apna Jisko B Mano Bewafa Ho Jata H,

Q Na Ho Shikayat Meri Nazro Ko Raat Se,

Sapna Pura Hota Nhi Or Sawera Ho Jata H..

578

मेरी ख़्वाहिश है कि आंगन में ना दीवार उठे,

मेरे भाई मेरे हिस्से की ज़मीं तू रख ले.

579

शुरू करते हैं फिर से मोहब्बत तुम चले आओ,

थोड़ा हम बदल जाते हैं,

थोड़ा तुम बदल जाओ.

580

Mujhe Ko Ab Tujh Se Bhi Mohabbat Nahin Rahi,

Aai Zindagi Teri Bhi Mujhe Zaroorat Nahin Rahi,

Bujh Gaye Ab Us Ke Intezaar Ke Vo Jalate Die,

Kahin Bhi Aas-Paas Us Ki Aahat Nahin Rahi.

581

Hoga Afsos Jab Hm N Hoge Teri Ankho Se Asu Km N Hoge,

Bahut Milege Tere Armano Se Khelne Wale,

Lekin Us Wqt Teri Parwah Krne Wale Hm N Hoge.

582

Fiza Me Mahekti Shaam Ho Tum,

Pyar Ka Chalakta Jaam Ho Tum,

Seene Me Chhupaye Firte Hain,

Meri Zindagi Ka Dusra Naam Ho Tum.

583

किसी को चाहो तो इस अंदाज़ से चाहो !

कि वो तुम्हे मिले या ना मिले मगर !

उसे जब भी प्यार मिले तो तुम याद आओ !!

584

पहली मोहब्बत मेरी हम जान न सके,

प्यार क्या होता है हम पहचान न सके,

हमने उन्हें दिल में बसा लिया इस कदर कि,

जब चाहा उन्हें दिल से निकाल न सके।

585

मेरी आँखों में झाँकने से पहले,

जरा सोच लीजिये ऐ हुजूर,

जो हमने पलके झुका ली तो कयामत होगी,

और हमने नजरें मिला ली तो मुहब्बत होगी।

586

न चाँद की चाहत,

न तारों की फरमाइश,

हर पल में हो तू मेरे साथ बस यही है मेरी ख्वाइश।

587

सिर्फ एक सफ़ाह पलटकर उसने,

बीती बातों की दुहाई दी है।

फिर वहीं लौट के जाना होगा

यार ने कैसी रिहाई दी है।

588

वो छोटी-छोटी उड़ानों पे गुरूर नहीं करता जो परिंदा अपने लिए आसमान ढूंढता है

589

भंवर से निकल कर एक किनारा मिला है,

जीने को फिर एक सहारा मिला है,

बहुत कश्मकश में थी ये जिंदगी मेरी,

अब इस जिंदगी में साथ तुम्हारा मिला है।

590

हुकूमत पर्दा-पोशी में बहुत मसरूफ़ है लेकिन

कहां से आ रहा है ये धुआं,

बच्चे समझते हैं।

591

प्यार जो हकिकत मे प्यार होता है,

जिन्दगी मे सिर्फ एक बार होता हैं,

निगाहें मिलते-मिलते दिल मिल जाये,

ऐसा इत्तफाक सिर्फ एक बार होता हैं,

592

Love Ke Do Meethey Bol Se Khareed Lo Mujhko,

Daulat Dikhai To Sare Jahan Ki Kam Padegi.,

593

Mushkilon Se Aapki Mulakat Na Ho,

Udas Baitho Esi Kabhi Koi Bat Na Ho,

Dua Hai Mehfilon Se Saje Zindagi Aapki,

Bas Mujhe Pukar Lena Agar Koi Sath Na Ho.

594

अब हम भी कुछ मोहब्बत के गीत गुनगुनाने लगे हैं,

जब से वो हमारे ख्वाबो में आने लगे हैं।

595

My Eyes R Hurting Bcoz I Can’T See U,

My Arms R Empty Bcoz I Can’T Hold U,

My Lips R Cold Bcoz I Can’T Kiss U But,

My Heart Is Breaking Bcoz I M Not With You.

596

खुशियां देते वक्त अक्सर खुद ग़म में मर जाते हैं रेशम देने वाले कीड़े रेशम में मर जाते हैं.

597

जो निगाह-ए-नाज़ का बिस्मिल नहीं है,

वो दिल नहीं है,

दिल नहीं है,

दिल नहीं है।

598

यादों की हवा ज़ख्मों की दवा बन गई।

दूरी उनकी मेरी चाहत की सज़ा बन गई।

कैसे भूलूं में उन्हें एक पल के लिए ।

उनकी याद ही मेरी जीने की वजह बन गई।

599

मोहब्बत की शमा जला कर तो देखो,

ये दिलो की दुनिया सज़ा कर तो देखो,

तुझे हो न जाए मोहब्बत तो कहना,

ज़रा हमसे नजरे मिला कर देखो।

600

सांस लेना भी कैसी आदत है

जिए जाना भी क्या रवायत है

कोई आहट नहीं बदन में कहीं कोई साया नहीं

आंखों में पांव बेहिस हैं

चलते जाते हैं इक सफर है

जो बहता रहता है

कितने बरसों से कितनी सदियों से जिए जाते हैं

जिए जाते हैं.

601

नजर में आपकी नज़ारे रहेंगे,

पलकों पर चाँद सितारे रहेंगे,

बदल जाये तो बदले ये ज़माना,

हम तो हमेशा आपके दीवाने रहेंगे।

602

Tum Hakiqat Nahi Ho Hasrat Ho,

Jo Mile Khwaab Mein Wahi Daulat Ho,

Kis Liye Dekhti Ho Ayina,

Tum Toh Khuda Se Bhi Jyada Khubsurat Ho.

603

दिल तोड़कर वो मेरा खश हैं तो शिकायत कैसी,

अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो फिर ये मोहब्बत कैसी.

604

Dekh Ke Hume Vo Sir Jhukate Hai,

Bula Ke Mehfil Me Nazare Churate Hai,

Nafrat Hai Humse To Bhi Koi Bat Nahi,

Par Gairon Se Mil Ke Dil Kyo Jalate Hai.

605

क्या बताऊं यार तुझको प्यार मेरा कैसा है,

चांद सा नही है वो चांद उसके जैसा है।

606

मुझको छूके मुझको छूके पिघल रहे हो तुम,

मेरे हमराह जल रहे हो तुम। चाँदनी छन रही है बादल से,

जैसे कपड़े बदल रहे हो तुम। पायलें बज रही हैं रह रह कर,

ये हवा है कि चल रहे हो तुम। नींद भी टूटने से डरती है,

मेरे ख़्वाबों में ढल रहे हो तुम।

607

तू ही मेरी जिंदगी तू ही मेरा ख्वाब है,

तू ही सादगी तू ही एहसास है,

जी चाहता है बस यही कहता रहूँ,

तू ही मेरी मन्नत तू ही मेरी जान है।

608

नहीं बस्ती किसी और की सूरत अब इन आँखों में काश की हमने तुझे इतने गौर से ना देखा होता ।

609

जिसको खुश रहने के सामान मयस्सर सब हों,

उसको खुश रहना भी आए ये ज़रूरी तो नहीं.

610

Wo Pyar Jo Haqiqat Me Pyar Hota Hai,

Zindgi Me Sirf Ek Bar Hota Hai,

Nigaho Ke Milte Milte Dil Mil Jaye,

Aisa Ittefaq Sirf Ek Baar Hota Hai.

611

Udas Na Baitho Fiza Tang Karegi,

Gujre Hue Lamho Ki Sazaa Tang Karegi,

Kisi Ko Na Lao Dil Ke Itna Karib,

Q Ki Uske Jane Ke Baad Uski Har Adaa Tang Karegi.

612

जिक्र करता है ये दिल सुबह शाम तेरा,

बहते हैं आँसू और बनता है नाम तेरा,

किसी और को क्यों देखे ये आँखे मेरी,

जब दिल पर लिखा है मेरे नाम तेरा।

613

Woh Yaad Hi Kya Jo Tumhari Naa Ho,

Woh Baat Hi Kya Jo Tumhari Naa Ho,

Woh Dil Hi Kya Jisme Dhadkan Naa Ho,

Woh Zindagi Hi Kya Jisme Pyar Naa Ho .

614

Hasinaye Ishq Se Jyada Apne Husan Ka Khayal Rakhti Hai,

Ashiq Ko Dur Rakhkar Sehat Ka Khayal Rakhti Hai,

Tasvir Niharna Ahen Bharna Khamosh Rehna Janti Hai,

Pyar Aur Adhik Bhadta To Dil Hi Dil Mein Jalti Hai.

615

प्यार में प्यार को आज़माया नहीं जाता,

आज़मा कर प्यार कभी पाया नहीं जाता,

प्यार पाने के लिए विश्वास की जरुरत है,

बिना विश्वास प्यार कभी निभाया नहीं जाता

616

Chaah Kar Bhi Juda Na Reh Sakoge,

Khafa Ho Ke Bhi Khafa Na Reh Sakoge,

Hum Rishta Hi Kuch Aise Nibhayege,

Ki Aap Humare Bina Na Reh Sakoge.

617

Maine Dekha To Nahin Mahasoos Kiya Hai Tujhako,

Main Teree Aavaaz Se Teree Tasveer Bana Sakata Hoon

618

मेरे जुनून का नतीजा ज़रूर निकलेगा इसी सियाह समंदर से नूर निकलेगा.

619

Tumharra Naam Aaya Aur Ham Takne Lage Rastey,

Tumhaari Yaad Aayi Aur Khidki Khol Di Hamne.

620

बदल जाओ वक्त के साथ या फिर वक्त बदलना सीखो मजबूरियों को मत कोसो हर हाल में चलना सीखो.

621

Mujhko Phir Wohi Suhaana Nazara Mil Gaya,

Inn Aankhon Ko Deedar Tumhara Mil Gaya,

Ab Kisi Aur Ki Tamanna Kyun Main Karu,

Jab Mujhe Teri Baahon Ka Sahara Mil Gaya.

622

दिल का हाल बताना नही आता,

हमे ऐसे किसी को तड़पाना नही आता,

सुनना तो चाहतें हैं हम उनकी आवाज़ को,

पर हमे कोई बात करने का बहाना नही आता।

623

कभी कोई अपना अनजान हो जाता है,

कभी अनजान से प्यार हो जाता है,

ये जरुरी नही कि जो ख़ुशी दे उसी से प्यार हो,

दिल तोड़ने वालो से भी प्यार हो जाता है

624

बुलंदी देर तक किस शख्स के हिस्से में रहती है,

बहुत ऊंची इमारत हर घड़ी खतरे में रहती है

625

मेहरबाँ हो के बुला लो मुझे चाहो जिस वक़्त मैं गया वक़्त नहीं हूँ कि फिर आ भी ना सकूँ

626

इस नजर ने उस नजर से बात करली,

रहे खामोश मगर फिर भी बात करली,

जब मोहब्बत की फ़िज़ा को खुश पाया,

तो दोनों निगाहों ने रो रो कर बरसात करली।

627

Mai Aapki Tarif Mein Apna Khayal Pesh Karta Hun,

Hal Bahut Bura Hai Ek Sawal Pesh Karta Hun,

Tarif Hai Husan Ki Aur Sadgi Ki,

Khidmat Mein Aapke Apna Dil Pesh Karta Hun.

628

नाम तेरा ऐसे लिख चुके हैं,

अपने वजूद पर कि तेरे नाम का भी कोई मिल जाए,

तो भी दिल धड़क जाता है।

629

Apne Haathon Ki Lakeero Me Basa Le Mujhko,

Main Hoon Tera Naseeb Apna Bana Le Mujhko.

Mujhse Tu Puchhne Aaya Hai Wafa Ke Mayne,

Ye Teri Sada-Dili Maar Na Daale Mujhko.

Khud Ko Main Baant Na Daalu Kahi Daman Daman,

Kar Diya Tu Ne Agar Mere Hawaale Mujhko.

Phir Main Zehar Bhi Pee Jaaun ‘Qateel’

Shart Ye Hai Koyi Baahon Me Sambhale Mujhko.

630

तुम चाहो या न चाहो,

इसका गम नहीं तुम पास से गुजर जाओ,

तो चाहत से कम नहीं माना के मेरी चाहतों की तुम्हें कद्र नहीं कद्र मेरी उनसे पूछो,

जिन्हें मैं हासिल नहीं

631

Haath Par Haath Rakha Usne To Malum Hua,

Ankahi Baat Ko Kis Tarah Suna Jata Hai.

632

उनकी तस्वीर को सिने से लगा लेते हैं,

इस तरह जुदाई का गम मिटा देते हैं,

किसी तरह कभी उनका जिक्र हो जाये तो,

भींगी पलकों को हम झुका लेते हैं।

633

जब किसी से मोहब्बत करना तो इतना करना जब उसे मोहब्बत मिले तो तुम याद आओ।

634

उधर वो बद-गुमानी है,

इधर ये ना-तवानी है न पूछा जाए उससे और न बोला जाए मुझसे।

635

Hwayen Teri Julfein Udayen,

Roke Tujhe Ye Mast Fizayein,

Tujhe Bhi Ishq Ho Jaye,

Kar Rha Mera Dil Duayein.

636

अपनी उल्फ़त का यकीन दिला सकते नही।

सारी ज़िन्दगी आपको भुला सकते नही।

हम ओर क्या दे आपको प्यार के सिवा।

चाँद ओर तारे तो ला सकते नही।

637

Chhu Jaate Ho Mujhe Har Roj Ek Naya Khwaab Sa Bankar,

Yeh Duniya To Khamkha Kahti Hai Ke Tum Mere Kareeb Nahi.

638

Ashk Aa Jate Hai Aankho Me Rone Se Pehle,

Har Khawab Toot Jaata Hai Sone Se Pehle,

Ishk Hai Ek Gunah,

Ye To Samajh Gaye Hum,

Kash Koi Rok Leta Ye Gunaah Hone Se Pehle.

639

कुछ ज़ुल्म-ओ-सितम सहने की आदत भी है हमको कुछ ये है कि दरबार में सुनवाई भी कम है.

640

Mere Wazood Me Kaash Tu Utar Jaye,

Main Dekhun Ayina Aur Tu Nazar Aaye,

Tu Ho Samne Aur Waqt Thhahar Jaaye,

Aur Tujhe Dekhte Hue Zindagi Gujar Jaye.

641

Kya Krun Uska Shukariya Jisne Tumeh Bnaya,

Dekha Jidhar Udhar Tera Sath Paya,

Socha Na Tha Husan Bhi Kabhi Eisa Rang Bharti Hai,

Tujhse Jo Mila Ek Pal Ke Liye Usne Bhi Chain Gavaiya.

642

ख्वाहिशों से भरा पड़ा है मेरा घर इस कदर रिश्ते जरा-सी जगह को तरसते हैं।

643

ये हमारी मोहब्बत है या कुछ और ये तो पता नही,

लेकिन जो तुमसे है,

वो किसी और से नही।

644

हज़ारो कमियाँ है मुझ मैं मुझे मालूम है लेकिन,

एक शख़्स है नादान जो मुझे बहुत अनमोल कहता है.

646

Humdum To Sath Sath Chalte Hain,

Raste To Bewafa Badalte Hain,

Tera Chehra Hai Jab Se Aankhon Me,

Jane Kyu Mujh Se Log Jalte Hain.

647

Baithata Wahi Hoon,

Jahaan Apanepan Ka Ahasaas Hai Mujhako,

Yun To Zindagee Mein Kitane Hee Log Awaz Dete Hain Mujhako

648

एक आंसू भी हुकूमत के लिए ख़तरा है तुम ने देखा नहीं आंखों का समुंदर होना.

649

दुख के जंगल में फिरते हैं कब से मारे-मारे लोग,

जो होता है सह लेते हैं,

कैसे हैं बेचारे लोग

650

आपकी चाहत हमारी कहानी है,

ये कहानी इस वक़्त की मेहरबानी है,

हमारी मौत का तो पता नहीं,

पर हमारी ये ज़िंदगानी सिर्फ आपकी दीवानी है ||

651

Aaj Tujhse Dur Hun Fir Bhi Tujhse Dur Nahi,

Kismat Mein Judai Likhi Hai Mai Khud Se Majboor Nahi,

Aaj Bhi Teri Rah Dekhta Hun Milne Ka Vada Karta Nahi Hun,

Jo Mujhe Rah Dene Vala Hai Vo To Mere Sath Nahi.

652

तेरे साय को दिल में छुपाये चलते हैं,

तेरी यादो को दिल में दबाय चलतें हैं,

जिस दिन न हो उन से मुलाकात,

उस दिन सांसो के गुल मुरझाय चलतें हैं।

653

एहसास के दामन में आंसू गिरा कर देखो,

प्यार कितना है कभी हमे आज़मा कर देखो,

बिछड़ कर तुमसे क्या होगी दिल की हालत,

कभी किसी आईने पर पत्थर गिरा कर देखो।

654

Nahi Jo Dil Me Jagah To Nazar Me Rehne Do,

Meri Hayaat Ko Tum Apne Asar Me Rehne Do,

Main Apni Soch Ko Teri Gali Me Chhod Aaya Hun,

Mere Wajood Ko Khwabon Ke Ghar Me Rehne Do.

655

Wajah Puchhoge To Sari Umr Gujar Jayegi,

Kaha Na Achhe Lagte Ho To Bas Lagte Ho.

656

Chale Aao Hum Tumhe Yad Karte Hai,

Ye Vo Gunaah Hai Jo Hum Bar-Bar Karte Hai,

Jala Kar Is Dil Me Harsraton Ke Chiraag,

Hum Aapke Aane Ka Intzaar Karte Hai.

657

Bhale Kitne Hi Khafa Hote Ho Tum Hum Se,

Magar Paas Hote Ho To Sab Achha Lagta Hai,

Baaki Sari Kaynat Lagti Hai Jhoothi Si,

Bas Ek Aapka Pyar Sachha Lagta Hai.

658

इस प्यार का अंदाज़ न जाने कैसा है,

हम क्या बताये ये राज़ कैसा है,

कौन कहता है आप चाँद जैसे हो,

हम तो कहते हैं की चाँद खुद आप जैसा है।

659

हकीकत कहो तो उन्हें ख्वाब लगता है,

शिकवा करो तो उन्हें मज़ाक लगता है,

कितनी शिद्दत से हम उन्हें याद करते हैं,

और एक वो हैं जिन्हें ये सब मजाक लगता है।

660

पहली मोहब्बत के लिए दिल जिसे चुनता है,

वो अपना हो न हो…दिल पर राज हमेशा उसी का रहता है।

661

तेरा इंतज़ार मुझे हर पल रहता है,

हर पल मुझे तेरा एहसास रहता है,

तुझ बिन धड़कन रुक सी जाती है,

क्यूंकि तू मेरे दिल में धड़कन बन कर रहता है।

662

Aaj Tujhe Pyar Se Mila De,

Meri Ujdi Duniya Basa De,

Thodi Si Bhi To Khushi De,

Chahe Bad Mein Maut Se Mila De.

663

Sard Mausam Ka Maza Kitna Alag Sa Hai,

Tanha Raat Mein Intazaar Kitna Alag Sa Hain,

Dhund Bani Naqab,

Aur Chupa Lia Sitaron Ko,

Unki Tanhaai Ka Ab Ehsas Kitna Alag Sa Hai!

664

हम तो मजाक में भी,

किसी को दर्द देने से डरते हैं,

न जाने लोग कैसे सोच-समझकर दिलों से खेल जाते हैं.

665

बैठे-बिठाए हाल-ए-दिल-ज़ार खुल गया मैं आज उसके सामने बैठकर बेकार खुल गया।

666

Kamar Jitni Bhi Patli Ho Maza Utna Nasheela Hai.

Chalega Jo Bhi Ho Aankhon Ka Rang Kala Ya Neela Hai,

Ishq K Naam Pe Kerte Sabhi Ab Rasleela Hao,

Main Karun To Saala Character Dheelaa Hai

667

दूरियों की ना परवाह कीजिये,

दिल जब भी पुकारे बुला लीजिये,

कहीं दूर नहीं हैं हम आपसे,

बस अपनी पलकों को आँखों से मिला लीजिये।

668

Humse Na Kat Sakega Andheron Ka Ye Safar,

Ab Shaam Ho Rahi Hai Mera Haath Thaam Lo.

669

Dil Tootne Par Bhi Jab Koi Sikwa Na Rahe,

Chahe Sath Nibhane Ko Mitwa Na Rahe,

Jamane Bhar K Gam Jab Haske Sahte Hain,

Chahat K Isi Ehsaas Ko Love Khte Hain.

670

Smart Ho Aap Toh Bure Hm B Nhi,

Intelligent Ho Ap Toh Buddhu Hm B Nhi,

Dosti Kr K Kehte Ho Busy H Hm,

Yaad Karna Hmse Sikho Free Toh Hm B Nhi.

671

चाहे तू मुझे कभी मिले या न मिले,

लेकिन मेरे हिस्से की भी सारी खुशी तुझे मिले।

672

रोज़-रोज़ गिरकर भी मुकम्मल खड़ा हूं,

ऐ मुश्किलों देखो मैं तुमसे कितना बड़ा हूं

673

आपका वक्त कितना भी बुरा क्यों ना हो

लेकिन सच्चा प्यार करनें वाला आपको कभी भी अकेला नहीं छोड़ सकता।

674

मुद्दत के बाद उस ने जो की लुत्फ़ की निगाह,

जी ख़ुश तो हो गया मगर आंसू निकल पड़े.

675

तुझे देख कर ये जहाँ रंगीन नजर आता है,

तेरे बिना दिल को चैन कहां आता है,

तू ही है मेरे इस दिल की धड़कन,

तेरे बिना ये जहां बेकार नज़र आता है।

676

Kitni Jaldi Zindagi Guzar Jaati Hai,

Pyaas Buztee Nahin Barsaat Chali Jaati Hai,

Aap Ki Yaadein Kuchh Iss Tarah Aati Hai,

Neend Aati Nahin Aur Raat Guzar Jaati Hai!

677

Tamanaa Hai Meri Ki Aapki Aarzoo Ban Jaun,

Aapki Aankh Ka Tara Na Sahi Aansu Ban Jaun,

Main Aapki Zindagi Ki Khushi Banu Ya Na Banu,

Par Aapke Gam Me Aapka Sahara Ban Jaun.

678

Mohhobat Ki Intaha Mujhse Naa Puchiye,

Maine Toh Bus Mohhobat Ki Hain!

Puchhna Hi Hain To Yeh Puchiye Ki Mohhobat Me Fana Apni Zindagi Mene Kis Tarah Ki.

679

Shayad Wo Apna Wajood Chhod Gaya Hai Meri Hasti Me,

Yun Sote-Sote Jaag Jana Meri Aadat Pehle Kabhi Na Thi.

680

प्यार का रिश्ता इतना मजबूत होना चाहिए कि किसी तीसरे इंसान की वजह से कभी न टूटे।

681

Meree Aankhon Ke Jaadoo Se Naavaakif Ho Tum Log,

Main Use Paagal Kar Deta Hoon Jisapar Mujhe Pyaar Aa Jaaye

682

किसी की जिंदगी सिर्फ  दो वजह से बदलती है,

एक कोई बहुत खास इंसान उसकी जिंदगी में आ जाये,

दूसरा कोई बहुत खास इंसान उसकी जिंदगी से चला जाये।

683

Ek He Sakhs Hai Jo Dhyaan Me Apne Aksar,

Muskuraye To Meri Jaan Pe Ban Jati Hai

684

आह को चाहिए एक उम्र असर होने तक,

कौन जीता है तेरी ज़ुल्फ के सर होने तक!

685

Tumhara Love To Saanson Me Saans Lena Hai,

Jo Hota Nasha To Ek Din Utar Nahin Jata?

686

Zaroori Nahi Ki Jeene Ka Koyi Sahara Ho,

Zaroori Nhi Ki Jiske Hum Ho Woh Bhi Humara Ho,

Kuchh Kashtiyan Doob Jaya Karti Hain,

Zaroori Nhi Ke Har Kashti Ke Naseeb Me Kinara Ho

687

आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी,

साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी,

पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,

जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी.

688

Every Message Is A Smile,

Every Word Is Like A Kiss,

But When U Touch Me,

Remember This,

My Life Is Full With Happiness.

689

मैं तो इस वास्ते चुप हूं कि तमाशा न बने और तू समझता है मुझे तुझसे गिला कुछ भी नहीं!

690

Aaj Ek Dheemi Si Aahat Hai Is Dil Mein,

Shayad Koi Adhuri Si Chahat Hai Is Dil Mein ,

Kya Karun Main Kahan Jaaun,

Badi Khalbali Si Hai Aaj Is Dil Mein,

Koi Apna Hota Toh Bin Kahe He Samjh Leta,

Ab Kis Ko Btaun Ke Kya Hain Is Dil Mein,

Bhule Bethe Hai Wo Log Bhi Jine Apna Samjhta Hoon,

Kbhi Mile To Dil Cheer Ke Dikhau Ke Kya Hai Is Dil Me.

691

खुदासे बस आपकी ख़ुशी मांगतें हैं,

दुआओं में आपकी हसीं मांगतें हैं,

सोचतें हैं आपसे क्या मांगे,

चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगतें हैं।

692

मोहब्बत करना है,

फिर से करना है,

बार बार करना,

हजार बार करना है,

लेकिन सिर्फ तुम से ही करना है।

693

मोहब्बत का कोई मुकाम नही होता है,

वो जो रास्ता होता हैं न वही खूबसूरत तमाम होता है।

694

Agar Talluq Ho To Rooh Se Rooh Ka Ho,

Dil To Aksar Ek Dusare Se Bhar Jate Hain.

695

Har Kadam Har Pal Saath Hai,

Dur Hokar Bhi Hum Aapke Pass Hai,

Aapko Ho Na Ho Par Hume Aapki Kasam,

Aapki Kami Ka Har Pal Ehsaas Hai.

696

सांसो का पिंजरा किसी दिन टूट जायेगा,

ये मुसाफिर किसी राह में छूट जायेगा,

अभी जिन्दा हु तो बात लिया करो ।

क्या पता कब हम से खुदा रूठ जायेगा

697

चुपके-चुपके रात दिन आंसू बहाना याद है,

हमको अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है

698

शराफतों की यहां कोई अहमियत ही नहीं,

किसी का कुछ न बिगाड़ो तो कौन डरता है।

699

तुझे हँसते हुए जब भी देखता हूँ मैं,

तू ही दुनिया है मेरी यही सोचता हूँ मैं।

700

Tujhe Bhoolna Bhi Chahun To Bhulaaun Kaise,

Teri Yaad Se Apna Daaman Chhudaaun Kaise,

Meri Har Khushi Har Muskaan Mohtaaz Hai Teri,

Magar Tujhko Iska Ehsaas Dilaaun Kaise.

701

Main Alfaz Hun Teri Har Baat Samjhta Hun,

Main Ehsaas Hun Tere Jazbat Samjhta Hun,

Kab Puchha Maine Ke Kyun Dur Ho Mujhse,

Main Dil Rakhta Hun Tere Halaat Samajhta Hun.

702

वो नकाब लगा कर खुद को इश्क से महफूज़समझते रहे !

नादां इतना भी नहीं समझते कि इश्क चेहरे से नहीं आँखों से शुरू होता है !!

703

Mai Aisi Sahjaadi Hun Jisey Ishq Ka Shauk Nahin,

Warna Bahot Se Nawaab Jadey Dil Me Mohabat Liye Baithey Hain

704

Jaane Kyun Log Kisi Ko Bhool Jaate H,

Kuch Pal Sath Rehkar Door Chale Jaate H,

Shayad Log Sach Hi Kehte H,

Sagar Milne Ke Baad Aksar Baarish Ko Bhool Jaate H.

705

Badalana Chaahate Ho To Shauk Se Badalo,

Magar Itna Yaad Rakhana,

Jo Ham Badale To Karavaten Badalate Rah Jaoge.

706

तुम्हारे प्यार की दास्तान हमने अपने दिल में लिखी है,

न थोड़ी न बहुत बे-हिसाब लिखी है,

किया करो कभी हमे भी अपनी दुआओं में शामिल,

हमने अपनी हर एक सांस तुम्हारे नाम लिखी है

707

इस जिंदगी से कोई दुश्मनी नही मेरी,

बस एक जिद है तेरे बिना एक पल नही रहना है।

708

आज मुझे ये बताने की इजाज़त दे दो,

आज मुझे ये शाम सजाने की इजाज़त दे दो,

अपने इश्क़ मे मुझे क़ैद कर लो,

आज जान तुम पर लूटाने की इजाज़त दे दो.

709

Manzil Bhi Tum Ho Talaash Bhi Tum Ho,

Umeed Bhi Tum Ho Aas Bhi Tum Ho,

Ishq Bhi Tum Ho Junoon Bhi Tum Hi Ho,

Ehsaas Tum Ho Pyaas Bhi Tum Hi Ho.

710

परवाने को शमा पर जलकर कुछ तो मिलता होगा यूं ही मरने के लिए कोई मोहब्बत नहीं करता.

711

Mohabbat Har Insan Ko Ajmati Hai,

Kisi Se Ruth Jati Hai Kisi Pe Muskurati Hai,

Mohabat Khel Hi Aisa Hai,

Kisi Ka Kuch Nahi Jata Kisi Ki Jaan Jati Hai.